Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Dr. Supriya Mahajan

Gynaecologist, Thane

500 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Supriya Mahajan Gynaecologist, Thane
500 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

To provide my patients with the highest quality healthcare, I'm dedicated to the newest advancements and keep up-to-date with the latest health care technologies....more
To provide my patients with the highest quality healthcare, I'm dedicated to the newest advancements and keep up-to-date with the latest health care technologies.
More about Dr. Supriya Mahajan
Dr. Supriya Mahajan is one of the best Gynaecologists in Kaushalya Medical Foundation Trust Hospital, Thane. You can visit her at Prachi Maternity Hospital in Kaushalya Medical Foundation Trust Hospital, Thane. Book an appointment online with Dr. Supriya Mahajan on Lybrate.com.

Lybrate.com has a number of highly qualified Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 41 years of experience on Lybrate.com. Find the best Gynaecologists online in Thane. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Supriya Mahajan

Prachi Maternity Hospital

Gala No 19/ 20, Ground Floor, Laxmi Market, Vartak Nagar,Thane West, Landmark:Behind Ratnagar Bank, ThaneThane Get Directions
500 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Supriya Mahajan

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I have twins baby boy and girl .both sleep on one side boy on back and girl on left side so their head on particular side have become flat. They are in their 5th month. What can be done.

M.Sc - Dietitics / Nutrition
Dietitian/Nutritionist, Chandigarh
I have twins baby boy and girl .both sleep on one side boy on back and girl on left side so their head on particular ...
You may try to change the postures regularly. This may seem difficult initially but you will have to be strict.
Submit FeedbackFeedback

I have regular pain during my periods and it becomes to much so I can't do anything and also can't sit for a while. Please suggest.

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS), Diploma in Pharmacy
Ayurveda, Mumbai
I have regular pain during my periods and it becomes to much so I can't do anything and also can't sit for a while. P...
The pain experienced during periods are known as dysmenorrhoea, which is a normal physiological symptoms. If it is very severe then painkillers can be taken once in a while but regular use of painkillers is not medically safe. In ayurveda there is panchakarma (basti) treatment is available with which you will get relief. *by the time you can start taking dashmoolarishta 2-2 with equal quantity of warm water and cap eposoft 1-1 both for 3 months.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Good afternoon Actually I want to know that if someone have less number of counts in him for getting conceive, is it possible to increase the counts? If yes then how many days takes this process?? Thanking you in the anticipation.

MBBS
General Physician, Faridabad
Good afternoon
Actually I want to know that if someone have less number of counts in him for getting conceive, is it ...
eat five food to increase sperm count,Red peppers, carrots, oatmeal, dried apricots The vitamin A in these foods help grow healthy sperm and improve male fertility. “Deficiencies in vitamin A in men have been linked to lowered fertility due to sluggish sperm, To increase sperm count and motility, eat dark green lettuce, broccoli, spinach, sweet potatoes, and dairy fortified with vitamin A.
Submit FeedbackFeedback

water

BHMS
Homeopath, Ernakulam
water
Drink plenty of water. 3 glasses in empty stomach is ideal.

Actually she is pregnant from one and half month .She has pain in stomach during and after sex .kindly give right suggest and precaution.

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Lucknow
Actually she is pregnant from one and half month .She has pain in stomach during and after sex .kindly give right sug...
Sexual intercourse is harmful during pregnancy. It may cause threatened abortion. Intercourse during first and last trimester completely avoid, can do with precautions during second trimester.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Pregnancy Diet

Bachelor of Unani Medicine and Surgery (B.U.M.S), PGD(Sexual Medicine & Councelling)
Sexologist, Gurgaon
Pregnancy Diet

Eating fish during pregnancy can make your child smart and brainy.

Submit FeedbackFeedback

I just rubbed my pennies on my girl pussy She is afraid that she may get pregnant There is any chance.

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Gurgaon
I just rubbed my pennies on my girl pussy
She is afraid that she may get pregnant
There is any chance.
rubbing doesn't get anyone pregnant,unless you have released semen containing sperm in female genital tract.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Tips For Good Health

BAMS
Ayurveda, Sonipat
Tips For Good Health

1- 90 प्रतिशत रोग केवल पेट से होते हैं। पेट में कब्ज नहीं रहना चाहिए। अन्यथा रोगों की कभी कमी नहीं रहेगी।
2- कुल 13 अधारणीय वेग हैं
3-160 रोग केवल मांसाहार से होते है
4- 103 रोग भोजन के बाद जल पीने से होते हैं। भोजन के 1 घंटे बाद ही जल पीना चाहिये।
5- 80 रोग चाय पीने से होते हैं।
6- 48 रोग ऐलुमिनियम के बर्तन या कुकर के खाने से होते हैं।
7- शराब, कोल्डड्रिंक और चाय के सेवन से हृदय रोग होता है।
8- अण्डा खाने से हृदयरोग, पथरी और गुर्दे खराब होते हैं।
9- ठंडेजल (फ्रिज)और आइसक्रीम से बड़ीआंत सिकुड़ जाती है।
10- मैगी, गुटका, शराब, सूअर का माँस, पिज्जा, बर्गर, बीड़ी, सिगरेट, पेप्सी, कोक से बड़ी आंत सड़ती है।
11- भोजन के पश्चात् स्नान करने से पाचनशक्ति मन्द हो जाती है और शरीर कमजोर हो जाता है।
12- बाल रंगने वाले द्रव्यों(हेयरकलर) से आँखों को हानि (अंधापन भी) होती है।
13- दूध(चाय) के साथ नमक(नमकीन
पदार्थ) खाने से चर्म रोग हो जाता है।
14- शैम्पू, कंडीशनर और विभिन्न प्रकार के तेलों से बाल पकने, झड़ने और दोमुहें होने लगते हैं।
15- गर्म जल से स्नान से शरीर की प्रतिरोधक शक्ति कम हो जाती है और
शरीर कमजोर हो जाता है। गर्म जल सिर पर डालने से आँखें कमजोर हो जाती हैं।
16- टाई बांधने से आँखों और मस्तिश्क हो हानि पहुँचती है।
17- खड़े होकर जल पीने से घुटनों(जोड़ों) में पीड़ा होती है।
18- खड़े होकर मूत्रत्याग करने से रीढ़
की हड्डी को हानि होती है।
19- भोजन पकाने के बाद उसमें नमक डालने से रक्तचाप (ब्लडप्रेशर) बढ़ता है।
20- जोर लगाकर छींकने से कानों को क्षति पहुँचती है।
21- मुँह से साँस लेने पर आयु कम होती है।
22- पुस्तक पर अधिक झुकने से फेफड़े खराब हो जाते हैं और क्षय(टीबी) होने का डर रहता है।
23- चैत्र माह में नीम के पत्ते खाने से रक्त शुद्ध हो जाता है मलेरिया नहीं होता है।
24- तुलसी के सेवन से मलेरिया नहीं होता है।
25- मूली प्रतिदिन खाने से व्यक्ति अनेक रोगों से मुक्त रहता है।
26- अनार आंव, संग्रहणी, पुरानी खांसी व हृदय रोगों के लिए सर्वश्रेश्ठ है।
27- हृदयरोगी के लिए अर्जुनकी छाल, लौकी का रस, तुलसी, पुदीना, मौसमी,
सेंधा नमक, गुड़, चोकरयुक्त आटा, छिलकेयुक्त अनाज औषधियां हैं।
28- भोजन के पश्चात् पान, गुड़ या सौंफ खाने से पाचन अच्छा होता है। अपच नहीं होता है।
29- अपक्व भोजन (जो आग पर न पकाया गया हो) से शरीर स्वस्थ रहता है और आयु दीर्घ होती है।
30- मुलहठी चूसने से कफ बाहर आता है और आवाज मधुर होती है।
31- जल सदैव ताजा(चापाकल, कुएं
आदि का) पीना चाहिये, बोतलबंद (फ्रिज) पानी बासी और अनेक रोगों के कारण होते हैं।
32- नीबू गंदे पानी के रोग (यकृत, टाइफाइड, दस्त, पेट के रोग) तथा हैजा से बचाता है।
33- चोकर खाने से शरीर की प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है। इसलिए सदैव गेहूं मोटा ही पिसवाना चाहिए।
34- फल, मीठा और घी या तेल से बने पदार्थ खाकर तुरन्त जल नहीं पीना चाहिए।
35- भोजन पकने के 48 मिनट के
अन्दर खा लेना चाहिए। उसके पश्चात्
उसकी पोषकता कम होने लगती है। 12 घण्टे के बाद पशुओं के खाने लायक भी नहीं रहता है।। 
36- मिट्टी के बर्तन में भोजन पकाने से पोषकता 100%, कांसे के बर्तन
में 97%, पीतल के बर्तन में 93%, अल्युमिनियम के बर्तन और प्रेशर कुकर में 7-13% ही बचते हैं।
37- गेहूँ का आटा 15 दिनों पुराना और चना, ज्वार, बाजरा, मक्का का आटा 7 दिनों से अधिक पुराना नहीं प्रयोग करना चाहिए।
38- 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मैदा (बिस्कुट, ब्रेड, समोसा आदि)
कभी भी नहीं खिलाना चाहिए।
39- खाने के लिए सेंधा नमक सर्वश्रेष्ठ होता है उसके बाद काला नमक का स्थान आता है। सफेद नमक जहर के समान होता है।
40- जल जाने पर आलू का रस, हल्दी, शहद, घृतकुमारी में से कुछ भी लगाने पर जलन ठीक हो जाती है और फफोले नहीं पड़ते।
41- सरसों, तिल,मूंगफली या नारियल का तेल ही खाना चाहिए। देशी घी ही खाना चाहिए है। रिफाइंड तेल और
वनस्पति घी (डालडा) जहर होता है।
42- पैर के अंगूठे के नाखूनों को सरसों तेल से भिगोने से आँखों की खुजली लाली और जलन ठीक हो जाती है।
43- खाने का चूना 70 रोगों को ठीक करता है।
44- चोट, सूजन, दर्द, घाव, फोड़ा होने पर उस पर 5-20 मिनट तक चुम्बक रखने से जल्दी ठीक होता है।
हड्डी टूटने पर चुम्बक का प्रयोग करने से आधे से भी कम समय में ठीक होती है।
45- मीठे में मिश्री, गुड़, शहद, देशी(कच्ची) चीनी का प्रयोग करना चाहिए सफेद चीनी जहर होता है।
46- कुत्ता काटने पर हल्दी लगाना चाहिए।
47-बर्तन मिटटी के ही प्रयोग करने चाहिए।
48- टूथपेस्ट और ब्रश के स्थान पर
दातून और मंजन करना चाहिए दाँत मजबूत रहेंगे।
(आँखों के रोग में दातून नहीं करना)
49- यदि सम्भव हो तो सूर्यास्त के पश्चात् न तो पढ़ें और लिखने का काम तो न ही करें तो अच्छा है।
50- निरोग रहने के लिए अच्छी नींद और अच्छा(ताजा) भोजन अत्यन्त
आवश्यक है।
51- देर रात तक जागने से शरीर की प्रतिरोधक शक्ति कमजोर हो जाती है। भोजन का पाचन भी ठीक से नहीं हो पाता है आँखों के रोग भी होते हैं।
52- प्रातः का भोजन राजकुमार के
समान, दोपहर का राजा और रात्रि का भिखारी के समान।

10 people found this helpful

Hello doc I am 20 year old girl and I have irregular period of 2 or 3 days. And I also have polycystic in overy because of that I have a facial hair and know that hair is underontrol by taking proper medicine and diet.

MD-Ayurveda, Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Haldwani
Hello doc I am 20 year old girl and I have irregular period of 2 or 3 days. And I also have polycystic in overy becau...
Hello lybrate user- ayurvedic concept of pcod (poly cystic ovarian disease) is somewhat different than modern concept, it generally occurs due to irregular food and daily habits done specially at the time of menstrual bleeding period. Pcod effect the ovulation process thus makes it difficult for the female to conceive and get pregnant. Some general tips to avoid pcod are- a) avoid spicy food fast food during the bleeding and take fresh indian food. B) use wet sponging instead of taking bath on those days. C) avoid running, skipping and other exercises on those days. D) use dashmoolarishtha 2 tsp twice daily with water ten days before menses.
3 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

92%
(977 ratings)

Dr. Parag Patil

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist
PHOENIX CLINIC, 
350 at clinic
Book Appointment