Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call

Dt. Krithika Rajan

MSc

Dietitian/Nutritionist, Chennai

6 Years Experience
Call Doctor
Dt. Krithika Rajan MSc Dietitian/Nutritionist, Chennai
6 Years Experience
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

To provide my patients with the highest quality healthcare, I'm dedicated to the newest advancements and keep up-to-date with the latest health care technologies....more
To provide my patients with the highest quality healthcare, I'm dedicated to the newest advancements and keep up-to-date with the latest health care technologies.
More about Dt. Krithika Rajan
Dt. Krithika Rajan is a trusted Dietitian/Nutritionist in Alwarpet, Chennai. She has helped numerous patients in her 6 years of experience as a Dietitian/Nutritionist. She is a MSc . You can visit her at Qua Nutrition, Chennai, TTK Road in Alwarpet, Chennai. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dt. Krithika Rajan on Lybrate.com.

Lybrate.com has an excellent community of Dietitian/Nutritionists in India. You will find Dietitian/Nutritionists with more than 41 years of experience on Lybrate.com. You can find Dietitian/Nutritionists online in Chennai and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Education
MSc - Avinashilingam Deemd University for Women, - 2012
Languages spoken
English

Location

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dt. Krithika Rajan

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

I have a desk job and in the last 2 year my weight has gone up from 75kg to 85kg I want to lose weight please help me.

DHMS (Hons.)
Homeopath, Patna
I have a desk job and in the last 2 year my weight has gone up from 75kg to 85kg I want to lose weight please help me.
Hello, Here, U, skip your breakfast , lunch & dinner. * U miss intake of water in office. * Take, easily digestible,lite diet,timely. * cut your meal by 20% * take,salad,sprouts fruits & 2 breads and consume fruits whenever, u feel hungry. * go for a walk in the morning, use staircase in stead of lift & escalator * U can go for meditation, gardening, swimming. * Take, oats with green tea in breakfast. **Homoeo-medicine** @ fucus vas Q-10 drops with 1/4 cup of fluke warm water,thrice a day. Get rid of stress,anxiety,do not carry your office-,home Report ,fortnightly Stay healthy.
Submit FeedbackFeedback

I want to increase my weight can you tell me some suggestions so that I can look fit in my routine life.

BAMS
Ayurveda, Ambala
I want to increase my weight can you tell me some suggestions so that I can look fit in my routine life.
Dear you can easily gain weight and get a healthy muscular body by following these best things - 1. To gain weight, your digestion should work properly. If you have any disease of digestive system you should treat disease first. For proper digestion - take 10 gms powder of carom seeds (ajwain, 10 gm powder of cumin (jeera), 10 gm of rock salt. Mix them well and take 1/2 teaspoon (3-5 gm) of mixture daily after meal. Or take 1/2 teaspoon of black pepper (kali mirch), 1/ 2 tea spoon of jeera (cumin), 2-3 slice of ginger. Boil it in one glass of water for 2-3 minutes. Drink 5-10 teaspoons (15-20 ml) in morning and evening for strong digestive system. Or you can take amla powder 1 teaspoon with water for strong digestion. 2. Take a diet rich with proteins and fats. You should take high calorie food that increase your muscle mass and induce growth in bones. I am sending the diet chart. Follow it in your daily life to fastly gain weight * in morning, take a glass of milk added with 2 teaspoons of protein powder with breakfast. * in lunch time, take 1 bowl of curd or 100 gm of cheese, a bowl of vegetable, with chapattis. * in evening, take 1 glass of milk (300 ml) with 2 bananas. * in night, take a bowl of careals (daal, a bowl of salad with chapattis. 3. In morning, get up early and take awalk for 10-15 minutes and exercise light weight exercises for at least 30 minutes at home or gym. 4. For proper weight, proper sleep is very important. So you should sleep for 6-8 hours daily. 5. Avoid soft drinks, western fast food (burgers, french fries, pizza etc. They disturb your digestion. 6. You can try protein powders like endura mass, milk powder, soya protein. And creatinine for weight gain by taking 1 tea spoon added in milk once a day.
Submit FeedbackFeedback

Menstrual Cycle in hindi - मासिक धर्म क्या है ?

MBBS, M.Sc - Dietitics / Nutrition
Dietitian/Nutritionist, Delhi
Menstrual Cycle in hindi - मासिक धर्म क्या है ?

अक्सर हमेशा हंसने खेलने वाली चंचल लड़कियां भी महीने के कुछ दिन दबी दबी दुखी सी शर्माती खुदको छिपाती नजर आती हैं। और इसी वक़्त पर हम गौर करें तो पाएंगे कि घर परिवार के कुछ लोग भी उससे कटे कटे रहते हैं कई चीजों को छूने कई जगह जाने पर पर भी मनाही होती है। जी हां बिलकुल सही समझें आप हम बात कर रहे हैं पीरियड्स की। यह केवल महिलाओं ही नही पुरुषों या यूँ कहें मानव वृद्धि के लिए सबसे अहम घटना है। तो चलिए आज हम जानते हैं पीरियड्स क्या हक़ क्यों आता है इसका सही समय, महत्व आदि। 
पीरियड्स या मासिक धर्म स्त्रियों को हर महीने योनि से होने वाला लाल रंग के स्राव को कहते है। पीरियड्स के विषय में लड़कियों को पूरी जानकारी नहीं होने पर उन्हें बहुत दुविधा का सामना करना पड़ता है। पहली बार पीरियड्स होने पर जानकारी के अभाव में लड़कियां बहुत डर जाती है। उन्हें बहुत शर्म महसूस होती है और अपराध बोध से ग्रस्त हो जाती है। 

पीरियड्स को रजोधर्म भी कहते है। ये शारीरिक प्रक्रिया सभी क्रियाओं से अधिक महवपूर्ण है, क्योकि इसी प्रक्रिया से ही मनुष्य का ये संसार चलता है। मानव की उत्पत्ति इसके बिना नहीं हो सकती। प्रकृति ने स्त्रियों को गर्भाशय ओवरी फेलोपियन ट्यूब, और वजाइना देकर उसे सन्तान उत्पन्न करने का अहम क्षमता दिया है। इसलिए पीरियड्स या मासिक धर्म गर्व की बात होनी चाहिए ना कि शर्म की या हीनता की। सिर्फ इसे समझना और संभालना आना जरुरी है। इस प्रक्रिया से घबराने या कुछ गलत या गन्दा होने की हीन भावना महसूस करने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है। पीरियड्स मासिक धर्म को एक सामान्य शारीरिक गतिविधि ही समझना चाहिए जैसे उबासी आती है या छींक आती है। भूख, प्यास लगती है या सू-सू पोटी आती है।

मासिक चक्र

  • दो पीरियड्सके बीच का नियमित समय मासिक चक्र ( Menstruation Cycle ) कहलाता है। नियमित समय पर पीरियड्स( Menses ) होने का मतलब है कि शरीर के सभी प्रजनन अंग स्वस्थ है और अच्छा काम कर रहे है। मासिक चक्र की वजह से ऐसे हार्मोन बनते है जो शरीर को स्वस्थ रखते है। हर महीने ये हार्मोन शरीर को गर्भ धारण के लिए तैयार कर देते है।
  • मासिक चक्र के दिन की गिनती पीरियड्सशुरू होने के पहले दिन से अगली पीरियड्सशुरू होने के पहले दिन तक की जाती है। लड़कियों में मासिक चक्र 21 दिन से 45 दिन तक का हो सकता है। महिलाओं को मासिक चक्र 21 दिन से 35 दिन तक का हो सकता है। सामान्य तौर पर मासिक चक्र 28 दिन का होता है।

मासिक चक्र के समय शरीर में परिवर्तन 

1. हार्मोन्स में परिवर्तन
 मासिक चक्र के शुरू के दिनों में एस्ट्रोजन नामक हार्मोन बढ़ना शरू होता है। ये हार्मोन शरीर को स्वस्थ रखता है विशेषकर ये हड्डियों को मजबूत बनाता है। साथ ही इस हार्मोन के कारण गर्भाशय की अंदरूनी दीवार पर रक्त और टिशूज़ की एक मखमली परत बनती है ताकि वहाँ भ्रूण पोषण पाकर तेजी से विकसित हो सके। ये परत रक्त और टिशू से बनी होती है।
2. ओव्यूलेशन 
संतान उत्पन्न होने के क्रम में किसी एक ओवरी में से एक विकसित अंडा डिंब निकल कर फेलोपीयन ट्यूब में पहुँचता है। इसे ओव्यूलेशन कहते है। आमतौर पर ये मासिक चक्र के 14 वें दिन होता है । कुछ कारणों से थोड़ा आगे पीछे हो सकता है। 
ओव्यूलेशन के समय कुछ हार्मोन जैसे एस्ट्रोजन आदि अधिकतम स्तर पर पहुँच जाते है। इसकी वजह से जननांगों के आस पास ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। योनि के स्राव में परिवर्तन हो जाता है। जिसके कारण महिलाओं की सेक्सुअल डिजायर बढ़ जाती हैं। इसलिए इस ड्यूरेशन में सेक्स करने पर प्रेग्नेंट होने के चन्वेस बढ़ जाते हैं।
3. अंडा 
फेलोपियन ट्यूब में अगर अंडा शुक्राणु द्वारा निषेचित हो जाता है तो भ्रूण का विकास क्रम शुरू हो जाता है। अदरवाइज 12 घंटे बाद अंडा खराब हो जाता है। अंडे के खराब होने पर एस्ट्रोजन हार्मोन का लेवल कम हो जाता है। गर्भाशय की ब्लड व टिशू की परत की जरुरत ख़त्म हो जाती है। और ऐसे में यही परत नष्ट होकर योनि मार्ग से बाहर निकल जाती है। इसे ही पीरियड्स, मेंस्ट्रुल साइकिल, महीना आना या रजोधर्म भी कहा जाता है। और इस दौर से गुजऱने वाली स्त्री को रजस्वला कहा जाता है।
4. ब्लीडिंग
पीरियड्स के समय अक्सर यह मन में यह मन में यह सवाल आता है की ब्लीडिंग कितने दिन तक होना चाहिए और कितनी मात्रा में होना चाहिए कि जिसे सामान्य मानें। पीरियड यानि MC के समय निकलने वाला स्राव सिर्फ रक्त नहीं होता है। इसमें नष्ट हो चुके टिशू भी होते है। अतः ये सोचकर की इतना सारा रक्त शरीर से निकल गया, फिक्र नहीं करनी चाहिए। इसमें ब्लड की क्वांटिटी करीब 50 ml ही होती है। नैचुरली पीरियड्स तीन से छः दिन तक होता है। तथा स्राव की मात्रा भी अलग अलग हो सकती है। यदि स्राव इससे ज्यादा दिन तक चले तो डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।

पीरियड्स से पहले के लक्षण
लड़कियों को शुरू में अनियमित पीरियड्स, ज्यादा या कम दिनों तक पीरियड, कम या ज्यादा मात्रा में स्राव, डिप्रेशन आदि हो सकते है। इसके अलावा पीएमएस यानि पीरियड्स होने से पहले के लक्षण नजर आने लगते है। अलग अलग स्त्रियों को पीएमएस के अलग लक्षण हो सकते है। इस समय पैर, पीठ और अँगुलियों में सूजन या दर्द हो सकता है। स्तनों में भारीपन, दर्द या गांठें महसूस हो सकती है। सिरदर्द, माइग्रेन, कम या ज्यादा भूख, मुँहासे, त्वचा पर दाग धब्बे, आदि हो सकते है। इस तरह के लक्षण पीरियड शुरू हो जाने के बाद अपने आप ठीक हो जाते है। इसलिए उन दिनों में अपने आपको सहारा डैम और मजबूत बनें।

पीरियड्स आने की उम्र 
आमतौर पर लड़कियों में पीरियड्स 11 से 14 साल की उम्र में शुरू हो जाती है। लेकिन अगर थोड़ा देर या जल्दी आजाए तो चिंता न करें। पीरियड्सशुरू होने का मतलब होता है की लड़की माँ बन सकती है। शुरुआत में पीरियड्सऔर ओव्यूलेशन
के समय में अंतर हो सकता है। यानि हो सकता है की पीरियड्सशुरू नहीं हो लेकिन ओव्यूलेशन शुरू हो चुका हो। ऐसे में गर्भ धारण हो सकता है। और इसका उल्टा भी संभव है। यह बहुत महत्त्वपूर्ण है कि पीरियड्स शुरू नहीं होने पर भी प्रेगनेंट होना संभव है इसलिए सावधानी बरतें।

पहले ही किशोरियों को समझाएं 
लड़कियों में शारीरिक परिवर्तन दिखने पर या लगभग 10 -11 साल की उम्र में मासिक धर्म के बारे में जानकारी देकर इसे कैसे मैनेज करना है समझा देना चाहिए। जिससे वे शरीर में होने वाली इस सामान्य प्रक्रिया के लिए मानसिक रूप से भी तैयार हो जाएँ। साथ ही आप लोगों को भी यह समझने की जरूरत है कि पीरियड्स मवं में अपवित्रता जैसा कुछ नहीं है। ये एक सामान्य शारीरिक क्रिया है जो एक जिम्मेदारी का अहसास कराती है। इसकी वजह से लड़कियों पर आने जाने या खेलने कूदने पर पाबन्दी नहीं लगानी चाहिए। पर ध्यान रहे बच्चियों को गर्भ धारण करने की सम्भावना के बारे में जरूर समझाना चाहिए जिससे वे सतर्क रहें। 

पीरियड्स आने पर 
सभी महिलाएं पीरियड्स की डेट जरूर याद रखें जिससे आप पहले ही तैयार रहें। 
इस दौरान खुदको किसी चीज़ से न रोकें नहीं। सामान्य जीवन शैली ही जिएं। बस अगर मौका मिले तो थोड़ा आराम करें।
 

4 people found this helpful

Hi doctor. Form last 1 year I am suffering lip peeling and cracking. Uts causing me too much trouble. I have tried all types of lip balms and drinking plenty of water nothing helped me. Please help me please.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Hi doctor. Form last 1 year I am suffering lip peeling and cracking. Uts causing me too much trouble. I have tried al...
Ideally in such conditions where there are no options in allopathy, Homoeopathy can have a very good result. Provided the medicine is selected not on name but considering the patient as a whole. So my advise is to consult. Still you may take homoeoapthic medicine Kali Carb 200 1 dose.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Avoid Loneliness

Mbbs, Dpm
Psychiatrist, Khamgaon
Avoid Loneliness

Go with friends for a walk, evening or morning, will help solve your many problems, depression, obesity, etc

1 person found this helpful

Hello, what is right & correct proportions of ALMONDS & WALNUTS for a men of 60 years with 56 Kg weight on a daily basis?& How to increase HEMOGLOBIN +RB C with food for 60 years with 56 Kg weight.

MBBS
General Physician, Mumbai
Hello, what is right & correct proportions of ALMONDS & WALNUTS for a men of 60 years with 56 Kg weight on a daily ba...
To increase your Heamoglobin value apart from medication eat green vegetables, jaggery, carrots , beet etc and three almonds and walnuts can be taken per day
Submit FeedbackFeedback

I have a desk job and in the last 2 years, my weight has gone up from 65 kgs to 75 kgs. I want to losh weight please help.

PG Diploma in Emergency Medicine Services (PGDEMS), Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS), MD - Alternate Medicine
Ayurveda, Ghaziabad
I have a desk job and in the last 2 years, my weight has gone up from 65 kgs to 75 kgs. I want to losh weight please ...
Take pranacharya medohar rasayn twice a day. Medohar guggul 2-2 twice a day. And pranacharya slim capsule 1-1 twice a day. .avoid junk food. Oily food. Fermented food. Alcohol consumption. Sugar.milk products and sweets. Take oats and cereals more. And do pranayama early in the morning and walk for atleast 45 minutes a day. And do exercises. Do not sleep immediately after taking meal.
Submit FeedbackFeedback

Hi, I eat a lot but its just making my tummy come out and my body frame is not improving. Please suggest. Thanks.

Certified Diabetes Educator, Registered Dietitian (RD), PGDD, Bachelor of Unani Medicine and Surgery (B.U.M.S), General Physician
Dietitian/Nutritionist, Mumbai
I am a registered dietitian, certified diabetes educator and a doctor who will help you in managing your weight. You need to provide me your daily food intake details. There are many lifestyle and dietary guidelines that can be followed: take high protein prescribed diet. Maintain a healthy body weight eat a balanced diet as prescribed by a registered dietitian, I being a registered dietitian and doctor have been successfully helping patients with their diabetes problem. I will also prescribe medicines that will speed up the time to achieve your weight management goals. I will need to carry out detailed assessment in your case, after assessing your personal challenges to weight management, I will recommend a strategy to gradually change habits and attitudes that have sabotaged your past efforts. I being a both a registered dietitian and doctor have been successfully helping patients with their problems through a holistic approach using customized therapeutic diet and medications. Do reply back for private consultation.
Submit FeedbackFeedback

I weigh 83 kgs. I have lots of problems like periods are not okay, body pains, weakness, constipation, I was low in vitamin b12 and d3, so I took injections for one and a half moths. Now since last week I started taking cumin soaked water for the weight ,loss in the morning. Is it safe? Does it have any side effects. Last week I had periods but bleeding stopped on the first day itself. PLEASE HELP!

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Gurgaon
I weigh 83 kgs. I have lots of problems like periods are not okay, body pains, weakness, constipation, I was low in v...
cumin soaked water is absolutely safe, again Go for Vitamin check to confirm the present status. Take pulsatilla and Viburnum Opulus (Homeopathic Medicines) for relief in your symptoms.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

What is the benefit of drinking lukewarm water before taking every meal and what is the disadvantage of eating puri every day in breakfast because I love eating puri in breakfast every day.

MBBS
General Physician, Cuttack
What is the benefit of drinking lukewarm water before taking every meal and what is the disadvantage of eating puri e...
One should avoid drinking water immediately before and after food. One should drink water atleast one hour before and one hour after food. Drinking luke warm water hasno special benefit. Puri contains carbohydrate and the ghee used also contains cholesterol. It will add calories and you will put on weight. Avoid taking puri daily.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

88%
(139 ratings)

Dt. Dharani Krishnan

Doctor of Philosophy (PhD)
Dietitian/Nutritionist
Wellnesss Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment

Dt. Ms. Gomathy Gowthaman

M.Sc - Dietitics/Nutrition, BSc - Dietitics/Nutrition
Dietitian/Nutritionist
Orion Health Centre, 
300 at clinic
Book Appointment

Dt. Preeti Raj

PhD - Nutrition & Dietitics, MSc - Food & Applied Nutrition, M.Phil - Foods & Nutrition
Dietitian/Nutritionist
Wootu Nutrition, 
300 at clinic
Book Appointment