Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Dr. Anjali

Gynaecologist, Mumbai

650 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Anjali Gynaecologist, Mumbai
650 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage....more
I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage.
More about Dr. Anjali
Dr. Anjali is a popular Gynaecologist in Kurla West, Mumbai. You can visit her at Kohinoor Hospital in Kurla West, Mumbai. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Anjali on Lybrate.com.

Find numerous Gynaecologists in India from the comfort of your home on Lybrate.com. You will find Gynaecologists with more than 35 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Mumbai and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Anjali

Kohinoor Hospital

Off Lbs Road, Kirol Road, Kurla West,Landmark:Kohinoor city, MumbaiMumbai Get Directions
650 at clinic
...more

Kohinoor Hospital

C-Wing, LBS Marg, Premier Residencies, Kurla West Premier ResidenciesMumbai Get Directions
650 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Anjali

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

We had intercourse some days ago without any protection and I gave her an i-pill now she is having vaginal bleeding which is causing her so much weakness and vomit feeling. Please provide some suggestions regarding benefits and side effects of these pills.

MBBS, MD Psychiatry, DNB Psychiatry
Psychiatrist, Nagpur
We had intercourse some days ago without any protection and I gave her an i-pill now she is having vaginal bleeding w...
I pills are emergency contraceptive pills, should be avoided for use on regular basis. If taken within 72 hours may provide protection against pregnancy, maximum effectiveness in first 24 hours I pills may cause irregular menstrual bleeds, nausea or vomiting as side effects.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi Sir, I need your help for this. Because of ipill. My wife is increasing the fat and body fat suddenly. And her hormones also increase. How to solved the problem? Needed your help badly.

MBBS
Sexologist, Panchkula
Hi Sir, I need your help for this. Because of ipill. My wife is increasing the fat and body fat suddenly. And her hor...
Your wife's weight is increasing due to I pill and hormones levels are disturbed. I advise you to take proper balanced vegetarian diet. Take fruits and vegetables in daily diet. Take 8 to 10 glasses of water daily. Avoid non veg and eggs. Take more of proteins and less of fats and carbohydrates. Do meditation for mental strength.
Submit FeedbackFeedback

Skipping A Meal - Can It Be Hazardous To Your Health?

M.Sc - Dietitics / Nutrition
Dietitian/Nutritionist, Lucknow
Skipping A Meal - Can It Be Hazardous To Your Health?

In the race of getting to work on time, finishing files and completing all the tasks on your to-do list, eating is sometimes given the last priority. You may think that skipping a meal does no harm, but in fact it can have quite a detrimental effect on your physical and mental health.

Here are a few things that may happen when you skip a meal

You lose muscle weight: While skipping a meal may make you lose weight, this is not healthy weight loss. Skipping a meal makes the body lose muscle weight not fat. Losing muscle weight can, in turn, lead to a loss of energy and make you tire easily.

  1. You will crave junk food: When you skip a meal, your body craves for fillers and snacks. Thus, you are more likely to binge on chips and other such unhealthy snacks. In the long run, this can make you put on weight. It can also make you eat more for your next meal.
  2. You may be less productive: Skipping a meal can make you slowdown in terms of time taken to make decisions. It can also make you physically unsteady and leave you feeling lethargic thus, making you less productive. Not eating at regular times can also make you moody and affect your ability to concentrate on tasks.
  3. Your metabolism is affected: Skipping a meal may put your body into starvation mode so as to store energy. Not only does this slow down your rate of metabolism and leave you with less energy, it can also lead to weight gain as the calories are stored as fat instead of being burnt as energy.
  4. It can increase your risk of lifestyle diseases: Skipping a meal can make your blood sugar levels drop. Not having breakfast or lunch can also make you eat a heavier dinner that elevates your sugar levels. This type of fluctuation can affect your body’s insulin response time and lead to diabetes in the long run. Skipping meals can also lead to high blood pressure and hypertension.

It can cause indigestion: Stomach upsets like gas, bloating, acidity, pain etc are very often caused by skipping a meal. This is because when you skip a meal, the stomach is left empty for a long time leading to a build-up of gastric acids in the stomach. This acid then attacks the lining of the stomach causing ulcers and abdominal pain.

In case you have a concern or query you can always consult an expert & get answers to your questions!

3883 people found this helpful

I have delivered preterm baby and he is not breast feeding I am feeding him similac 1 baby is 20 days now his weight is low what should I feed him should I change baby powder n as he is not breast feeding I want to stop my milk any medicine please advice as I need to get to work after 15 days.

PGPN, MD
Pediatrician, Vizianagaram
Most of the preterm babies loose 15% body weight and starts regain after 15 day. Expected wt gain is 20- 30 gms on dialy basis. What your feeding now is good. Instead of bottle feed, start spoon feeds. Look for dilution of milk, 1 scoop for every 30 ml of water. Do not stop breast milk.
Submit FeedbackFeedback

महिला साथी को सेक्स के लिए उतेजित करने के विशेष तरीके

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
महिला साथी को सेक्स के लिए उतेजित करने के विशेष तरीके

महिला साथी को सेक्स के लिए उतेजित करने के विशेष तरीके 

महिलायें बहुत ही रोमांचित महसूस करती है जब पुरुष उसके नीचे के अंगो की तरफ मुखातिब होता है। मुख मैथुन या ओरल सेक्स सम्भोग के दौरान किया जाने वाली एक बहुत ही नैसर्गिक आनंददायी और रोमांचकारी क्रिया है। इसके इस्तेमाल से आप अपने वैवाहिक जीवन या सम्बन्ध में एक नयी उमंग भर सकते हैं। अपने साथी को सम्भोग के दौरान नए अहसास दे सकते हैं। मुख मैथुन वर्षो से चली आ रही प्रक्रिया है ये कोई अब की नयी बात नहीं है जिसे आजकल ज्यादातर पोर्न फिल्मो में दिखाया जाता है। मुख मैथुन का वर्णन कामसूत्र में भी है। आज हम आपको बताते हैं मुख मैथुन से जुड़े ऐसे सुझाओं से जिसके इस्तेमाल से आप अपने यौन जिंदगी में नयी उमंग लाकर अपने महिला पार्टनर को अदभुत रोमांच दे सकते है |

1. साफ़ सफाई का विशेष ध्यान दे पहले दोनों पार्टनर अपने जनांगो को अच्छी तरह से साफ़ करले 

नारी  का संवेदनशील अंग भग्न शीश स्पर्श मात्र से प्रेम और उतेजक उमड़ता है 
उसे अच्छा लगता है जब आपका ध्यान उसके भग्न शीश (क्लिटोरिस) की तरफ जाता है। भग्न शीश महिलाओं के जननेन्द्रियों का सबसे सवेंदनशील हिस्सा होता है। यहाँ किसी भी तरह का स्पर्श महिलाओं को उत्तेजना से भरपूर कर देता है। पर अगर बस इसी जगह पर ज्यादा ध्यान देना और हिस्से को चूमना महिलाओं को थोड़ा बोर भी कर सकता है। मुख मैथुन की क्रिया के दौरान अपनी जीभ का इस्तेमाल पूरी तरह करें। जीभ को सीधे कर के उसके उस हिस्से को छुएं, कभी हलके से कभी जोर से उसके क्लिटोरिस को जीभ से छुएं। अपनी जीभ में आप जितने भी अलग वैरीएशन देंगे मुख मैथुन का मजा उसके लिए और भी ज्यादा होगा।

2. मुख मैथुन में सतर्कता बरते 

मुख मैथुन की क्रिया जल्दी जल्दी रोटियां सेंक कर खाने जैसी नहीं है। इसे आराम से करें । ये किसी पांच सितारा होटल में पुरानी शराब को चखने जैसी प्रक्रिया है जिसे जितने आहिस्ता जितने आराम से करें मजा उत ना ही आएगा। उसके जाँघों की निचली सतहों को चूमें, अपने होठों से उसके भगोष्ठ (labia) को चूमें, उस जगह गर्म साँसे छोड़े। ऐसा करना उसको आनंद की पराकाष्ठा पर पहुंचा देगा।

3. प्रेम और उतेजना का ज्वार चरम्पर

वो आपकी जिंदगी का एक हिस्सा है, आपकी पत्नी है, प्रेमिका है या महिला मित्र है। वो एक सामान्य सी लड़की है कोई पोर्नस्टार नहीं है इसलिए मुख मैथुन के समय पोर्न फिल्मों में अपनाएं गए तरीकों से बचे। उसके भग्न शीश के पास अपने जीभ को गोल गोल घुमाएं कभी क्लॉकवाइज तो कभी एंटीक्लॉकवाइज। आपको कुछ ही पलों में अंदाजा हो जाएगा की आप जो कुछ भी कर रहे हैं सही जगह कर रहे हैं और आपके इन मूवमेंट्स से उसे स्वर्ग जैसा सुख मिल रहा है।

4. परमानन्द की अनुभूति स्वत: होगी 

अगर आप बिस्तर पर ये सोचकर जा रहे हैं की आज उसे चात्मोत्कर्ष के उत्कर्ष पर पहुंचा देंगे तो थोड़ा सचेत हो जाइए।आप बिस्तर पर बस ये सोचकर जाएँ की आज की रात आप उसे अपने प्रेम अपने स्पर्श से किसी और लोक की सैर कराएँगे। आपकी सोच बस आनंद तक सिमित रहनी चाहिए। आप ये कतई सोचकर बिस्तर पर न जाएँ की आज आप उसे इजैकुलेट करने पर मजबूर कर देंगे। वो इस पल में खोना चाहती है। अगर आप अपने आप में समां लेंगे तो वो खुद ब खुद आनंद के समंदर में डूब जायेगी।

5. प्रेमभाव को प्रदर्शन को विशेष निर्देशक सदेव याद रखे 

उन सारी बातो को ध्यान में रखे जब वो आपके पुरुषार्थ के स्तम्भ, आपके शिश्न को चूमती है। क्या आपको उसका आपके शिश्न को हौले हौले चूसना या चूमना पसंद है, या थोड़े जंगली तरीके से या फिर आप अपने शिश्न पर उसके दाँतो के स्पर्श को महसूस करना पसंद करते हैं। मुख मैथुन के समय आप जैसा भी महसूस करते होंगे या आपको जो कुछ भी अच्छा लगता होगा उसे भी कुछ ऐसा ही लगता होगा। इसलिए अगली बार जब उसके नाभि के नीचे उतरें तो इन बातों को ध्यान में रखें। 

6. सेक्स के दौरान दोनों एक दूसरे में समा जाये 

मुख मैथुन की प्रक्रिया में अगर एक बार भी उसे ऐसा लगने लगे की आप अब बोर और असहज मह्सुश कर रहे हैं तो वो तुरंत ही आपसे अलग हैट जायेगी और मुख मैथुन से पर हो जायेगी। इसलिए हमेसा प्यार के इस खेल को दो तरफ़ा बनाये रखने में अपनी कोई कसर ना छोड़ें। उसे यह जताते रहे की प्रेम की यह अभिव्यक्ति कितनी पवित्र और कितनी आनंदमयी है। उसे कभी यह महशुस करने का मौक़ा न दे की वो बस एक ऑब्जेक्ट है, उसे अपने प्यार से अपने स्पर्श से जीवंत होने का अहसास करते रहें

3 people found this helpful

I am married women from 1 years .3 month. We mostly do sex twice in week. My periods are irregular. N my husband was having operation of decodication i'm having issues of urine infections .Actually I never get pregnant from 1 year so I can not understand how the girls will get pregnant after how much time of intimacy. Is it normal or serious. Or should I need to consult doctor?

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecology
Gynaecologist, Delhi
I am married women from 1 years .3 month. We mostly do sex twice in week. My periods are irregular. N my husband was ...
If patients age is >24 years and has not conceived after 1 year of unprotected intercourse ,then the couple should meet a gynaecologist and get themselves invrdtigated.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Vitamin D Benefits, Sources and Side Effects in Hindi - विटामिन डी के स्रोत, फायदे और नुकसान

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Vitamin D Benefits, Sources and Side Effects in Hindi - विटामिन डी के स्रोत, फायदे और नुकसान

आजकल ज्यादातर लोगों में विटामिन डी की कमी पाई जा रही है. क्योंकि हम इस आवश्यक विटामिन को प्राप्त करने के लिए प्रयास नहीं करते. जबकि विटामिन डी को प्राप्त करना सबसे आसान है. जैसे ही आप धूप के संपर्क में आते हैं या आपकी त्वचा धूप के संपर्क में आती है तो हमारे शरीर में विटामिन डी की निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो जाती है. विटामिन डी दरअसल वसा में घुलनशील प्रो हारमोंस का एक समूह है जो कि शरीर की वसा में इकट्ठा होता है. विटामिन डी की भूमिका हमारे शरीर में कैल्शियम और फास्फोरस के स्तर को बनाए रखने में काफी महत्वपूर्ण है. विटामिन डी, स्टेरॉयड के रूप में हाथों से कैल्शियम को हड्डियों में पहुंचाने का काम करता है. विटामिन डी को 5 भागों में बांट सकते हैं - विटामिन डी-1, विटामिन डी-2, विटामिन डी-3, विटामिन डी-4 और विटामिन डी-5. इन सभी विटामिनों का हमारे शरीर के स्वास्थ्य में बहुत बड़ा योगदान होता है. विटामिन डी, कैल्शियम के अवशोषण, प्रतिरक्षा प्रणाली की सुचारू देखभाल और हड्डियों एवं कोशिकाओं के संपूर्ण विकास व नियंत्रण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसके अलावा विटामिन डी शरीर के अंगों में आने वाले सूजन को भी कम करने में मददगार है. आइए विटामिन डी के स्रोत, फायदे और नुकसान पर प्रकाश डालें: 

  • विटामिन डी के स्रोत: विटामिन डी का सबसे बड़ा स्रोत है धूप. यदि आपकी त्वचा धूप के संपर्क में रहती है तो विटामिन डी के निर्माण की प्रक्रिया स्वतः प्रारंभ हो जाती है. इसके अलावा दूध, अंडे के पीले भाग, टमाटर, हरी सब्जियां, माल्टा, शलजम, पनीर, नींबू इत्यादि के सेवन से हमारे शरीर में विटामिन डी की आपूर्ति होती रहती है.
  • विटामिन डी के फायदे: विटामिन डी और शरीर के लिए आवश्यक विटामिन में से एक है. विटामिन डी हमारे शरीर में सीरम, कैल्शियम और फास्फोरस की मात्रा को संतुलित बनाए रखने में काफी मददगार है. विटामिन डी आंत से खनिजों का शोषण करके हड्डियों तक पहुंचाने का काम करता है. हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए भी विटामिन डी अत्यंत आवश्यक है. विटामिन डी की आवश्यकता हमारे शरीर में संक्रमण की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और मांस पेशियों एवं नसों के लिए बहुत ज्यादा जरूरी अवयव है. हृदय रोग और उच्च रक्तचाप की समस्याओं में भी विटामिन डी अपनी भूमिका निभाता है. इसकी सहायता से मधुमेह और मस्तिष्क कार्यों में भी हमें मदद मिलती है.
  • अधिक मात्रा में विटामिन डी लेने से नुकसान: विटामिन D हमारे शरीर के लिए जितना ज्यादा आवश्यक है. उतना ही नुकसानदेह भी साबित हो सकता है यदि इसे सही मात्रा में न लिया जाए. दरअसल यह एंटीऑक्सिडेंट्स के रूप में भी काम करता है. और कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त होने से बचाता है. आवश्यकता से अधिक विटामिन डी का सेवन हमारे लिए हानिकारक साबित होता है. जब हम विटामिन डी का अधिक सेवन कर लेते हैं तो हमारे शरीर में कैल्शियम की मात्रा में वृद्धि हो जाती है. इस वजह से कई प्रकार की समस्याएं जैसे की भूख की कमी, बार-बार पेशाब आना, कमजोरी, दिल के दौरे का खतरा और कई अन्य नुकसान नजर आ सकते हैं. आइए इसके नुकसान पर एक नजर डालते हैं.
  • बच्चों में: इसके नुकसान के रूप में बच्चों में बच्चों की की मांसपेशियों में ऐंठन, चिड़चिड़ापन, देर से खड़ा होना और चलना, कमजोरी, घुमावदार पैर, सांस लेने में दिक्कत आदि जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं.
  • वयस्कों में: विटामिन डी के नुकसान वयस्कों में हड्डियों-मांसपेशियों में दर्द के रूप में सामने आता है. मांस पेशियों में कमजोरी, थकान और पसीना आना, सीढ़ी चढ़ने में परेशानी, बेचैनी, मनोबल में कमी आना, बालों का झड़ना, दांतों का कमजोर होना आदि हैं. साँसों का फूलना, शुगर, उच्च रक्तचाप, श्वसन, संक्रमण, कब्ज, दस्त आदि जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं.

Sir I had sex with my gf last month just after her periods. Now she has 2 days late in her periods. May she get pregnant. If she is pregnant then what to do.

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology, Fellowship in Laparoscopy, DNB (Obstetrics and Gynecology)
Gynaecologist, Delhi
Sir I had sex with my gf last month just after her periods. Now she has 2 days late in her periods. May she get pregn...
If you had sex just after her periods then chances of pregnancy is less. Wait for her periods for another 4-5 days. Most likely she ll have her periods. If not then do urine pregnancy test after 5 days.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I delivered a baby in august. As of now 4 months post partum completed. Yesterday me and my hubby had unprotected sex. Will it raise any problem. Or will I get pregnant again? Pls suggest on this. Am worried.

MBBS, DGO, MD, Fellowship in Gynae Oncology
Gynaecologist, Delhi
I delivered a baby in august. As of now 4 months post partum completed. Yesterday me and my hubby had unprotected sex...
Hello, If you are breastfeeding, then you are unlikely to be pregnant as it acts as a natural contraception. However, do a urine pregnancy test to be double sure. Also, use contraception next time during intercourse for at least two years to avoid pregnancy.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

If anyone is very weak and take unwanted 72 and there is pain in lower abdomen is any thing to worry and is there is chance of pregnancy.

MD - Obstetrtics & Gynaecology, FCPS, DGO, Diploma of the Faculty of Family Planning (DFFP)
Gynaecologist, Mumbai
If anyone is very weak and take unwanted 72 and there is pain in lower abdomen is any thing to worry and is there is ...
Nothing to worry.Very small chance of pregnancy as in small percentage of cases there is failure of such treatment.
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

92%
(1790 ratings)

Dr. Vandana Walvekar

MD
Gynaecologist
Bhatia Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(52 ratings)

Dr. Sharmila Naik

MBBS, DNB - Obstetrics and Gynaecology
Gynaecologist
Apollo Clinic, 
250 at clinic
Book Appointment
90%
(81 ratings)

Dr. Mohan Krishna Raut

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS, DGO
Gynaecologist
Dr. Raut's Women's Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(817 ratings)

Dr. Prabhjot Manchanda

MBBS, DNB - Obstetrics & Gynecology
Gynaecologist
Sukh Shanti Hospital, 
250 at clinic
Book Appointment
89%
(10 ratings)

Dr. Tejaswi Kamble Kamble

MS - Obstetrics and Gynaecology, MBBS
Gynaecologist
Shree Hospital Chembur, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(177 ratings)

Dr. Jagdip Shah

MD - Obstetrics & Gynaecology, DGO, MBBS, MCPS
Gynaecologist
Pooja Maternity & Nursing Home, 
300 at clinic
Book Appointment