Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Arvind Yadav

General Physician, Delhi

100 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Arvind Yadav General Physician, Delhi
100 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

Our team includes experienced and caring professionals who share the belief that our care should be comprehensive and courteous - responding fully to your individual needs and preferences....more
Our team includes experienced and caring professionals who share the belief that our care should be comprehensive and courteous - responding fully to your individual needs and preferences.
More about Dr. Arvind Yadav
Dr. Arvind Yadav is a renowned General Physician in Bapa Nagar, Delhi. He is currently practising at Anjani Health Care in Bapa Nagar, Delhi. Book an appointment online with Dr. Arvind Yadav and consult privately on Lybrate.com.

Lybrate.com has an excellent community of General Physicians in India. You will find General Physicians with more than 43 years of experience on Lybrate.com. You can find General Physicians online in Delhi and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Arvind Yadav

Anjani Health Care

Gali No-2, Tikri Kalan, Landmark:- Near Lekh Ram Park, DelhiDelhi Get Directions
100 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Arvind Yadav

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I've tb, t from 2months 20days, now in cont. Phase, afb was negative, x ray is clear. Easily catching cold, sometimes mucus in throat irritating. I've dust allergy. Do I have to worry if I start coughing?

MD PULMONARY, DTCD
Pulmonologist, Faridabad
If on proper tb drugs and no other tb toxaemis symtoms, then nothing to worry, but try to find cause of cough.
Submit FeedbackFeedback

Middle Ear Infection: Causes, Symptoms and Treatment

MS-ENT, MBBS
ENT Specialist, Noida
Middle Ear Infection: Causes, Symptoms and Treatment

The human ear is divided into three parts, namely the outer, middle and inner ear. All these parts function in coherence with each other and help us in converting vibrations into sound and information. The middle ear consists of the air space between the inner ear and the outer ear and contains the bones that transmit the vibrations of the outer ear and translate them into information. This area is prone to infections, especially among children and thus may cause discomfort or pain. 

Symptoms of middle ear infections: Middle ear infections primarily tend to manifest themselves as inflammation of the tissues and buildup of fluids. Some of the symptoms are mentioned below.

Infections in children: Middle ear infections primarily occur in children although it can occur in adults as well. Some of the common symptoms could be:

  • Ear pain either sitting or standing up and especially while lying down
  • Irritability and crying, which in infants could translate to more than usual crying 
  • Problems with sound and difficulties in hearing
  • Fluid buildup causing balance related problems
  • Discharge of fluid in certain cases
  • Unable to sleep and also loss of appetite
  • In some cases children may have high fever

Causes of middle ear infections: The primary cause of middle ear infection is due to the presence of bacteria or virus in the area. The Eustachian tube, which runs from the middle ear to the back of the throat, is connected to nasal passages as well. Any infection that affects the throat or the nose may also affect the middle ear through this tube.

Primary causes for the infections could be

  • Cold or flu like symptoms, which then infect the middle ear as well
  • Otitis media, which is the buildup of fluid and inflammation either due to the presence of bacteria and viruses or even without it
  • Seasonal infections, which are common during late autumn or winters
  • Air pollution is also known to be a factor
  • Infection from others, especially in the case of children when they are part of a group care
  • Children from 6 months to 2 years are also susceptible to middle ear infections as their immune systems are much less developed.

Treatment of middle ear infections: Usually, middle ear infections resolve on their own within a day or so. You can try warm compress with a soft piece of cloth to ease the pain. However, if pain persists for too long then antibiotic medications may be required to fight the infection with pain relief medications to lessen the pain and discomfort. In case you have a concern or query you can always consult an expert & get answers to your questions!

3324 people found this helpful

Dear sir Having intercourse 4-5 time a week is good? Or 4-5 times masturbation is good? And how.

MBBS
General Physician,
Dear sir Having intercourse 4-5 time a week is good? Or 4-5 times masturbation is good? And how.
If you masturbate many times a day and have a healthy, satisfying life, good for you. But if you masturbate many times a day and you're missing work or giving up on sex with your partner because of it, consider seeing a sex therapist.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Whenever I eat I feel so much gas in my stomach and I feel very terrible I can't concentrate on anything. Even drinking water also cause me gas issue.

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Haridwar
Whenever I eat I feel so much gas in my stomach and I feel very terrible I can't concentrate on anything. Even drinki...
Take Avipattikar powder 1 spoon before meal And use hingvastak For full detail consult me And do yoga.
Submit FeedbackFeedback

M B B S , MD - Paediatrics
Pediatrician, Delhi
Every Diarrheal episode in infant and children need not to be treated with antibiotics ......most of the episodes are viral in etiology ...consult your Doctor

I am 50 year old male, even if i do not have cold ,i feel wheazing sound in evening/night which is irritating.I do have a little sinus problem as well. Further i have bad breath also. Plaese help

MD PULMONARY, DTCD
Pulmonologist, Faridabad
For bad breath can try bifilac lozenges three/day and oral hyegine.For wheeze go for spirometry to r/o asthma. Also r/o Gerd. Get CT PNS to confirm sinusitis.Can try budamate 200 2 puff /twice/day through spacer. It will help if asthmatic.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi, I am 26 years old and I am always suffering from severe headache. What should I do?

Certified Diabetes Educator, Registered Dietitian (RD), PGDD, Bachelor of Unani Medicine and Surgery (B.U.M.S), General Physician
Dietitian/Nutritionist, Mumbai
Hi, I am 26 years old and I am always suffering from severe headache. What should I do?
Are you currently taking any medications for your headache? a strong headache can be a symptom of a serious condition, such as a stroke, migrane, meningitis or encephalitis. I am a doctor and registered dietitian who will prescribe a customized diet plan and medications to help in headaches. Do reply back for private consultation for a detailed treatment plan including dietary therapy.
Submit FeedbackFeedback

Hi, from last two days I am suffering from a fever. My lower back and head are paining like a hell. I have consulted from a doctor he just saying that its viral fever. My taste buds are also out of order. Everything is tasteless to me. Should I go for a blood test or consult from different doctor.

MBBS, cc USG
General Physician, Gurgaon
Hi,
from last two days I am suffering from a fever. My lower back and head are paining like a hell. I have consulted ...
Hello, kindly go for CBC, Dengue serology and Urine R/M tests and review with reports and kindly follow health advices given below: 1.Avoid exertion 2.Take Tablet Paracetamol 650 mg after food as and when required for Fever more than 99 F (maximum 3 tablets with gap of 8 hr can be taken in a day) for 3 days 3.lot of fluids to be taken 4.Take proper diet homemade food like moong dal dalia, chapati etc 4.Avoid wearing synthetic and tight cloths. and kindly let me know what medicine you are taking and also tell me if you are having other symptoms like cough/ cold/ burning urine/ stomach Pain so that we can confirm cause of fever
Submit FeedbackFeedback

I am 18 year old and I am having cold for over 2 weeks I have tried everything what should I do?

BHMS
Homeopath, Delhi
Hello, you can take homoeopathic medicine kali iod 30 (4 drops in little water) thrice a day for 3 days and update.
Submit FeedbackFeedback

Ayurvedic Treatment Of Gas - गैस का आयुर्वेदिक इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Ayurvedic Treatment Of Gas - गैस का आयुर्वेदिक इलाज

वर्तमान परिदृश्य मेंबहुत सी ऐसी बीमारियां हैं, जो हमारी गलत आदतोंऔर लापरवाहियों की देन हैं। जैसेअनियमित खान-पान के कारण उभरे कब्ज की समस्या और लंबे कब्ज के बाद गैस की बीमारी। गैस या वात की समस्या होने के बाद यह समस्या गैस्ट्रिक ट्रबल शरीर में कई अन्य प्रॉब्लम्स, जिन्हें आयुर्वेद की भाषा में वात रोग कहते हैं, का कारण बनती है। गैस से पीड़ित लोगों  न सिर्फ पेट की तकलीफ बल्कि सिरदर्द, कमरदर्द, पेटदर्द, सीने में दर्द जैसी कई तकलीफों का सामना करना पड़ता है। 
यह देखने मे आया है कि जिसे गैस की समस्या होती है उसे एसिड रिफ्लक्स की समस्या भी होने लगती हैं। इसके लक्षण मरीज की हालत खराब कर देते हैं, उसे नींद नहीं आती है। कई बार जब ये समस्या अपनी मनपसंद चीज खाने पर हो जाए तो उससे भी तौबा करने का मन होने लगता है। दरअसल, इस समस्या का मुख्य कारण कुछ आदतें या अनियमित दिनचर्या है। अगर आपको भी अक्सर गैस की समस्या हो जाया करती है तो सावधान। इसे हल्के में हरगिज़ ना लें वरना यह आपको गम्भीर कर देगा। और इस फ़ज़ीहत रूपी गैस की बीमारी से बचने के लिए जरूरी है कि आप इसके कारण एयर लक्षण जानें एयर साथ ही आजमाएं हमारे द्वारा बताई गई कुछ असरदार गुणों से भरे आयुर्वेदिक नुस्खे। 

लक्षण
 पेट अच्छी तरह साफ़ नहीं हो रहा हो और आपको भोजन के बाद पेट दर्द या गैस या दस्त हो जाते हों,भोजन पचता नहीं हो, हृदय पर बोझ अनुभव होता हो, पेट फूल जाता हो, पुराना कब्ज हो, कोलाइटिस हो, मतली,उल्टी, लगातार हिचकी, पेटदर्द और सूजन की तकलीफ होती हो, भोजन में अरुचि हो तो आप इसे गैस की बीमारी के सिम्पयमस ही समझे और तुरन्त लाग जाएं हमारे बताए जा रहे आयुर्वेदिक तरीकों से इसके इलाज में। 

1. चूर्ण
सौंठ, हींग और काल नमक इन तीनो को बराबर मिला कर चूर्ण बना लें, और चूर्ण को खाएं इससे तुरन्त गैस को बाहर निकालता है। 
2.बेल–बिल्व
बेल का शरबत, या मुरब्बा या चूर्ण, किसी भी प्रकार से बेल का सेवन आंतो की पूर्ण सफाई करता हैं। पेट के रोगो से ग्रसित रोगो को बेल का नियमित सेवन करना चाहिए। ये कोलाइटिस के रोगियों के लिए भी अमृत के समान हैं। 

3. अदरक
अदरक में एंटीबैक्टिीरियल और एंटीइंफ्लामेंट्री तत्व पाए जाते हैं। यह पेट और इसोफेगस की समस्या तुरंत दूर करने की क्षमता रखते हैं। इसके सेवन से गैस की समस्या पैदा करने वाले बैक्टिरिया खत्म हो जाते हैं। थोड़ा सा सूखा अदरक चाय में डालकर पीने से गैस से तुरंत राहत मिल जाती है। या अदरक के एक टुकड़े को घी में सेंककर काला नमक लगाकर खाने पर गैस से छुटकारा मिल जाता है। सूखे अदरक का काढ़ा बनाकर पीने से भी यह समस्या खत्म हो जाती है। 

4. पाइनएप्पल
 पाइनएप्पल में पाचक एन्जाइम्स मौजूद होते हैं। गैस की समस्या हो तो एल्कलाइन से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए और पाइनएप्पल में  एल्कलाइन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसीलिए इसके सेवन से गैस की समस्या दूर हो जाती है, लेकिन ये ध्यान रखें हमेशा पका हुआ पाइनएप्पल ही खाएं। कच्चा पाइनएप्पल पेट को फायदे की बजाए नुकसान पहुंचा सकता है। 

5. पुदीना
अगर आपको गैस और एसिडिटी की समस्या ज्यादा परेशान कर रही हो तो पुदीना की हेल्प लें। पुदीने की कुछ पत्तियां चबा लें या पुदीने की चाय बनाकर पिएं। गैस की समस्या तुरन्त दूर हो जाएगी। 

6. कालीमिर्च
कालीमिर्च गैस की समस्या से छुटकारा पाने का एक असरदार उपाय है। लगभग आधा ग्राम कालीमिर्च को पीसकर उसमें शहद मिलाकर लेने से फौरन आराम मिलता है। 

7. तुलसी
तुलसी कई बीमारियों में जबरदस्त औषधि की तरह काम करती है। रोजाना पांच तुलसी के पत्ते खाने से गैस की समस्या के साथ ही पेट के अन्य कई रोग खत्म हो जाते हैं। गैस की समस्या में तुलसी की चाय बनाकर या उसका रस पीने से भी तुरंत आराम होता है। 

8. छाछ
थोड़े मेथीदाने, हल्दी और हींग व जीरा मिलाकर पाउडर बनाकर रख लें। सुबह खाना खाने के बाद इस पाउडर को छाछ में डालकर पिएं। अगर आपने कुछ दिन ऐसा किया तो गैस व एसिडिटी की समस्या जड़ से खत्म हो जाएगी। 

9. जीरा
जीरा खाने से डायजेस्टिव सिस्टम से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती हैं। इसीलिए जब भी आपको गैस की समस्या परेशान करें। एक चम्मच जीरा पाउडर ठंडे पानी में घोलकर पिएं, असर जल्द महसूस करने लगेंगे। 

10. हल्दी
हल्दी में एंटीइंफ्लामेंट्री व एंटीफंगल तत्व पाए जाते हैं। यह कई रोगों में दवा का काम करती है। विशेषकर पेट के रोगों में। थोड़ा हल्दी पाउडर ठंडे पानी से लें और फिर दही या केला खाएं। 

11. लौंग
लौंग एक ऐसा मसाला है, जो गैस की समस्या से परेशान लोगों के लिए एक बेहतरीन इलाज है। लौंग चुसने से या लौंग पाउडर को शहद के साथ लेने से एसिड रिफ्लक्स और गैस की समस्या दूर हो जाती है। 

12. पपीता
पपीता बीटा- केरोटीन से भरपूर फल है। इसमें खाना जल्दी पचाने वाले तत्व पाए जाते हैं। पपीता में पेपिन नाम का एन्जाइम पाया जाता है, जो कि शरीर के लिए बहुत लाभदायक होता है। गैस की समस्या हो रही हो तो खाना कम खाएं, उसके बाद थोड़ा काला नमक डालकर पपीता खाएं। कब्ज और गैस दोनों की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा। 

13. निम्बू
एक गिलास गर्म पानी में एक निम्बू का रस मिलाकर बार बार पीते रहने से पाचन अंगो की धुलाई हो जाती हैं। रक्त और शरीर के समस्त विषैले पदार्थ मूत्र द्वारा निकल जाते हैं। परिणामतः कुछ ही दिनों में शरीर में नई स्फूर्ति और नई शक्ति अनुभव करने लगेंगे। 
अगर अपच होने पर तो नम्बू की फांक पर नमक डालकर गर्म करके चूसने से खाना सरलता से पच जाता है। यह यकृत के समस्त रोगों में निम्बू लाभदायक होता हैं। 

14. नारंगी
अगर आपकी पाचन शक्ति कमज़ोर हैं तो नारंगी का रस तीन गुना पानी में मिलाकर पीना चाहिए। 

15. पालक
कच्चे पालक का रस प्रात: पीते रहने से कुछ ही दिनों में कब्ज ठीक हो जाता है। आँतों के रोगों में इसकी सब्जी लाभदायक है। पालक और बथुए की सब्जी खाने से भी कब्ज दूर होता है। कुछ दिन लगातार पालक अधिक मात्रा में खाने से पेट के रोगों में लाभ होता है। 

15. मूली
अग्निमांध, अरुचि, पुराना कब्ज, गैस होने पर भोजन के साथ मूली पर नमक, काली मिर्च डालकर दो माह तक नित्य खाएं। इससे लाभ होगा। पेट के रोग में मूली की चटनी, आचार सभी भी उपयोगी हैं। ध्यान रहे मूली सेवन का सही समय दोपहर ही है। रात को मूली नहीं खानी चाहिए। 

16. बथुआ
जब तक मौसम में बथुआ मिलता रहे रोजाना इसकी सब्जी खाएं इससे पेट के हर प्रकार के रोग यकृत मतलब लिवरतिल्ली , गैस, अजीर्ण, कृमि, अर्श ठीक हो जाती हैं।

2 people found this helpful
View All Feed

Near By Doctors

90%
(38 ratings)

Dr. Rajkumar

MD, DTDC , MBBS
General Physician
Dr. Raj Kumar's Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(1396 ratings)

Dr. Mehmood Ahmed

Bachelor of Unani Medicine and Surgery (B.U.M.S)
General Physician
Dr. Mehmood Clinic, 
200 at clinic
Book Appointment
86%
(53 ratings)

Dr. Shradha Minocha

MBBS, DNB Family Medicine
General Physician
Adya Online Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
91%
(1773 ratings)

Dr. Hanish Gupta

MBBS, DNB (General Medicine)
General Physician
LifeAID Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(350 ratings)

Dr. Ramneek Varma

MD-Internal Medicine , MBBS
General Physician
Sukhmani Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(10 ratings)

Dr. Ashok Grover

MBBS, Diploma in Tuberculosis and Chest Diseases (DTCD), MD - General Medicine
General Physician
Shri Mahavir Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment