Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Dr. Nandini Kumari

Gynaecologist, New Delhi

Book Appointment
Call Doctor
Dr. Nandini Kumari Gynaecologist, New Delhi
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

My favorite part of being a doctor is the opportunity to directly improve the health and wellbeing of my patients and to develop professional and personal relationships with them....more
My favorite part of being a doctor is the opportunity to directly improve the health and wellbeing of my patients and to develop professional and personal relationships with them.
More about Dr. Nandini Kumari
Dr. Nandini Kumari is a popular Gynaecologist in Rohini, Delhi. She is currently practising at Dr Nandini Kumari's Clinic in Rohini, Delhi. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Nandini Kumari on Lybrate.com.

Lybrate.com has a number of highly qualified Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 43 years of experience on Lybrate.com. Find the best Gynaecologists online in Delhi. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment

Dr Nandini Kumari's Clinic

Plot No.-41, Pocket -7, Sector-24,RohiniNew Delhi Get Directions
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Nandini Kumari

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

One of my nipple is shrink and creamy milk comes outt. Other is fine. Kindly suggest what is the reason and will it have any effect in future? What should I need to do?

MS-General Surgery, MBBS
General Surgeon, Hyderabad
Nipple shrinkage if present from the beginning is nothing to worry about. It will not cause any problem in future. Shrinkage of recent onset needs evaluation and investigation. Please consult a general surgeon for proper management.
Submit FeedbackFeedback

In pregnancy time can we eat kiwi fruit doctor their is any effect to baby please tel me.

M.B.S.(HOMEO), MD - Homeopathy
Homeopath, Visakhapatnam
In pregnancy time can we eat kiwi fruit doctor their is any effect to baby please tel me.
Some of the major side effects of kiwi fruit are: Allergic Reactions: One might develop allergic reactions due to the consumption of kiwi fruit. Rashes And Swelling. Oral Allergy Syndrome (OAS. Dermatitis:.Pancreatitis Problem. Diarrhea And Collapsing. Latex Allergy. Breast Feeding And Pregnancy:
Submit FeedbackFeedback

My wife she is pregnant of one n a half month. .but she can't eat any thing not even milk. .if she eats or drink milk she started vomiting .n due to this she always feel weak. .kindly suggest what shall I do n also suggest me proper diet for Her please. .because this is our first baby n I don't want to take any chances .so kindly guide me..

Training in IVF / ICSI, Fellowship in Minimal Access Surgery, MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist, Pune
My wife she is pregnant of one n a half month. .but she can't eat any thing not even milk. .if she eats or drink milk...
The problem of nausea and vomiting can be there till 3 months by which the body adjusts to the hormonal levels. Some Tablets of Ondansetron if already not given can be tried with Doxilamine succinate. You need consultation because a few patients may require IV fluids because of dehydration. A basic sonography and blood reports are must.
Submit FeedbackFeedback

Hi mai 30 years ki hu. Meri shadi ko 4 year ho gaye hai abhi tak pregnenacy nahi hai. Pahele to tube block hai karke lyprochopy ki. 2 sal ke bad fir bhi kuch aram nahi hai fir endromoitricys ka problem hai karke Dr. Bataya fir cysts ka problem ab kuch samj nahi aa raha kya karu pahele to Dr. Ne lyprochopy karane ke bad kah a ab sab normal hai. Muje period date to date ata hai .

DHMS (Hons.)
Homeopath, Patna
Hi mai 30 years ki hu. Meri shadi ko 4 year ho gaye hai abhi tak pregnenacy nahi hai. Pahele to tube block hai karke ...
Hi, dear lybrate-user, * endometriosis m/c se related hai. * cysts- uterus mein hai ya overy mein? * m/c thik samay per aata hai? * aap ke partner ka spermatozoa-count thik hai? * meditation karyie* pani jyada pina chahiye. *homoeo-medicine* @ sulphur 30-6 pills, wk mein 3 days in d moring. Aur medicine ki jarurat ho sakti hai, aap report bhejo. Apna khayal rakhieye.
Submit FeedbackFeedback

When ever I see girl wid big breast I get attracted and want to have sex. What shall I do to reduce such things.

FMAS, MS
General Surgeon, Gandhinagar
Respected lybrate-user hi this is arousal related hormonal changes leading to that behaviour. You have to learn to control your desires by training your mind in respect to that I am not telling to suppress it but yes yoga & meditation daily for 20-30 minutes will definately help you out yes it will require sometime you have to keep patience for results thanks regards.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 8 month pregnant my left side breast fibroadenoma is present pain occur for every day and my right side breast no pain no complaint after delivery can I feed the baby any difficult can occur for feeding the baby because fibroadenoma.

MBBS, MS - General Surgery, FIAGES(Fellowship in minimal access surgery), FMAS (Fellowship in Minimal Access Surgery)
General Surgeon, Ghaziabad
for how long fibroadenoma is present.?? does not developed during pregnancy ?? usually it's painless but it may pain because breast tissue proliferates during. pregnancy. it may also increase in size. there won't be any harm during lactation. go for surgery after 6 months of delivery.
Submit FeedbackFeedback

Female Face Pigmentation - Melasma

MBBS, Diploma In Dermatology And Venerology And Leprosy (DDVL)
Dermatologist, Raigarh
Female Face Pigmentation - Melasma

Female face pigmentation - melasma

The cause of melasma is multifactorial and includes

  • Sun exposure,
  • Use of cosmetics,
  • And racial or
  • Genetic effects.

A majority of cases are related to sun exposure, pregnancy, or oral contraceptives.
 

15 people found this helpful

Hi, i am 35 year old my last two period is not clearly there was two or three drop in means time but my stomach was paining and I have to bomet but not and all symptoms to am i pregnant I have to times check in pregnancy kit but that has showed negative what I do ?

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Greater Noida
Dear, check pregnancy by preg. Color test, use first urine of morning time. If color changes (two lines for +ve) you are pregnant. If you get again negative then consult in private. Kind regards, Dr. Jyoti gupta, ayurvedic consultant ayurveda for sure cure.
Submit FeedbackFeedback

Pregnancy Test At Home in hindi - घर पर गर्भावस्था का परीक्षण

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Pregnancy Test At Home in hindi - घर पर गर्भावस्था का परीक्षण

जीवन के बेहतरीन अनुभवों में से एक अनुभव है माँ बनने का अनुभव। एक माँ और बच्चे से ज्यादा निजी और क्लोज कोई और रिश्ता नहीं होता। पर कई बार इसी रिश्ते की शुरुआत यानी प्रेगनेंसी का पता करना हीकंफ्यूजन से भरा होता है। कई बार तो प्रेग्नेंट होने की जानकारी ना होने पर हम खुदके साथ सावधानी नहीं बरतते हैं जिसकी वजह से बाद में मिसकैरेज या मां शिशु के स्वास्थ्य समस्या होने का खतरा बन जाता है। पर अब चिंता करने की जरूरत नहीं। शरीरिक संबन्ध बनाने के दौरान जिस भी महीने का आपका पीरियड मिस होउल्टी, पीठ में दर्द, आलस कगने जैसे कुछ शारीरिक बदलाव होने पर बिना किसी कंफ्यूजन के हमारे बताए गए घरेलू नुस्खों से पता कर लें कि आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं।

1. टूथपेस्ट 
घर पर ही प्रेगनेंसी जांचने के लिए के आपको सफेद रंग के टूथपेस्ट की जरूरत होगी। 
सबसे पहले एक डिसपोजल ग्लास में सुबह के समय के यूरिन (पेशाब) को सैंपल के तौर पर रख लें। सुबह का यूरिन टेस्ट करने के लिए इसलिए इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि उस समय पेशाब में HCG हार्मोन का स्तर काफी ज्यादा होता है जिसकी वजह से प्रेगनेंसी टेस्ट का रिजल्ट सुनियोजित करने में आसानी होती है।
अब उस पेशाब के सैंपल में एक चम्मच के बराबर टूथपेस्ट मिला लें और उसे अच्छी तरीके से फेट ले। अगर उसको मिक्स करने के कुछ मिनट बाद टूथपेस्ट झागदार दिखता है और नीला रंग हो जाता है तो यह पॉजीटिव प्रेगनेंसी के संकेत हैं, लेकिन अगर आपको कोई प्रतिक्रिया नहीं होती तो आप प्रेगनेंट नहीं हैं।

2. ब्लीच
डिसपोजल या किसी पात्र में थोड़ी मात्रा में ब्लीच पाउडर लें और उसमे पेशाब के सैंपल को मिक्स कर लें। अगर मिक्स करने के बाद बुलबुले दिखाई देते हैं तो यह पॉजीटिव प्रेगनेंसी के संकेत हो सकते हैं।

3. विनेगर 
थोड़ी मात्रा में विनेगर लें और उसमे पेशाब के सैंपल को मिक्स कर लें। अगर मिक्स करने से विनेगर का रंग बदलता है, तो समझें की पॉसिबली आप गर्भवती हो सकती हैं।

4. शक्कर
चीनी में थोड़ी मात्रा में पेशाब का सैंपल मिलाएं। अगर चीनी घुलने की बजाय गुच्छों में हो जाए, तो सम्भवतः आपका यह प्रयोग आपको गर्भवती होने की ओर इशारा करता हैं।

5. कांच के ग्लास 
कांच के एक गिलास में यूरीन डालें। कुछ देर बाद अगर यूरीन पर सफेद परत बन जाए, तो यह टेस्ट पॉजिटिव हो सकता है अथवा नेगेटिव।

6. साबुन 
एक पात्र में साबुन और यूरीन मिलाएं। अगर थोड़ी देर बाद इसमें बुलबुले बनते हैं, तो समझें कि प्रेगनेंसी टेस्टपॉजिटिव है।

7. डंडेलिओन की पत्ती
डंडेलिओनकी पत्तियों को एक पैकेट में बांधकर कर जमीन पर रख दें और ध्यान रहे की इन पत्तियों को सूरज की किरणों से बचा कर रखें उसके पश्चात इन पत्तियों पर यूरिन की कुछ बुँदे डाले और दस मिनट बाद इन पत्तियों पर लाल रैंड के फफोले उठ जाते है तो इसका मतलब है आप प्रेगनेन्ट हैं।

8. डेटॉल से प्रेगनेंसी टेस्ट 
एक शीशी में 15 एमएल यूरिन और उतनी ही मात्रा में डेटॉल लें। इसे अच्छी तरीके से मिक्स कर लें। थोड़ी देर बाद अगर डेटॉल और यूरिन जो आपस में मिक्स हो गया था, अलग-अलग हो जाते हैं और यूरिन, डेटॉल पर तेल की तरह तैरने लगता है तो समझ लीजिये कि आप प्रेग्नेंट हैं। लेकिन इसके बजाय यदि यूरिन और डेटॉल आपस में अच्छे से घुल जाते हैं और दूध सी सफेदी जैसा एक पदार्थ बन जाता है तो समझ लीजिये कि आप प्रेग्नेंट नहीं हैं।

9. पाइन सोल 
पाइन सोल को एक क्लीनर की तरह यूज में ला सकते हैं। जो की आसानी से किसी भी दुकान पर मिल जाता है। समान मात्रा में पाइन सोल और यूरिन को मिक्स करें। थोड़ी देर बाद अगर उस मिश्रण का रंग बदल जाए तो आपका यह प्रयोग आपको गर्भवती होने की ओर इशारा करता हैं।

10. बेकिंग सोडा 
2 चम्मच बेकिंग सोडा और 1 चम्मच यूरिन को आपस में मिला लें अगर थोड़ी देर बाद इसमें बुलबुले बनते हैं, तो समझें प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव है।

11. प्रेगनेंसी टेस्ट किट 
प्रेगनेंसी टेस्ट किट के इस्तेमाल का तरीका अलग अलग हो सकता हैं।
बहुत से टेस्ट किट में केवल टेस्ट स्टिक पर पेशाब करना होता है। वहीं, कुछ अन्य में आपको पहले पेशाब को एक छोटे कप में इकट्ठा करना होता है, और फिर टेस्ट स्ट्रिप को उसमें डुबोना होता है। या फिर आपको साथ में ड्रॉपर दिया जा सकता है, ताकि टेस्ट स्टिक पर पेशाब का थोड़ा सा नमूना डाला जा सके।
जांच का परिणाम किस तरह दर्शाया जाता है इसमें भी अंतर हो सकता है। कुछ टेस्ट में गुलाबी या नीली रेखाएं दिखाई देती हैं। कुछ अन्य में प्लस या माइनस के निशान या फिर पेशाब के नमूने के रंग में बदलाव आता है। डिजिटल टेस्ट में “प्रेग्नेंट” या “नॉट प्रेग्नेंट” लिखा हुआ आ जाता है और कुछ में तो यह भी अनुमान दिया होता है कि आपने कितने हफ्ते पहले गर्भाधान किया था।

लेकिन हां किसी भी घरेलू प्रेगनेंसी टेस्टकी शुरुवात करने से पहले कुछ खास बातों का ध्यान जरूर रखें।

  • घरेलू प्रेगनेंसी टेस्ट करने के तीन घंटे पहले तक मूत्र त्याग नहीं करना चाहिए। क्योंकि गर्भावस्था परीक्षण या प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए यूरिन का नमूना लिया जाता है. क्योंकि यूरिन यानि पेशाब में मौजूद HCG हार्मोन से ही गर्भ का पता लगाया जाता है।
  • घरेलू प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए आप जितने भी चीजो का प्रयोग कर रही हो उन चीजो की सफाई का खासा ख्याल रखे।
  • घरेलू प्रेगनेंसी टेस्ट विधि पुराने समय से लोग सफलतापूर्वक अपना रहे हैं। लेकिन फिर भी अपने संतुष्टि के लिए किसी उचित चिकित्सक से सलाह-मुशरह जरूर कर ले
  • प्रेगनेंसी टेस्ट निगेटिव आने के बाद 72 घंटे बाद ही दोबारा जांच करें.
  • अगर पीरियड और मिस हो जाए और टेस्ट में रिपोर्ट नेगेटिव आये तो स्त्री रोग विशेषज्ञ से सम्पर्क करें।
     
4 people found this helpful

Dr. mam I had confirmed my pregnancy this is my 1st month of pregnancy mam can I have sex during pregnancy and if yes till how many months I can have sex during pregnancy plz mam help it by clarifying my doubt.

Advanced Infertility, MIS TRAINING, FICMCH, PGDS, MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist, Faridabad
Dr. mam I had confirmed my pregnancy this is my 1st month of pregnancy mam can I have sex during pregnancy and if yes...
sex during pregnancy is not contraindicated,unless you have symptoms of pain ,bleeding ,a low lying placenta or any other risk factor. for a normal low risk pregnancy its ok to have sex with due gentleness. precautions r suggested in early 3m and last 2m.
Submit FeedbackFeedback

Hello, I am 24 years old female, married.my period cycle normally is 30 to 33 days but it's 39th day and no period and no any signs of pregnancy. Is it possible that I may not feel any sickness if pregnant also and when does morning sickness starts? Shall I go for test now?

MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist,
Hello, I am 24 years old female, married.my period cycle normally is 30 to 33 days but it's 39th day and no period an...
Hi lybrate-user. Do urine pregnancy test at home from first urine sample in morning. Or you can get it done from any nearby laboratory. Morning sickness is not a necessary symptom in all pregnant women.
5 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Period date. 23rd April 2017 Pregnantly she is pregnant. Aaj tk pregnency ka kitne month & kitne din hua hain.

BASM, MD, MS (Counseling & Psychotherapy), MSc - Psychology, Certificate in Clinical psychology of children and Young People, Certificate in Psychological First Aid, Certificate in Positive Psychology
Psychologist, Palakkad
Period date. 23rd April 2017
Pregnantly she is pregnant. Aaj tk pregnency ka kitne month & kitne din hua hain.
Dear lybrate user. I understand. Your pregnancy period is calculated from the first day of your last menstrual period (assuming a 28 day cycle). Note that your menstrual period and ovulation are counted as the first two weeks of pregnancy. With this formula you can easily calculate your days. Take care.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

महिलाओं और पुरूषो में बांझपन या अनुवंसिक्ता

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
महिलाओं और पुरूषो में बांझपन या अनुवंसिक्ता

महिलाओं और पुरूषो में बांझपन या अनुवंसिक्ता

बांझपन या अनुवंसिक्ता क्या है?

एक वर्ष तक प्रयास करते रहने के बाद अगर गर्भधारण नहीं होता तो उसे बन्ध्यता या अनुर्वरता कहते हैं।

बांझपन, प्रजनन प्रणाली की एक बीमारी है जिसके कारण किसी महिला के गर्भधारण में विकृति आ जाती है। गर्भधारण एक जटिल प्रक्रिया है जो कई बातों पर निर्भर करती है- पुरुष द्वारा स्वस्थ शुक्राणु तथा महिला द्वारा स्वस्थ अंडों का उत्पादन,

  अबाधित गर्भ नलिकाएं ताकि शुक्राणु बिना किसी रुकावट के अंडों तक पहुंच सके, मिलने के बाद अंडों को निषेचित करने की शुक्राणु की क्षमता, निषेचित अंडे की महिला के गर्भाशय में स्थापित होने की क्षमता तथा गर्भाशय की स्थिति।
अंत में गर्भ के पूरी अवधि तक जारी रखने के लिए गर्भाशय का स्वस्थ होना और भ्रूण के विकास के लिए महिला के हारमोन का अनुकूल होना जरूरी है। इनमें से किसी एक में विकृति आने का परिणाम बांझपन हो सकता है।

बांझपन क्यों होता है ?

पुरुषों में प्रजनन क्षमता में कमी का सबसे सामान्य कारण शुक्राणु का कम या नहीं होना है। कभी-कभी शुक्राणु का गड़बड़ होना या अंडों तक पहुंचने से पहले ही उसका मर जाना भी एक कारण होता है। महिलाओं में बांझपन का सबसे सामान्य कारण मासिक-चक्र में गड़बड़ी है। इसके अलावा गर्भ-नलिकाओं का बंद होना, गर्भाशय में विकृति या जननांग में गड़बड़ी के कारण भी अक्सर गर्भपात हो सकता है।

क्या अनुर्वरता केवल औरतों के कारण होती है?

नहीं, यह केवल औरत के कारण नहीं होती। केवल एक तिहाई सन्दर्भों में अनुर्वरता औरत के कारण होती है। दूसरे एक तिहाई में पुरूष के कारण होती है। शेष एक तिहाई में औरत और मर्द के मिले जुले कारणों से या अज्ञात कारणों से होती है।
   
पुरूषों में अनुर्वरता के क्या कारण होते हैं?

पुरूषों में अनुर्वरता के कारण हैं 

(1) शुक्राणु बनने की समस्य - बहुत कम शुक्राणू या बिलकुल नहीं। 

(2) अण्डे तक पहुंच कर उसे उर्वर बनाने में शुक्राणु की असमर्थता - शुक्राणु की असामान्य आकृति या बनावट उसे सही ढंग से आगे बढ़ पाने में रोकती है। 


(3) कई बार पुरूषों में जन्मजात ऐसी समस्या होती है जो कि उनके शुक्राणुओं को प्रभावित करती है। 

(4) अन्य सन्दर्भों में किसी बीमारी या चोट के परिणाम स्वरूप समस्या शुरू हो जाती है।

पुरूष में अनुर्वरता का खतरा किन चीज़ों से बढ़ जाता है?

पुरूष के सम्पूर्ण स्वास्थ्य एवं जीवन शैली का प्रभाव शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता पर प्रभाव पड़ता है। जिन चीज़ों से शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता घटती है उस में शामिल हैं। 

  • मदिरा एवं ड्रग्स 
  • वातावरण का विषैलापन जैसे कीटनाशक दवाएं
  • सिगरेट पीना 
  • मम्पस का इतिहास 
  • विशिष्ट दवाँ। 
  • कैंसर के कारण रेडिएशन।


औरतों में अनुर्वरता के क्या कारण होते हैं?

औरतों में अनुर्वरता के कारण हैं -

(1) अण्डा देने में कठिनाई 
(2) बन्द अण्डवाही ट्यूबें 
(3) गर्भाशय की स्थिति की समस्या 
(4) युटरीन फाइवरॉयड कहलाने वाले गर्भाशय के लम्पस।

किन चीज़ों से महिला में अनुर्वरकता का खतरा बढ़ जाता है?

बच्चें को जन्म देने में बहुत सी चीजें प्रभाव डाल सकती हैं। इनमें शामिल हैं -

(1) बढ़ती उम्र
(2) दबाव
(3) पोषण की कमी
(4) अधिक वजन या कम वजन
(5) धूम्रपान
(6) मदिरा
(7) यौन संक्रमिक रोग
(8) हॉरमोन्स में बदलाव लाने वाली स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं।

2 people found this helpful

I have polycystic ovary. I am not able to conceive. We are married for 9 years now. My husband has diabties.

DGO, MBBS
Gynaecologist, Pune
Start tab. D3mayo twice daily for two months. Ask husband to start tab. Confido twice daily. Nd keep check in sugsr levels.
Submit FeedbackFeedback

What is fibroadenoma? Is this any serious health issue? What should be done to git rid of this?

MBBS
General Physician, Delhi
A fibroadenoma is a non-cancerous tumor in the breast that is commonly found in women under the age of 30. The exact cause of fibroadenomas is not known. Hormones such as estrogen may play a part in the growth and development of the tumors. Taking oral contraceptives before the age of 20 has been associated with a higher risk of developing fibroadenomas.
Submit FeedbackFeedback

Hi sir I am married first night with my wife she wasn't bleeding let me me now she's virgin or not please answer me.

SLE, Fellowship In Diabetology, Diploma In Psychology Mental Health And Illness, PLAB (MANCHESTOR, UK), FAGE, MBBS
General Physician, Bangalore
As you are aware that virginity is a expensive issue. Most women tend to trade their virginity for material benefits. Althogh many men marry earlier unmarried women many do not turn out to be virgins. Many use medical hormones to fake bleeding on first night. Just a little bit of blood and a difficult penetration into the women because she is tightly holding her pelvic muscles does not mean she is a virgin. Many women are using these 2 techniques to fake virginity to many men over and over again. Even women who have delivered children are faking virginity in some instances. Many women also pretend to be playful and act like they are having sex for the first time to fake virginity. All in all the sex industry involves big money and influential people. Not every time you get what you are told and not everybody tells you what you are getting into. It s a mafia that rules the sex industry. The more you get involved in it the difficult it is for you to get out of it. Also remember that most women have a number of previous sex partners with whom they continue to have contact. They will time and gain want to resestablish sexual relationships with these women. Thus, you will time and agiain have to take the trouble of dealing with the womens previous sex partners. Please call me feel free to contact me in private section for more details.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My wife has pcos problem is it difficult for her to get pregnant please suggest remedies.

MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Mumbai
It will be difficult but not impossible it depends on severity of products also.she has to do exercise and reduce weight
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed