Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment
Dr. B K Kashyap - Sexologist, Allahabad

Dr. B K Kashyap

89 (120 ratings)
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)

Sexologist, Allahabad

19 Years Experience  ·  250 at clinic  ·  ₹300 online
Book appointment and get ₹125 LybrateCash (Lybrate Wallet) after your visit
Dr. B K Kashyap 89% (120 ratings) Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS) Sexologist, Allahabad
19 Years Experience  ·  250 at clinic  ·  ₹300 online
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Reviews
Services
Feed

Personal Statement

I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage....more
I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage.
More about Dr. B K Kashyap
Dr. B.K Kashyap, Bachelor of Ayurveda Medicine and Surgery is a renowned Sexologist in the city of Allahabad. He has over 19 years of experience during which he has helped multiple patients deal with sexology related concerns like Erectile Dysfunction, Premature Ejaculation, Low Sperm Count, Delayed Ejaculation, Sex Addiction, Vasectomy Surgery, Sexual Transmitted Disease treatment through Ayurvedic means. Sexual issues still remain taboo in our nation and people refrain from discussing them openly, this is the reason why even simple issues that may be resolved easily stay undiagnosed and lead to disastrous consequences. Thus seeing a good sexologist at the right time is utmost important. He practices at Kashyap Clinic Pvt Ltd located at No. 30 Nawab Yusuf Road, near Pani Tanki - Civil Lines, Allahabad. His consultation timings are from 1:00 PM to 8:00 PM, Monday to Sunday. He charges INR 250 per patient per consultation at the clinic and INR 300 for online consultation. Lybrate has a nexus with top Sexologists of Allahabad. You can choose the right doctor from a wide list of verified doctors. You may also read and go through the authentic patient reviews and feedbacks to make an informed choice. Also, get amazing discounts and cashback while booking online or in-clinic appointment via lybrate.com.

Info

Education
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS) - University Of Allahabad - 2000
Languages spoken
English
Hindi
Awards and Recognitions
Dabur India Ltd.
Global Green Best Award
Nirala Award 16th Samman Samaroh

Location

Book Clinic Appointment with Dr. B K Kashyap

Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

No.30 Nawab Yusuf Road, Near Pani Tanki - Civil LinesAllahabad Get Directions
  4.5  (120 ratings)
250 at clinic
...more
View All

Consult Online

Text Consult
Send multiple messages/attachments. Get first response within 6 hours.
7 days validity ₹300 online
Consult Now
Phone Consult
Schedule for your preferred date/time
10 minutes call duration ₹400 online
Consult Now
Video Consult
Schedule for your preferred date/time
10 minutes call duration ₹500 online
Consult Now

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. B K Kashyap

Your feedback matters!
Write a Review

Patient Review Highlights

"Very helpful" 1 review

Dr. B K Kashyap Reviews

Popular
All Reviews
View More
View All Reviews

Dr. B K Kashyap Feeds

Sex Health Tips!

Sex Health Tips!

1. संदेह की स्थिति में शादी से पहले *मैरिटल काउंसलिंग* के लिए ज़रूर जाएं.

2. अक्सर सुहागरात (Sex Rules for newly weds) में ख़ुद को प्रूव करने के चक्कर में पति अपनी पत्नी की भावनाओं के बारे में जानने की ज़हमत भी नहीं उठाते और उसके साथ सेक्स करना अपना हक़ समझते हैं, वहीं दूसरी तरफ़ पत्नी को लगता है कि शायद पति-पत्नी के बीच सेक्सुअल रिलेशन ऐसे ही बनते हैं, इसलिए बिना किसी सही जानकारी के वह इस संबंध को स्वीकार कर लेती है, पर उनसे भावनात्मक रूप से जुड़ नहीं पाती।

 पति को समझना चाहिए कि पत्नी के लिए शारीरिक रूप से जुड़ने से कहीं ज़्यादा भावनात्मक रूप से जुड़ना ज़रूरी है, एक बार अगर वह आपसे भावनात्मक रूप से जुड़ गई, तो सदा के लिए समर्पितहो जाती है ।

3. सुहागरात में सेक्स होना ही चाहिए, यह एक बहुत बड़ा मिथक है, कई बार दिन भर चले लंबे कार्यक्रम के कारण दूल्हा-दुल्हन इतने थक जाते हैं कि स़िर्फ आराम करना चाहते हैं,यह दोनों की आपसी सहमति पर निर्भर करता है कि वो क्या करना चाहते हैं,इस मामले में हर किसी का अनुभव अलग होता है. फिल्मों में दिखाया जाता है, स़िर्फ इसलिए सुहागरात में सेक्स करना ही है, इस सोच से बाहर निकलें और सुहागरात को हौवा न बनाएं,कई बार देखने को मिला है कि शादी के कई दिनों बाद पति-पत्नी में शारीरिक संबंध स्थापित हुए, पर उनका रिश्ता बहुत मज़बूत साबित हुआ, क्योंकि वे भावनात्मक रूप से एक-दूसरे से जुड़े थे ।

4. ज़्यादातर लड़कियों में सेक्स को लेकर ग़लतफ़हमी रहती है, उन्हें लगता है कि पहली बार सेक्स में दर्द होता ही है और इसीलिए वे सेक्स को लेकर हमेशा नर्वस रहती हैं।

 प्रख्यात सेक्सोलॉजिस्ट डा०बी०के०कश्यप की मानें, तो लड़कियों के दिमाग़ में ये बात घर कर जाती है कि सेक्स में दर्द होगा, इसलिए इस डर और सोच के कारण ही सेक्स के दौरान उन्हें ज़्यादा दर्द होता है, जबकि प्यार व रोमांस या यूं कह लें कि भावनात्मक लगाव के बाद बिना किसी डर के किए गए सेक्स में ऐसी कोई शिकायत नहीं होती, इसलिए इस दर्द के डर को अपने दिमाग़ से निकाल फेंकें, ताकि आप अपनी सेक्स लाइफ को पूरी तरह से एंजॉय कर सकें ।

5. शादी से पहले अपने दोस्तों के ज़रिए, किसी ब्लू फिल्म या कोई घटिया-सी इरॉटिक क़िताब पढ़कर लड़के सेक्स का कुछ अलग ही मतलब निकाल लेते हैं और जब उनकी पत्नी उन सबके लिए तैयार नहीं होती, तो उनकी शादी टूटने के कगार पर आ जाती है ।

1 person found this helpful

Sex Health Tip!

Sex Health Tip!

सेक्स किसी भी पुरुष और स्त्री के बीच वह कड़ी है जो आपको शारीरिक और भाव्नात्नक रूप से समीप लाती हैं और आनंद का अनुभव करवाती हैं । लेकिन इस आनंद का पूरा मजा तब ही आता है जब आप सेक्स क्रिया को पूरे आत्मविश्वास के साथ करें अन्यथा आपके वैवाहिक रिश्तों में दरार आ सकती है । ऐसी कई चीजें हैं जिनकी वजह से पुरुष वर्ग सेक्स के समय डरते हैं जिससे सेक्स का मजा किरकिरा हो जाता हैं । इसलिए भरपूर सेक्स का आनंद लेने के लिए इन चीजों से डरना नहीं चाहिए क्योंकि समय के साथ आपमें सेक्स में पारंगत हो जाते हैं इसलिए पुरुषों को सेक्स के समय हमारे द्वारा बताई जा रही इन चीजों से डरने की जरूरत नहीं हैं । 

* पॉर्न ऐक्ट दोहरा नही पाने से निराश 
पुरुष अक्सर सेक्स के बारे में जानकारी जुटाने के लिए पॉर्न फिल्में देखते हैं। वह पॉर्न फिल्मों में दिखाए गए ऐक्ट को अपने पार्टनर के साथ दोहराने की कोशिश करते हैं और कई बार इसमें सफल न होने पर ये सोचकर निराश हो जाते हैं कि उनमें कुछ कमी है । लेकिन ऐसा  नहीं है पोर्न मूवी कई - कई दिनों में बनायीं जाती है उसके बाद लोगो को दिखाई जाती है उसके बाद लोगों में दिखाई जाती है इसलिए अपने परफॉरमेंस से आप परेशां न हो और अपने आप पैर कांसर्तेत करे /

* पार्टनर को असंतुष्ट छोड़ना 
अपने लाइफ पार्टनर को असंतुष्ट छोड़ देने का डर मर्दों  के मन में सबसे ज्यादा है। इस डर का सीधा संबंध 'साइज' से है । जहां महिलाओं को बड़ा साइज पसंद होता है तो वहीं पुरुषों को अपनी पार्टनर को चरम सुख देने में असफल रहने का डर हमेशा लगा रहता है । चरम सुख न दे पाने से पुरुषों के मन में ये भावना आजाती है कि वे पूर्ण सेक्स पार्टनर नहीं हैं । यह बात पुरुषों के इगो को हर्ट करती है । हम तो यही कहना चाहेंगे कि वह जितना ज्यादा इस बारे में सोचते हैं उतना ही समस्या बढ़ती जाती है । बेहतर है कि बिना साइज की चिंता किए अपने लाइफ  पार्टनर की जरूरतों को समझे और ज्यादा से ज्यादा फोरप्ले  प्यार करें ।

* जल्द स्खलन का डर 
पुरुष की कोशिश होती है कि वह अपने लाइफ  पार्टनर को पूरी तरह खुश कर पाए लेकिन इस दौरान वह उन्हें खुद के चरम सुख तक पहुंचने की भी चिंता होती है । जो उनके जल्दी स्खलित होने से जुड़ी होती है । ऐसा अक्सर देखा जाता है कि जल्द स्खलन सेक्स लाइफ को खराब कर देता है । बता दे कि मेडिकल साइंस के हिसाब से जो पुरुष अपना स्खलन एक मिनट तक रोक सकते हैं, वे नॉर्मल होते हैं । लेकिन ज्यादातर पुरुषों को यह पता नहीं होता । उनकी समस्या ज्यादातर उनके खुद की निगेटिव सोच का नतीजा होती है इसलिए पॉजिटिव थिंकिंग रखे आपको निरासा नहीं होगी  ।

* पार्टनर के प्रेगनेंट न हो पाने से डर 
पुरुष को इस बात का डर सताता है कि उसकी फीमेल पा़र्टनर प्रेग्नेंट हो पाएगी या नहीं । ये डर पुरुषों के सेक्शुअल परफॉर्मेंस पर असर डालता है । हम तो यही कहेंगे कि अगर सीमेन से जुड़ी कोई समस्या है तो उसे टेस्ट किया जा सकता है । प्रेग्नेंसी के लिए जरूरी है सही खान-पान और हेल्थी लाइफ। अच्छी सेक्स लाइफ महत्वपूर्ण है प्रेग्नेंसी नहीं ।

* मास्टरबैशन से जुडी परेशानी 
कई सर्वे ये बात साबित कर चुके है कि मास्टरबैशन का परुषों की सेक्स लाइफ पर कोई असर नहीं होता है । अक्सर पुरुषों को लगता है कि बचपन या कम उम्र में उनके द्वारा किया गया मास्टरबैशन उनकी वर्तमान सेक्शुअल प्रॉब्लम के लिए जिम्मेदार है । एक्सपर्ट अक्सर कहते नजर आते है कि मास्टरबैशन से पुरुष की सेक्स लाइफ पर कोई असर नहीं पड़ता । लेकिन मास्टरबैशन से जुड़ा गलत होने का अहसास ज्यादा खतरनाक है । इसलिए मास्टरबैशन की चिंता छोड़ पुरुषों को अपनी सेक्शुअल लाइफ एंजॉय करनी चाहिए । बावजूद इसके लोग अब भी तरह-तरह की बाते सोचकर परेशान रहते है ।

 

19 people found this helpful

Male Sexual Problems - Its Causes!

Male Sexual Problems - Its Causes!

 वीर्य में शुक्राणु का कम होना बहूत ही  ख़तरनाक मानागया है 

पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या में कमी का मतलब केवल उनकी प्रजनन क्षमता पर सवालिया निशान नहीं है बल्कि इससे पता चलता है कि कई अन्य तरह की भी स्वास्थ्य समस्याएं हैं. एक नई स्टडी से यह बात सामने आई है कि शुक्राणुओं की संख्या में गिरावट ये बताती है कि आपके शरीर में सबकुछ ठीक नहीं है.

 

शुक्राणुओं की कम संख्या वाले 5,177 पुरुषों पर एक स्टडी की गई. स्टडी से पता चला कि इनमें से 20 फ़ीसदी लोग मोटापे, उच्च रक्त चाप और बीमार करने वाले कोलेस्ट्रॉल से ग्रसित थे.

इसके साथ ही इनमें टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की भी कमी थी. इस स्टडी का कहना है कि जिनके वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम है उन्हें स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य समस्याओं की भी जांच करानी चाहिए.

क्या है समस्या?

वीर्य में शुक्राणुओं की कमी या वीर्य की गुणवत्ता में गिरावट के कारण हर तीन में से एक जोड़ा मां-बाप बनने की समस्या से जूझ रहा है. इस नई स्टडी में डॉक्टरों ने इटली में तहक़ीक़ात की है जो पुरुष प्रजनन क्षमता से जूझ रहे हैं उनकी सामान्य स्वास्थ्य में भी समस्या है.

स्टडी का कहना है कि जिन पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम है वो मेटाबोलिक सिंड्रोम से जूझ रहे हैं. इनका वजन लंबाई के हिसाब से ज़्यादा होता है और इनमें हाई ब्लड प्रेशर की आशंका बनी रहती है.

इनमें डायबीटीज, दिल की बीमारी और स्ट्रोक की भी आशंका प्रबल होती है.

इसके साथ ही इनमें सामान्य से 12 गुना कम टेस्टोस्टेरोन हार्मोन होता है जो कि यौनेच्छा को जगाता है. इससे मांसपेशियों के कमज़ोर होने की भी आशंका रहती है और हड्डियां भी पतली होने लगती हैं.

हड्ड़ियां कमज़ोर होने लगती हैं और चोट लगने पर टूटने की आशंका प्रबल हो जाती है.

यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रेसा में एन्डोक्रनॉलजी के प्रोफ़ेसर डॉ अल्बर्टो फर्लिन के नेतृत्व में ये स्टडी की गई है. उन्होंने कहा, ''प्रजनन क्षमता में गिरावट से जूझ रहे पुरुषों के लिए महत्वपूर्ण बात यह है कि वो इसके साथ कई और समस्याओं से जूझ रहे हैं. मसला केवल उनकी प्रजनन क्षमता का नहीं है बल्कि उनके जीवन का है. प्रजनन क्षमता का मूल्यांकन पुरुषों के लिए एक अच्छा मौक़ा होता है कि वो अपने शरीर की अन्य बीमारियों को भी पकड़ सकें.''

हालांकि इस स्टडी के लेखक का कहना है कि वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम होना मेटाबोलिक समस्या का प्रमाण नहीं है लेकिन दोनों समस्याएं एक दूसरे से जुड़ी हुई हैं.

इस रिसर्च टीम का कहना है कि टेस्टोस्टेरोन में कमी का संबंध इन समस्याओं से सीधा है.

10 people found this helpful

Sex Life Improvement Tips!

Sex Life Improvement Tips!

सुहागरात की कुछ खास बातें 

शादी के बाद की पहली सुनहरी रात को सुहागरात कहते हैं. सुहागरात को हर शादीशुदा जोड़ा एक यादगार रात बनाना चाहता है, लेकिन उनके मन में अक्सर ये उठता कि वो ऐसा क्या करें कि इस रात वो स्पेशल बना सकें. साथ ही इस बात का डर भी सताता है कि उनसे कहीं कोई गलती न हो जाए.
 कुछ टिप्स जिसे आज़माकर आप न सिर्फ अपने जीवनसाथी को खुश कर सकते हैं बल्कि इस सुहागरात को ज़िंदगी भर के लिए यादगार भी बना सकते हैं.

  • खुद को रखें टेंशन फ्री - सुहागरात जैसे स्पेशल लम्हे का पूरा मज़ा लेने के लिए सबसे ज़रूरी है कि आप खुद को टेंशन फ्री रखें. ये बिल्कुल भी ज़रूरी नहीं है कि पहली रात को पति ही पहल करे. दोनों मिलकर इसकी शुरूआत कर सकते हैं. उस रात जो भी हो उसे खुले दिल से स्वीकार करें.
  • बातचीत से करें शुरूआत - सुहागरात को शारीरिक संबंध बनाने से पहले जरूरी है कि आप अपने जीवनसाथी से अच्छी तरह बात करें. बात करके एक-दूसरे को फ्री करने की कोशिश करें, नहीं तो सेक्स के दौरान मन में झुंझलाहट बनी रहेगी.
  • फोरप्ले से करें पार्टनर को खुश - शारीरिक संबंध बनाने से पहले फोरप्ले से शुरूआत कीजिए. फोरप्ले के ज़रिए न सिर्फ आपका पार्टनर खुश होगा बल्कि आप और आपका पार्टनर दोनों संबंध बनाने के लिए उत्तेजित भी होंगे.
  • भविष्य को लेकर करें बात - पति-पत्नी का रिश्ता जीवन भर का होता है इसलिए अपने नए जीवन की शुरूआत अच्छे तरीके करें. इसके लिए बेहतर होगा कि शुरूआत में ही सेक्स करने के बजाय अपने पार्टनर से कुछ देर अपने भविष्य को लेकर बात करें. इससे आप अपने पार्टनर को बेहतर तरीके से समझेंगे. और इसके बाद ही सेक्स का भरपूर आनंद उठा पाएंगे.
  • एकाएक शारीरिक संबंध न बनाएं - सुहागरात की सेज पर जाते ही अपने पार्टनर के  साथ एकाएक सेक्स संबंध बनाने से बचना चाहिए. क्योंकि ऐसा करने से आपका पार्टनर कंफर्टेबल महसूस नहीं करेगा. और सेक्स के दौरान आपका पूरा साथ नहीं दे पाएगा.
  • पार्टनर को दे सरप्राइज - शादी के बाद की पहली रात खास होती है इसलिए आप इस रात अपने पार्टनर को सरप्राइज देकर खुश करने की कोशिश करें. आप चाहे तो हनीमून पैकेज, सेक्सी ड्रेस या कोई ग्लैमरस आउटफिट बतौर गिफ्ट दे सकते हैं.
  • एक्सपेरिमेंट करने से बचें - सेक्स के दौरान ऐसी पोज़िशन अपनाइए जो आपके और आपके पार्टनर के लिए सुविधाजनक हो. जितना हो सके इस रात को सेक्स में एक्सपेरिमेंट करने से बचें.
  • जबरन शारीरिक संबंध न बनाएं - शादी की पहली रात को अपने पार्टनर के साथ जबरन संबंध बनाने से बचना चाहिए. पार्टनर की रज़ामंदी के बाद ही उसके साथ संबंध बनाएं.
  • अपनी इमेज को ख़ास बनाएं - अगर आप यह सोचते हैं कि शादी की पहली रात सेक्स से संबंधित कोई भी बात करने से पार्टनर की नज़र में आपकी गलत इमेज बन सकती है तो ऐसे बिल्कुल भी नहीं है. सेक्स से पहले आप अपने पार्टनर से इस विषय पर बात कर उसे सहज महसूस करवा सकते हैं.

इन सभी टिप्स को अपनाकर आप शादी की पहली रात को न सिर्फ यादगार बना सकते हैं बल्कि रोमांटिक छवि भी बना सकते हैं.

1 person found this helpful

Sex Education!

Sex Education!

हमारे समाज में सेक्स को लेकर लोगों में कई तरह की भ्रांतियां फैली हुईं हैं जिसकी मुख्य वजह है इस मुद्दे पर बात नहीं करना। कई बार लोग संकोच व शर्म के कारण इस बारे में बात करने से कतराते हैं। जिसकी वजह से वे अधूरी व गलत जानकारियों के कारण परेशानी में भी फंस जाते हैं।
सेक्स एक ऐसा विषय है जिसके बारे में लोग ज्यादा से ज्यादा पढ़ना तो चाहते हैं लेकिन बात करने से कतराते है। नतीजन वे पूरी जानकारी ना पाकर अपने पास आधी-अधूरी जानकारी रखते हैं। लिहाजा सेक्स से जुडे आश्चर्यजनक तथ्यों को जानने से आप वंचित रह जाते हैं। यह सही है कि सेक्स को रोचक बनाना चाहिए लेकिन सुरक्षित सेक्स करना भी बहुत जरूरी है। सेक्स से जुड़े कई मिथ लोगों के मन रहते हैं जिस कारण वे सेक्स को रोचक बनाने से चूक जाते हैं। सेक्स का सबसे रोचक तथ्य क्या है। सेक्स को रोचक बनाने के लिए क्या करें, क्या ना करें। आइए जानें सेक्स से संबंधी रोचक तथ्यों के बारे में।
अगर आप बेड पर कैलोरी बर्न करना चाहते हैं तो सेक्स से अच्छा तरीका नहीं हो सकता है। अच्छे तरीके से नियमित रुप से आधे घंटे तक किए गए सेक्स से 150 कैलोरी बर्न की जा सकती है। इस तरह आप एक साल में दो किलो वजन कम कर सकते हैं अगर आप एक महीने में सात-आठ बार सेक्स करते हैं। लेकिन ध्यान रहें कि यह सश्क्त तरीके से होना चाहिए । 
बहुत अधिक सेक्स के बारे में सोचने या इस तरह की पिक्चर्स देखने से पुरूष में किसी भी तरह से कोई मानसिक बदलाव नहीं होता क्योंकि पुरूषों का ऐसा मानना होता है कि कल्पनाओं और वास्तविकता में बहुत फर्क होता है। यही बात शोधों में भी साबित हो चुकी है।
कभी भी खाना खाने के बाद सेक्स नहीं करना चाहिए क्योंकि आप इसे एंन्जॉय नहीं कर पाएंगे। आमतौर पर ऐसा होता है कि पेट भरा होने के कारण आपको सेक्स के दौरान डकार आने लगती है जिससे सेक्स करने में मजा नहीं आ पाता है।
नवविवाहित दं‍पति अकसर अपने सेक्स जीवन को लेकर चितिंत रहते हैं,जिसका नकारात्मक प्रभाव उनकी वैवाहिक जीवन पर पड़ता है। इतना ही नहीं सर्वें के अनुसार, आमतौर पर होने वाले तनाव से कहीं ज्यादा यौन असंतुष्टी से होने वाला तनाव खतरनाक है।
स्पर्म में पाए जाने वाला प्रोटीन महिलाओं की त्वचा के लिए काफी अच्छा माना जाता है। यह एंटी एजिंग का काफी अच्छा स्रोत माना जाता है साथ ही इसमें ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो चेहरे की झुर्रियों को दूर करने में मदद करते हैं। 
क्या‍ आप जानते हैं सेक्स करने से कुछ समय पहले व्यायाम करने से आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर सकारात्मक असर पड़ता है,इसके साथ ही आप अधिक एनर्जेटिक और फ्रेश महसूस करते हैं।
स्वस्थ रहने के लिए और अच्छी सेहत के लिए सेक्स बहुत महत्वपूर्ण है। सेक्स करने की कोई उम्र नहीं होती लेकिन उसके लिए मानसिक रूप से तैयार होना अनिवार्य है।

1 person found this helpful

सेक्स को लेकर भ्रम लोगों के मन में अक्सर रहता है आइये जाने!

सेक्स को लेकर भ्रम लोगों के मन में अक्सर रहता है आइये जाने!

 सेक्स को लेकर भ्रम लोगों के मन में अक्सर रहता है
 

आइये जाने 

संभोग करने की स्थिति से दर्द का कुछ नाता है ऎसे कुछ भ्रम लोगों के मन में अक्सर रहते हैं। कैसे आप इस दर्द से निजात पाकर सेक्स संबंधों का आनंद ले सकते हैं और अपने रिश्तों को सामान्य बना सकते हैं। संभोग के दौरान होने वाले दर्द को मेडिकल की भाषा में दाईस्पेरेनिया कहते हैं। यह ऎसा दर्द है जो एक बार होने पर बार-बार हो सकता है और इस दर्द का असर महिला-पुरूषों के रिश्ते पर बहुत बुरा पड़ता है ।
क्यों होता है दर्द   

वास्तव में पहली बार सेक्स के समय महिलाओं को होने वाले दर्द का मुख्य कारण योनि का बहुत ज्यादा टाइट होना है।  ऎसा तब होता है जब योनि में लुब्रिकेंट न होना से मांसपेशियां खिंच जाती हैं और उनमें सूजन आ जाती है। ऎसी स्थिति में संभोग के समय महिला को बहुत अधिक दर्द होता है। ऎसा उन महिलाओं यों के साथ होने की संभावना रहती है जो सेक्स संबंधों को बहुत बुरा मानती हैं और संभोग के समय पुरूष के साथ सहयोग नहीं करती। इसका मनोवैज्ञानिक असर ये होता है कि संभोग के समय योनि की मांसपेशिया सिकुड़ जाती हैं और तेज दर्द होता है।
ऐसे में किसी भी लुब्रिकेंट युक्त ( GEL या OIL ) का भी प्रयोग कर सकते है

योनि में किसी भी तरह का इंफेक्शन भी संभोग के समय दर्द का एक बहुत बडा कारण है । अक्सर योनि के आकार में परिवर्तन हो जाता है जिसे एंड्रियोमेट्रियोसिस कहते हैं। यदि आपको भी संभोग के दौरान दर्द होता है तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। संभोग के दौरान होने वाले दर्द का एक मनोवैज्ञानिक कारण भी है।

सेक्स को लेकर मन में डर बैठ जाता है

लड़कियों की परवरिश बचपन से ही इस तरह से की जाती है कि सेक्स को लेकर उनके मन में डर बैठ जाता है। वह सेक्स के नाम से ही घबराने लगती हैं और उन्हें अपनी किशोरावस्था और युवावस्था के दौरान यह भी सुनने को मिलता है कि पहली बार किया गया संभोग बहुत कष्टदायक होता है और इस दौरान खूब ब्लीडिंग भी होती है। लंबे समय तक यह भी माना जाता रहा है कि यदि पहली बार संभोग के दौरान ब्लीडिंग न हो तो लडकी पहले सेक्स कर चुकी है। ये तमाम बातें लडकी के मन में मनोवैज्ञानिक रूप से संभोग के प्रति डर पैदा कर देती है और इस तरह की लडकियों को पहली बार संभोग के दौरान अक्सर दर्द की शिकायत होती है।

दर्द न हो इसके लिए क्या करना चाहिए  

यदि आप चाहते हैं कि आपको संभोग के दौरान दर्द ना हो तो आपको कुछ सेक्स पोजीशंस का इस्तेमाल पहली बार संभोग के दौरान करना चाहिए और आपको अपने मन से संभोग में होने वाले दर्द व अन्य मिथों को दूर कर देना चाहिए। इन सबके बावजूद भी आपको संभोग के दौरान दर्द से गुजरना पड रहा है तो आप डॉक्टर की सलाह लें।

3 people found this helpful

सेक्स संबध को बेहतर बनानें के लिए करें यह उपाय!

सेक्स संबध को बेहतर बनानें के लिए करें यह उपाय!

  सेक्स संबध को बेहतर बनानें के लिए करें यह उपाय 
   आइये जाने 

क्या आपको पता है की आप सेक्स थेरेपी से आप अपनी सेक्स लाइफ को पहले से बेहतर बना सकते है. सेक्स थेरेपी का इस्तेमाल सेक्स और रिलेशनशिप संबंधी समस्याओ को सुलझाने के लिए किया जाता है. ज्यादातर सेक्स समस्याओ का सम्बन्ध मानसिक परेशानियों से होता है. जिन्हें सेक्स थेरेपी की मदद से सुलझाया जाता है, सेक्स थेरेपी के लिए आपको हमेशा पार्टनर की ज़रूरत नहीं पड़ती है. तो आइये जानते हैं सेक्स थेरेपी के बारे में कुछ अहम बातें.

इसे चिकित्सा उपचार के लिए एक पूरक के रूप में भी उपयोग किया जाता है. दूसरे शब्दों में कहा जाए तो सेक्स थेरेपी मनोचिकित्सा का एक प्रकार है, जो कि एक मानसिक स्वास्थ्य प्रदाता के साथ बात करके मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज के लिए दिया जाता है. सेक्स थैरेपी में किसी भी प्रकार का कोई शारीरिक संबंध नहीं बनाया जाता है.

सेक्स थेरेपी की मदद से यौन क्रियाओं, यौन भावनाओं और अंतरंगता के बारे में होने वाली चिंताओं को दूर किया जा सकता है. यह किसी व्यक्ति को व्यक्तिगत चिकित्सा या उसके साथी के साथ संयुक्त चिकित्सा में दी जा सकती है. सेक्स थेरेपी किसी भी उम्र, लिंग या यौन अभिविन्यास के वयस्कों के लिए कारगर हो सकती है.

सेक्स थेरेपी आमतौर पर मनोवैज्ञानिकों, सामाजिक कार्यकर्ता, चिकित्सकों या लाइसेंस प्राप्त चिकित्सकों जिन्हें सेक्स और संबंधों से संबंधित मुद्दों में विशेष प्रशिक्षण प्राप्त हो, द्वारा प्रदान की जाती है. प्रमाणित सेक्स चिकित्सक स्नातक डिग्री प्राप्त होते हैं, 

चिकित्सक आपको अपने साथी के साथ कुछ सामान्य से मगर प्रभावी एक्सरसाइज व टास्क करने की सलाह दे सकता है. ये सामान्य सी एक्सरसाइज और टास्क होते हैं, जिनमें ज्यादा शारीरिक ताकत की जरूरत नहीं होती है. मूल रूप से ब्रीदिंग एक्सरसाइज करायी जाती हैं.

प्रत्येक चिकित्सा सत्र पूरी तरह से गोपनीय होता है और आपके और चिकित्सक के बीच ही रहती है. तो आप खुल कर बिना कोई शर्म किये अपनी हर प्रकार की सेक्स समस्याएं को चिकित्सक से साझा कर सकते हैं, क्योंकि ये जानकारियां चिकित्सा की दृष्टी से महत्वपूर्ण होती हैं.

आप खुद भी सेक्स चिकित्सक से मिल सकते हैं, लेकिन यदि अपकी समस्या आपके पार्टनर को प्रभावित कर रही है, तो बेहतर होगा कि आप दोनों ही चिकित्सा सत्र में भाग लें.

सेक्स थेरेपी के अंतर्गत निम्न समस्याओं का समाधान किया जा सकता है- यौन इच्छा या उत्तेजना के बारे में चिंताएं, यौन हितों या यौन अभिविन्यास के बारे में चिंताएं, कंप्सिव सेक्स बिहेवियर, स्तंभन दोष, शीघ्रपतन, दर्दनाक संभोग तथा किसी पुराने यौन आघात के बारे में चिंताएं आदि। सेक्स थेरेपी के माध्यम से, आप स्पष्ट रूप से अपनी चिंताओं को व्यक्त करने के लिए सीख सकते हैं. साथ ही सेक्स थेरेपी की मदद से आप अपनी व अपने साथी की यौन जरूरतों को बेहतर ढ़ंग से समझ पाते हैं.

 

 

3 people found this helpful

सेक्स लाइफ को कैसे मधुर बनायें आइये जाने!

सेक्स लाइफ को कैसे मधुर बनायें  आइये जाने!

सेक्स लाइफ को कैसे मधुर बनायें  आइये जाने!

आज की इस तेज रफ्तार भरी जिंदगी में अगर पति-पत्नी दोनों कामकाजी हों तो एक-दूसरे के साथ बैठने और बातचीत के लिए भी समय निकालना मुश्किल हो जाता है । इसका सीधा असर पड़ता है उनकी सेक्स लाइफ पर । 
लंबे समय तक सेक्स के प्रति उदासीनता धीरे-धीरे वैवाहिक जीवन पर असर डालने लगती है । नतीजा होता है आपसी कड़वाहट और रिश्तों में तनाव । सेक्स के सिंपल टिप्स अपनाकर आप अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर और लुभावना बना सकते हैं । आइए जाने ऐसी ही कुछ बातें जिनसे आप अपनी सेक्स लाइफ को मधुर बना सकते हैं।

• नियमित सेक्स 
 

यह सच है कि तनाव और थकान का पति-पत्नी के यौन जीवन पर बुरा असर पड़ता है, मगर वहीं यह भी सच है कि सेक्स ही आपके जीवन में पैदा होने वाले दबावों और परेशानियों से जूझने का टॉनिक भी बनता है । इसलिए कोशिश करें कि सप्ताह में तीन बार तक सेक्स संबंध जरूर बनाये, इससे आपकी सेक्स लाइफ मधुर होगी ।

 • रिश्तों में निकटता लाये
 

सिर्फ स्वास्थ्य ही नहीं सेक्स का असर आपसी रिश्तों पर भी पड़ता है । रिश्तों  में निकटता लाकर पति-पत्नी सेक्स लाइफ को मधुर बना सकते है, उनके पास आपस में एक-दूसरे से कहने लिए बहुत कुछ होता है इसलिए ज्यादा से ज्यादा बातें करें, 

• सेक्स ऐसा जिसे दोनों एंज्वाय करें
 

मनोचिकित्सकों का मानना है कि जीवन में सकारात्मक ऊर्जा लाने के लिए ऐसा सेक्स जरूरी है जिसे पति-पत्नी दोनों एंज्वाय करें। इसके लिए जरूरी है कि इसे एक मशीनी क्रिया में बदलने की बजाय दिलचस्प बनाने पर जोर दिया जाए । इसमें फोरप्ले और कल्पनाशीलता की अहम भूमिका होती है। दरअसल यही आपको तनाव से मुक्त करता है और एक-दूसरे के करीब लाता है। सेक्स के दौरान सिर्फ एक-दूसरे के अंगों को सहलाकर और चूमकर शिथिलता दूर की जा सकती है। आपस में मधुर बातें, ओरल सेक्स या हस्तमैथुन के जरिए रुटीन की सेक्स लाइफ को ज्यादा स्पाइसी बनाया जा सकता है । 
 

• अपने साथी को समय दें
 

शादी के कुछ सालों बाद कुछ जोड़े पाते हैं कि सहवास और दृढ़ता अपनी वास्तविक चमक खोती जा रही है साथ ही दिन-ब-दिन सहवास करना सिर्फ एक रुटीन उद्देश्य रह जाता है. इसलिए अपने साथी को पूरा-पूरा टाइम दें, इसका सबसे बेहतर तरीका है कि पॉजिटिव प्रयासों से अपने पार्टनर को बहकाएं,
 

• अच्छी तरह बढ़ कर तैयारी करें 
 

यदि आप बाहर खाना या फिल्म देखने का मन बनाते हैं तो यह एक बेहतर अवसर है जहां आप एंज्वाय करेंगे. बहलाने का कोई भी मौका मिलता है तो उसे न छोड़ें । यही स्थिति ऐसी होगी जब आपका पार्टनर सहजता से सोचेगा कि आप उसे कितना चाहते हैं। कभी-कभी उसे उपहार भी दें । जैसे उसकी बगैर जानकारी के उसके लिये उसका पसंदीदा परफ्यूम लाकर दें या फिर कोई सहवासी सा अण्डरवियर उसे गिफ्ट करें । ऐसे में जब भी वह इनका प्रयोग करेगी आपको याद करे रोमांचित होगी ।
 

• आपस में छेड़छाड़ करें
 

आपसी छेड़छाड़ दो प्रेमियों के बीच का महत्वपूर्ण फोरप्ले होती है । इस दौरान धीमी लाइट जलाकर कोई पसंदीदा संगीत चालू कर लें । छेड़छाड़ के बीच-बीच में एक दूसरे को किस करने का मौका न गंवाएं साथ ही एक दूसरे से चिपक कर लेटे,इस दौरान पूरी सौम्यता बरते न कि सीधे सेक्सक के लिए उन्मुख हो जाएं। इससे सेक्सक लाइफ में मधुरता आएगी ।  

 

 

1 person found this helpful

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बचने के लिए क्या करें ?

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बचने के लिए क्या करें ?

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बचने के लिए क्या करें ?
 

आइये कुछ खाश बाते जाने 

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के कारण आपका यौन जीवन प्रभावित होता है । इस समस्या के दौरान पुरुषों को इरेक्शन होने में परेशानी होती है । आप कुछ तरीकों के जरिए इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बच सकते हैं ।
इरेक्टाइल डिस्फंक्शन एक यौन समस्या है जो कि किसी भी पुरुष के साथ हो सकती है। इसके दौरान पुरुषों को इरेक्शन होने में परेशानी होती है । उम्र बढ़ने के साथ इस समस्या की संभावनाएं बढ़ जाती हैं । इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के कारण आपका यौन जीवन प्रभावित होता है और आपको अपने प्रेम संबंधों के दौरान शर्मिंदगी महसूस करनी पड़ सकती है । बहुत से लोग इस समस्या को किसी के साथ साझा नहीं करते, यहां तक कि वो अपने पार्टनर के साथ इस बात को शेयर करने से कतराते हैं । इस कारण समस्या का समाधान और मुश्किल हो जाता है । इसलिए बेहतर है कि आप इस समस्या से बचने और निजात पाने के लिए कुछ तरीकों को अपनाएं या किशी अच्छे सेक्सोलोजिस्ट सेकाउंसलिंग करे । 
एल्कोहल का सेवन कम कर दें
एल्कोहल का सेवन जहां आपकी सेक्सुअल डिजायर को बढ़ाता है वहीं आपकी परफॉर्मेंस को कम कर देता है । इसलिए अत्यधिक मात्रा में शराब का सेवन ना करें । यह आपकी लव लाइफ के लिए खतरा हो सकती है ।

धमनियों के स्वास्थ्य पर ध्यान दें
 

अगर आपको कोलेस्ट्रॉल की समस्या है तो इस कारण भी इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या हो सकती है । कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाने के कारण आपकी धमनियां सिकुड़ने लगती हैं जिससे आपके गुप्तांगमें रक्त का प्रवाह नहीं हो पाता और दूसरा ट्रेसटोस्ट्रोन की कमी  होनेलगती है जीसके कारण इरेक्शन होने में दिक्कत होती है । इसलिए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखें और धमनियों के स्वास्थ्य पर ध्यान दें । 
धूम्रपान ना करें
 

सिगरेट का सेवन भी आपका यौन जीवन बिगाड़ सकता है। सिगरेट में मौजूद निकोटीन आपकी रक्त धमनियों को सिकोड़ देता है जिससे आपको निजी अंगों में रक्त पर्याप्त मात्रा में नहीं पहुंच पाता है और इसी कारण इरेक्शन नहीं होता है !

वजन नियंत्रित रखें
 

शोधकरता  बताते हैं कि जो लोग मोटापे का शिकार होते हैं उन्हें इरेक्शन में अधिक दिक्कत होती है । इसलिए बेहतर है कि आप स्वस्थ वजन रखें। इसके लिए आप नियमित रुप से एक्सरसाइज करें, साथ ही आप सही आहार भी ले सकते हैं । इससे ना केवल आप इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या कम होगी बल्कि आपका संपूर्ण स्वास्थ्य स्वस्त बना रहता है ।
 

साइकिल ज्यादा ना चलाएं
 

अधिक साइकिल चलाने से  और टाइट अंडरवियर या अधिक लंगोट पहनने वालो को प्यूबिक एरिया में अधिक दबाव पड़ता है जिसके कारण रक्त धमनियों और नसों में रक्त का प्रवाह ठीक प्रकार से नहीं होता है । इस कारण लिंग तक पर्याप्त मात्रा में रक्त नहीं पहुंचता और यही इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का कारण बनता है।

नियमित रुप से यौन संबंध बनाए
 

अगर आप नियमित रुप से यौन संबध बनाते हैं तो इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या नहीं होती । इसलिए सप्ताह में एकया एक  बार से अधिक यौन संबंध जरुर बनाएं । 
 

3 people found this helpful