Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Clinic
Book Appointment

Sadhana Indore Pain Clinic

General Physician Clinic

480 Manavta Nagar Kanadia Road Indore
1 Doctor
Book Appointment
Call Clinic
Sadhana Indore Pain Clinic General Physician Clinic 480 Manavta Nagar Kanadia Road Indore
1 Doctor
Book Appointment
Call Clinic
Report Issue
Get Help
Services
Feed

About

Our entire team is dedicated to providing you with the personalized, gentle care that you deserve. All our staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well....more
Our entire team is dedicated to providing you with the personalized, gentle care that you deserve. All our staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well.
More about Sadhana Indore Pain Clinic
Sadhana Indore Pain Clinic is known for housing experienced General Physicians. Dr. Sadhana Sanwatsarkar, a well-reputed General Physician, practices in Indore. Visit this medical health centre for General Physicians recommended by 50 patients.

Location

480 Manavta Nagar Kanadia Road
Manavta Nagar Indore - 452001
Get Directions

Doctor in Sadhana Indore Pain Clinic

View All
View All

Services

Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Sadhana Indore Pain Clinic

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Treatment Of Lump In The Testicles - अंडकोष में गांठ का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Treatment Of Lump In The Testicles - अंडकोष में गांठ का इलाज

अंडकोष मानव शरीर के अंदरूनी अंगों में से एक है. जाहिर है हम अपने अंदरूनी अंगों को आँखों के जरिए सीधे सीधे नहीं देख सकते हैं. इसलिए ये आवश्यक है कि ऐसे अंगों की निगरानी के लिए हम उन तकनीकों का सहारा लें जिनसे हम अपने शरीर के अन्दर झाँक सकें. हलांकि अन्दुरुनी अंगों में आई खराबी को हम इसके विभिन्न लक्षणों द्वारा समझ सकते हैं. फिर इन लक्षणों के आधार पर हमें चिकित्सक के पास जाकरके इसके लिए आवश्यक परामर्श लेने चाहिए. चिकित्सक के पारमर्श के बाद ही हमें अंडकोष में होने वाली गाँठ का असली पता चलेगा. फिर इसके बाद ही इसका उचित उपचार डॉक्टर द्वारा सुझाया जाएगा. आइए इस लेख के माध्यम से हम अंडकोष गांठ के विभिन्न विभिन्न उपचारों के बारे में जानें.
सामान्य गाँठ भी हो सकती है
कई बार चिकित्सकीय जांच में ये तथ्य भी सामने आ सकता है कि इसके पीछे कोई ठोस कारण नहीं हैं. ऐसे में गांठ बिना किसी अतिरिक्त उपचार के भी ठीक हो सकते हैं. हलांकि यदि जांच का परिणाम संदिग्ध है तो आपको इसके मूल्यांकन के लिए अस्पताल में भेजा जाएगा तत्काल कार्रवाई आवश्यक नहीं है. जांच का यही फायदा है कि आपको हकीकत का पता चल जाएगा.
आगे के परिक्षण
कुछ लोगों को जांच के बाद डॉक्टर आगे और भी कुछ जांच कराने को कह सकते हैं. ताकि इसका ठीक से पता लगाकर उपचार किया जा सके. इस दौरान चिकित्सक अपने अनुभवों के आधार पर आपको मुत्रविज्ञानी या अन्य विशेषज्ञों के पार परीक्षणों के लिए भेज सकते हैं. ऐसा करने से अंडकोष में गाँठ का उचित उपचार किया जा सकेगा.
अंडकोष से प्रकाश गुजारकर देखना
चिकित्सक आपके अंडकोष के गाँठ के परिक्षण के दौरान इससे प्रकाश गुजारकर भी देख सकते हैं. इससे प्रकाश गुजारकर देखने से ही उनको इसका पता लगता है कि इससे वो द्रव यानी हाईड्रोक्लस के निर्माण में और गाँठ के निर्माण में फर्क कर सकते हैं.
मूत्र के नमूने का परिक्षण
विशेषज्ञ आपके मूत्र के नमूनों का भी परिक्षण कर सकते हैं ताकि ये पता लगाया जा सके कि कहीं इसमें तो कोई दिक्कत नहीं है. हो सकता है कि आपके अंडकोष का गाँठ आपके मूत्रनली में भी सुजन का कारण बन रहा हो या बनने की संभावना हो.
यौन संचारित संक्रमण
आपके अंडकोष में गाँठ का एक कारण यौन सचारित संक्रमण भी हो सकता है. यदि परीक्षणों में ये साबित होता है तो आपको किसी जननांगी दवा क्लिनिक में भी भेजा जा सकता है. ताकि इसका ठीक से उपचार किया जा सके.
अल्ट्रासाउंड स्कैनर के द्वारा
अल्ट्रासाउंड स्कैनर की भूमिका इस दौरान काफी महत्वपूर्ण होती है. इसके द्वारा आपको दर्दरहित तरीके से ये बताया जा सकता है कि आपके अंडकोष में क्या समस्या है. इसमें उच्च आवृत्ति वाले ध्वनि तरंगों के द्वारा आपके अंडकोष की एक छवि बनाई जाती है.इससे आपके अंडकोष के गाँठ की प्रकृति को निर्धारित करने में मदद मिलती है.
वृषण कैंसर भी हो सकता है एक कारण
वृषण कैंसर अंडकोष में होता है, जो अंडकोष की थैली के अंदर स्थित होते हैं. अंडकोष नर सेक्स हार्मोन और शुक्राणु उत्पन्न करते हैं. अन्य प्रकार के कैंसर की तुलना में, वृषण कैंसर दुर्लभ है. वृषण कैंसर का इलाज हो सकता है, कैंसर वृषण से आगे फैलने के बाद भी ठीक हो सकता है. वृषण कैंसर के प्रकार और चरण के आधार पर, आपको कई इलाजों में से एक या अन्य इलाजों के संयोजन मिल सकते हैं. नियमित वृषण के परिक्षण से उसके बढ़ने के बारे में पता चल सकता है, तब वृषण कैंसर के इलाज के सफल होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं.
वृषण कैंसर कैसे होता है?
यह स्पष्ट नहीं है कि ज्यादातर मामलों में वृषण कैंसर किस कारण होता है. डॉक्टर यह जानते हैं कि वृषण कैंसर तब होता है जब वृषण में मौजूद स्वस्थ कोशिकाओं में कुछ बदलाव आते हैं. स्वस्थ कोशिकाएं सामान्य रूप से काम करने के लिए व्यवस्थित तरीके से विकसित होती हैं और विभाजन करती हैं लेकिन कभी-कभी कुछ कोशिकाओं में असमानताओं के कारण यह नियंत्रण से बाहर बढ़ने लगती हैं. यह बढ़ना तब भी जारी रहता है जब नई कोशिकाओं की ज़रूरत नहीं होती है. यह कोशिकाएं एकत्रित होकर ट्यूमर बनाती हैं.

Home Remedies For Winter Cold - सर्दी जुकाम का घरेलू उपचार

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Home Remedies For Winter Cold - सर्दी जुकाम का घरेलू उपचार

सर्दी-जुकाम एक ऐसी समस्या है जिससे शायद ही कोई बचा हो. ये कभी भी किसी को भी हो सकता है. हलांकि सामान्य तौर पर ये ज्यादा गंभीर बिमारी नहीं है लेकिन कई बार ये दुसरे रोगों का संकेत भी हो सकता है इसलिए सावधान रहना आवश्यक है. जहां तक बात है इसके होने के कारणों की तो ये निश्चित नहीं है. आइए इस लेख के माध्यम से हम आपको सर्दी जुकाम के घरेलु उपचारों और इसके होने के कारणों को जानें.
 

क्या है सर्दी जुकाम होने के कारण?
* यह रोग अधिकतर गलत-खान पान के कारण से होता है क्योंकि गलत तरीके से खाने पीने से शरीर में * दूषित द्रव जमा हो जाता है जिसके कारण यह रोग व्यक्ति को हो जाता है.
* यह रोग अत्यधिक ठंड लगने, ताजी हवा में सांस लेने से तथा अच्छी आदतों के कारण से हो जाता है.
* अधिक ठंडे पदार्थ का भोजन में अधिक उपयोग करने के कारण भी यह रोग हो सकता है.
* शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण भी सर्दी रोग हो सकता है.
* शरीर में अधिक कमजोरी आ जाने के कारण भी सर्दी हो जाता है.
* जब किसी संक्रमित व्यक्ति के द्वारा छींकने पर उसकी बून्दे किसी स्वस्थ व्यक्ति पर पड़ती है तो यह * रोग स्वस्थ व्यक्ति को भी हो जाता है. क्योंकि यह रोग खांसने तथा छींकने से अधिक फैलता है.
 

ये हैं सर्दी जुकाम के लक्षण
* यह रोग किसी व्यक्ति को हो जाता है तो उसकी नाक से पानी बहने लगता है तथा उसके सिर में भारीपन
* महसूस होने लगता है. रोगी व्यक्ति को हलका बुखार तथा शरीर में दर्द व थकान भी होती है.
* जब इस रोग की शुरूआत होती है तो रोगी व्यक्ति को ठंड लगने लगती है तथा उसके गले में खराश होती है और नाक बहने लगती है.
* इस रोग के कारण रोगी व्यक्ति को गले में या सीने में खांसी उठती है, तथा कभी-कभी तो यह बारी-बारी से उठती है.
* इस रोग से पीड़ित रोगी को सांस लेने में परेशानी भी होने लगती है तथा रोगी व्यक्ति की आवाज भारी हो जाती है और अधिक बोलने-खाने पीने में परेशानी होने लगती है.
 

सर्दी जुकाम दूर करने के घरेलू उपचार

  • तुलसी पत्ता और अदरख: तुलसी और अदरख सर्दी-जुकाम के उपचार के लिए सार्वाधिक लोकप्रिय औषधियों में से एक हैं. इसका प्रमुख कारण है इससे तुरंत राहत मिलना. इसका लाभ लेने के लिए आपको एक कप गर्म पानी में तुलसी की पांच-सात पत्तियों को डालकर उसमें अदरक का एक टुकडालें और उसे कुछ देर तक उबालें. फिर जब पानी आधा रह जाए तो इस काढ़े को चाय की तरह धीरे-धीरे पिएं. ये सर्दी-जुकाम के लिए काफी कारगर है. इसके अलावा आप सर्दी के ठीक न होने तक सुबह-शाम अदरक के साथ शहद भी चूस सकते हैं.
  • गुनगुने पानी से गलाला करना: आपकी नाक बंद होने पर या गले में खराश होने पर आप गुनगुने पानी में चुटकी भर नमक डालकर गलाला करने का उपचार भी आजमा सकते हैं. ये एक सुलभ और प्रभावी तरीका है क्योंकि इससे विषाणुओं का प्रकोप कम होता है.
  • काली मिर्च और हिंग: सर्दी-जुकाम के दौरान घरेलु उपचारों में आप काली मिर्च और हिंग का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए आप 3 – 4 काली मिर्च को पीसकर उसमें थोड़ी पीसी हुई हिंग मिलाएं और फिर इसमें एक छोटी कली गुड़ की डालकर इसकी गोली बना लें. इन गोलियों को आप सुबह शाम नियमित रूप से लें.
  • आजवाईन: आजवाइन का इस्तेमाल भी घरेलु उपचारों के लिए किया जाता है. इसका इस्तेमाल करने के लिए आपको नियमित रूप से सुबह शाम आजवाइन को गुनगुने पानी के साथ लेना होगा. इससे सर्दी-जुकाम में काफी राहत मिलता है.
  • जीरा, इलायची, दालचीनी और काली मिर्च: सर्दी-जुकाम के दौरान जब आपकी नाक बंद हो जाती है तब आप जीरा, इलायची, दालचीनी और काली मिर्च की एक समान मात्रा लेकर किसी स्वच्छ सूती कपड़े में बाँध कर सूंघने से काफी राहत मिलती है. इसे बार-बार सूंघने से आपको छींक आएगी और आपकी बंद नाक खुल जाएगी.
  • दालचीनी और जायफल: दालचीनी और जायफल के संयुक्त इस्तेमाल से भी आप सर्दी-जुकाम को दूर कर सकते हैं. इसके लिए आपको दालचीनी और जायफल की एक समान मात्रा को पिस कर इसे दिन में दो बार खाना होगा. इससे आपको काफी राहत मिल सकती है.
  • लौंग और गेहूं की भूसी: यदि आप लौंग और गेहूं की भूसी का इस्तेमाल करना चाहें तो इसके लिए आपको 5 लौंग और 10-15 ग्राम गेहूं की में थोड़ा नमक मिलाकर पानी में उबालें. अब इस काढ़े का सेवन करें. इससे भी आपको लाभ मिलेगा.

Treatment For ED That Will Improve Your Erections

MD - General Medicine
Sexologist, Delhi
Treatment For ED That Will Improve Your Erections

Treatment For ED That Will Improve Your Erections

ED or erectile dysfunction is a common condition that affects the sexual life of many couples. So as not to compromise the relationship, you need to know the treatment for ED that will allow you to experience true bliss and pleasures in bed.

Seeking Doctor's Help

The doctor needs to determine which factors are actually causing the erection problem so that he can prescribe the best treatment. Aside from the causes of ED, the doctor will also assess how severe the problem is. The doctor can also explain to you what advantages and disadvantages of each treatment option is and will recommend to you an ideal treatment option according to your or your partner's preferences.

Oral Drugs

Medications administered orally may be prescribed by the health expert such as Sildenafil or Viagra, Tadalafil or Cialis and Vardenafil or Staxyn/Levitra. All three work similarly with one another. They can enhance nitric oxide effects on the body. Nitric oxide is a natural chemical produced by the body that helps penis muscles to relax. This will result to more blood flowing into the organ and achieve erection as response to a sexual stimulant.

They usually have varied dosages, amount of time to take effect and what possible adverse effects might occur. Your personal condition will be assessed by the doctor in order to choose which medication is most suitable for you. Some of the expected side effects from taking these medications include nasal congestion, flushing, stomach upset, visual changes and headache. It is possible these medications will not immediately take effect so you have to work closely with the doctor to find the right drug and the correct dosage.

Only take these drugs with the doctor's approval because not all men are fit to take them. High risks are involved if: you are taking nitrate drugs(nitroglycerin, isosorbide mononitrate, isosorbide dinitrate) that are usually prescribed for angina or chest pains; you are taking an anticoagulant or blood-thinning drug, hypertension drug or alpha blockers (to ease prostate enlargement); you have heart failure or heart disease; had stroke; you have hypotension or too low blood pressure or hypertension (high blood pressure) out of control; you have diabetes.

Alprostadil self-injection

In this treatment option, fine needles will be injected to introduce alprostadil at the side or base of the male organ. Sometimes, the injection would also include drugs for other disorders like phentolamine, alprostadil and papaverine. The erection produced after the injection will typically last for an hour. Minor pains will be felt because the needles used are very fine. Possible side effects include fibrous tissue formation, prolonged erection and slight bleeding.

Alprostadil penis suppository

A tiny suppository will be placed inside the penile urethra. A special applicator will be used to insert the suppository. Erections, which will last 30-60 minutes, will start around five minutes after the insertion. Adverse effects may include minor bleeding, pain and fibrous tissue formation.

Testosterone Replacement

If the ED is caused by low testosterone levels, then the doctor will prescribe testosterone replacement.

Pumps/Surgery Or Implants

If medications are not applicable due to certain reasons, you will be recommended to use other modes of treatment like pumps. A pump is a vacuum erection device; a hollow cylinder powered either by hand or battery and is placed above the penis. The pump will suck out air from the cylinder to create a vacuum that will pull more blood into the penis to cause erection.

Please suggest me any home remedies for: 1. Strong erection. 2. Increase sperm count 3. Increase sexual desire I am not good in above things. Also specify for how many days I have to take.

DHMS (Hons.)
Homeopath, Patna
Please suggest me any home remedies for:
1. Strong erection.
2. Increase sperm count
3. Increase sexual desire
I am n...
Hello, Go for meditation to reduce your stress, strengthening pelvic, groin & penile muscles to improve libido & premature ejaculation. Tk,  apples, carrots,  spinach, garlic, pumpkins seeds, almonds, ,black chocolates to improve testerstone level to check erectile dysfunction, premature ejaculation, ensuring raised sperm count and testosterone level. Your diet be easily digestible on time to avoid gastric disorder. Homoeopathic medicines can assist you, successfully being gentle, rapid & safe in administration. @ DamianaQ -10 drops, thrice with little water. Opt 'Sex enhancer' -package for better results. Avoid,  junkfood,  alcohol &  nicotine. Tk,  care.
Submit FeedbackFeedback

I am azoospermia (Zero sperm) patient. And my wife (age-21 yr) report normal. Get iui donor sperm treatment. please help best advice.

MD-Ayurveda, Bachelor of Ayurveda, Medicine & Surgery (BAMS)
Sexologist, Haldwani
I am azoospermia (Zero sperm) patient. And my wife (age-21 yr) report normal. Get iui donor sperm treatment. please h...
Hello- Azoospermia can be cured with the help of ayurvedic treatment, but chances are low that is close to 30-40%. But still its better to start ayurvedic treatment for a month or two before investing into a costly IUI treatment which has success rate even low (<20%).
Submit FeedbackFeedback

Hi, My 2 years old son was vaccinated for chicken pox at about 15 months. I am his mother and now I am diagnosed with chicken pox, will my son gets affected? Thanks.

MBBS,D.Ped., Jawaharlal Nehru Medical college, Belgaum , Boston University, UNITED STATES OF AMERICA
Pediatrician, Ahmedabad
Hi,
My 2 years old son was vaccinated for chicken pox at about 15 months.
I am his mother and now I am diagnosed with...
He might get chickenpox as he has received only 1 dose of chickenpox yet but severity will be very less. If you want to prevent it spreading to others you have to maintain strict isolation for 4 to 5 days till lesions gets crusted.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I think I am suffering from hemorrhoids. Because I can see a swollen tissues around anus area and it get painful when stool get difficulty while passing. I have to use my hand to push this inside. I need a permanent solution. Is there any laser surgery available in amritsar. I am going to abroad with in 30 days. So dnt have time for long waiting treatment.

MCh(Minimally Invasive & Robotic Surgery), MS - Surgical, MBBS
General Surgeon, Guwahati
I think I am suffering from hemorrhoids. Because I can see a swollen tissues around anus area and it get painful when...
As you are having grade 3 and above haemorrhoid, MIPS will be a better choice with prompt recovery. Ask for stapled haemorrhoidectomy to your surgeon. He will guide you.
Submit FeedbackFeedback

How low Haemoglobin can affect me? My hb is 10.4 gm hypochromic anisocytosis. What should I do?

BHMS
Homeopath, Aizawl
How low Haemoglobin can affect me?
My hb is 10.4 gm hypochromic anisocytosis. What should I do?
If your Hb is low, there will be less supply of oxygen in your blood stream and hence your muscle, which will hindered your physical performances. Take a daily dose of iron supplements.
Submit FeedbackFeedback

I am suffering from lift side neck pain. Can you suggest me any tips while sleeping.

Erasmus Mundus Master in Adapted Physical Activity, MPT, BPTh/BPT
Physiotherapist, Chennai
I am suffering from lift side neck pain. Can you suggest me any tips while sleeping.
This is cervical pain (neck pain) and that's the reason the pain radiates until the shoulder blades. If you keep ice that would help and along side you can do hot water fermentation. You shall use cervical collar which would help you to reduce the radiating pain ie. Due to the nerve compression.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Clinics