Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment
Dr. Sudeep  - Nephrologist, Kochi

Dr. Sudeep

Bachelor of Audiology & Speech Language Pathology (B.A.S.L.P)

Nephrologist, Kochi

14 Years Experience
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Sudeep Bachelor of Audiology & Speech Language Pathology (B.A.S.... Nephrologist, Kochi
14 Years Experience
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

Hello and thank you for visiting my Lybrate profile! I want to let you know that here at my office my staff and I will do our best to make you comfortable. I strongly believe in ethics; a......more
Hello and thank you for visiting my Lybrate profile! I want to let you know that here at my office my staff and I will do our best to make you comfortable. I strongly believe in ethics; as a health provider being ethical is not just a remembered value, but a strongly observed one.
More about Dr. Sudeep
Dr. Sudeep is one of the best Nephrologists in Vyttila, Kochi. He has over 14 years of experience as a Nephrologist. He has completed Bachelor of Audiology & Speech Language Pathology (B.A.S.L.P) . You can visit him at all india medical science in Vyttila, Kochi. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Sudeep on Lybrate.com.

Lybrate.com has a nexus of the most experienced Nephrologists in India. You will find Nephrologists with more than 30 years of experience on Lybrate.com. Find the best Nephrologists online in Kochi. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Education
Bachelor of Audiology & Speech Language Pathology (B.A.S.L.P) - A.B. Shetty Memorial Institute of Dental Sciences - 2004
Languages spoken
English
Professional Memberships
(IGOF) Indo German Orthopaedic Foundation

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Sudeep

View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Sudeep

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

After turp operation. Four months passed. Urine is clear. But flow of urine is slow, penis is not standing. Age 54. Before turp all is well. please advise.

MBBS
General Physician, Mumbai
After turp operation. Four months passed. Urine is clear. But flow of urine is slow, penis is not standing. Age 54. B...
It also depends on what medication you are taking right now and also we have to judge you after clinical examination whether is it a post operation sideeffects.
Submit FeedbackFeedback

I pass urine every 0.5 hour at night at times sometimes at an interval of 2 to 3 hours, kindly advise.

MBBS
General Physician, Delhi
U might be suffering from overactive bladder. Please consult a nearby physician for that and screened up for usg, urine routine and micro and blood sugar fasting and pp.
Submit FeedbackFeedback

He is having inflammation in urinary tract while urinating. Is he suffering from urinary tract infection?

MBBS
General Physician, Cuttack
He is having inflammation in urinary tract while urinating. Is he suffering from urinary tract infection?
If she is having burning sensation while passing urine it could be urinary tract infection. Get her urine Re/Me and culture sensitivity test done and consult doctor for advice
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Kidney Stones and Homeopathy

DHMS (Diploma in Homeopathic Medicine and Surgery)
Homeopath, Ludhiana
Kidney Stones and Homeopathy

What do kidney stones generally mean? - An overview

Formation of solid masses in the kidney due to excessive accumulation of uric acid, calcium, vitamins and minerals lead to chronic pain and excretory problems. Kidney Stones, also known as Renal Calculi is a condition usually brought about by inadequate hydration and consumption of food high in calcium, but in most cases it a hereditary condition. The most commonly opted for treatment is surgery to remove the stone/s.

Do you suffer from kidney stone formations on periodical basis?

Do you often go through chronic abdominal pain due to the formation of crystalline calciferous masses in your kidney? If you do, surgical procedures are neither the answer, nor a plausible option for you. Besides being risky, surgery clearly isn't effective in bringing about an end to the condition on a permanent basis. Homeopathic remedies, on the other hand, are not only safe, they offer as little of side effects as possible. Homeopathic treatments of kidney stones are also proved to have been effective in most cases.


What are the most common homeopathic alternatives to suppress kidney stone formation?

Berberis Vulgaris is the most reputed homeopathic drug when it comes to diluting the stone in the kidney and also in reducing the chronic pain that is often associated with stones. It is also said to improve chances of mitigating periodic bouts of kidney stone formations. Berberis Vulgaris is effective for various kinds of kidney and renal stones. In addition to this drug, Sarsaparilla, Hydrangea, and Benzoic Acid also prove effective in the long run. Sustained practice of such Homeopathic remedies along with increased intake of fluids and adequate exercise go a long way to ensure cessation of kidney stone formation.

3386 people found this helpful

Hi, I have stone problems. My left abdomen area paining if I didn't drink water regularly. Please suggest how should I come over from this problem. Thanks, Aldrin.

BHMS, MD - Homeopathy
Homeopath, Vijayawada
Hi,
I have stone problems. My left abdomen area paining if I didn't drink water regularly. Please suggest how should ...
Hi lybrate user, I too recommend you take homeopathic berberis vulgaris q 20 drops in half cup water three times a day for 20 days only. If your stone size is under 6 mm it will be expelled easily. Further clarification. Consult.
Submit FeedbackFeedback

Hi, When I urine after sometime I feel that I have to urine again I am urinating very much? Please help me for this issue.

MBBS
General Physician, Mumbai
Hi, When I urine after sometime I feel that I have to urine again I am urinating very much? Please help me for this i...
Dear Lybrateuser, - Your problem could be due to a urinary tract infection - have plenty of oral fluids including 2-3 litres of water - do urine RE/ ME (routine & microscopic examination), culture - depending on the test report medication can be started by the doctor.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hello sir, I am 32 year old mai jab pesab karta hu to jyada jhag banta hai waise mai din me 4 ya 5 baar bathroom jata hu raat ko nahi jata hu aur mujhe bhukh nahi lagta hai muh se thuk jyada aata hai to Kya ye kidney ki problem hai pls help me.

BHMS
Homeopath, Mumbai
Hello sir, I am 32 year old mai jab pesab karta hu to jyada jhag banta hai waise mai din me 4 ya 5 baar bathroom jata...
Hello lybrate-user. Drink more water. Due to dehydration bubble dikhte h. Kidney ki problem nahi dikhti. Fir bhi if you want you can do your cbc esr sugar n bp test.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My wife has two 5 mm stone. Can it be cure by drinking water? Or it need operation please guide.

MBBS
General Physician, Trichy
My wife has two 5 mm stone. Can it be cure by drinking water? Or it need operation please guide.
Hey lybrate-user, Normally stones less than 5 mm pass through urine spontaneously. 5 mm is bit like a cat on the wall. Drink plenty of water for a week and see wheather the stone passes, else she will be needing Lithotripsy and Stenting-just a minor procedure where you break the stone with laser and a stent is kept which can be removed after 2 weeks.
Submit FeedbackFeedback

Kidney Failure Symptoms in hindi - किडनी खराब होने के लक्षण

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Kidney Failure Symptoms in hindi - किडनी खराब होने के लक्षण

शरीर के कुछ अंग बहुत ही अहम होते हैं क्योंकि उनसे ही पूरे शरीर का सिस्टम सुचारू रूप से चलता है जिनमे से एक है गुर्दा। गुर्दा यानी किडनी जो शरीर के अन्य अंगों की तरह बेहद अहम और नाज़ुक होते हैं, इनके असन्तुलित हो जाने से पूरे शरीर की स्थिति बिगड़ जाती है, इसलिए इनका खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। आज के दौर में जैसे जैसे उन्नति होती जा रही है वैसे-वैसे किडनी रोग से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। जबकि बहुत सी छोटी-छोटी बातों को अपनाकर किडनी की बीमारी से बचाव किया जा सकता है। 

किडनी इंसान की मुट्ठी के साइज की होती हैं। यह रीढ़ की हड्डी के दोनों तरफ पाई जाती हैं। किडनी स्वास्थ्य को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इनका सबसे महत्वपूर्ण काम खून को फ़िल्टर करके उसमें से खराब पदार्थों को यूरिन के रूप में शरीर से बाहर निकालना होता है और शारीरिक संतुलन बनाए रखना होता है। किडनी खून को साफ़ करके और उसमें से खराब पदार्थ , क्रियेटिनिन, यूरिया, पोटैशियम, जहरीले पदार्थ और आवश्यकता से अधिक पानी को बाहर कर देता है। जब किडनी खून में उपलब्ध अधिक पानी को बाहर नहीं निकाल पाते हैं , तो उसकी वज़ह से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है तथा हृदय को अधिक काम करना पड़ जाता है।

किडनी से तीन हारमोन रेनिन, ऐरिथ्रोपोयटिन और कैल्सिट्रियाल निकलते हैं। रक्तचाप सामान्य होने पर रेनिन का स्राव होता है। ऐरिथ्रोपोयटिन खून के तत्वो को प्रेरित करता है, यह खून बनाने के लिए अति आवश्यक है। कैल्स्ट्रियाल हड्डियों में कैल्सियम तथा रासायनिक संतुलन बनाए रखती है। सामान्य रूप से वह 24 घंटे में से 1 से 2 लीटर जितना मूत्र बनाकर शरीर को निरोग रखता है। किसी वजह से यदि एक किडनी कार्य करना बंद कर दे अथवा दुर्घटना में खो देना पड़े तो उस व्यक्ति की दूसरी किडनी पूरा कार्य सँभालती है एवं शरीर को कमज़ोर होने से बचाकर स्वस्थ रखती है।

किडनी फेलियर क्या है
शरीर मे किडनी का मुख्य कार्य शुद्धिकरण का होता है। लेकिन शरीर में किसी रोग की वजह से जब दोनों किडनी अपना सामान्य कार्य करने मे अक्षम हो जाते हैं तो इस स्थिति को हम किडनी फेलियर कहते हैं।

कैसे जानें
खून मे क्रिएट्नीन और यूरिया की मात्रा की जांच से किडनी की कार्यक्षमता का पता किया जा सकता है । वैसे तो किडनी की क्षमता शरीर की आवश्यकता से ज्यादा होती है इसलिए किडनी को थोड़ा नुकसान हो भी जाये तो भी खून की जाच मे कोई खराबी देखने को नहीं मिलती है। जब रोग के कारण किडनी 50 प्रतिशत से ज्यादा खराब हो जाती तभी खून की जांच मे यूरिया और क्रिएट्नीन की बढ़ी हुई मात्रा का प्रदर्शन होता है।
किडनी का विशेष सम्बन्ध हृदय, फेफड़ों, यकृत एवं प्लीहा के साथ होता है। ज्यादातर हृदय एवं किडनी परस्पर सहयोग के साथ कार्य करते हैं। इसलिए जब किसी को हृदयरोग होता है तो उसके किडनी भी बिगड़ती है और जब किडनी बिगड़ती है तब उस व्यक्ति का ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और वह व्यक्ति धीरे-धीरे दुर्बल भी हो जाता है।किडनी के रोगियों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। इसका मुख्य कारण हमारे द्वारा हृदय रोग, दमा, श्वास, क्षयरोग, मधुमेह, उच्च रक्तचाप जैसे रोगों में किया जा रहा अंग्रेजी दवाओं का लम्बे समय तक अथवा आजीवन इस्तेमाल है।

किडनी खराब करने वाली आदतें

  • पेशाब आने पर करने न जाने से किडनी खराब हो सकती है।
  • पानी कम मात्रा में पीने से किडनी को खतरा रहता है।
  • बहुत ज्यादा नमक खाने से भी किडनी खराब हो सकती है।
  • यदि आपको हाई ब्लड प्रेशर है और अगर आप उसके ईलाज मे लापरवाही करते है तो उसका सीधा असर आपकी किडनी पर होता है।
  • शुगर के ईलाज मे लापरवाही करने से भी किडनी पर असर होता है।
  • अधिक मात्रा में मांस खाने से किडनी कमज़ोर हो सकती है।
  • दर्द नाशक दवाएं लगातार लेना किडनी के लिए बेहद हानिकारक होता है।
  • ज्यादा शराब पीने से लिवर के साथ साथ किडनी भी खराब होने लगती है।
  • काम के बाद जरूरी मात्रा मे आराम नहीं करने से किडनी पर बुरा असर पड़ता है।
  • अधिक मात्रा में साफ्ट ड्रिंक्स और सोडा पीने से आपकी किडनी फेल हो सकती है।

किडनी फेलियर के लक्षण

  • यदि आपको लगातार उल्टी हो रही हो तो आपकी किडनी खराब हो सकती है।
  • भूख न लगाना किडनी के खराब होने का संकेत है।
  • थकावट और कमजोरी महसूस होना भी किडनी के कमजोर होने का संकेत देती है।
  • यदि आपको नींद न आने की परेशानी लगातार हो रही हो तो यह एक लक्षण है किडनी खराब होने का।
  • पेशाब की मात्रा कम हो जाना भी किडनी खराब होने का संकेत देती है।
  • दिमाग ठीक से काम नहीं करना या कुछ समझने में मुश्किल का सामना करना भी किडनी की कमज़ोरी का संकेत है।
  • मांसपेशयों मे खिंचाव और आक्षेप आना किडनी खराब होने का एक संकेत है।
  • पैरों और टखने मे सूजन आना भी किडनी कमज़ोर होने का लक्षण है।
  • लगातार खुजली होने की समस्या को आप किडनी के कमजोर होने का लक्षण समझिए।
  • हार्ट मे पानी जमा होने पर छाती मे दर्द होना आपकी किडनी खराब होने का एक बड़ा सिम्पटम्स है।
  • हाई ब्ल प्रेशर जिसे कट्रोल करना कठिन हो तो समझ लीजिये आपकी किडनी कमज़ोर हो सकती है। 

जैसा कि आप ऊपर बताई गई बातों से किडनी की एहमियत तो समझ ही गए होंगे । इसलिए किडनी से संबंधित बातों में कभी लापरवाही ना करें और अगर आपको किडनी की परेशानी महसूस हो तो बिना किसी देरी के घरेलू नुस्खों, जीवनशैली में बदला लाकर और चिकित्सक से संपर्क करके अपनी किडनी को बचाएं । अथवा किडनी फेल होने के बाद  पूरे शरीर का संतुलन काबू के बाहर हो जाएगा और आपकी सांसे भी जल्द धोखा दे जाएंगी।

11 people found this helpful

Earlier I was drunk 4 cup of green tea in a day but I found urinary issues generated it was urgency and frequency to of urine. Please advise how many cup are good for health.

MBBS
General Physician, Mumbai
Earlier I was drunk 4 cup of green tea in a day but I found urinary issues generated it was urgency and frequency to ...
One cup of Green tea should be taken over half an hour sip by sip and can repeat after twelve hours.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed