Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Aditya

Pathologist, Pune

0 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Aditya Pathologist, Pune
0 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

Hello and thank you for visiting my Lybrate profile! I want to let you know that here at my office my staff and I will do our best to make you comfortable. I strongly believe in ethics; a......more
Hello and thank you for visiting my Lybrate profile! I want to let you know that here at my office my staff and I will do our best to make you comfortable. I strongly believe in ethics; as a health provider being ethical is not just a remembered value, but a strongly observed one.
More about Dr. Aditya
Dr. Aditya is a trusted Pathologist in Baner, Pune. You can consult Dr. Aditya at Aditya Pathology Laboratory in Baner, Pune. You can book an instant appointment online with Dr. Aditya on Lybrate.com.

Lybrate.com has top trusted Pathologists from across India. You will find Pathologists with more than 36 years of experience on Lybrate.com. You can find Pathologists online in Pune and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Aditya

Aditya Pathology Laboratory

Aditi Commerce, Office No. 7 & 8, Above Bikaner Sweets, Baner,Landmark:Nr. Food Bazar & Opp. Bank of Maharashtra, PunePune Get Directions
0 at clinic
...more
View All

Services

Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Aditya

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

What is the symptoms of appendix pain? Light ar heavy pain? Kya continue light pain bi appendix ka lakshan h?

MBBS
General Physician, Cuttack
What is the symptoms of appendix pain? Light ar heavy pain? Kya continue light pain bi appendix ka lakshan h?
1.Dull pain near navel that becomes sharp as it moves to lower right abdomen 2.loss of appetite, nausea, vomiting, abdominal swelling, 3.fever, inability to pass gas, constipation/diarrhoea 4.USG abdomen can confirm the diagnosis
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am so weak of heavy walking and body pains and laziness which of the medicines are help to lose the pain and laziness?

MBBS
General Physician, Mumbai
I am so weak of heavy walking and body pains and laziness which of the medicines are help to lose the pain and laziness?
For pain take tablet paracetamol 650 mg and Eat nutritious food and have adequate fluid intake and take physical rest
Submit FeedbackFeedback

Hello sir, I am 20 years old and I suffer with body pains what can i do? Please tell me.

MBBS
General Physician, Cuttack
Hello sir, I am 20 years old and I suffer with body pains what can i do? Please tell me.
Take paracetamol 500mg one tablet sos, drink plenty of water, avoid physical and mental exhaustion. Check your hemoglobin. Get yourself examined by doctor
Submit FeedbackFeedback

Before six years I was fallen from terrace and started pain under my groin after take many medicine from many hospitals but pain is still occurs when I have also done x ray and sonography but its show normal. Please give me right suggestion.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Before six years I was fallen from terrace and started pain under my groin after take many medicine from many hospita...
You can consult me at lybrate for homoeopathic treatment. It can cure it... Till then start with Arnica Montana 1M one dose.
Submit FeedbackFeedback

My brother gets acute pain around his left ankle and some pain around his right ankle when he walks for about 15 minutes. The pain subsides on resting for 5-10 minutes. There is no pain when resting. Our doctor advised a blood circulation test to check if it's a case of peripheral artery disease. The test was carried out in his right leg only and blood circulation was found to be normal. Does this mean that blood circulation in his left leg would also be OK given that the test was carried only on his right leg?

FRHS, Ph.D Neuro , MPT - Neurology Physiotherapy, D.Sp.Med, DPHM (Health Management ), BPTh/BPT
Physiotherapist, Chennai
My brother gets acute pain around his left ankle and some pain around his right ankle when he walks for about 15 minu...
It doesn't mean to be like that, do check both limbs for the same is advisable for pain do take ust and laser therapy for 12 days followed by strengthening exercise from neuro physiotherapist do apply hot and cold water fomentation for thrice a day for 7 days regularly best wishes.
Submit FeedbackFeedback

Hi, I am 25 years old female suffering from cold with shivering fever for last 2 days followed by headache and body pain. Having past history of low blood pressure of 100/50. please suggest.

MD - Alternative Medicine
Alternative Medicine Specialist, Mumbai
Hi, I am 25 years old female suffering from cold with shivering fever for last 2 days followed by headache and body p...
Hello, bc 11 2 tab 4 times a day for 4 days take rest, avoid cold drink, spicy n oily foods take only fruits, steam vegetable n soup for 10 days stay healthy - naturally.
Submit FeedbackFeedback

Treatment Of Shin Pains - पिंडली का दर्द का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Treatment Of Shin Pains - पिंडली का दर्द का इलाज

पिंडली दर्द हमें कभी भी परेशान कर सकता है. जाहिर है शरीर में कहीं भी होने वाला दर्द हमारा सुख-चैन छीन ही लेता है. चलते-चलते पैरों में दर्द होना, रात को सोते समय पिंडलियों में ऐंठन होना आपके लिए बहुत दुखदायी होता है, कुछ बातों का खयाल रखकर इसके दर्द को दूर किया जा सकता है. आजकल की व्यस्त और भाग-दौड़ भरी दिनचर्या में मांसपेशियों में खिंचाव होना एक आम समस्‍या है, इसके कारण पैरों में और पिडंलियों में दर्द होता है. पैरों और पिंडलियों में दर्द की समस्‍या रात के वक्‍त अधिक होती है. यह समस्‍या उन लोगों को अधिक होती है जो डेस्‍क जॉब करते हैं और व्‍यायाम बिलकुल नहीं करते हैं. आइए इस लेख के माध्यम से हम आपको पिंडली के दर्द के के कुछ ईलाज बताएं. इसे जानकरके आप अपनी समस्याएं कम कर सकते हैं.
1. पानी पीना है जरूरी
पानी हमारी मांसपेशियों में नमी को बनाये रखने में मदद करता है. इसकी कमी से मांसपेशियों में जकड़न, दर्द आदि हो सकता है, जो वर्कआउट के दौरान बाधा बन सकता है. इसके अलावा, पानी शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में भी मदद करता है. इसके लिए छोटे व्यायाम सत्र में थोड़ा-थोड़ा कर पानी पिएं. आपको दिन में भी थोड़ा-थोड़ा पानी पीते रहने की आदत डालनी चाहिए खासतौर पर सोने से पहले. क्योंकि सोते समय शरीर तरल पदार्थों को काफी मात्रा में खोता है.
2. तेल मालिश करें
मालिश करने से मांसपेशियों में रक्त परिसंचरण बढ़ जाता है और मांसपेशियों को गर्माहट मिलती है. साथ ही यह लेक्टिक एसिड को भी दूर करता है और  जबकि तेल मांसपेशियों दर्द से राहत दिलाता है. कई प्रकार के तेल जैसे पाइन, लैवेंडर, अदरक और पिपरमेंट आदि के तेल की मालिश से मांसपेशियों का दर्द कम होता है और सूजन भी गायब होती है.
3. स्ट्रेचिंग
मांसपेंशियों में तनाव संबंधी समस्याओं के उपचार का सबसे असरदार तरीका है स्ट्रेचिंग. वे मांसपेशियां जो ज्यादा मजबूत और लचीली होती हैं, उनमें चोट लगने की संभावना कम होती है. इसलिए स्ट्रेचिंग अवश्य करें, ये एक घरेलु उपचार है जिसे आसानी से किया जा सकता है.
4. हीट थेरपी
हीट थेरपी का प्रयोग मोच, ऐंठन, मांसपेशियों में जकड़न तथा ऐंठन आदि के उपचार में किया जाता है. केवल गंभीर चोटों में हीट थेरपी करें, क्योंकि इसके कारण सूजन बढ़ भी सकती है. हालांकि गर्मी से मांसपेशियों के दर्द में आराम मिलता है, मांसपेशियों की जकड़न कम होती है.
5. प्रोटीन
मांसपेशियों के निर्माण और मरम्मत के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी होता है. प्रोटीन की कमी से भी मांसपेशियों में दर्द होने लगता है. भारी-भरकम शारीरिक गतिविधियों के बाद शरीर में ऊर्जा के स्तकर को बनाये रखने के लिए मांसपेशियों को प्रोटीन की जरूरत होती है. ऐसे में प्रोटीनयुक्त प्राकृतिक खाद्य उत्पादों का सेवन करना चाहिए. इसके लिए आप अपने आहार में अंडे, चिकन, मछली, स्प्राउट्स और दालें आदि को शामिल करें.
6. लाल मिर्च से लाभ
लाल मिर्च में कैप्सैसिन होता है जो ऑर्थराइटिसअर्थराइटिस, जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में आराम पहुंचाता है. आप इसका पेस्ट बनाकर दर्द वाली जगह स्वयं लगा सकते हैं. पेस्ट बनाने के लिये आधा टेबल स्पून लाल मिर्च को जैतून के तेल (गुनगुना) या नारियल के तेल में मिलाएं और प्रभावित स्थान पर लगायें और दो मिनट के बाद धो डालें.
7. एक्सरसाइज भी है जरूरी
रक्त की आपूर्ति की कमी से मांसपेशियों में कड़ापन आने से उनमें दर्द होने लगता है. लेकिन नियकित नियमित एक्सeरसाइज से इस समस्याह से बचा जा सकता है. नियमित व्यायाम करने से रक्त वाहिनियों की सक्रियता बरकरार रहती है. नियमित व्यायाम भले ही लोगों को महत्वपूर्ण न महसूस हो लेकिन इसकी वजह से रक्त की आपूर्ति को निर्बाध बनाए रखने में बहुत मदद मिलती है.

2 people found this helpful
View All Feed