Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Vandana Sodi

Gynaecologist, Delhi

600 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Vandana Sodi Gynaecologist, Delhi
600 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

Our team includes experienced and caring professionals who share the belief that our care should be comprehensive and courteous - responding fully to your individual needs and preferences....more
Our team includes experienced and caring professionals who share the belief that our care should be comprehensive and courteous - responding fully to your individual needs and preferences.
More about Dr. Vandana Sodi
Dr. Vandana Sodi is a renowned Gynaecologist in Lajpat Nagar, Delhi. She is currently associated with Moolchand Medcity in Lajpat Nagar, Delhi. Save your time and book an appointment online with Dr. Vandana Sodi on Lybrate.com.

Lybrate.com has an excellent community of Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 40 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Delhi and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Vandana Sodi

Moolchand Medcity

Lajpat Nagar 3. Landmark:- Near Moolchand Metro Sation, DelhiDelhi Get Directions
600 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Vandana Sodi

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I am 26 year old female. I miss my periods in this month and I think I am pregnant but I am not prepared for this now. Please suggest me what I should do.

MD - Obstetrtics & Gynaecology, FCPS, DGO, Diploma of the Faculty of Family Planning (DFFP)
Gynaecologist, Mumbai
I am 26 year old female. I miss my periods in this month and I think I am pregnant but I am not prepared for this now...
Drugs for termination of pregnancy can be taken only under supervision of doctors licensed for termination, so meet Gynecologist.
Submit FeedbackFeedback

What the Colour of Your Urine Says About Your Health?

DM in Nephrology, MD in Internal Medicine, MBBS
Nephrologist, Ghaziabad
What the Colour of Your Urine Says About Your Health?

Changes in the colour of your urine can reveal important information about your health. If your urine takes on a hue beyond what's normal, it can be indicative of something wrong with your health. In general, the normal urine colour varies from pale yellow to deep yellowish-brown, which is a result of a chemical pigment in the urine called urochrome.

1. Red or Pink

  • When your kidneys, urethra, bladder or any other urinary tract organ gets infected or inflamed, blood cells get leaked into the urine, giving it a red hue. The causes behind the presence of blood can be urinary tract infections, kidney cysts, kidney stones, enlarged prostate and even cancer. Taking blood thinners can also cause you to have blood in your urine.
  • Certain foods like blackberries, rhubarb and beets can cause your urine to turn pink.
  • The use of certain medications like a particular class of antibiotic used in the treatment of tuberculosis can turn your urine red. Likewise, a drug used to numb discomfort in the urinary tract can cause a red/pink discoloration of your urine.

2. Blue or Green

  • The consumption of coloured food dyes containing green or blue pigments can cause you to pass urine of such hues.
  • Certain anti-depressant and anti-inflammatory medications can turn your urine green/blue.
  • A very rare medical condition called familial benign hypercalcemia (fbh), characterised by high levels of calcium in thE blood and low levels of the mineral in the urine can cause your urine to turn blue.
  • Green urine can also occur if your urinary tract gets infected by the pseudomonas bacteria.

3. Dark Brown

  • Having large amounts of these foods - aloe, rhubarb (a type of leafy green) and broad beans can cause you to pass dark brown urine.
  • Certain anti-malarial drugs, laxatives and muscle relaxants can darken the colour of your urine as well.
  • Dark brown urine can also be caused by disorders of the kidney or liver as well as infections of the urinary tract.
  • Injury of the muscle as a result of excessive training can result in dark brown urine.

4. Orange

  • Problems with the bile duct (the duct through which bile from the gall bladder and liver passes before entering the duodenum) or liver along with the passing of light coloured stools can result in orange urine.
  • A cause of orange urine may also be dehydration as fluids bring about a decrease in the concentration of compounds present in the urine.

5. White

  • The presence of calcium or phosphate sediments in the urine can give it a white hue.
  • White urine can also be a result of funguria infection (a form of fungal urinary infection wherein the fungus produces white sediments) or a bacterial infection.

'consult'.

Related Tip: Kidneys Clean Every Minute! Simplest Way To Cleanse Your Kidneys.

11900 people found this helpful

Hi. I had bought a nebulizer and its medicine (sodium chloride and asthalin). The dosage of the medicine was written in the nebulizer handbook that I lost. I have searched on Google and haven't found what amount of sodium chloride and what amount of asthalin am I supposed to used.

MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Delhi
Hi. I had bought a nebulizer and its medicine (sodium chloride and asthalin). The dosage of the medicine was written ...
Amount of asthalin depend upon the sevirity of asthma, but you can use one amp. And n/saline water with it.
Submit FeedbackFeedback

I took pills to delay my periods n then I got my period n then I took unwanted 72 pill n after this I felt symptoms of period but till now no periods. Please help me for same.

MBBS
General Physician, Mumbai
I took pills to delay my periods n then I got my period n then I took unwanted 72 pill n after this I felt symptoms o...
Unwanted pills are known to cause hormonal imbalance and needs to be evaluated after clinical examination for further guidance.
Submit FeedbackFeedback

I am a pcos patient. Periods have stopped since 5 months. Doc gave me cyclenorm e and p tablets for 3 days. But today is the 5th day and I still didn't have my periods. How many days do I have to wait.

DGO, MD, MRCOG, CCST, Accredation in Colposcopy
Gynaecologist, Kolkata
Usually a week after stopping. But if it still does not happen your medicine needs to be changed. I presume you have done a urine pregnancy test if you are sexually active.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Late Periods Problem In Hindi - पीरियड मिस या लेट होने के कारण

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Late Periods Problem In Hindi - पीरियड मिस या लेट होने के कारण

पीरियड्स, जिसे हिंदी में महावरी या मासिक धर्म भी बोला जाता हैं, यह महिलाओं को हर महीने होने वाली एक प्राकृतिक प्रकिया है, जिसका सामना हर महिलाओं को हर 28 दिन में करना पड़ता है। वहीं बहुत से महिलाओं और किशोरियों को लेट पीरियड प्रॉब्लम या कहे मासिक धर्म देरी या असमय आते हैं। शादीशुदा या किसी के साथ रिश्ते रखने वाली महिलाओं के जब पीरियड्स देर से आते हैं, तो उनमे से अधिकतर की सोच यही होती हैं कि कही वह प्रेगनेंट तो नहीं है ? 

हालांकि, ऐसा कुछ होता नहीं हैं, उम्र और लाइफस्टाइल के कारण हमारे शरीर में बहुत से बदलाव आते रहते हैं। पीरियड्स लेट या मिस हो जाना उसी प्रक्रिया का एक हिस्सा है। काफी सारे मामलों में देखा गया है कि जिन महिलाओं या युवतियों ने किसी से कोई संबंध नही बनाया होता है, लेकिन फिर भी उनके पीरियड्स की साइकिल बदल जाती हैं। इसका कारण हमारे शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव भी होते हैं।  

इसके अलावा हमारी जीवनशैली में हुए बदलाव भी इसका एक कारण होते है। जैसे - ज्यादा स्ट्रेस, जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज, वजन कम होना या ज्यादा वजन बढ़ना आदि इसमें शामिल है। यह कुछ कारण है जो आपके हॉर्मोन स्तरों को प्रभावित कर, आपके पीरियड्स साइकिल में बदलाव ला सकते हैं।

अगर वैज्ञानिक नजरिए से समझने की कोशिश करें तो महिलाओं में हर माह ओवुलेशन होता है, जिसमें पीरियड्स के 28 दिन की साइकिल के दौरान 12वें या 14वें दिन पर ओवरी से अंडा जारी होता है। अगर ओवुलेशन समय पर नही हो पाता है तो इससे पीरियड्स चक्र पर प्रभाव पड़ता है। जिसके कारण पीरियड्स लेट प्रॉब्लम का सामना करना पड़ता हैं। अगर आपको यह समस्या होती है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

पीरियड का लेट  होना कई कारणों पर निर्भर करता है जैसे कि :

1. गर्भावस्था
अगर आपने हाल ही में असुरक्षित यौन संबंध बनाए है, तो हो सकता है प्रेगनेंसी के कारण आपके पीरियड न आए।
सोल्यूशन:  तुरन्त प्रेगनेंसी की जांच कराएं।

2. पीरियड्स साइकिल की शुरुआत
जब पीरियड्स साइकिल शुरू होते है तो जरुरी नहीं की हर महिला में यह चक्र नियमित हो, मतलब कुछ में वो समय से होगा और कुछ में नहीं। कई लड़कियों में शुरुआत के सालों में पीरियड में अनियमितता होती है, जो की बाद में धीरे धीरे ठीक हो जाती है। 

सोल्यूशन: अगर आपका पीरियड हाल ही में शुरू हुआ है, तो आपको ज्यादा घबराने की जरुरत नहीं है। डॉक्टर से संपर्क कर सारी जानकारी साझा करें। 

3. वजन का बढ़ना
मोटापे की वजह से शरीर में हॉर्मोन्स सही ढंग से कार्य नहीं कर पाते है, जिसके कारण पीरियड्स लेट होने की समस्या हो सकती है।

 सोलुशन:  नियमित एक्सरसाइज, सही डाइट और अच्छे लाइफस्टाइल को अपना कर अपना वजन कंट्रोल करें।

 4. अंडर वेट होना
कुछ लडकियां और महिलाएं बहुत दुबली पतली होती हैं और वजन का सामान्य से कम होना भी पीरियड की परेशानियों के लिए जिम्मेदार होता है क्योंकि उनका शरीर उचित मात्रा में एस्ट्रोजन नहीं बना पाता है, जिस कारण उनका ओवुलेशन नहीं हो पाता है।

 सोल्यूशन: व्यायाम और अच्छी डाइट के जरिए कम वज़न और लेट पीरियड की समस्या से छुटकारा पाएं।

 5. सही खान पान का न होना या कमी
कुछ महिलाओं में ईटिंग डिसऑर्डर जैसे एनोरेक्सिया या बुलिमिया पाया जाता है। ऐसे में सही पोषण की कमी का असर उनके पीरियड पर पड़ता है, जिससे पीरियड लेट प्रॉब्लम पैदा हो जाती है।

 सोल्यूशन: शरीर के साथ जो भी करें, एक्सपर्ट की राय और शरीर जरूरत के अनुकूल ही करें।

 6. खिलाडी या डांसर होना
अकसर खिलाडी और डांसर आपना स्टैमिना और परफॉरमेंस बढ़ाने के लिए बहुत ज्यादा प्रैक्टिस कर लेती हैं। शरीर के जरुरत से ज्यादा इस्तेमाल का विपरीत प्रभाव उनके एस्ट्रोजन हॉर्मोन के लेवल पर पड़ता है, जिसके फलसवरूप ऐसी लड़कियों या महिलाओं को अमेनोररहीया यानि पीरियड देर से होने की समस्या का सामना करना पड़ता है।

सोल्यूशन: सही पोषण युक्त डाइट और कुछ दिन आराम करके माहवारी को फिर से सामान्य करने की कोशिश करें।

 7. ज्यादा एक्सरसाइज
कुछ महिलाएं आकर्षक शरीर पाने के लिए जरुरत से ज्यादा व्यायाम करती हैं। ऐसी महिलाओं को अनियमित पीरियड प्रॉब्लम की समस्या हो जाती है। 

सोल्यूशन: जरुरत से ज्यादा व्यायाम करने से बचें

 8. गर्भनिरोधक गोलियां लेना
गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन भी मासिक चक्र को डिस्टर्ब कर सकता है। 

सोल्यूशन: जितना हो सके गर्भ निरोधक गोलियों के इस्तेमाल से बचना चाहिए। 

9. थाइरोइड की प्रॉब्लम
कई बार हमें थाइरोइड की परेशानी होती है और हमें उसका पता भी नहीं चलता है। दोनों हाइपो-थयरोइडिस्म और हाइपर-थयरोइडिस्म होना, आपकी पीरियड्स साइकिल को प्रभावित कर सकता है। 

सोल्यूशन: पीरियड लेट होने की वजह जानने के लिए अपना थाइरोइड टेस्ट करवाएं और डॉक्टर से संपर्क करें।

 10. हार्मोनल लेवल का असंतुलन
PCOS के अलावा कुछ शारीरिक रोग या मानसिक तनाव होने का असर शरीर के हार्मोनल के संतुलन को बिगाड़ सकता है, जिसके फलसवरूप आपका पीरियड लेट हो सकता है।

सोल्यूशन: हॉर्मोन को संतुलित बनाए रखने का प्रयास करें।

 11. रजोनिवृत्ति
जो महिलाएं रजोनिवृत्ति यानि मेनोपॉज़ की ओर बढ़ रही होती हैं, उनमें पीरियड मिस और लेट होने की प्रॉब्लम आम होती हैं। ऐसी महिलाओं में मासिक स्त्राव और मासिक चक्र की आवर्ती पर काफी असर पड़ता है। 

सोलुशन: रजोनिवृत्ति के आसपास की आयु हैं, तो ज्यादा चिंता न करें।

 12. दवाइयों का सेवन
थाइरोइड, कैंसर, कीमोथेरेपी, डिप्रेशन, मासिक रोगों के लिए दी जाने वाली दवाइयां और स्टेरॉइड्स आदि कुछ ऐसी दवाइयां हैं, जो आपके मासिक चक्र को प्रभावित कर सकती हैं।

 सोल्यूशन: बीमारी के ठीक होने तक ऐसी समस्या पर धैर्य रखें और अगर ज्यादा समय तक सुधार ना हो तो डॉक्टर से संपर्क करें।

 13. तनाव और चिंता
मानसिक तनाव, चिंता, घरेलू झगड़े, भावनात्मक बदलाव, अवसाद आदि का असर सीधा हॉर्मोनल स्तर पर पड़ता है, जिसके कारण आपके शरीर के हॉर्मोन्स के कार्य प्रभावित होते हैं। हॉर्मोन्स का चेंज होना आपके दिमाग के हाइपो-थैलेमस नाम के हिस्से को प्रभावित करता है। यह हिस्सा आपके मासिक चक्र को नियंत्रित करता है।

 सोल्यूशन: मानसिक तनाव, बात-विवाद, डिप्रेशन, चिंता आदि से बचना चाहिए और मैडिटेशन, योगा को अपने रूटीन में शामिल करना चाहिए।

14. स्केड्यूल बदलने या सफर करना
कई बार ऑफिसियल टाइम बदलने, परीक्षा के दौरान ज्यादा देर जागने, सफ़र का प्रभाव आपके स्केड्यूल, खान पान, नींद, बॉडी क्लॉक, दिमाग आदि को प्रभावित करता है, जिसके कारण आपका पीरियड लेट हो सकता है।

 सोल्यूशन: नींद पूरी लेना, नियमित एक्सरसाइज, सही डाइट आदि से आप पीरियड को नियमित कर सकते हैं।

14 people found this helpful

If I want to abort my baby in my pregnancy itself means in how many days we should do abortion.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Hi Karthik... You can abort before three months... But it requires proper consultation.. it is illegal to do it otherwise...
Submit FeedbackFeedback

Copper t inserted after abortion its been 8 years. How can I know whether it is there or not.

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Gurgaon
Copper t inserted after abortion its been 8 years. How can I know whether it is there or not.
Get an ultrasound done to see the location of Copper T, also you should not have kept it for that long, as it's expiry happens maximum after 5 yrs, and all this while you have kept a foreign body inside you, which has been more of a physical barrier for avoiding pregnancy.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hello doctor Doctor my problem is since yesterday night I have got a terrible pain in upar part of vagina its feel like stretch in my vein . An white discharge problem also.

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology, FMAS, DMAS
Gynaecologist, Noida
Hello, There is likely that you have developed vaginitis possibly post intercourse which is causing the pain , accompanied with leucorrhoea.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 23 female .my last period is May 10. And I married on May 13. Last one month I had sex with my partner regularly. Buy again my period Is June 11. Now I want to check pregnancy test or take time. Or any other problem.

BAM
Ayurveda,
I am 23 female .my last period is May 10. And I married on May 13. Last one month I had sex with my partner regularly...
Your last menstrual period was june 11th, so now you are not carrying, so no pregnancy test is needed.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

89%
(431 ratings)

Dr. Smriti Uppal

DNB (Obstetrics and Gynecology), DGO, MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery
Gynaecologist
Sanjeevan Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(2898 ratings)

Dr. Rita Bakshi

MBBS, DGO, MD, Fellowship in Gynae Oncology
Gynaecologist
International Fertility Centre Delhi, 
300 at clinic
Book Appointment
89%
(173 ratings)

Dr. Mita Verma

MBBS, MS - Obstetrics & Gynaecology
Gynaecologist
Dr. Mita Verma Women's Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
86%
(10 ratings)

Dr. Indu Bala Khatri

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery
Gynaecologist
Navya Gynae & ENT Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(717 ratings)

Dr. Meeta Airen

MBBS, DNB (Obstetrics and Gynecology), MNAMS, Training In USG
Gynaecologist
Wellness Care Polyclinic, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(356 ratings)

Dr. Pooja Choudhary

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist
Gynae and ENT Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment