Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Harpeet Eye & Dental Care Centre and lasik laser surgery centre

Multi-speciality Clinic (Ophthalmologist & Dentist)

244-R, New Jawahar Nagar, Jalandhar- 144003 Jalandhar
2 Doctors · ₹100 · 1 Reviews
Book Appointment
Call Clinic
Harpeet Eye & Dental Care Centre and lasik laser surgery centre Multi-speciality Clinic (Ophthalmologist & Dentist) 244-R, New Jawahar Nagar, Jalandhar- 144003 Jalandhar
2 Doctors · ₹100 · 1 Reviews
Book Appointment
Call Clinic
Report Issue
Get Help
Feed
Services
Reviews

About

Our mission is to blend state-of-the-art medical technology & research with a dedication to patient welfare & healing to provide you with the best possible health care....more
Our mission is to blend state-of-the-art medical technology & research with a dedication to patient welfare & healing to provide you with the best possible health care.
More about Harpeet Eye & Dental Care Centre and lasik laser surgery centre
Harpeet Eye & Dental Care Centre and lasik laser surgery centre is known for housing experienced Ophthalmologists. Dr. Harpreet Singh, a well-reputed Ophthalmologist, practices in Jalandhar. Visit this medical health centre for Ophthalmologists recommended by 53 patients.

Timings

MON-SAT
05:00 AM - 07:00 PM

Location

244-R, New Jawahar Nagar, Jalandhar- 144003
Jalandhar, Punjab - 144003
Get Directions

Doctors in Harpeet Eye & Dental Care Centre and lasik laser surgery centre

Dr. Harpreet Singh

MS - Ophthalmology
Ophthalmologist
22 Years experience
Unavailable today

Dr. Nancy Dhiman

BDS, Fellowship In Implantologist
Dentist
20 Years experience
100 at clinic
Unavailable today
View All
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Harpeet Eye & Dental Care Centre and lasik laser surgery centre

Your feedback matters!
Write a Review

Reviews

Popular
All Reviews
View More
View All Reviews

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Glaucoma (Kala Motia)

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, DOMS
Ophthalmologist, Faridabad
Play video

Are You at the Risk For Glaucoma?

1 person found this helpful

Mere teeth healthy hai or mere dard bhi hota hai or is time two time toothpaste use kr rhi hu emoform toothpaste please help me peele bhi pad gye h teeth.

Bachelor of Dental Surgery
Dentist, Allahabad
Mere teeth healthy hai or mere dard bhi hota hai or is time two time toothpaste use kr rhi hu emoform toothpaste plea...
You have dental caries of infection which causing pain. You need RCT or extraction of your carious or infected tooth. You have yellowish teeth due to deposition of stain & calculous. You need scaling for clean your teeth. After scaling your teeth will be natural white colour. Consult to your dentist for clinical diagnosis & needful treatment.
Submit FeedbackFeedback

I have mild rashes on the inside of my cheek, upper part of the mouth and around the sides of my lips. Whenever I eat anything, it hurts and I can't taste the food properly either. When I brush my teeth in the morning, my gums feel sensitive and start bleeding. Can you please suggest why this might be happening and a remedy. Thanks.

Bachelor of Dental Surgery
Dentist, Allahabad
I have mild rashes on the inside of my cheek, upper part of the mouth and around the sides of my lips. Whenever I eat...
You have OSMF problem. Which is a diseased condition. Quite tobacco & alcohol immediately if you are taking in any form. Avoid spicy foods. Maintain your oral hygiene. Consult to your dentist for treatment of OSMF. Your all problem will be cured when your OSMF will be cured.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi, I had no pain but I visited to dentist for cleaning. She found that I have multiple caries and I am just 25. So I got fillings. I have 6 fillings mostly on molar and all are on molar biting surface. I read the prescription it was GIC restoration they cost me 500 per each fillings. I had no issue but I read about GIC and found that it's not strong for stress bearing area. I contacted back to dentist to ask how deep my fillings were and why they used GIC. Firstly the person who did had left the clinic but other Dr. Told me that it's 3M quality GIC and its durable and they did xray but fillings was not visible in xray. I don't know but since from that day I'm having high anxiety of loosing teeth or loosing fillings. It's been month but still my condition is same, can't sleep, not eating much. I request you to please share your experience how long do you think that GIC can stay, the fillings are on the biting surface middle covered with teeth wall. I'm maintaining my oral hygiene doing brushing, flossing and I've also stopped eating any sugary food. Please suggest doctor your answer and suggestion may help me to come out through my anxiety.

Bds
Dentist, Coimbatore
Hi, I had no pain but I visited to dentist for cleaning. She found that I have multiple caries and I am just 25. So I...
Hi. You do not have to worry, GIC can be used as filling material. When we compare strenght with anyother filling material GIC stands low which does not mean this can not be used. This may last average of 3 to 4 years. Take regular visit to your dentist to check status of your filling. If fillings are fractured you can get new fillings done on your same tooth only if your tooth is healthy. Thank you.
Submit FeedbackFeedback

Treatment of Eye Weakness - आँखों की कमजोरी का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Treatment of Eye Weakness - आँखों की कमजोरी का इलाज

आँखें ही हमारे शरीर का वो अंग है जिससे हम इस दुनिया को पूरी तरह महसूस कर सकते हैं. आँखों के बिना सब कुछ अजीब लगता है. जाहिर है कई लोगों के पास प्राकृतिक रूप से और कुछ लोग दुर्घटनावश आँखें नहीं होतीं. इसलिए उनका जीवन थोड़ा मुश्किल हो जाता है. इसलिए हमें हमारी आँखों के लिए कुछ विशेष सावधानियां बरतनी पड़ती हैं. आँखें हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण और खूबसूरत हिस्सा हैं. इसलिए आँखों की देखभाल अत्यंत आवश्यक है. दृष्टि होने से हम अपने चारों ओर एक रंगीन और विविध दुनिया देख पाते हैं और स्पष्ट रूप से देखने की क्षमता सब कुछ बेहतर बना देती है. आपको बता दें कि आँखों की माशपेशियां शरीर में सबसे अधिक क्रियाशील होती हैं. तो इसलिए आइए हम अपने बेहतर दृष्टि के लिए कुछ महत्वपूर्ण प्राकृतिक तरीके जानें.

  • आंवला: आँवला रेटिना की कोशिकाओं के समुचित कार्य को भी सुनिश्चित करता है. आँवला विटामिन ए, सी और एंटीऑक्सीडेंट के साथ समृद्ध होता है और आँखों की देखभाल के लिए बहुत अच्छा है. आप आँवले का कच्चे रूप में या एक अचार के रूप में भी उपभोग कर सकते हैं. आप स्वस्थ आँखों के लिए एक गिलास आँवले का रस हर दिन पी सकते हैं.
  • सौंफ: सौंफ एक अद्भुत महान जड़ी बूटी है जो प्राचीन रोम के लोगों द्वारा दृष्टि के लिए प्रयोग की गई थी. यह पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट के साथ भरी हुई है जो दृष्टि में सुधार कर सकते हैं. रात का खाना खाने के बाद, आप हर रात कुछ चीनी के साथ सौंफ खा सकते हैं और इसके बाद गर्म दूध का एक गिलास ले सकते हैं.
  • पर्याप्त नींद: आपकी कीमती आँखों को समुचित आराम चाहिए होता है. आपको यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि आप उन्हें सीमा से परे थकने ना दें. उचित विश्राम के लिए दैनिक 7-8 घंटे की एक अच्छी नींद लें. नींद आँखों के तनाव से छुटकारा पाने और आपको ताज़ा रखने में मदद करती है. रात में देर तक जागना आपकी दृष्टि खराब कर सकता है.
  • ब्लू बेरी: यह एक जड़ी बूटी है जो एंटीऑक्सीडेंट के साथ भरी हुई है. यह रेटिना को उत्तेजित करती है और दृष्टि में सुधार भी करती है. यह विभिन्न नेत्र विकारों से भी सुरक्षा प्रदान करती है. जैसे मांसपेशियों का अध यह फल विशेष रूप से अच्छा है और बेहतर नेत्र दृष्टि के लिए आहार में शामिल किया जा सकता है.
  • आँखों का व्यायाम: एक आरामदायक स्थिति में बैठें और अपने अंगूठे के साथ अपने हाथ को बाहर खींछे. अब अपने अंगूठे पर ध्यान केंद्रित करें. हर समय ध्यान केंद्रित करते हुए, जब तक आपका अंगूठा आपके चेहरे के सामने लगभग 3 इंच तक ना आ जाए और फिर दूर करें जब तक आपका हाथ पूरी तरह से फैल ना जाए. कुछ मिनटों के लिए यह करें. यह व्यायाम ध्यान केंद्रित करने और आंख की मांसपेशियों में सुधार लाने में मदद करता है. एक और उपयोगी व्यायाम है, अपनी आँखो को बाएं किनारे से दाहिने किनारे तक ले जाएं, फिर ऊपर की तरफ भौं केंद्रित करें और फिर नीचे की ओर नाक की नोंक पर देखें.
  • सूखे मेवे: सूखे मेवे और नट्स खाना भी आँखों के लिए फायदेमंद होता है. नट्स जैसे बादाम में ओमेगा -3 फैटी एसिड और विटामिन ई होता है जो आंखों के लिए अच्छा है. यह भूख को संतुष्ट कर जंक फूड की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है.
  • हरी सब्जियां: एक बहुत अच्छे नेत्र स्वास्थ्य को बनाए रखने में पालक, चुकंदर, मीठे आलू, शतावरी, ब्रोकोली, वसायुक्त मछली, अंडा आदि अन्य खाद्य पदार्थ भी फायदेमंद होते हैं.
  • गाजर: गाजर आँखों के लिए एक बेहतरीन खाद्य पदार्थ है, जिसमे विटामिन ए होता जो आँखों के लिए फायदेमंद है. अच्छे नेत्र स्वास्थ्य के लिए एक नियमित आधार पर गाजर का सेवन करते रहें. आप हर दिन एक गिलास गाजर के रस को भी पी सकते हैं.
2 people found this helpful

Motiyabind ka Treatment - मोतियाबिंद का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Motiyabind ka Treatment - मोतियाबिंद का इलाज

हमारे देश में एक ऐसी बीमारी है जो ज्यादातर बुजुर्ग लोगों में देखा जाता है इनमें से भी महिलाओं की संख्या ज्यादा होती है. मोतियाबिंद की बीमारी भरोसा हमारी आंखों के लेंस में धुंधलापन आने के कारण होती है. इससे हमारी आंखों में देखने की क्षमता में कमी आ जाती है. ऐसा तब होता है जब आंखों में प्रोटीन के गुच्छे जमा होने लगते हैं और यह गुच्छे बैलेंस को रेटिना का स्पष्ट चित्र भेजने से भेजने में बाधा पहुंचाते हैं. दरअसल रेटिना लेंस के माध्यम से संकेतो में प्राप्त होने वाली रोशनी को परिवर्तित करने का काम करता है. यह संकेत को ऑप्टिक तंत्रिका तक पहुंचाकर फिर उन्हें मस्तिष्क में ले जाता है मोतियाबिंद की बीमारी अक्षर धीरे-धीरे विकसित होती है और यह दोनों आंखों को प्रभावित कर सकती है इसमें रंगों का फीका देखना धुंधला दिखना प्रकाश की चाल रोशनी जैसी परेशानियां उत्पन्न हो सकती हैं. मोतियाबिंद में न्यूक्लियर मोतियाबिंद महिलाओं में ज्यादा देखने में आता है. आइए अब हम मोतियाबिंद के उपचार के बारे में समझें.
मोतियाबिंद का उपचार

  • मोतियाबिंद उपचार मरीज के दृष्टि के स्तर पर आधारित है. इस जांच के स्तर को देखने के बाद अगर मोतियाबिंद दृष्टि को कम प्रभावित करता है या बिल्कुल नहीं करता तो कोई इलाज की आवश्यकता नहीं होती. ऐसे मरीजों को ये सलाह दी जाती है कि अपने लक्षणों का ध्यान रखें और नियमित चेक-अप कराते रहें.
  • कई बार ऐसा होता है कि चश्मा बदलने मात्र से ही दृष्टि में अस्थायी सुधार हो जाता है. इसके अलावा, चश्मा के लेंस पर एंटी-ग्लेयर की परत लगवाने से रात में ड्राइविंग में मदद मिल सकती है और पढ़ने में उपयोग होने वाले प्रकाश की मात्रा में वृद्धि करना भी फायदेमंद हो सकता है.
  • जब मोतियाबिंद का स्तर काफी बढ़ जाता है तब यह किसी व्यक्ति की रोजमर्रा की सामान्य कार्य करने की क्षमता को प्रभावित करने लगता है. ऐसे में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है. मोतियाबिंद सर्जरी बहुत आसान होती है इसमें आंखों के लेंस को हटाकर इसे एक अर्टिफिशियल लेंस से बदल दिया जाता है.

मोतियाबिंद सर्जरी के दृष्टिकोण

  • स्माल-इंसीज़न - इसमें कॉर्निया (आंख का स्पष्ट बाहरी आवरण) के पास एक चीरा लगाकर आंखों में एक छोटा सा औज़ार डाला जाता है. यह औज़ार अल्ट्रासाउंड तरंगों का उत्सर्जन करता है जो लेंस नरम करता है जिससे वह टूट जाता है और उसे बाहर निकालकर उसे बदल देते हैं.
  • एक्स्ट्राकैप्सुलर सर्जरी – इस सर्जरी में कॉर्निया में एक बड़ा चीरा लगाया जाता है ताकि लेंस को एक टुकड़े में निकला जा सके. इसके बाद प्राकृतिक लेंस को एक स्पष्ट प्लास्टिक लेंस से बदल दिया जाता है जिसे इंट्राओक्युलर लेंस (आईओएल) कहा जाता है.
  • नियमित जांच से - मोतियाबिंद को रोकने का कोई बहुत प्रभावी तरीका नहीं है. लेकिन कुछ जीवन शैली की कुछ आदतों में बदलाव करके इसके विकास को धीमा किया जा सकता है. इसके लिए नियमित तौर पर अपनी आँखों की जाँच कराना चाहिए क्योंकि नियमित रूप से आँखों की जाँच कराने से आपके डॉक्टर अपनी आँखों में होने वाली परेशानियों का जल्दी निदान कर पाएंगे.
  • नशीले पदार्थों का सेवन बंद करके - मोतियाबिंद पर हुए कई शोधों में ये पाया गया है कि सिगरेट व शराब का सेवन ज़्यादा करने वाले लोगों में मोतियाबिंद होने का खतरा अधिक होता है.इसलिए इसके सेवन से बचें.
  • स्वास्थ्यवर्धक भोजन करें - हम सभी के लिए एक स्वस्थ आहार प्राथमिकता होनी चाहिए. हमें अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, एंटीऑक्सीडेंट्स युक्त खाद्य पदार्थ, विटामिन सी और विटामिन ई की भरपूर मात्रा लेनी चाहिए.
  • सूर्य की सीधी रौशनी से बचें - सूर्य की रौशनी से अपनी आँखों को ढकें पराबैंगनी विकिरण से मोतियाबिंद होने का जोखिम बढ़ जाता इसीलिए अपने जोखिम को कम करने के लिए किसी भी मौसम में यूवीए/यूवीबी से बचने वाला धूप का चश्मा और टोपी पहनें.
3 people found this helpful

My son is rubbing his teeth in the night continuously & he sleep with his mouth open and he is having cold problem after treatment of cold his condition is improved but not completely cured after you to 8 days treatment.

BDS
Dentist, Delhi
My son is rubbing his teeth in the night continuously & he sleep with his mouth open and he is having cold problem af...
For cold please use nasal saline drops. These drops can be used 4/ 5 Times a day as they are completely safe. & nasovion drops while sleeping. Also try to give steam using room humidifer this will help in fast recovery. You can also use baby vicks on toes n covered them with socks. Mustard oil (old remedy) is also useful for prevention. By the age of 5/ 6 years cold is a common problem among babies after that it subsides because of increasing immunity. Please make sure child should not rub his teeth as it will result in attrision (enamel loss) results in cavities and other problems.
Submit FeedbackFeedback

Hello Doctor, Can you Please suggest me any home remedies for toothache. Can toothache relieve from home remedies or do I need to consult a Doctor. Please Help Thanks.

CEOR, B.D.S, P.G Dip Ortho
Dentist, Agra
Hello Doctor,
Can you Please suggest me any home remedies for toothache.
Can toothache relieve from home remedies or ...
Helo there there are so many remedies for toothache which will sibside your toothache but can lead to increase in infection of jaw so its better to visit to yor dentist rather then having some home remedies.
Submit FeedbackFeedback

I have gum bleeding for last one week I have gum bleeding for last one week what is the reason behind this and also how will it can be cured.

BDS, MDS - Oral & Maxillofacial Surgery, Advanced course in maxillofacial sugery
Dentist, Lucknow
I have gum bleeding for last one week
I have gum bleeding for last one week what is the reason behind this and also h...
Get scaling polishing done by a dentist than brush twice daily especially at night massage gums rule out any bleeding disorder.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My daughter (7+) has developed some white spots on both her milk as well as permanent teeth. The colour of her teeth is slightly yellowish. Is any line of treatment available for this? Please suggest.

CEOR, B.D.S, P.G Dip Ortho
Dentist, Agra
My daughter (7+) has developed some white spots on both her milk as well as permanent teeth. The colour of her teeth ...
Sometimes there are white patches on the tooth srfaces it just because of disturbance in flouride level in water visit to a dentist and ask for flouride aaplication which take 2 or 3 sittings.
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Clinics