Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Dr. Ashok Mulghaukar

MBBS

Gynaecologist, Mumbai

500 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Ashok Mulghaukar MBBS Gynaecologist, Mumbai
500 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage....more
I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage.
More about Dr. Ashok Mulghaukar
Dr. Ashok Mulghaukar is an experienced Gynaecologist in Dahisar East, Mumbai. He has completed MBBS . He is currently practising at Dr. Ashok Mulghaukar@Abhinav Sushrut Hospital in Dahisar East, Mumbai. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Ashok Mulghaukar on Lybrate.com.

Find numerous Gynaecologists in India from the comfort of your home on Lybrate.com. You will find Gynaecologists with more than 28 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Mumbai and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Education
MBBS - - -

Location

Book Clinic Appointment

Abhinav Sushrut Hospital

Mangirish, R. Trivedi Road, Dahisar East,Landmark: Opposite S.V. Road.Mumbai Get Directions
500 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Ashok Mulghaukar

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I am 42 years old lady. 4 days back doctor diagnosed me fungal infection in my vagina. She prescribed Zocon 150 mg weekly for three weeks , Secnil forte -one tablet daily for two days and ginclac v for insertion for four days. As a result my urine is very very dark. What should I do? Another doctor skin specialist prescribed LCZ for my face skin allergy. Can I take this anti allergic with the above medicine? My urine is very very dark. Kindly suggest.

BHMS, MD - Homeopathy
Homeopath, Delhi
I am 42 years old lady. 4 days back doctor diagnosed me fungal infection in my vagina. She prescribed Zocon 150 mg we...
Dear lybrate user, do not worry, take plent ful of water around 4-5 liters per day, and see if this still persist, if it is there even after taking water, you can visit a doctor near you who can guide you with change in medicine or addition in medicine.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I eat lemons in excess. So is there any bad effect of this on my health? Does it plays any role in irregular periods?

BHMS, MD - Alternate Medicine
Homeopath, Nagpur
I eat lemons in excess. So is there any bad effect of this on my health? Does it plays any role in irregular periods?
In majority of the cases irregular menses are accredited to hormonal imbalance, but in some cases it may be pathological and secondary to some pathology of ovaries mostly. Now if you want to regularized the menses then you must establish permanent balanced first and this can be achieved only with homoeopathy, because in modern medicine we get only a hormonal support with a very temporary relief. But with homoeopathy you can strike the hormonal balance permanently which later on also give you regular menses even if you stop the medicine.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My wife is 7 week pregnant. I want to know the complete diet chart & routine till delivery. What should we do and shouldn't? Kindly advice in details month wise or week wise.

MBBS, DGO, MD, Fellowship in Gynae Oncology
Gynaecologist, Delhi
My wife is 7 week pregnant.
I want to know the complete diet chart & routine till delivery.
What should we do and sho...
Hello, Now that she is a mum-to-be, it is important to eat well. This will make sure she gets all the nutrients needed. If her diet is poor to begin with, it is even more important to make sure she have a healthy diet now. She needs more vitamins and minerals, especially folic acid and iron. She needs a few more calories during pregnancy as well. Getting the right diet for pregnancy is more about what she eat than about how much. Limit junk food, as it has lots of calories with few or no nutrients. Milk and dairy products: skimmed milk, yogurt/curd, buttermilk (chhaach), cottage cheese (paneer). These foods are high in calcium, protein and Vitamin B-12. Talk to your doctor about what to eat if you are lactose intolerant. Cereals, whole grains, dals, pulses and nuts: these are good sources of protein if you do not eat meat. Vegetarians need about 45 grams of nuts and 2/3 of a cup of legumes for protein each day. One egg, 14 grams of nuts, or ¼ cup of legumes is considered equivalent to roughly 28 grams of meat, poultry, or fish. Vegetables and fruits: these provide vitamins, minerals and fibre. Fluids: Drink lots of fluids, especially water and fresh fruit juices. Make sure you drink clean boiled or filtered water. Fats and oils: Ghee, butter, coconut milk and oil are high in saturated fats, which are not very healthy. Hydrogenated vanaspati oil and ghee is high in trans fats, which are as bad for you as saturated fats. A better source of fat is vegetable oils because these contain more unsaturated fats.
Submit FeedbackFeedback

Focus on Deep Breathing

MBBS, FIAGES-MInimal Access Surgery
General Surgeon, Kota
Focus on Deep Breathing
  • When you are trying to juggle multiple things at a time, you are bound to be stressed. Five to ten minutes of deep breathing can help in relaxing you and reducing anxiety.
  • You can also close your eyes and focus on relaxing and tensing each muscle group while taking deep, slow breaths. The best part about this is that you can do it any time, at home, workplace or even on the road.
3 people found this helpful

I mean the days when there is chance of getting pregnant like my periods date is 2 and on 7 I had sex.

DHMS (Diploma in Homeopathic Medicine and Surgery)
Homeopath, Ludhiana
I mean the days when there is chance of getting pregnant like my periods date is 2 and on 7 I had sex.
If your periods started on 2 feb and your period cycle is minimum of 25 days, and you have had unprotected sex on 7 feb, then no chances of pregnancy---------------------
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Me and my husband were just fooling around in bed when he rubbed his penis against my genital area. He did not enter my vagina at all. I would like to know whether there are any chances that I would become pregnant?

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Gurgaon
Me and my husband were just fooling around in bed when he rubbed his penis against my genital area. He did not enter ...
If his fluid was there at that time then possiblities are there but otherwise seems very unlikely.
5 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 3 month 20 days pregnant. Sometime I feel a bad straining in right lower abdomen for a small duration. And feel a little pain also in the left lower abdomen. Both the conditions are bearable and mostly happen at night time. I am a working lady. Need to travel also sometime. So please suggest me what should I do! And also tell me in which position should I sleep. And please give some idea regarding diet also. Thank you.

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Gurgaon
I am 3 month 20 days pregnant. Sometime I feel a bad straining in right lower abdomen for a small duration. And feel ...
It could be just a growing pain, you should take some Uterine relaxants for the same along with some antacids, take a lighter meal at night and sleep in which ever position you feel comfortable with. Travelling can be done but without a bumpy ride, you may take some pregnancy support pills whenever you feel discomfort or tired ,or when you travel.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Ways of Detoxification

Pulse Reader, Panchakarma, Naturopathy, Ayurveda, Keralian Therapy, Yoga, Dietitian
Ayurveda, Delhi
Ways of Detoxification

Detoxification refers to the removal and the elimination of the toxic substances from the body. Various methods are used to achieve that and drinking plenty of water is primary among them.

However that is not the only way. Other ways include:

  1. Abstain from drinking alcohol and coffee: The disadvantages of alcohol and coffee are aplenty and one among them is their tendency to accumulate toxins in your body. Removing them from your diet goes a long way in removing toxins.
  2. Lessen the use of shampoos and other health care productsThe shampoos and the deodorants, which are available in the market despite their attractive packaging and numerous tall claims, are replete with chemicals. The excessive use of these products has a detrimental effect as they build up toxins in the body. You must therefore either drastically lessen their use or use alternative products to avert from the fatal eventuality.
  3. Take less stress: When you are under overt stress, your mind as well as your body shows clear signs of that. In instances of overt stress, the body releases the stress hormone that may provide a temporary boost of energy, but manifolds the accumulation of toxin in the body.
  4. Include fruits in your diet: The advantages of fruits do not require an introduction. They are well known and unanimously acknowledged. The reason why doctors vehemently insist on including at least one fruit in the diet is due to its ability to cleanse the body from the daily assemblage of toxins in the body.
  5. Eat vegetables which contain fiber: Vegetables like beets, cabbages and radishes, those which are rich fiber serve as excellent detoxifying foods.
  6. Drink green tea: Drinking green tea is a habit that has recently developed but in little time has gained immense popularity. This habit is credited not only with weight loss but also has tremendous ability to eliminate toxins from the body.
  7. Indulge in exercise or yoga: Another way to ensure that your body is bereft of the harmful chemicals is by indulging in various exercises or yoga. Both the practices significantly improve the physical health and at the same time detoxify the body.

If you wish to discuss about any specific problem, you can consult the doctor and ask a free question.

5534 people found this helpful

Is there any cure for loose vagina. I feel that after the birth of my second child the grip is missing during sex. Both my kids born healthy 8 n 7 pounds, both normal delivery, during second birth no stitches were given. Im doing kegel exercise, not regularly. Should I go for surgery. Also im slightly overwt now.

Diploma in Anesthesia, MBBS
General Physician, Hyderabad
regular kegel exercise without break will help you in tightening vagina. you need to bring down your weight, so that the tone of the pelvic muscles will improve. some yoga asanas also will help in improving the tone of the pelvic muscles. these things done regularly will maintain the tone of the muscles. But if its affecting your married life and if its affecting you psychologically you can go for corrective surgery. good luck
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Tamarind Leaves (Imli ke Patte) Benefits in Hindi - इमली के पत्ते के फायदे

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Tamarind Leaves (Imli ke Patte) Benefits in Hindi - इमली के पत्ते के फायदे

इमली के पत्तों के कई औषधीय गुण होते हैं. इमली का पेड़ बहुत विशाल होता है. इसके जड़, तना, छाल, पत्तियों, फल और फुल सबका औषधीय महत्व है. इमली के फल को हमारे यहाँ खाद्य पदार्थों में खट्टापन लाने के लिए प्रयोग किया जाता है. तो आइए देखते हैं कि इमली के पत्तों के कितने फायदे हैं.

1. अल्सर के उपचार में
इमली के पत्ते का उपयोग अल्सर जैसे बीमारियों से लड़ने में भी कर सकते हैं. जाहिर है अल्सर में कई बार असहनीय दर्द होता है. इसके उपचार में इमली के पत्ते महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.
2. स्कर्वी के उपचार में
नाविकों के रोग से मशहूर स्कर्वी नामक रोग विटामिन सी की कमी से होता है. इसके लक्षणों में मसूड़ों और नाखूनों से खून निकलना और थकान प्रमुख है. इमली के पत्ते उच्च एस्कार्बिक एसिड से भरपूर होते हैं. जो कि एंटी स्कर्वी के रूप में काम करता है.
3. उच्च रक्तचाप के उपचार में
इमली के पत्ते आपको उच्च रक्तचाप में भी मदद करते हैं. आज बदली हुई जीवनशैली के कारण उच्च रक्तचाप की समस्या बेहद आम हो गई है.
4. शुगर को नियंत्रित करने में
हमारे शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में इमली के पत्तियों की महत्वपूर्ण भूमिका है. इससे इन्सुलिन की संवेदनशीलता में वृद्धि हो जाती है. इस तरह ये शुगर की बिमारी में राहत देने का काम करता है. पीलिया को ठीक करने में भी इसकी भूमिका देखी गई है.
5. सूजन को कम करने में
इमली के पत्तों के तमाम फायदों में एक ये भी है कि इससे सूजन को कम किया जा सकता है. इसका प्रयोग आप चाहें तो जोड़ों के दर्द में भी कर सकते हैं.किसी तरह के चोट से भी हुए सूजन को ये कम कर सकती है.
6. मलेरिया के उपचार में
जाहिर है कि मलेरिया बुखार मादा एनोफेलिज़ नामक मच्छर के काटने से होता है. एक शोध में ये पाया गया कि इमली के पत्तियों का अर्क प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम के विकास को प्रभावित करता है. आपको बता दें कि यही मलेरिया बुखार के होने का कारण है.
7. एंटीऑक्सीडेंट के रूप में
एंटीऑक्सीडेंट का महत्व हमारे शरीर में बहुत ज्यादा है. एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से छुटकारा दिलाते हैं. जाहिर है फ्री रेडिकल्स त्वचा कैंसर और कई अन्य समस्याएं उत्पन्न करते हैं. इमली के पत्ते एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जिससे कि ये इसमें काफी मददगार होते हैं.
8. इन्फेक्शन में
विटामिन सी की भण्डार इमली की पत्तियां किसी भी सूक्ष्मजीव के संक्रमण से हमारे शरीर की रक्षा करता है. जाहिर है इससे शरीर स्वस्थ रहता है. इसके पत्तों का प्रयोग जननांग संक्रमण को भी रोकता है. तो संक्रमण से बचने में भी इमली के पत्ते हमारी मदद करते हैं.
9. माउथ फ्रेशनर के रूप में
जाहिर है मुंह का दुर्गन्ध रहित रहना बहुत महत्वपूर्ण है. मौखिक स्वच्छता यानी माउथ फ्रेशनर के रूप में इसका इस्तेमाल आपको बेहतर परिणाम देता है. तो अब से आप माउथ फ्रेशनर के रूप में इमली के पत्तों का प्रयोग कर सकते हैं. जाहिर है ये आयुर्वेदिक भी है.
10. पीरियड्स और स्तनपान में
पीरियड्स के दौरान ऐंठन, पेट दर्द आदि समस्याओं से निपटने के लिए इमली के पत्तियों और छाल के अर्क का उपयोग करते हैं. ऐसा इमली के पत्तों का एनाल्जेसिक होने के कारण होता है. स्तनपान के दौरान इमली के पत्तियों का प्रयोग करने से माताओं के दूध की गुणवत्ता में काफी सुधार आता है.
11. घाव भरने में
इमली की पत्तियां एंटीसेप्टिक गुणों से युक्त होती हैं. इसलिए इमली के पत्तियों का रस जब घावों पर लगाते हैं तो इससे घाव तेजी से ठीक होता है. इसका रस अन्य संक्रमण और परिजिवी का विकास रोकने के साथ-साथ नई कोशिकाओं का निर्माण भी तेजी से करता है.
 

1 person found this helpful

I am unmarried 27 age I am doing hand job Weekly twice IT will affect me or affect after marriage time.

MBBS
Sexologist, Panchkula
I am unmarried 27 age I am doing hand job Weekly twice IT will affect me or affect after marriage time.
You are doing hand job, twice a week. This will not affect your sex life after marriage. I advise you to take proper balanced vegetarian diet. Take plenty of water to detoxify body. Take fruits and vegetables in daily diet. Do meditation for mental strength daily. Follow this and be happy.
Submit FeedbackFeedback

Hi, My wife is pregnant from 40days and we don't want baby right now. Please suggest me what should I do. Any medicine or abortion?

MS, MBBS
Gynaecologist, Delhi
Hi, My wife is pregnant from 40days and we don't want baby right now. Please suggest me what should I do. Any medicin...
Since medical method of abortion is recommended till 8th week of pregnancy safely you can go for medical method.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 50 years old female. After uterus ovary operation I got thyroid problem within a month so I take medicine for it. My problem is that I do not get regular moving bowels in the morning and I donnot sleep in the night for a longer hours kindly give me a solution.

BHMS
Homeopath, Secunderabad
We have best medicines in homoeopathy for irregular bowel movement. May I know how long are you suffering from this problem? are you feeling any pain while passing motion? drink adequate water and eat rich fiber foods like papaya, ritz gourd, spinach, watermelon etc.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I have no child after my 4 years married life. I am under treatment since 2 yrs. The report of my anti mullerian hormone test is 1.27 NG/ML. Doctor told me that the egg quality is very low which affects for getting pregnant. Kindly advise me.

MD - Obstetrtics & Gynaecology, Fellowship in Infertility
IVF Specialist, Noida
I have no child after my 4 years married life. I am under treatment since 2 yrs. The report of my anti mullerian horm...
Hi. AMH of 2- 4 ng/ ml is optimum .However, this alone is not sufficient to arrive at a conclusion regarding the fertility status. We always co relate it with an ultrasound. Moreover. It is the egg number that can be commented upon and there is no test in the lab for egg quality except to see the fertilisation rate. Therefore. Kindly get ultrasound done too.
Submit FeedbackFeedback

With the latest UPT results pregnancy came positive. This is my start of 6 week in 1st trimester. I feel nausea and hyperemesis all the time, please suggest a idle food to intake during this time.

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecology, DNB (Obstetrics and Gynecology)
Gynaecologist,
With the latest UPT results pregnancy came positive. This is my start of 6 week in 1st trimester. I feel nausea and h...
Hi, congratulations for your pregnancy. Eat lots of fruties and vegetables and less spice and chili. Small frequent meal.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Natural Ways to Get Pregnant Fast

Ayurveda, Delhi
Natural Ways to Get Pregnant Fast

*तुरंत और आसानी से गर्भवती होने के तरीके–प्रेग्नेंट होने के टिप्स*

  • एक महिला के लिए बच्चे को जन्म देना काफी प्रसन्नता की बात होती है, और वह इस दिन की काफी प्रतीक्षा करती है।गर्भावस्था की स्थिति अचानक नहीं आती, इसमें गणना का काफी बड़ा हाथ होता है।
  • गर्भवती होने के लिए आपका फर्टिलाइजेशन (fertilization) अच्छे से होना चाहिए। आपको अपने मासिक धर्म (periodic cycle) का आंकलन करके उसी हिसाब से चलना चाहिए।
  • शारीरिक सम्बन्ध के फलस्वरूप गर्भवती होने से पहले इस बारे में अच्छे से सोच लें कि आप असल में एक बच्चे को जन्म देना चाहती हैं या नहीं।
  • इनफर्टिलिटी (infertility) की समस्या से ग्रस्त लोगों को डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए तथा गर्भवती होने के अन्य तरीके प्रयोग में लाने चाहिए।
  • आजकल जीवनशैली में परिवर्तन की वजह से पुरुष और महिलाओं की फर्टिलिटी का स्तर काफी कम हो गया है।
  • *नीचे गर्भवती होने के कुछ तरीकों के बारे में बताया गया है।*

ज्यादातर जोड़े जो असुरक्षित यौन संबंध प्रस्थापित करते हो उसमे महिला को प्रेगनेंट करने का तरीका, प्रेग्नेंट/गर्भवती होने की (to become pregnant) ज्यादा संभावना होती है|
जिस जोड़े को प्रजनन की समस्या न हो वे प्रेग्नेंट होने के टिप्स,कुछ आसान तरीकों का पालन करके उसमे महिला गर्भवती हो सकती है|

*प्रेगनेंट होने के लिए कुछ सुझाव (instructions for getting pregnant)*

  • प्रेगनेंट होने के लिए, जोड़े को अपने आप को तनाव से मुक्त रखने की जरुरत है|
  • तनावग्रस्त रहने से गर्भ रहने में मुश्किलें आ सकती हैं|
  • *गर्भावस्था के दौरान खून निकलना और उनके कारण*
  • महिलाओं के लिए अण्डोत्सर्ग का समय जाननेवाले किट का उपयोग करके सही समय का पता लगाना चाहिए।
  • अण्डोत्सर्ग से पूर्व 24-36 घंटे मूत्र में एलएच की वृद्धि होती है और यह समय प्रेग्नेंट/गर्भवती बनने(to get pregnancy) के लिए लाभकारी होता है|
  • प्रेगनेंट होने के लिए,
  • पुरुषों को ज्यादा व्यायाम नहीं करना चाहिए,
  • गर्म पानी से टब बाथ नहीं लेना चाहिए और ज्यादा तंग कच्छे नहीं पेहेनने चाहिए|
  • प्रेग्नेंट/गर्भवती होने के बेहतरीन उपाय और प्राकृतिक तरीके (natural ways to get pregnant fast)

अगर लंबे समय बाद भी स्त्री को गर्भ न रहता हो तब वैद्यकीय सलाह की जरुरत पड़ती है|
इसमें कुछ दवाइयां लेनी पड़ती हैं जो आपके प्रेग्नेंट/गर्भवती होने के अवसरों को बढ़ावा देती हैं|

*नीचे दिए गए कुछ प्राकृतिक तरीके महेंगे नहीं होते हैं|*

  • नियमित रूप से इनका पालन करने पर प्रेग्नेंट/गर्भवती रहने की संभावना बढती है|
  • यौन संबंध के समय जोड़े कि शारीरिक अवस्था ऐसी हो जिससे पुरुष महिला के साथ गहरा संबंध प्रस्थापित कर सके|
  • संबंध के बाद महिला को अपनी पीठ पर 15मिनट तक लेटा हुआ रहना आवश्यक है जिससे पुरुष के शुक्राणु स्त्री के बीज तक पहुँच सके|
  • गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन रोक देना चाहिए|
  • मासिक धर्म का योग्य समय देखकर शरीर संबंध का समय तय किया जा सकता है|
  • पुरुष और स्त्री को स्वस्थ जीवनशैली का पालन करना जरुरी है|
  • ड्रग्स और शराब लेना बंद करें|
  • स्त्री के शरीर में शुक्राणु थोड़े दिनों तक रहते हैं| इसलिए अक्सर संबंध रखना गर्भ रहने में मदद करता है|

*प्रेगनेंट होने के टिप्स.*

  • गर्भवती होने के तरीके (easiest way to get fast conceive tips in hindi)
  • कुछ स्त्रियों में आसानी से गर्भ रहता है पर कुछ स्त्रियों के लिए यह बड़ा मुश्किल होता है|
  • कुछ आसान तरीकों का पालन करके प्रेग्नेंट होने के टिप्स से ऐसी स्त्रियाँ प्रेग्नेंट/गर्भवती हो सकती हैं|

गर्भवती महिलाओं को नींद लाने में सहायता करने के लिए कुछ तरीके

  • स्त्रियों के शरीर में बीज 12-24घंटे तक फलन के लिए उपलब्ध होते हैं जबकि शुक्राणु ३ से ५ दिनों तक जिंदा रह सकते हैं|
  • इसलिए 28 दिनों के बाद आनेवाले मासिक धर्म में पहले 11से 21दिन तक संबंध रखने से उपयोग हो सकता है|
  • अक्सर संबंध रखना गर्भ रहने का आसान तरीका है|
  • शरीर की ऐसी स्थिति जहाँ शुक्राणु आसानी से बीज तक पहुँच सके ऐसी स्थिति होना मदद करता है|
  • जोड़े को तनाव मुक्त होना बहुत जरुरी होता है|
  • अगर ऊपर दिए गए किसी भी सुझाव से प्रेग्नेंट नहीं होती तो डॉक्टर की सलाह लें|

*प्रेग्नेंट होने के लिए क्या करें*
*वज़न घटाना (losing weight)*

  • कई बार वज़न ज़्यादा होने की वजह से महिलाओं को गर्भधारण करने में दिक्कतें पेश आती हैं।
  • उन्हें बच्चे को जन्म देने में काफी परेशानी होती है, क्योंकि इस प्रक्रिया में उनके शरीर में जमा वसा एक बाधा बन जाती है।
  • अतः एक बच्चे को जन्म देने के लिए पुरुष और महिला दोनों का ही स्वस्थ रहना काफी ज़रूरी है।
  • अत्याधिक वज़न वाली महिलाओं को इनफर्टिलिटी की समस्या होने की संभावना काफी ज़्यादा होती है।
  • अतः गर्भधारण का प्रयास करने से पहले महिलाओं को 2 से 3 महीने तक व्यायाम करके अपना वज़न कम करने का प्रयास करना चाहिए।

*केमिकल्स से दूर रहें (be away from chemicals)*

  • कारखानों तथा प्रयोगशालाओं में काम करने वाली महिलाएं रोज़ाना कठोर केमिकल्स के संपर्क में आती हैं।
  • छपाई के कारखानों तथा फसलों के लिए कीटनाशक बनाने वाले उद्योगों में काम करने वालों को भी इनफर्टिलिटी की समस्या घेर सकती है।
  • एक बार अगर आपने गर्भधारण का फैसला ले लिया है तो कृपया केमिकल्स से दूर रहें।
  • अगर संभव हो तो अपना पेशi बदल लें या फिर गर्भावस्था के समय से पहले और बाद के लिए छुट्टी ले लें।
  • इससे आपके फर्टिलिटी तथा बच्चा दोनों ही सुरक्षित रहेंगे।

*तनाव दूर करें (avoiding stress)*

  • आजकल ज़्यादातर लोग तनाव के शिकार हैं, और शायद यही वजह गर्भावस्था के स्तर के घटने की भी है।
  • आजकल सभी लोगों को सारा दिन काम का बोझ तथा तनाव झेलना पड़ता है।
  • दिमाग में पड़ने वाले प्रभाव के अलावा यह शरीर में उत्पादित होने वाले हॉर्मोन्स (hormones) में भी समस्या उत्पन्न करता है।
  • अतः तनाव से दूर रहें तथा गर्भधारण का फैसला लेने से पहले हमेशा खुश रहने का प्रयास करें।
  • आपको अपने बच्चे के बारे में सोचते हुए अपना तनाव कम करना चाहिए।
  • चिंता की वजह को दूर करने की कोशिश करें।

*सेक्स की प्रक्रिया को दोहराएं (having repeated sex)*

  • सम्भोग दुनिया में बच्चे को लाने का एक अनोखा और आनंददायक तरीका है।
  • प्रेगनेंट करने का तरीका में कुछ लोग काम के दबाव तथा अन्य जुड़े कारणों से पर्याप्त मात्रा में सेक्स की क्रिया को अंजाम नहीं दे पाते।
  • पर अगर आप बच्चा चाहती हैं और एक बार सेक्स से कोई फायदा ना हो तो उर्वर दिनों (fertilizing days) को ध्यान में रखते हुए सेक्स की क्रिया को बार बार दोहराना काफी महत्वपूर्ण साबित होगा। 
  • महिलाओं का मासिक धर्म (menstrual cycle) 28 से 30 दिनों का होता है, जिसमें से 14 वें दिन वे सबसे ज़्यादा उर्वर अवस्था में रहती हैं। 
  • आपको इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए कि अंडाणु (ovum) का जीवन 24 से 36 घंटों तक का ही रहता है। 
  • अतः आपको सम्भोग की क्रिया के लिए इस दिन के आसपास के समय का ही चुनाव करना चाहिए। 
  • इस समय सेक्स में लिप्त होने से गर्भधारण की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं। 
  • आपको सम्भोग के बाद दवाई की दुकानों पर उपलब्ध यूरिन टेस्ट किट (urine test kit) से गर्भावस्था की जांच करनी चाहिए।

*गर्भवती होने के उपाय–*

  • संतुलित खानपान (balanced diet)
  • जब आपको गर्भधारण की इच्छा हो, उस समय आपको अपने खानपान की तरफ भी काफी ध्यान देना चाहिए।
  • संतुलित आहार करें जिसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, मिनरल और अन्य पोषक पदार्थ हों (protein, minerals and other nutrients), जिससे कि गर्भधारण की प्रक्रिया में तेज़ी आ जाए। 
  • हमेशा पोषक भोजन करने की कोशिश करें, जिससे बिना किसी समस्या के आसानी से बच्चे को जन्म दिया जा सके।
  • आप अपने खानपान में अन्य पूरक आहार (supplements) तथा माइक्रोन्यूट्रिएंट्स (micronutrients) भी शामिल कर सकती हैं।
7 people found this helpful

12 Foods That Help You Absorb Iron

M.Sc - Dietitics / Nutrition
Dietitian/Nutritionist,
12 Foods That Help You Absorb Iron

12 Foods That Help You Absorb Iron

View All Feed