Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Jyoti Arora

MBBS, DGO

Gynaecologist, Delhi

22 Years Experience  ·  300 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Jyoti Arora MBBS, DGO Gynaecologist, Delhi
22 Years Experience  ·  300 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

My experience is coupled with genuine concern for my patients. All of my staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well....more
My experience is coupled with genuine concern for my patients. All of my staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well.
More about Dr. Jyoti Arora
Dr. Jyoti Arora is one of the best Gynaecologists in Dwarka, Delhi. She has been a successful Gynaecologist for the last 22 years. She has completed MBBS, DGO . She is currently practising at Shreya Dental and Gynae Klinik in Dwarka, Delhi. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Jyoti Arora on Lybrate.com.

Lybrate.com has an excellent community of Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 42 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Delhi and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Education
MBBS - Jawaharlal Nehru Medical college Aligarh, - 1996
DGO - Jawaharlal Nehru Medical college Aligarh, - 1999
Languages spoken
English
Hindi
Professional Memberships
DELHI MEDICAL COUNCIL
Indian Medical Association (IMA)
Delhi gynecological Forum

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Jyoti Arora

Shreya Dental and Gynae Klinik

28-B, Sector-7, Pocket-1, Dwaraka. Landmark : Near Dwarka Gate, DelhiDelhi Get Directions
300 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Jyoti Arora

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I need to know about the contraceptive pills which would be safe for my wife to use it regularly. As I'm not that fond of using condoms. Thanks.

International Academy of Classical Homeopathy, BHMS
Homeopath, Pune
I need to know about the contraceptive pills which would be safe for my wife to use it regularly. As I'm not that fon...
Weight gain Clinical studies have found no consistent association between the use of birth control pills and weight fluctuations. However, many people taking the pill report experiencing some fluid retention, especially in the breast and hip areas 1. Intermenstrual spotting Approximately 50% of people using the pill experience vaginal bleeding between expected periods 2. Nausea Some people experience mild nausea when first taking the pill, but symptoms usually subside after a short period of time. 3. Breast tenderness Birth control pills may cause breast enlargement or tenderness. .most importantly Missed periods ABOVE ALL R D BAD EFFECTS OF PILL please THINK TWICE BEFORE U START.

Benefits Of Lemon Tea in hindi - लेमन टी के फायदे

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Benefits Of Lemon Tea in hindi - लेमन टी के फायदे

आजकल चाय कॉफ़ी में कई वेरायटी इस्तेमाल की जाने लगी है और सबसे अच्छी बात ये है कि इनका स्वाद लाभ और स्वास्थ्य लाभ नार्मल चाय कॉफ़ी के मुकाबले ज्यादा बेहतर है । अक्सर चाय में ही तमाम तरह की चाय बना लेते हैं हम लोग पर इन नइ वेरायटी की कुछ स्वास्थ्य वर्धक चाय की किस्म न सिर्फ स्वास्थ्य के नजरिये से बेहतरीन हैं बल्कि कम खरचेलू और बनाने में भी आसान है । तो आज उन्ही गुणकारी चाय में से एक अहम नाम निम्बू चाय यानी लेमन टी की ही बात करते हैं जो अपने फायदों के लिए मशहूर है और कई लोगों की तो फेवरेट चाय भी है ।
नींबू को अक्सर हम अपने भोजन में सलाद के रूप में लेते हैं। इतना ही नहीं गर्मीयों के दिनों में नींबू पानी के सेवन से हमारी थकान मिटती है साथ ही हम चुस्त और उर्जावान भी हो जाते हैं।  ठीक इसी तरह से नींबू की चाय आपको एैसे फायदे दे सकती है जिनके बारे में शायद आपको अभी तक पता भी न हो। सेहत को बनाने के लिए नींबू महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। और निम्बू की चाय के लिए कहना ही बनता है की स्वास्थ्य भी सेहत भी ।

आइए सबसे पहले हम जानते हैं नींबू चाय बनाने का तरीका। और फिर नींबू चाय के फायदे।
लेमन टी बनाने की विधि

  • सबसे पहले एक गिलास में पानी लें। 
  • अब इसे पात्र में डाले और थोड़ी देर के लिए उबाले। 
  • अब इसमें थोड़ी मात्रा में चाय की पत्ती और शक्कर डालें, और थोड़ा सा उबाले। 
  • आप चाहें तो इस में एक दो लौंग , इलायची भी डाल सकते हैं । दो - तीन  तुलसी के पत्ते भी। काला नमक भी ।
  • अब इसमें नींबू का रस डाले और इसे एक कप या गिलास में छान लें। और लो अब आप की चाय तैयार और  अब आप इसे पीकर स्वादिष्ट चाय आनंद ले सकतें हैं ।

ध्यान रखें :- नीबू की चाय में कभी दूध न डालें
यदि आप खाना खाने के 1 घंटे पहले लेमन टी को पीते हैं तो इससे आपकी खाने की भूख बढ़ती है और यदि खाना खाने के बाद लेमन टी का सेवन करने से खाना पचता है। यानि दोनों ही तरीकों से लेमन टी लेने से आपकी सेहत अच्छी रहती है।
प्राकृति ने नींबू को अच्छी सेहत के लिए बनाया है। नींबू का प्रयोग आप अधिक से अधिक करें। नींबू की चाय से आप कई बीमारियों से मुक्त हो सकते हो साथ ही साथ लंबी उम्र तक जी सकते हो। इसलिए जरूरी है कि आप अपनी सुबह की शुरूआत लेमन टी से ही करें।

तो अब जानते हैं नींबू चाय के सेहत सुधारने वाले गुण

1. दिमाग करे दुरुस्त
नींबू की चाय पीने से दिमाग की तंत्रक्रियाएं शांत होती है। और दिमाग शीतल रहता है। जिससे आप अपने काम सोच समझ में मेंटल एक्टिविटी में खुदको बेहतर पाएंगे।

2. त्वचा में निखार लाए
 जैसे की हम सभी जानते है की निम्बू के रस में विटामिन सी होता है जो की हमारे स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है यह हमारे स्किन पर ग्लो लाता है | इसलिए आप अपनी त्वचा पर निखार लाना चाहते है तो दिन में कभी भी एक बार लेमन टी की चुस्की जरूर लें । 

3. सिर दर्द मिटाए
लेमन टी पीने से सिर दर्द कम होता है। साथ ही यह शरीर में होने वाली सामान्य कमजोरी को भी दूर करती है लेमन टी।

4. दिल की सेहत के लिए फायदेमंद
हाल ही में हुए अघ्धयन में इस बात का पता चला की लेमन टी के सेवन से काफी हद तक दिल संबंधी रोगों को रोका जा सकता है। लेमन टी में मौजूद सिंअवदवपके शरीर की सूजन को कम करती है। जिन लोगों को खून का थक्का नहीं जमता उन्हें भी लेमन टी पीनी चाहिए।
हृदय रोगों में तो बेहद असरकारी प्राकृतिक दवा है लेमन टी। लेमन टी दिल पर जमी हुई गंदगी को निकाल कर साफ करती है जिससे हृदय को लगने वाला संक्रमण खत्म हो जाता है।
नींबू की चाय इंसुलिन की गतिविधि में सहायता करती है। यह शरीर में चीनी के जरिए यानि ग्लूकोज से उर्जा का उत्पादन कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

5. दिमाग की थकान में लेमन टी
 दरसल नींबू की गंध हमारे दिमाग को साफ कर के हमारे मूड को ताजा कर हमारे दिमाग में चुस्ती और फुर्ती को दुबारा लाने में काफी मदद करता है | इसलिए यदि आप कोई काम करते करते थक गए है और काफी तनाव महसूस कर रहे हों तो बस एक कप लेमन टी पिएं फिर महसूस करे  वही ताजगी जिससे आपका मूड बन जाएगा।क्योंकि यह चिंता या तनाव को उर्जा में बदल देती है।

6. पेट के लिए फायदेमंद
पेट से संबंधित बीमारियों के लिए लेमन टी किसी दवा से कम नहीं है। लेमन टी के नियमित सेवन से आपका पाचन तंत्र ठीक रहता है।

7. गले के लिए लाभदायक
लेमन टी सेहत के लिए काफ़ी लाभदायी है । ग्रीन टी गले की सूजन गले मे जलन या गला खराब जैसे कई प्रॉब्लम्स के लिए आयुर्वेदिक गुणकारी घरेलू नुस्ख़ा साबित हुआ है।

8. उर्जावान बनाती है
आप भी सुबह की शूरूआत नींबू की चाय से कर सकते हो। यह दूसरी चायों से बेहद सुरक्षित और उर्जावान होती है। जिससे आप दिनभर खुदको एनरजेटिक महसूस करेंगे।

9. बदबू दूर करने के लिए
 यदि आपके हाथों में बदबू आ रही हो तो आप नींबू की चाय से भी हाथों को धो सकते हो। इससे हाथों से बदबू चली जाती है।

10. वजन घटाने में असरदार
अगर आप मोटापे का शिकार हैं तो नार्मल चाय पीने की बजाए नींबू वाली चाय पीजिये। नींबू की चाय पेट को भी साफ करता है और शरीर से गंदगी को भी बाहर निकालती है। तो अगर आपको वजन कम करना है और स्‍वस्‍थ्‍य रहना है तो नींबू की चाय बना कर रोज सुबह पियें। 
पर ध्यान रहे  जिन लोगों को अल्सर की परेशानी हो वे नींबू का या निम्बू की चाय का सेवन न करें।
 

11 people found this helpful

Gall Bladder Stones - Homeopathic Treatments!

MD - Bio-Chemistry, MF Homeo (London), DHMS (Diploma in Homeopathic Medicine and Surgery), BHMS
Homeopath, Kolkata
Gall Bladder Stones - Homeopathic Treatments!

गुर्दे की पथरी का होमियोपैथि में सबसे बेहतर उपचार-


शरीर में अतिरिक्त उष्णता बढ़ने, गर्म जलवायु के प्रभाव से, पानी कम मात्रा में पीने आदि कारणों से शरीर में जलीय-अंश की कमी यानी डिहाइड्रेशन होने की स्थिति में मूत्र में कमी और सघनता होती है, जिससे कैल्शियम आक्सलेट मूत्र में ही पाया जाता है या फॉस्फेट, अमोनियम फॉस्फेट, मैग्नीशियम कार्बोनेट आदि तत्त्व किडनी की तली में जमने लगते हैं और धीरे-धीरे पथरी का आकार ले लेते हैं।
पाचन प्रणाली की खराबी भी इसमें एक कारण होता है। मूत्राशय यानी ब्लैडर की पथरी स्त्रियों की अपेक्षा पुरुषों को ज्यादा होती है और इसका पता पेशाब करने में होने वाले कष्ट से चलता है। मूत्राशय की पथरी अविकसित देशों के गरीब लोगों में अधिकतर पाई जाती है और इसका कारण उनके आहार में फॉस्फेट और प्रोटीन की कमी होना होता है। पथरी के इन प्रकारों को मोटे तौर पर मूत्र-पथरी कहा जाता है, क्योंकि इनका सम्बन्ध मूत्र, मूत्राशय, मूत्रनलिका और गुर्दो से होता है।
विटामिन ‘डी’ की विषाक्तता तथा थायराइड ग्रंथि की अति सक्रियता के कारण शरीर में कैल्शियम के स्तर में बढ़ोतरी हो जाती है। साथ ही कैल्शियम युक्त पदार्थ अधिक खाने की स्थिति में भी गुर्दे में पथरी हो जाती है।

ऐसे फल-सब्जियां जिनमें आक्जलेट अधिक होता है, खाने पर जोड़ों में दर्द एवं गठिया वगैरह की स्थिति में अधिक यूरिक बनने के कारण भी क्रमश: आक्जलेट एवं यूरिक एसिड स्टोंस (पथरी) बन जाती है।
पथरी के लक्षण-
लक्षण मुख्यतया इस बात पर निर्भर करते हैं कि पथरी का आकार क्या है और कहां स्थित है।

1. छोटे-छोटे टुकड़े गुर्दे में पड़े रहें तो इनका पता नहीं चलता, न कोई कष्ट ही होता है, लेकिन जैसे ही यह टुकड़ा ‘यूरेटर’ में प्रवेश करता है, वैसे ही अचानक भयंकर दर्द होता है जिसे ‘रेनलकॉलिक’ कहते हैं।

2. कमर में तीव्र अथवा हलका दर्द पीछे की तरफ बना रहना एवं चलने-फिरने पर दर्द बढ़ जाना।

3. ‘रेनलकॉलिक’ अचानक शुरू होता है, दर्द की तीव्रता बढ़ती जाती है और यह जांघों, अण्डकोषों, वृषण, स्त्रियों में योनिद्वार तक पहुंच जाता है।

4. कभी-कभी मूत्र मार्ग में पथरी फंसने के कारण पेशाब बंद हो जाता है।

5. कभी-कभी मूत्र-मार्ग से छोटी पथरी के गुजरकर बाहर निकलने के बाद घाव हो जाने के कारण मूत्र-मार्ग से रक्त भी आ सकता है।

पथरी की जांच-
1. पेशाब में लाल रक्त कोशिकाएं पाई जाती हैं।

2. एक्स-रे जांच (गुर्दो एवं मूत्राशय तथा मूत्र-मार्ग की) कराने पर पथरी स्पष्ट दिखाई पड़ती है |

3. यूरेटर (मूत्र नलियों) को रंगने वाले पदार्थ (डाई) की रक्त वाहिकाओं के द्वारा वहां तक पहंचाकर एक्स-रे करने पर और स्पष्ट पता चल जाता है।

4. अल्ट्रासाउंड (तरंगों की आवृति के द्वारा) जांच द्वारा भी सही-सही स्थिति का पता लगाया जा सकता है।

पथरी से बचाव-
पानी अधिक मात्रा में पीना चाहिए। कैल्शियम एवं आक्जलेट युक्त पदार्थ सीमित मात्रा में ही खाने चाहिए। टमाटर, मूली, पालक, भिंडी, बैगन व मीट का परहेज़ रखें। 

2 people found this helpful

I have missed my period last month last period comes around July last week its more than 45 days what should I do. Also I have not done any unprotected sex.

BHMS
Homeopath, Faridabad
I have missed my period last month last period comes around July last week its more than 45 days what should I do. Al...
Hello, Since how long you have been suffering from this problem? Any associated symptoms or complaints? Any medical condition do you have? Have you got your investigations done (if yes, share the reports with me)? Answer all these questions for proper diagnosis and proper treatment. Any nutritional deficiency can also lead to irregularity. Take more of green vegetables, nuts, salads, seasonal fruits, yellow coloured veggies, milk & milk products, plenty of water and enough of sleep & rest. Take homoeopathic medication for your irregular menses – Schwabe's Pulsatilla 200/ once daily for 10 days (not to take during menstrual flow), Schwabe's Five Phos. And Alfaalfa Tonic – both thrice daily for 1 month. There after revert me back..take care
2 people found this helpful

How To Improve Digestion

BHMS, MD(AM)
Homeopath, Kota
How To Improve Digestion

Our body is the greatest gift of nature,
So we should take care of its natural processes like timings of food, variety of food.
One should intake lukewarm water in a day to day life, least amount of water can be consumed while having a meal and till 1.5 hours after a meal.

One should take a meal at a right time daily like morning evening.
Daily consumption of water should be 4-6 litre per day. One should go for a walk at least for half hour with an empty stomach.
 

I had unprotected sex with my boyfriend on 20th October and took unwanted 72 on the same day. I had my withdrawal bleeding on 29th October. Today is 15th November and I haven't had my periods yet.

BHMS
Homeopath, Noida
I had unprotected sex with my boyfriend on 20th October and took unwanted 72 on the same day. I had my withdrawal ble...
There is no fixed time in which one bleeds after taking ipill. Sometimes unexpected bleeding occurs more over it is not necessary. Next menstrual cycle can be early or delayed as side effects of the pill. Taken within 24 hrs it is 95% effective.
1 person found this helpful

I have pcod and thyroid, taking treatment for thatrecently in scan I got to know I have fibroid of 1 cm and taking medicine for that form 1 month. Will fibroid cure with medicine?

MBBS, DNB (Obstetrics and Gynecology), MNAMS, Training In USG
Gynaecologist, Delhi
I have pcod and thyroid, taking treatment for thatrecently in scan I got to know I have fibroid of 1 cm and taking me...
Hi Fibroid of this size does not harm. But its position need to be seen. Yes, it can be treated medically in some conditions.

Hi! Please tell me how to stop over bleeding? I'm bleeding continuously since 4 days. I'm so scared now. Please help me! What should I do?

International Academy of Classical Homeopathy, BHMS
Homeopath, Pune
Hi! Please tell me how to stop over bleeding? I'm bleeding continuously since 4 days. I'm so scared now. Please help ...
hi arnic 3c liquid 3times days for 4days murex 12c 3tims day for 13 days china off 12c 3tims a days for 15 days helon 12c 2tims day for 10 days millefo 30 once a day for 5 days Ask me in private so dat we can discuss in better manner and also u wil improve Also we can change d medicine inform mr progress

I don't get my periods at all from last 6 years. Right now I am taking medicines to get my periods.

MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Mumbai
I don't get my periods at all from last 6 years. Right now I am taking medicines to get my periods.
As you are suffering from no menses for 6 years, it should be investigated immediately. Please get blood tests, fsh, lh, tsh and prolactin done as soon as possible along with sonography.
1 person found this helpful

Uterus swelling me kya kre kya khaye aur kaun si exercise kre aur konsi exercise na kre pls help me.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Uterus swelling me kya kre kya khaye aur kaun si exercise kre aur konsi exercise na kre pls help me.
Exercise na kare... Pranayama kar saktr he... Or Homoeopathic treatment karvaye...ap chahe to muje Consult kare... Food ka isme jyada koi role nahi he...
View All Feed

Near By Doctors

90%
(44 ratings)

Dr. Divya Pandey

MBBS, Ms - Obs & Gynae
Gynaecologist
First Beat Health Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(10 ratings)

Dr. Bijoy Nayak

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MD - Obstetrics & Gynaecology
Gynaecologist
Manipal Hospital- Dwarka, 
350 at clinic
Book Appointment
92%
(81 ratings)

Dr. Pratibha Gupta

MS - Obstetrics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist
Ayushman Hospital & Health Sciences, 
300 at clinic
Book Appointment
97%
(2960 ratings)

Dr. Gitanjali

MS - Obstetrics and Gynaecology, MS - Obstetrics and Gynaecology
Gynaecologist
Arya Hospitals, 
300 at clinic
Book Appointment
85%
(10 ratings)

Dr. Seema Saxena

MBBS, MS - Obs & Gynae (Gold Medalist)
Gynaecologist
Mata Chanan Devi Hospital, 
at clinic
Book Appointment
91%
(133 ratings)

Dr. Yukti Wadhawan

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecology, Advanced Laparoscopy & Hysteroscopy Training Programme, Diploma In Ultrasound, Fellowship In Reproductive Medicine & ART
Gynaecologist
LaOrigin IVF & Gynaecology, 
350 at clinic
Book Appointment