Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Surinder Singh Ajrawat

MBBS

Orthopedist, Jalandhar

43 Years Experience  ·  250 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Surinder Singh Ajrawat MBBS Orthopedist, Jalandhar
43 Years Experience  ·  250 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage....more
I want all my patients to be informed and knowledgeable about their health care, from treatment plans and services, to insurance coverage.
More about Dr. Surinder Singh Ajrawat
Dr. Surinder Singh Ajrawat is a trusted Orthopedist in Lajpat Nagar, Jalandhar. He has helped numerous patients in his 43 years of experience as a Orthopedist. He has completed MBBS . He is currently associated with Sartaj Hospital, in Lajpat Nagar, Jalandhar. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Surinder Singh Ajrawat on Lybrate.com.

Lybrate.com has a number of highly qualified Orthopedists in India. You will find Orthopedists with more than 27 years of experience on Lybrate.com. You can find Orthopedists online in Jalandhar and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Education
MBBS - government medical college amritsar - 1975
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Surinder Singh Ajrawat

Sartaj Hospital,

19-Link RoadJalandhar Get Directions
250 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Surinder Singh Ajrawat

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Dear Doctors, I am experiencing pain in my upper right back portion since morning. Wat could be the possible causes.

MPT, BPT
Physiotherapist, Noida
Dear Doctors,
I am experiencing pain in my upper right back portion since morning.
Wat could be the possible causes.
Bhujang Asana – Lie flat on your stomach, keeping the palms out, bend the neck backward, take a deep breath and while holding it for 6 seconds, raise the chest up. Release breath and relax your body. Repeat the exercise 15 times twice daily.
Submit FeedbackFeedback

I'm 19 year old male having backache from 2 months using painkillers and ointment but no use . What it means.

FRHS, Ph.D Neuro , MPT - Neurology Physiotherapy, D.Sp.Med, DPHM (Health Management ), BPTh/BPT
Physiotherapist, Chennai
I'm 19 year old male having backache from 2 months using painkillers and ointment but no use . What it means.
Avoid taking pain killers do learn and practise strengthening and stretching exercises from neuro physiotherapist apply hot water fomentation thrice a day for 7 days regularly do revert for further assistance best wishes.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Lately I have observed that my feet have burning sensation Mainly day time sitting or walking.

MD - Alternate Medicine, BHMS
Homeopath, Surat
Lately I have observed that my feet have burning sensation
Mainly day time sitting or walking.
Take Lachesis 30C one dose now and then take Nilhilinum 30C 3 doses (morning evening and night) for 1 week. It will be reduced and then again revert to me back with follow-up. Still if you have any query, please let me know. Take care. :)
Submit FeedbackFeedback

Sir my self ram I have a problem facing with back pain too much. Sometimes urinary tract infections also happen sometimes. So please suggest me.

DHMS (Diploma in Homeopathic Medicine and Surgery)
Homeopath, Ludhiana
Sir my self ram I have a problem facing with back pain too much. Sometimes urinary tract infections also happen somet...
Homoeopathic medicine spondyaid (bakson) drink 10 drops in 20 ml fresh water 3 times daily b-35 drops (bakson) drink 10 drops in 20 ml fresh water 3 times daily magnesia phos 6x (dr reckeweg) chew 4 tab every 2-3 hrly depending on pain daily drink 6-8 glass water daily drink 2 glass milk and an egg daily report after 15 days.
Submit FeedbackFeedback

My leg had accident last year I get pain severely please refer me to how out of from the pain please help me.

MPT - Orthopedic Physiotherapy, BPTh/BPT
Physiotherapist, Noida
My leg had accident last year I get pain severely please refer me to how out of from the pain please help me.
in this condition start physiotherapy treatment for few days better option for u. avoid long standing and strain
Submit FeedbackFeedback

Hi I'm 24 year old. Being young I should not feel exhausted but I feel pain in my thighs when I walk 500 meter. Kindly give me some suggestions to get rid of this problem.

Hand Surgery, M.S. (Orthopaedics
Orthopedist, Ahmedabad
Hi I'm 24 year old. Being young I should not feel exhausted but I feel pain in my thighs when I walk 500 meter. Kindl...
Dear lybrate-user you have a problem but no diagnosis. So you need detailed evaluation and imaging to come to a diagnosis. May be you have a hip or spine problem and see an orthopedic surgeon near you and once a diagnosis is made we can help you
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 54yrs old female. I am suffering from osteoarthrosis of left knee joint. Recently the pain there have become unbearable. Please advice how to overcome.

Dip. SICOT (Belgium), MNAMS, DNB (Orthopedics), MBBS
Orthopedist, Delhi
Hello, thanks for your query and welcome to lybrate. I am Dr. Akshay from fortis hospital, new delhi. Please tell me duration of pain and what are aggravating factors? how much distance can you walk and what is the analgesic requirement to carry out activities of daily routine? what medications you generally take and what has been your treatment history till now for existing problem. I also need to see your latest knee x rays so that I know what grade of arthritis are we dealing with on your case? general outline of treatment is: - making yourself physically active by doing exercises, daily morning walks for atleast 2-3 km per day - you can take short course of anti-inflammatory medication but avoid prolonged intake of analgesic - use of western toilets, avoid cross legged sitting - if medicines are not useful, then you can consider intra-articular injections - if nothing helps, then surgery is an option. But in your case once you have shared your clinical details and x rays, I will be able to understand your problems and advise you in a better manner. Do not hesitate to contact me if you need any further assistance.
Submit FeedbackFeedback

I am a 29 year old male. I am a Software Engineer and sit in front of computer for long time, but I make sure that I take a break of 5 mins every hour or two hour. Recently I have started Backache. Please suggest some remedy. P. S: Recently I have started to inculcate walking in daily routine by skipping auto-rickshaw while commuting to office. But it constitutes of only 15 mins of walking. If I increase walking will it help me out?

Doctor of Physical Therapy (DPT), Bachelor of Physical Therapy
Physiotherapist, Hyderabad
I am a 29 year old male. I am a Software Engineer and sit in front of computer for long time, but I make sure that I ...
Back ache can be due to several reasons. It can be muscular, related to disc degeneration or prolapse, joint irritation or nerve pinching. Most common is muscle pain due to tight and weak back and abdominal muscles. Keep a positive attitude, focus more on keeping good posture especially when sitting for long hours, use lumbar support. Take frequent breaks and stretch in between. Try changing sleeping habits. Try hot or cold therapy as tolerated. Wish you speedy recovery.
Submit FeedbackFeedback

Back Pain Treatment in hindi - बैक पेन का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Back Pain Treatment in hindi - बैक पेन का इलाज

      
  बीमारियां नाम से ही मनहूस लगती हैं ना ? और हम हर मुमकिन कोशिश करते हैं कि ये हमारे गले न पडें, पर आज का वक़्त ऐसा चल रहा है कि लाख जतन करने के बाद भी हम किसी ना किसी बीमारी के शिकार हो ही जाते हैं पर कई बार हार्ट अटैक। कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां होती हैं तो कई बार माइग्रेन, पेट दर्द,सर्वाइकल पेन, बैक पेन जैसी बीमारियां घेर लेती हैं जो जान तो नहीं लेती पर जब इसका दर्द शुरू होता है तब मरीज की तड़प देखकर जान सुख जाती है। अब बैक पेन की बात करें तो जाहिर  सी बात है कमर हमारे शरीर ऐसा हिस्सा होता है जिसके सहारे ही हम पूरे शरीर का सन्तुलन बना पाते हैं, इसलिए जब कमर दर्द होता है तब सिर्फ कमर का हिस्सा ही डिस्टर्ब नहीं होता बल्कि पूरा शरीर और साथ ही हमारा सारा काम डिस्टर्ब होने लगता है । कमर दर्द की तकलीफ किसी को भी हो सकता है जिसके लिए कई कारण जिम्मेदार होते हैं इसलिए ये दर्द ज्यादा परेशान हमें शुरुआती लक्षण की जानकारी लेकर समय रहते इलाज कर लेना चाहिए । तो आइए आज हम जानते हैं कमर दर्द के कारण, लक्षण और इलाज।

कमर दर्द के कारण

  • ज्यादा देर तक बैठे-बैठे या खड़े होकर कार्य करना
  • शरीर का कमजोर होना 
  • अनियमति जीवनशैली
  • नरम गदों पर सोने
  • ऑफिस या घर पर भारी वजन उठाने
  • मांसपेशियों में खिंचाव होना,

बैक पेन के मुख्य लक्षण

  • कमर में बहुत दर्द
  • उठने-बैठने के समय दर्द होना
  • सुबह उठने पर कमर दर्द तथा झुकने पर भी तेज दर्द होने जैसी स्थितियां कमर दर्द के खास सिम्पटम्स होते हैं ।

कमर दर्द से छुटकारा पाने के आसान उपाय 

1. कमर दर्द का अचूक नुस्खा अदरक 

अदरक को कमर दर्द में आराम पाने के लिए औषधि की तरह असरदायक माना जाता है।इसलिए जब भी जब भी कमर का दर्द सताए अदरक को विभिन्न तरीकों से इस्तेमाल करें जैसे कि अदरक का पेस्ट बनाकर दर्द वाली जगह पर लगायें और ऊपर से नीलगिरी का तेल लगा लें। या ताजा अदरक के 4-5 टुकड़े लें और डेढ़ कप पानी में डालकर10 से 15 मिनट के लिए हलकी आंच में उबालें। इसके बाद छानकर कुछ देर के लिए ठंडा होने दें। ठंडा होने के बाद इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर पी लें। इस तरह इस पेय को प्रतिदिन पीने की आदत डालें। या फिरआधा चम्मच काली मिर्च, डेढ़ चम्मच लौंग के पाउडर और एक चम्मच अदरक का पाउडर मिलाकर हर्बल टी बनाएं और स्वाद के साथ ही दर्द से भी राहत पाएं।
 दरसल अदरक में एंटी-इन्फ्लेमेटरी कंपाउंड्स होते हैं जो हमें दर्द में राहत पहुंचाते हैं।

2.  तुलसी की पत्तियों का जादू
एक कप पानी में 8-10 तुलसी की पत्तियां डालकर तबतक उबालें जबतक कि यह उबलकर आधा न हो जाये, और इसके ठंडा होने के बाद इसमें एक चुटकी नमक डालकर रोजाना पिएं। इससे कमर दर्द में लंबे समय के लिए आराम मिलने लगेगा।

3. खसखस के बीज है खास
एक-एक कप खसखस के बीज और मिश्री का पाउडर रोज सुबह शाम दो-दो चम्मच एक गिलास दूध में डालकर पिएं। यह जल्द ही आपको कमर दर्द में आराम दिलाएगा क्योंकि खसखस के बीज, कमर के इलाज में रामवाण औषधि की तरह असर करता है ।

4. हर्बल ऑयल
हर्बल ऑयल से कमर की मालिश करने से मांसपेशियों को आराम मिलता है और दर्द कम होता है। आप कोई भी हर्बल आयल इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे नीलगिरी का तेल, बादाम का तेल, जैतून का तेल या नारियल का तेल आदि। पहले तेल को थोड़ा गर्म कर लें और फिर धीरे-धीरे दर्द वाली जगह पर मालिश करें।
5. लहसुन
रोज सुबह खाली पेट लहसुन की तीन-चार कलियों का सेवन करना शुरू कर दें । इससे सिर्फ कमर को ही नहीं बल्कि शरीर के कई अहम हिस्सों को फायदा होगा । साथ ही तेल इस्तेमाल करें ऐसे में। लहसुन का तेल बनाने के लिए नारियल के तेल, सरसों के तेल या तिल के तेल में तीन लहसुन की कलियाँ डालें। अब इसे तब तक उबालें जब तक कि लहसुन की कलियाँ काली न पड़ जाएँ। अब इस तेल को छान लें और ठंडा होने दें। आपका लहसुन का तेल तैयार है, और इस लहसुन के तेल से अगर दर्द ज्यादा हो रहा हो तक मसाज करें। फौरन आराम मिलेगा।
6. गेहूं
रात को एक मुट्ठी गेहूं को पानी में डालकर रख दें। सुबह इस गेहूं को पानी से अलग कर लें और फिर एक गिलास दूध में डालकर गर्म करें। अब इस पेय को दिन में दो बार पिएं । दरसल गेहूं में ऐसे कंपाउंड्स पाए जाते हैं जिनका शरीर पर दर्दनिवारक प्रभाव होता है, जिससे कमर दर्द में आराम मिलता है।
7. बर्फ
बर्फ की ठंडी तासीर दर्द और सूजन को कम करने में कारगर उपायों में से एक है। तो जब आपको कमर में दर्द हो रहा हो तो बर्फ से सिकाई करें इससे थोड़ी देर के लिए वह हिस्सा सुन्न भी कर देगा और आपको आराम महसूस होगा। या बर्फ को कूटकर एक कपड़े में बांध लें और इसे दर्द वाली जगह पर 10 से 15 मिनट के लिए रख दें। ऐसा इसे हर दो घंटे में दोहराएँ। आपको जल्द ही दर्द से छुटकारा मिलता महसूस होगा।

8. सेंधा नमक
सेंधा नमक में पानी डालकर गाड़ा पेस्ट तैयार करें। अब इसे एक कपड़े में डालकर निचोड़ दें जिससे बचा हुआ पानी भी बाहर निकल जाये। अब इस पेस्ट को अपनी कमर में लगा लें।
सेंधा नमक दर्द को कम करता और इन्फ्लामेशन में राहत प्रदान करता है।
9. कैमोमाइल टी
एक चम्मच कैमोमाइल को एक कप पानी में 10 मिनट के लिए उबालें। अब इसे छानकर पी लें। रोज इस चाय को दो बार सेवन करें। यह इतना असरदार होता है कि एक कप हॉट कैमोमाइल मांशपेशियों की ऐंठन को ठीक करने के लिए काफी होती है।

10. दूध
दूध कैल्शियम का स्रोत है जो हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है। शरीर में कैल्शियम की कमी के कारण भी कमर दर्द की समस्या होती है। इसलिए दूध का नियमित रूप से सेवन करें। और यदि मीठे की जरूरत महसूस हो तो शहद मिलाकर पिएं।
 
नुस्खों को अपनाने के साथ ही इस बात का भी ध्यान दें कि नरम गद्दीदार आसान छोड़कर सख्त कुर्सी या तख़्त पर सीधे बैठने की आदत अपनाएं। सोने के लिए तख़्त का इस्तेमाल करें। तभी ज्यादा बेहतर असर महसूस होगा।

1 person found this helpful
View All Feed