Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Clinic
Book Appointment

Bharathiraja Superspeciality Hospital & Research Centre

Nephrologist Clinic

No.20,G N Chetty Road, T.Nagar. Landmark:Opp To Buhari Hotel & Near Vani Mahal Signal, Chennai Chennai
1 Doctor
Book Appointment
Call Clinic
Bharathiraja Superspeciality Hospital & Research Centre Nephrologist Clinic No.20,G N Chetty Road, T.Nagar. Landmark:Opp To Buhari Hotel & Near Vani Mahal Signal, Chennai Chennai
1 Doctor
Book Appointment
Call Clinic
Report Issue
Get Help
Services
Feed

About

Our mission is to blend state-of-the-art medical technology & research with a dedication to patient welfare & healing to provide you with the best possible health care....more
Our mission is to blend state-of-the-art medical technology & research with a dedication to patient welfare & healing to provide you with the best possible health care.
More about Bharathiraja Superspeciality Hospital & Research Centre
Bharathiraja Superspeciality Hospital & Research Centre is known for housing experienced Nephrologists. Dr. Divakar, a well-reputed Nephrologist, practices in Chennai. Visit this medical health centre for Nephrologists recommended by 93 patients.

Timings

MON-SAT
10:00 AM - 12:00 PM

Location

No.20,G N Chetty Road, T.Nagar. Landmark:Opp To Buhari Hotel & Near Vani Mahal Signal, Chennai
T.Nagar Chennai, Tamil Nadu
Click to view clinic direction
Get Directions

Doctor in Bharathiraja Superspeciality Hospital & Research Centre

Dr. Divakar

Nephrologist
Unavailable today
View All
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Bharathiraja Superspeciality Hospital & Research Centre

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I am facing a problem frequent urination and become difficult to control urination and facing this problem from past one month, also after urination I feel weakness and stomach burning. This is all happening after my marriage.

BHMS
Homeopath, Noida
I am facing a problem frequent urination and become difficult to control urination and facing this problem from past ...
You are suffering from UTI. Do the following-- you maintain high grade of personal hygiene. Do change your underclothes at least 2 times a day Wear cotton underclothesStay hydrated Keep the area dry. For more details you can consult me.
Submit FeedbackFeedback

Sir/mam my problem is frequent urine and urine colour is yellow and pain is penis area My reports are normal urine culture and cbc rft all normal my problem is continue 4-5 months Doctor suggest me alfoo and solution 5 mg but no control my problem test urowflowmetry done or poor urowflow please help me.

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MS - General Surgery, Genito Urinary Surgery
Urologist, Ludhiana
Sir/mam my problem is frequent urine and urine colour is yellow and pain is penis area My reports are normal urine cu...
It could be due to chronic prostatitis. It is better to get semen culture and sensitivity done. If it is normal then start tab bacstol 200 mg twice daily along with alfoo for 1 month. If semen culture shows some growth of bacteria then take antibiotics according to the sensitivity report for 1 month.
Submit FeedbackFeedback

Balamuraleetharan I have stone in my left kidney at pelvic area with size 17/19 mm may I go for eswl or pcl or any latest techniques please suggest me the method and its cost.

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MS - General Surgery, Genito Urinary Surgery
Urologist, Ludhiana
Balamuraleetharan
I have stone in my left kidney at pelvic area with size 17/19 mm may I go for eswl or pcl or any la...
Rirs is another option which does not involve any incision or stitch. Just meet a urologist who is good at RIRS.
Submit FeedbackFeedback

I am 21 years old female and I am suffering from frequent urination since 6-7 months.

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MS - General Surgery, Genito Urinary Surgery
Urologist, Ludhiana
I am 21 years old female and I am suffering from frequent urination since 6-7 months.
I hope you have done USG abdomen and pvrv and urine routine and culture and sensitivity. If they are normal then start tab solifenacin 5 mg twice daily for 15 days and see how is the response. If you feel comfortable with it then you can continue this medicine for longer period.
Submit FeedbackFeedback

I am having kidney stone of 7 mm size and 5 mm size. What kind of medicine shall I take. Whether cystone tablet can be used. In what dosage shall be used?

BHMS
Homeopath, Noida
I am having kidney stone of 7 mm size and 5 mm size.
What kind of medicine shall I take.
Whether cystone tablet can b...
Drink at least twelve glasses of water daily drink citrus juices, such as orange juice eat a calcium-rich food at each meal, at least three times a day limit your intake of animal protein eat less salt, added sugar, and products containing high fructose corn syrup avoid foods and drinks high in oxalates and phosphates avoid eating or drinking anything which dehydrates you, such as alcohol. Homeopathic medicines have good results. Consult online with details.
Submit FeedbackFeedback

My name is akash im 26 year old. I am suffering from frequent urination. I have check diabetes before breakfast (empty stomach) its 92 mg and after 1.30 hours after dinner its 130 mg. I have checked urine routine exam where we found TRIPLE PHOSPHATE CRYSTAL in the report. Is that serious disease?

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MS - General Surgery, Genito Urinary Surgery
Urologist, Ludhiana
My name is akash im 26 year old. I am suffering from frequent urination. I have check diabetes before breakfast (empt...
Also get USG abdomen and pvrv and urine culture and sensitivity. If these reports are normal then start tab solifenacin 5 mg twice daily for 15 days and see how is the response and if anything abnormal in these act accordingly.
Submit FeedbackFeedback

I underwent renal transplant 5 years ago. My doctor has lowered my dose from 1 mg bd to 0.5mgbd. My tacrolimus level is 2.82 and normal level is 3-5 mg. My creatinine level is slightly raised to 1. 8 and normal level is 0.7-1.4.what can be the cause.

MBBS, MD - General Medicine, DM - Nephrology
Nephrologist, Delhi
I underwent renal transplant 5 years ago. My doctor has lowered my dose from 1 mg bd to 0.5mgbd. My tacrolimus level ...
Need to uncrease the dose of Tacrolimus. If creatinine does not settle , will require a kidney biopsy
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi, if you haven't urinated for more than two hours, you should immediately gulp 2 glasses of water. Is it true? Many a times we do not urinate for more than 3/5 hours. Also I noticed that if I travel in sun light or more exposed to sunlight my urine will be dark yellow.

Bams
Ayurveda, Noida
Hi, if you haven't urinated for more than two hours, you should immediately gulp 2 glasses of water. Is it true? Many...
Dark yellow color urine is causes by not voiding urine from long hr or time, or some fruits and vegetables, less drinking of water, if steel you feel it is yellow can go withblood and urine test.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

पथरी का होम्योपैथिक इलाज - Pathri Ka Homeopathic Ilaaj!

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
पथरी का होम्योपैथिक इलाज - Pathri Ka Homeopathic Ilaaj!

आज पथरी का होम्योपैथिक इलाज संभव है. शरीर में पथरी बनने का कोई स्पष्ट कारण का तो पता नहीं चला है. पर शरीर में अतिरिक्त गर्मी बढ़ने से, गर्म जलवायु से, कम मात्रा में पानी पीने से इत्यादि कारणों से शरीर में जल की कमी होकर डिहाइड्रेशन की स्थिति हो जाती है जिससे पेशाब में कमी व सघनता हो जाती है. इस कारण शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा अधिक हो जाती है, कैल्शियम आक्सलेट पेशाब के माध्यम से बाहर नहीं हो पाता है, इसके अलावा फॉस्फेट, अमोनियम फॉस्फेट, मैग्नीशियम कार्बोनेट आदि तत्व किडनी के नली जमने लगते है जो धीरे-धीरे पथरी का रूप ले लेते हैं. पाचन प्रणाली के खराबी के कारण भी इस प्रकार के दोष होते हैं व पथरी बनते हैं.
हालांकि पथरी (stone) कई हिस्से में हो सकते हैं, जैसे किडनी में, मूत्राशय में, गोल ब्लाडर में, पित्ताशय में, पेशाब के नली में इत्यादि. पर किडनी में पथरी की रोग अधिक पाये जाते हैं. किडनी में पथरी बनने का मुख्य कारण गलत खानपान व कम पानी पीना है. कम पानी पीने से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है जिससे किडनी में पथरी बनते हैं.

पथरी के लक्षण-
पथरी के बनने पर पेट के निचले हिस्से में, पीठ में या कमर में तीव्र दर्द हो सकता है या चलने-फिरने पर भी दर्द हो सकता है. ये दर्द अचानक होते हैं जो धीरे-धीरे बढ़ कर असहनीय हो जाते हैं. चूँकि पथरी अलग-अलग स्थानों पर बन सकता है इसलिए दर्द का स्थान भी अलग-अलग हो सकता है. कभी-कभी पथरी का आकार छोटा रहने पर दर्द नहीं होता है जिससे पथरी होने का पता भी नहीं चलता है पर जब इसका आकार बढ़ जाता है तब या जब ये पेशाब के रास्ते में आ जाता है तब दर्द का एहसास होता है. पेशाब के रास्ता में पथरी आने पर अचानक भयंकर दर्द होता है और दर्द की तीव्रता बढ़ती जाती है जो जांघ, अंडकोष या महिलाओं में योनि द्वार तक चला जाता है. कभी-कभी मूत्रमार्ग में पथरी फँसने से पेशाब रुक जाता है या पेशाब में खून आने लगता है व पेशाब करते समय दर्द होता है. पथरी होने पर पेशाब का रंग बदल जाता है. पेशाब का रंग लाल, गुलाबी या हल्का भूरा हो जाता है. किडनी में पथरी होने पर पेशाब करते समय दर्द भी होता है व जी मचलने तथा उल्टी की भी शिकायत होती है. पथरी का दर्द इतना भयंकर रहता है कि इसके वजह से मरीज न तो बैठ सकता है न लेट सकता है और न खड़ा ही रह सकता है. इस दर्द में एक बेचैनी सी रहती है.

पथरी से बचाव व इलाज-
पथरी से बचने के लिए अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए. भोजन में कैल्शियम व आक्सलेट युक्त पदार्थ का सेवन सीमित मात्रा में ही करनी चाहिए. पथरी होने पर टमाटर, मूली, भिंडी, पालक, बैगन व मीट का सेवन नहीं करना चाहिए. पथरी होने पर एलोपैथी चिकित्सा पद्धति में इसे ऑपरेशन करके या ‘लिथोट्रिप्टर’ नामक यंत्र से किरण के माध्यम से गलाकर बाहर निकालते हैं. यह अत्यधिक महँगा इलाज है और इससे पथरी निकल तो जाती है पर इससे पथरी बनने की प्रवृति समाप्त नहीं होती है. पर होमियोपैथी चिकित्सा पद्धति में कई ऐसे चमत्कारी दवाई हैं जिनका लक्षण के आधार पर सेवन करके बिना ऑपरेशन के दवाई द्वारा ही पथरी को निकालकर पथरी बनने के कारण को भी समाप्त किया जा सकता है. पथरी यदि छोटा (समान्यतः 3 मिमी से छोटा) रहता है तो दवाई के प्रयोग से ही यह आसानी से बाहर आ जाता है. पर पथरी बड़ा रहने पर होमियोपैथी दवा के साथ अन्य आधुनिक उपचार की भी जरूरत होती है. आइये पथरी का होमियोपैथिक इलाज से संबंधित कुछ दवाओं पर नजर डालें.

पथरी के इलाज के लिए होमियोपैथिक दवाई-
बर्बेरिस बल्गारिस (Berberis Vulgaris): - किडनी व पित्ताशय दोनों तरह की पथरी के लिए यह उत्तम दवा है. किडनी के जगह से दर्द शुरू होकर पेट के निचले हिस्से तक या पाँव तक दर्द का जाना, हिलने-डुलने या दबाव से दर्द बढ़ना, दर्द कम होने पर रोगी का दाहिने ओर झुकना, म्यूकस युक्त या चिपचिपा लाल या चमकदार लाल कण युक्त पेशाब होना, पेशाब में जलन होना, बार-बार पेशाब होना, पेशाब करने के बाद ऐसा महसूस होना जैसे कुछ पेशाब अभी रह गया हो, पेशाब करने पर जांघ या कमर में दर्द होना इत्यादि लक्षण में इस दवाई का सेवन करना चाहिए.
लाइकोपोडियम (Lycopodium): - पेशाब होने से पहले कमर में तीव्र दर्द होना, दायें किडनी में दर्द व पथरी होना, मूत्रमार्ग से मूत्राशय तक जानेवाला दर्द होना, बार-बार पेशाब जाने की इच्छा होना, पेशाब में ईंट के चुरा जैसा लाल पदार्थ निकलना, किसी शीशी में पेशाब रखने पर नीचे लाल कण का जम जाना व पेशाब बिल्कुल साफ रहना, पेशाब धीरे-धीरे होना आदि लक्षणों में इस दवाई का सेवन करना चाहिए.
सारसापेरिला (Sarsaparilla): - बैठकर पेशाब करने में तकलीफ होना व बूंद-बूंद पेशाब उतरना जबकि खड़े होकर पेशाब करने में आसानी से पेशाब उतरना, पेशाब का मटमैला होना व पेशाब में सफेद पदार्थ निकलना, पेशाब के अंत में असह्य दर्द होना व गर्म चीजों के सेवन से यह दर्द बढ़ना आदि लक्षणों में इस दवाई का सेवन करना चाहिए.
कैल्केरिया कार्ब (Calcarea Carb): - यह दवा दर्द दूर करने का उत्तम दवा है. किडनी के पथरी में इसे दिया जा सकता है. मूत्र नली में पथरी हो या पथरी के जगह पर तीव्र दर्द हो, रोगी को खूब पसीना आ रहा हो आदि लक्षणों में इस दवा का प्रयोग किया जा सकता है.
ओसिमम कैनम (Ocimum Canum): - तुलसी पत्ता से बनने वाली इस औषधि में यूरिक एसिड बनने के प्रवृति रोकने की गुण है अतः यूरिक एसिड से बनने वाली पथरी में यह दवा लाभकारी होता है. पेशाब में लाल कण आता हो, दाहिना तरफ किडनी के जगह पर दर्द हो तो इस दवा का सेवन किया जा सकता है.

नोट: -
यहाँ पथरी के इलाज संबंधी कुछ होम्योपैथिक दवाई का उल्लेख किया गया है, जो जानकारी मात्र के लिए है. पाठकों को सलाह दी जाती है कि वे अपने चिकित्सक के देखरेख में ही इलाज कारायें व चिकित्सक के परामर्श से ही किसी भी प्रकार का दवाई का सेवन करें.
 

1 person found this helpful

I am getting urine frequently sometimes even for every half an hour is there any chance of infection in prostate any tests are recommended? Please help.

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MS - General Surgery, Genito Urinary Surgery
Urologist, Ludhiana
I am getting urine frequently sometimes even for every half an hour is there any chance of infection in prostate any ...
It is better if you get USG abdomen and pvrv and urine routine and culture and sensitivity done. If everything is normal then get semen culture done. You will come to know if you hàve infection in prostate. You can take antibiotics according to the sensitivity report.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Clinics

Best Hospital

Kodambakkam, Chennai, Chennai
View Clinic

VHM Hospital Pvt. Ltd.

Saligramam, Chennai, Chennai
View Clinic

Pallava Hospital

Ashok Nagar, Chennai, Chennai
View Clinic

Best Hospital

Kodambakkam, Chennai, Chennai
View Clinic

Vignesh Hospital

Porur, Chennai, Chennai
View Clinic