Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Overview

Benefits of Lotus Root And Its Side Effects

Lotus root is rich in nutrients and has a lot of beneficial effects. Some of the effects are that it helps to reduce cholesterol, improves digestion, helps to lower blood pressure and also helps to boost the immunity system. It also helps to prevent some forms of cancer, balances your mood, helps to relieve depression, increases the blood pressure and also helps to maintain the proper enzymatic activity in your body.

Benefits of Lotus Root And Its Side Effects

Table of Content

Lotus Root
Nutritional Value of Lotus Root
Health Benefits of Lotus Root
Helps increase blood circulation
Helps to regulate blood pressure
Helps to improve digestion
Strengthens body immunity
Takes care of the brain
Keeps your heart healthy
Treats respiratory problems
Presence of Vitamin A
Helps to treat fungal infections and bleeding disorders
Uses of Lotus Root
Side-Effects & Allergies of Lotus Root
Cultivation of Lotus Root

Lotus Root

Lotus root is an underwater root vegetable and it has a shape resembling a long squash. It can grow up to a length of 4 feet. The lotus flower has been used for many years in many Asian countries and represents purity, sexual innocence and divine beauty. Lotus root can be eaten raw, stir-fried, steamed, braised and sautéed and it is available throughout the year.

Nutritional Value of Lotus Root

Lotus root does not have any cholesterol and are is very low in calories. Lotus root has a unique mixture of vitamins, minerals and nutrients which are very beneficial for our body. The minerals present are potassium, phosphorus, copper, iron and manganese and vitamins like thiamin, pantothenic acid, zinc, vitamin B6 and Vitamin C. It also has good quantities of dietary fiber and protein.

Health Benefits of Lotus Root

Mentioned below are the best health benefits of Lotus Root
Health Benefits of Lotus Root

Helps increase blood circulation

Consumption of lotus root gives you an energy boost as it regulates blood circulation. Proper circulation implies that all organs of the body are properly oxygenated. This vegetable is rich in copper and iron and stimulates the formation of red blood cells.

Helps to regulate blood pressure

Lotus root is rich in potassium which is a vasodilator. Potassium helps to maintain between the fluids in our body and even counteracts the effects of sodium. Potassium also helps to keep the blood vessels relaxed and increases blood flow by reducing the rigidity and contraction of blood vessels. This reduces the pressure on the cardiovascular system.

Helps to improve digestion

Lotus root has good content of dietary fiber. This dietary fiber adds bulk to the stool and facilitates its easy expulsion from the body. This ensures that we do not suffer from ailments like diarrhea and constipation. The rich fiber content also helps to release the gastric juices which help to break down food and absorb the nutrients.

Strengthens body immunity

Lotus root is rich in Vitamin C which is a really powerful antioxidant. Vitamin C tends to act against the free radicals in our body and thus protects us from various diseases like heart disease and cancer. Vitamin C is also an integral part of collagen that helps to maintain the strength and rigidity of blood vessels, skin and organs.

Takes care of the brain

Lotus root contains Vitamin B complex and pyridoxine is one of its components. Pyridoxine helps to regulate your mood and mental health in general by interacting with the neural receptors of the brain. It also helps to deal with other disorders like headaches, stress levels and irritability.

Keeps your heart healthy

Lotus root has certain components that are really beneficial for our heart. It contains potassium, a vasodilator, and dietary fiber which help to remove the cholesterol from our blood. This vegetable also has pyridoxine which controls the homocysteine levels in the blood and helps to keep our hearts healthy.

Treats respiratory problems

Consumption of lotus root helps to cleanse the respiratory system and prevents us from contracting any respiratory disease. This vegetable helps to remove accumulated mucus and provides relief from cough. Lotus root juice also helps to treat illnesses like tubercolosis and asthma.

Presence of Vitamin A

Incorporating lotus root in your diet can prove to be beneficial for your skin, hair and eyes as it is rich in Vitamin A. Vitamin A has anti-oxidant properties and help prevent macular degeneration and ocular conditions and even helps to treat skin problems and inflammation.

Helps to treat fungal infections and bleeding disorders

Intake of lotus root helps to deal with fungal infections like ringworm, smallpox and leprosy. Leaves of lotus root help to treat excessive sweating, fever, bleeding disorders, nosebleed and blood in urine.

Uses of Lotus Root

Lotus root has a texture similar to potatoes and tastes like coconut. They are often used as salads and sometimes added as an extra flavoring element to prawn dishes. Consumption of lotus root helps to maintain skin structure prevents the development of age spots, sunspots and age lines. All parts of lotus root can be used for medicinal purposes and the seeds and stems are used in Ayurvedic medicine. It helps to prevent premature graying of hair and even acts as a moisturizing agent for your skin.

Side-Effects & Allergies of Lotus Root

Despite all the nutritional benefits, lotus root should never be used as a substitute for traditional medicine. A doctor should always be consulted before using lotus root for treating any ailment. Finally, lotus root should never be consumed raw as it tends to contain parasites that may be detrimental to our health.

Cultivation of Lotus Root

Lotus root has been used for its beneficial effects for thousands of years. In China, the archaeological remains of this vegetable date back 700 years. Lotus is primarily grown in Asian countries like china, Japan, India, Indonesia and Philippines but is also widely cultivated in various parts of the world.

Lotus plant is a beautiful plant which has its roots embedded to the bottom of the lake, stream or rivers while the pad and the flower remains on top of water. Seeds can germinate long after falling dormant as it is an aquatic perennial plant. Seeds are to be planted in a glass of non-chlorinated and warm water. The lotus plant should be set in warm water until the temperature of water reaches 60 degrees Fahrenheit.

Popular Health Tips

Lotus Root Benefits in Hindi - कमल ककड़ी के फायदे और नुकसान

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Lotus Root Benefits in Hindi - कमल ककड़ी के फायदे और नुकसान

कमल एक जलीय पौधा है और कमल का फूल हजारों सालों से एशियाई देशों में पाया जाता है. हमारे देश में इसका धार्मिक महत्त्व है. पवित्रता और दिव्य सौंदर्य का प्रतीक है. इसकी जड़ 4 फीट पानी के अंदर फैली होती है. इन्हें निकाल कर धोया, काटा और तैयार किया जाता है. हिंदी में इसे ही कमलककड़ी कहा जाता है. हर्बल दवाओं में प्राकृतिक या पाउडर के रूप में भी इसका प्रयोग किया जाता है. इसका उपयोग सलाद के रूप में भी किया जाता है. इसकी बनावट आलू की तरह होती है और इसका स्वाद थोड़ा मीठा और नारियल की तरह होता है. इसमें विटामिन, खनिज और फाइटोन्यूटरिएंट्स हैं जिनमें शामिल हैं पोटेशियम, फास्फोरस, तांबा, लोहा, मैंगनीज के साथ साथ थियामिन, पैंटोफेनीक एसिड, जस्ता, विटामिन बी 6, विटामिन सी. इसके साथ साथ यह फाइबर और प्रोटीन का बहुत ही महत्वपूर्ण स्रोत है. कमल ककड़ी के फायदे और नुकसान के लिए निम्लिखित बिन्दुओं का अध्ययन करें.

1. रक्त वर्धक के रूप में
कमल ककड़ी हमारे अंगों में ऑक्सीजन की वृद्धि करके रक्त के संचालन को उत्तेजित करके कार्यक्षमता और ऊर्जा के स्तर में वृद्धि करती है. इसमें मौजूद लौह और तांबा लाल रक्त कोशिका के उत्पादन को बढ़ाने और रक्त की कमी को पूरा करने के साथ साथ रक्त के प्रवाह में वृद्धि करने में मदद करता है.
2. कोलेस्ट्रॉल के नियंत्रण में
इसमें मौजूद पोटेशियम में रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करने की सामर्थ्य होती है. इसमें कोलेस्ट्रॉल कम करने की क्षमता होती है. इसकी जड़ में मौजूद पाइरोडॉक्सिन रक्त में होमोसिस्टीन के स्तर को नियंत्रित करता है जो सीधे दिल के दौरे को जन्म दे सकता है.
3. मस्तिष्क को करे स्वस्थ
पोटेशियम हमारे शरीर में तरल पदार्थ के संतुलन को बनाए रखता है. यह रक्तप्रवाह में सोडियम के प्रभावों को कम करके है. यह रक्त वाहिकाओं को आराम देने और इसके संकुचन और कठोरता को कम करता है. पोटेशियम तंत्रिका गतिविधि का भी एक आवश्यक घटक है और मस्तिष्क में द्रव और रक्त के प्रवाह को बनाए रखता है.
4. श्वसन तंत्र के लिए
कमल की जड़ श्वसन प्रणाली के लिए लाभदायक है. यह श्वसन तंत्र को साफ करने और शक्ति प्रदान करने में मदद करती है. खांसी से राहत पाने के लिए इसकी चाय का सेवन किया जाता है क्योंकि यह बलगम को पिघला देती है.
5. रक्तचाप को करे नियंत्रित
इसमें पाया जाने वाला पोटेशियम हमारे शरीर में तरल पदार्थ के संतुलन को बनाए रखता है. यह रक्तप्रवाह में सोडियम के प्रभावों को कम करता है. यह रक्त वाहिकाओं को आराम देकर इसके संकुचन और कठोरता को कम करता है. पोटेशियम तंत्रिका गतिविधि का भी एक आवश्यक घटक है और मस्तिष्क में द्रव और रक्त के प्रवाह को बनाए रखता है.
6. गर्भवती महिलाओं के लिए
गर्भवती महिलाओं के लिए भी कमल ककड़ी के फायदे उपयोगी साबित होते हैं. इसमें मौजूद पोषक तत्व गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास लिए बहुत लाभदायक होते हैं. इसलिए गर्भवती महिलाएं इसका इस्तेमाल कर सकती हैं.
7. पाचन में
कमल ककड़ी में फाइबर की प्रचुरता होती है जो मल त्याग के लिए बहुत अच्छा होता है. यह कब्ज के लक्षणों को कम करती है और पाचन और गैस्ट्रिक रस के स्राव के माध्यम से पोषक तत्व अवशोषण को अनुकूलित करती है.
8. प्रतिरक्षा प्रणाली को करे दुरुस्त
कमल ककड़ी में मौजूद विटामिन सी कोलेजन का एक महत्वपूर्ण घटक है जो रक्त वाहिकाओं के अंगों और त्वचा की अखंडता और शक्ति को बनाए रखता है और प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है. इसके अलावा विटामिन सी शरीर में फ्री रेडिकल्स को भी नष्ट कर सकता है.
9. वजन कम करने में
इसमें पोषक तत्व और फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता है और कैलोरी बहुत कम होती है. इसके सेवन से आवश्यक पोषक तत्वों की प्राप्ति होती है और हमारा पेट बहुत समय तक भरा हुआ महसूस करता है जिसके कारण हम अधिक खाने से बचते हैं और हमारा वजन कम होता है. इससे वजन कम होता है.
10. मधुमेह के उपचार में
इसमें पाया जाने वाला उच्च मात्रा में फाइबर शरीर में कार्बोहाइड्रेट के पाचन को कम करता है. इस प्रकार शरीर में चीनी अवशोषण की प्रक्रिया को धीमा होती है. कमल ककड़ी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मधुमेह से लड़ने में मदद करते हैं.
11. आँखों के लिए
इसमें मौजूद विटामिन ए त्वचा, बाल, और आँखों के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए महत्वपूर्ण है. इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है. यह मैक्यूलर डीजैनरेशन और अन्य स्थितियों को रोकने में मदद करती है.
12. त्वचा के लिए उपोगी
एंटीऑक्सिडेंटों में समृद्ध कमल की जड़ त्वचा के कंडीशनर के रूप में काम करती है. इसके उपयोग से त्वचा हाइड्रेटेड और मॉइस्चराइज रहती है और त्वचा मुलायम और चमकदार बनती है. यह त्वचा की फाइन लाइन्स को हटाने, ब्राउन स्पॉट्स और झुर्रियों को हटाने में मदद करती है.

कमल ककड़ी के नुकसान

  • इसको कच्चा खाने से परजीवी या बैक्टीरिया संक्रमण फैल सकता है.
  • यदि इससे किसी को एलर्जी है तो इसका सेवन नहीं करें.
     
10 people found this helpful

Table of Content

Lotus Root
Nutritional Value of Lotus Root
Health Benefits of Lotus Root
Helps increase blood circulation
Helps to regulate blood pressure
Helps to improve digestion
Strengthens body immunity
Takes care of the brain
Keeps your heart healthy
Treats respiratory problems
Presence of Vitamin A
Helps to treat fungal infections and bleeding disorders
Uses of Lotus Root
Side-Effects & Allergies of Lotus Root
Cultivation of Lotus Root