Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. S.M Kartak

MBBS, MD - General Medicine, DM - Neurology

Neurologist, Mumbai

49 Years Experience  ·  1100 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. S.M Kartak MBBS, MD - General Medicine, DM - Neurology Neurologist, Mumbai
49 Years Experience  ·  1100 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

My experience is coupled with genuine concern for my patients. All of my staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well....more
My experience is coupled with genuine concern for my patients. All of my staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well.
More about Dr. S.M Kartak
Dr. S.M Kartak is one of the best Neurologists in Peddar Road, Mumbai. Doctor has had many happy patients in his/her 49 years of journey as a Neurologist. Doctor studied and completed MBBS, MD - General Medicine, DM - Neurology . You can consult Dr. S.M Kartak at Jaslok Hospital in Peddar Road, Mumbai. Book an appointment online with Dr. S.M Kartak and consult privately on Lybrate.com.

Find numerous Neurologists in India from the comfort of your home on Lybrate.com. You will find Neurologists with more than 25 years of experience on Lybrate.com. Find the best Neurologists online in Mumbai. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Education
MBBS - Grant Medical College, JJ group of Hospitals Mumbai - 1969
MD - General Medicine - Grant Medical College, JJ group of Hospitals Mumbai - 1973
DM - Neurology - Grant Medical College, JJ group of Hospitals Mumbai - 1975
Awards and Recognitions
Master Teacher Award ? SHINE 2015,6th ? 8th March 2015
J.S.Chopra Oration, Indian Academy of Neurology, Visakhapatnam, AP,
SKS Neuro Hospital Life Time Achievement Award, Hyderabad
...more
Distinguished Doctor Award ? Indian Medical Association 2015
Professional Memberships
Indian Medical Association (IMA)

Location

Book Clinic Appointment with Dr. S.M Kartak

Jaslok Hospital

15 - Dr. G Deshmukh Marg, Pedder Road Landmark : Near Mahalakshmi TempleMumbai Get Directions
1100 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. S.M Kartak

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I am suffering from parkinson's since 4 years and taking allopathic medicine. There is no marked improvement in my daily routine. Slowness and stiffness and pain in spinal cord and legs knees etc has become order of day constipation and insomnia are long enemy. Is there any cure?

FRHS, Ph.D Neuro , MPT - Neurology Physiotherapy, D.Sp.Med, DPHM (Health Management ), BPTh/BPT
Physiotherapist, Chennai
Do take proper follow up with neuro physican and neuro physiotherapist and take appropriate therapy best wishes.
Submit FeedbackFeedback

My friend has some kind of shivering attack before some days, after consulting a doctor, the doctor told him that the attack was due to epilepsy. So I want to know what are the symptoms of epilepsy?

MBBS
General Physician, Cuttack
1. Symptoms of epilepsy may be preceded by an aura (awareness of strange odor, taste, vision), hallucination 2.Sudden fall with loss of consciousness 3. convulsion/ stiffness of extremities, frothy discharge from mouth, upward rolling of eye ball, stiffness of extremities
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 25 years old men as i am suffering from hands shaking how can I overcome from this problem ?

MD - Psychiatry, MBBS
Psychiatrist, Patna
Dear shaking of hand may be due to anxiety or excessive alcohol use or thyroid disorder. Get tsh, t3, t4 done, stop alcohol if abusing. If you feel yourself worried always, can not relax, have dry mouth, palpitation, excessive sweating, churning sensation in stomach, dizziness etc then you may be suffering from anxiety. Treatment of anxiety with medicines may also cure this shaking of hands.
Submit FeedbackFeedback

Multiple small patchy acute infarcts are seen in left parietal cortical and subcortical region in left mca territory.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Multiple small patchy acute infarcts are seen in left parietal cortical and subcortical region in left mca territory.
Hi lybrate-user. If you want Homoeopathic treatment then Consult through Lybrate. This is not a condition which can be prescribed so simply. Though you may get Homoeopathic Medicine Bothrops 30 TDs for 2-3 days.
Submit FeedbackFeedback

What to do after attack of fits, any specific diet to be followed. Please suggest sir.

DM - Neurology
Neurologist, Hyderabad
There is no specific diet to be followed after fits. But patient should avoid cola or aerated cold drinks, excessive coffee, tea, chineese fast foods. Take plenty of fruits, vegetables, diary products.
4 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Naso Ki Kamzori ka ilaj - नसों की कमजोरी का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Naso Ki Kamzori ka ilaj - नसों की कमजोरी का इलाज

हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग हमारी नसें होती हैं, जो हमारे शरीर में रक्त संचारित करती रहती है, जो हमें जिन्दा रहने के लिए बहुत अहम होता है। पर कई बार कुछ कारणों से ये कमजोर पड़ जाती हैं जिसकी वजह से हमें कई शरीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। तो आइए दोस्तों आज हम जानेंगे इन नसों की कमज़ोरी के कारण और इससे निजात पाने के आसन घरेलू उपायों की।

दरसल शरीर का कोई भी हिस्सा जैसे पीठ, कमर, हाथ, गर्दन आदि की नस के दबने से होने वाला दर्द काफी तकलीफदेय होता है। इसकी वजह से हम कोई भी काम सही ढंग से नही कर पाते। नसें हमारे शरीर मे मौजूद भिन्न- भिन्न अंगों से होकर गुजरती है और जब कोई अंग कमज़ोर पड़ता है तो सबसे पहले वहां की नसों पर इफ़ेक्ट पड़ता है। कई बार हमारे शरीर की नसें गलत व्यायाम करने से या वज़न बढ़ने की वजह से या किसी अन्य वजहों के कारण दब जाती है और शरीर के उस हिस्से में दर्द होने लगता है। जिसकी वजह से हमारा रक्त उस अंग में नही पहुंच पाता, जिससे वह कमज़ोर पड़ने लगती हैं। ऐसे में हम इस समस्या का समाधान किसी अच्छे डॉक्टर की मदद से या खुद घर बैठे भी कर सकते है ।

  •  पर ध्यान रहे नसों में होने वाले दर्द का इलाज़ करने की जानकारी आपको पूरी तरह से होना बेहद जरूरी है, क्योंकि नसें बहुत ही डेलिकेट होती है और गलत इलाज करने से इसे काफी नुकसान पहुंच सकता है। 
  • यदि आपके शरीर के किसी भी अंग की नसें कमज़ोर हो गई हों तो उसका घर बैठ इलाज करने से पहले इन कुछ बातों का विशेष ध्यान रखें।
  • दबी हुई नस को जितना हो सके दबाना या मोड़ना टालें।
  • यदि सूजन हो तो सूजन कम करने के लिए बर्फ और गर्म चीज़ों से बारी-बारी से मसाज करें।
  • ज्यादा से ज्यादा आराम करें।
  • आराम पाने के लिए ज्यादा दबाव न डालें हल्की मालिश ही करें।
  • जितना हो सके सफेद या ब्राउन पट्टी की मदद से नस को एक जगह पर स्थिर रखें।
  • हद से ज्यादा दर्द हो तो ही कोई दर्द निवारक दवा लें अथवा किसी भी तरह की दवा लेने से बचें।

नसों के कमजोर होने के लक्षण

  • यदि आपके शरीर की नसें कमज़ोर हो गई हैं, तो इससे शरीर में होने वाले इफ़ेक्ट की पहचान करना जरूरी होता है जिससे सही इलाज करने में सहायता मिलती है। 
  • यदि आपकी याददास्त घटने लगे तो समझ लीजिये की आपकी नसें कमजोर पड़ने लगी हैं।
  • चक्कर आना भी एक संकेत है कि आपकी नसें कमज़ोर है क्योंकि रक्त संचारित नही हो पा रहा।
  • रक्त जब शरीर में सही ढंग से नही सर्क्युलेट होता तो आंखों के आगे उठने-बैठने के समय अंधेरा छाने लगता है।
  • अपच होना भी एक संकेत है।
  • अनिन्द्रा भी दर्शाता है आपके नसों की कमज़ोरी।
  • हदय-स्पंदन
  • शरीर में खून की कमी होना।

नसों की कमज़ोरी का इलाज
 इनमें से कोई भी लक्षण जब शरीर में घटित होता है तो नसों में बहुत तेजी के साथ दर्द होने लगता है, जो परेशानी का सबब बन जाता है। तो अब जानते हैं  नसों के दर्द को दूर करने के कुछ आसान घरेलू इलाज जिसे आप ठीक से फॉलो करेंगे तो यकीनन फायदा होगा।
1. पुदीने का तेल 
यदि आपके नसों में बहुत दर्द होता है, तो दर्द से प्रभावित क्षेत्र में पुदीने के तेल से मालिश करें । इससे आपको नसों के दर्द से राहत मिलेगी।
2. सरसो का तेल
सरसों के तेल से नसों के दर्द से छुटकरा पाया जा सकता है। सरसों के तेल को गरम करके इससे मालिश करे। ऐसा करने से आपको निश्चित ही लाभ होगा।
3. लेवेंडर का फूल
लेवेंडर का फूल तथा सुइया को नहाने के पानी में मिला कर नहाएं ।
4. बेर की गुठलियां
नसों की कंजोरी को दूर करने के लिए आप बेर की गुठलियों को गुड़ के साथ खाएं जिससे की नसों में मज़बूती आएगी और शरीर बलवान बन जाता है।
5. गाय का दूध 
नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए आप गाय के दूध के साथ मक्खन, मिश्री भी खा सकते है, जिससे काफी हद तक नसों की कमजोरी में आराम मिलता है।
6. किसमिस
किसमिस खाने की आदत डाल लें। यह शरीर में अन्य लाभ पहुंचाने के साथ ही नसों की कमजोरी का भी बेहतरीन इलाज  है। पर हाँ इसका इस्तेमाल आप सर्दियों के मौसम में ही करने की कोशिश करें।
7. आयुर्वेद का साथ
अश्वगन्धा 100 ग्राम, सतावर 100 ग्राम, बाहीपत्र 100 ग्राम, इसबगोल की भूसी 100 ग्राम, तालमिश्री 400 ग्राम इस सबका एक मिश्रण बना ले और उस मिश्रण को सुबह व शाम को दूध के साथ लें। लगभग एक महीने के प्रयोग से ही शरीर की रक्त क्षमता बढ़ जाती है। और नशों में ताक़त आजाती है ।
8. व्यायाम 
यदि आपकी नसों में बहुत दर्द होता है तो आपको नियमित व्यायाम करना चाहिए जिससे नसों को बहुत लाभ होता है और इसमें पड़ी हुई गांठ भी धीरे-धीरे ठीक हो जाती है।
9. भ्रस्तिका प्राणायाम
भ्रस्तिका प्राणायाम करने से भी नसों के रोगी को बहुत लाभ होता है। लाभ होता है इसलिए रोजाना यह प्राणायाम करें
10. अनुलोम विलोम 
अनुलोम विलोम प्राणायाम करने से भी नसों में होने वाली दिक्कत को एक दम से दूर किया जा सकता है और बहुत दिनों तक करेंगे तो ये बीमारी जड़ से ख़त्म हो जाएगी।
11. मसाज का सहारा
नस में होने वाले दर्द पर दबाव डालने से तनाव को मुक्त करने और दर्द कम करने में मदद मिल सकती है। पूरे शरीर की मालिश करने से सभी मांसपेशियों की शिथिलता को बढाने में और साथ ही प्रभावित हिस्से को आराम देने में हेल्प मिलती हैं।
 

32 people found this helpful

I am suffering from migraine headache since 3 years I want to know is there any suggestions for instant relaxation.

MBBS
General Physician, Cuttack
1. Take Paracetamol 500mg one Tablet sos after food up to a maximum of three tablets daily at the time of attack, apply ice pack, massage scalp/temple 2. Drink plenty of water and take rest. 3. Avoid stress, anxiety, depression, agitation, exposure to loud noise, bright light, strong smell inadequate sleep, continuous use of cell phone since it precipitates migraine attack 4. Avoid salted /processed food, aged cheese, excess tea/coffee/alcoho (red wine)/caffeinated beveragesl. Don’t skip/postpone your meal, avoid hunger since it triggers the attack 5. Go for regular exercise, reduce weight if over weight 6. Practice yoga, meditation, deep breathing exercise to calm your mind, control your emotion and relieve you from stress 7. If You have chronic migraine, you have to take migraine prophylaxis like propranolol/ vasograin after consulting physician 8. Consult neurologist to exclude other causes of headache and if required, take CT scan of brain.
3 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi, my dad was operated for brain haemorrhage, the operation was successful and clotting was removed, My question is some times he goes into such a deep sleep that he would wake up if we call or pinch him, I tried a lot to make him open his eyes but he won't, he raises his hand and even yarn. Is this common for this kind of surgery or is it a serious neuro issue. Regards,

MBBS, MD - Internal Medicine, Fellow In Pain Management, DM - Neurology
Neurologist, Gurgaon
Hello increased drowsiness in a patient of Brain Hemorrhage could be due to Hyponatremia low sodium. Low glucose or some infection like urine infection. Better you should get done routine tests like Sodium, Blood Sugar, Complete blood count. If these are normal then consult your neurologist / neurosurgeon you may need to repeat your CT scan in that case.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My mom have been suffering from migraine from her childhood. How could it be cured?

MBBS
General Physician, Mumbai
Migrane- It is characterised by one sided headache which is pulsatile in nature and with a throbbing pain usually with an aura and we can start with tablet propranolol after personal examination
Submit FeedbackFeedback

I have stomatitis and insomnia due to one of my family members death and unable to forget his loss so cannot concentrate in work etc. Also sexual debility etc. are there.

MD - Psychiatry
Psychiatrist, Indore
Go for psychiatric consultation.For stomatitis go for fruits and vegatibles in diet.You can also go for multivitamin tabs daily especially folic acid 5 mg for stomatitis.And zolpidem 10 mg tabs for insomnia.You may be having depression because of loss of near and dear person.Needs consultation to decide wheather you require medicine or not.
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

88%
(91 ratings)

Dr. Siddharth Kharkar

MBBS, MHS, MD - Neurology (USA), Fellowship In Epilepsy, Clinical Attachment In Movement Disorders
Neurologist
NEURO+ Epilepsy & Movement/Parkinson's Clinic, 
at clinic
Book Appointment

Dr. Yogesh Patidar

MBBS, MD - General Medicine, DM - Neurology
Neurologist
Patidar Neuro Care, 
0 at clinic
Book Appointment