Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Jess

MBBS, Diploma In Sonology

Gynaecologist, Chennai

26 Years Experience
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Jess MBBS, Diploma In Sonology Gynaecologist, Chennai
26 Years Experience
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

I'm a caring, skilled professional, dedicated to simplifying what is often a very complicated and confusing area of health care....more
I'm a caring, skilled professional, dedicated to simplifying what is often a very complicated and confusing area of health care.
More about Dr. Jess
Dr. Jess is a trusted Gynaecologist in Kilpauk, Chennai. Doctor has been a successful Gynaecologist for the last 26 years. Doctor studied and completed MBBS, Diploma In Sonology . Doctor is currently practising at MIRACLE ADVANCED REPRODUCTIVE CENTRE in Kilpauk, Chennai. Book an appointment online with Dr. Jess and consult privately on Lybrate.com.

Lybrate.com has a nexus of the most experienced Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 36 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Chennai and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Education
MBBS - Banglore Medical College - 1993
Diploma In Sonology - Chennai University - 2001
Languages spoken
English

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Jess

...more

KHM Hospital

AB-14, 6th Main Rd, AB Block, AC Block, Anna Nagar WestChennai Get Directions
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Jess

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Ayurvedic Remedies For Early Ejaculation - शीघ्र स्खलन के आयुर्वेदिक उपाय

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Ayurvedic Remedies For Early Ejaculation - शीघ्र स्खलन के आयुर्वेदिक उपाय

मानव शरीर में बहुत सारे अंग होते है जिसमें हर अंग का अपना काम होता है. वहीं अगर कोई अंग ठीक से काम नही कर पाता है तो वह समस्या का रूप ले लेता है. उन्ही में से एक है शीघ्रपतन की समस्या, जो अधिकत्तर कई पुरुषों के लिए परेशानी का कारण बनती है. यह उन समस्याओं में से है जो किसी भी व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक, दोनों रूपों से परेशान करती है. यह बीमारी दोनों पार्टनर में चिंता और अवसाद जैसी नकारात्मक भावना पैदा करती है. लेकिन आयुर्वेद के माध्यम से कई रोगों का घरेलू और प्रभावी इलाज किया जा सकता है. आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि कैसे आप निम्न घरेलू वस्तूओं का प्रयोग कर शीघ्रपतन के प्रभावी और कारगर उपायों से इसे ठीक कर सकते हैं.

दालचीनी
यह पेड़ की छाल जैसी दिखती है जो हमारी भूख को बढ़ाने, महिलाओं में पीरियड्स ऐंठन का उपचार, बैक्टीरिया की वजह से इन्फेक्शन को ठीक करने और शीघ्रपतन का इलाज करने आदि में प्रयोग की जाती है. साथ ही यह कुछ दवा और प्रोडक्ट्स जैसे लोशन साबुन, टूथपेस्ट, कॉस्मेटिक प्रोडक्ट आदि में भी इस्तेमाल की जाती है. इन सभी के अलावा इसका प्रयोग सर्दी जुकाम, गैस्ट्रिक समस्याओं, दस्त और जठरांत्र संबंधी परेशानी के लिए उपयोग किया जाता है.

केसर और बादाम
आयुर्वेद क्र बात करें तो केसर को कामोत्तेजक जाना जाता है. इसलिए शीघ्रपतन के इलाज में इसका इस्तेमाल किया जाता है. इसका उपयोग बहुत आसान होता है, जिसके लिए सबसे पहले पूरी रात के लिए दस बादाम के साथ केसर, अदरक और इलायची को पानी में भिगों दें. अगले दिन सुबह इसका सेवन करें. इससे शीघ्रपतन की समस्या में काफी लाभ मिलता है. इसका प्रयोग रोज़ाना भी किया जा सकता है.

कस्तूरी के साथ दूध
शीघ्रपतन का उपचार करने के लिए कस्तूरी और दूध का सेवन बहुत लाभकारी सिद्ध होता है. इसके लिए सबसे पहले कस्तूरी को गर्म पानी में डालें और उसे तब तक उबलने दें, जब तक वे मुलायम न हो जाएं. इसके बाद कस्तूरी को छान लें और उसके तत्व को रख लें. वही दूसरी गैस पर दूध को उबलने के लिए रखें और उसमें मक्खन, काली मिर्च और कस्तूरी का छाना हुआ तत्व मिलाएं. जिसके बाद दूध को उबलने दें. इस मिश्रण के उबल जाने के बाद इसे ठंडा होने दें, फिर इसका सेवन करें.

अश्वगंधा
वैसे तो अश्वगंधा का उपयोग पुरुष बांझपन, नपुंसकता आदि जैसे विकारों के लिए किया जाता है. लेकिन यह साथ ही तनाव, चिंता, अनिद्रा और हल्का ट्यूमर के विकास को भी दूर करता है. किसी भी हर्बल स्टोर से अश्वगंधा की जड़ें खरीदें. वही इसकी एक चम्मच जड़ों को एक ग्लास दूध और एक चम्मच शहद के साथ मिश्रित कर उबाल लें. थोड़ा ठंडे होने के बाद इसका सेवन करें. साथ ही इसका सेवन रोज़ किया जा सकता है.

खजूर
वैसे तो खजूर का प्रयोग बहुत प्रकार के रोगों का इलाज करने के लिए किया जाता है लेकिन शीघ्रपतन आदि जैसी सेक्स समस्याओं में यह अहम भूमिका निभाता है. शीघ्रपतन की समस्या से निज़ात पाने के लिए दिन में दो खजूर का सेवन किया जा सकता है. इससे आपको हेल्थी और संतुलित डाइट मिलती है. इसके अलावा यह हार्ट संबंधी समस्याओं, कब्ज, एनीमिया, दस्त और पेट के कैंसर जैसे विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं में लाभ पहुँचाता हैं.

तरबूज
शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए तरबूज बहुत फायदेंमंद होता है. साथ ही यह हमारी रक्त वाहिकाओं को बिना किसी नुकसान के लाभ पहुंचाता है. इसके लिए आपको सबसे पहले तरबूज को छोटे टुकड़ों काटना होगा. फिर उन टुकड़ों पर कुछ अदरक का पाउडर और नमक का छिड़काव कर, आप उसे खा लें. इसके अलावा आप तरबूज को किसी भी फल के सलाद में मिलाकर खा सकते हैं.

अदरक और शहद का सेवन
वैसे तो भारत में रसोईयों में कई तरह के खाने मिलते है जिनमें विशेषकर मसालों आदि का प्रयोग, स्वाद के साथ साथ स्वास्थ को देखते हुए भी किया जाता है. उन्ही में से एक है अदरक और शहद, जो लगभग हर भारतीय घर की रसोई में उपलब्ध होती है. साथ ही कई प्रकार के व्यंजनों में इस्तेमाल किए जाते है. बात करें अदरक कि, तो कई व्यंजनों के अलावा इसका उपयोग सामान्य बीमारियों जैसे डायरिया और गठिया का इलाज करने के लिए किया जाता है. साथ ही अदरक को यौन समस्याएं जैसे कि शीघ्रपतन का इलाज करने के लिए जाना जाता है.
इसके लिए आपको एक चम्मच अदरक लेनी होगी और उसे फिर शहद के साथ मिलाना होगा. इस मिश्रण का इस्तेमाल कुछ महीनो तक रोज़ाना करें. इससे लाभ प्राप्त होता है. साथ ही यह लिबिदो और विकृत भावनाओं को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

हरी प्याज का बीज
किसी भी मौसम में उगाएं जाने वाली यह सब्जी शीघ्रपतन के इलाज में प्रभावी साबित होती है. इसके उत्तेजना बढ़ाने वाले गुण शीघ्रपतन की समस्या से ग्रसित होने पर फायदा पहुंचाते है.

कद्दू का बीज
कद्दू के बीज को खनिज भी कहा जा सकता है. इसमें मैग्नीशियम की अच्छी मात्रा होती है, जो टेस्टोस्टेरोन को खून के प्रवाह तक पहुंचाने में मदद करता है. इसका प्रयोग करने के लिए सबसे पहले बीजों को अच्छे से साफ करें और धुप में सूखने के लिए रख दें. सूखने के बाद इन्हे जैतून के तेल में भुने और उसमे ऊपर से नमक और काली मिर्च ड़ालें. इसके बाद आप इनका सेवन कर सकते है.

11 people found this helpful

Diet That Can Reduce Side Effects Of Air Pollution - वायु प्रदूषण से बचाने वाले खानपान

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Diet That Can Reduce Side Effects Of Air Pollution - वायु प्रदूषण से बचाने वाले खानपान

हमारे जिन्दा रहने के लिए हवा का होना बेहद जरुरी है. लेकिन ये हवा साफ-सुथरी होनी चाहिए. यदि प्रदूषित हवा (जिसमें ओज़ोन, नाइट्रोजन डाईऑक्साइड, बारीक कण, डीज़ल से निकले कण आदि मिश्रित हों) लेंगे तो ये हमारे जिन्दगी को मुश्किलों से भर देगा. इसलिए जितना हो सके प्रदूषित हवा से बचें. कुछ प्राकृतिक एंटी-ऑक्सिडेंट्स हमारे शरीर को इस खतरनाक प्रदूषण से लड़ने में मदद करते हैं. यहाँ हम आप कुछ ऐसे पोषक तत्वों के बारे में बताएंगे जिससे आप कुछ हद तक वायु प्रदुषण से होने वाले नुकसान से बच सकते हैं. को अपने रूटीन में शामिल करके स्वस्थ रह सकते हैं. दरअसल फेफड़े के परत पर उपस्थित बचाने वाले एंटी-ऑक्सिडेंट्स जब तक ज्यादा मात्रा में होते हैं तब तक इन सब से तब तक लड़ते हैं. लेकिन जैसे ही इनकी संख्या कम होती है प्रदूषित कण हमारे प्रतिरक्षातंत्र पर हमला कर देते हैं और शरीर को मुक्त कणों के माध्यम से प्रभावित करते हैं. इसलिए अआप्को वायु प्रदुषण से बचने के लिए इन पोषक तत्वों को अपने दैनिक आहार में शामिल करना चाहिए.

1. विटामिन सी
विटामिन सी को पानी में घुलनशील होने के कारण हमारे शरीर के लिए सबसे शक्तिशाली एंटी-ऑक्सिडेंट माना जाता है. ये पानी के द्वारा पुरे शरीर में जाकर मुक्त कणों की सफाई करता है. चूँकि हमारी सांस फेफड़ों से होकर ही जाती है इसलिए विटामिन सी की यहाँ मौजूदगी के लिए इसके स्त्रोत आहारों को अपने दैनिक आहार में शामिल करें. विटामिन सी की भूमिका विटामिन ई के निर्माण में भी होती है.इसके लिए आपको सिट्रस फ्रूट्स, चौलाई, गोभी, शल्जम का साग, धनिया के पत्ते, आंवला, अमरूद, नींबू का रस आदि लेते रहना चाहिए.
2. विटामिन ई
वसा में घुलनशील विटामिन ई हमारे उतकों को क्षतिग्रस्त होने से बचाता है. इसका प्रमुख स्त्रोत खाना बनाने में उपयोग किए जाने वाले तेल जैसे कि सूरजमुखी, सैफ्फलाउर और राइस ब्रान तेल आदि हैं. इसके अलावा ये कनौला, पीनट और जैतून के तेल में भी मौजूद होता है. इसके लिए आप बादाम कुछ मछली के साथ मसाले और जड़ी बूटियां जैसे मिर्च पाउडर, पैप्रिका, लौंग, ओरिगौनो, बैज़ल और पार्सले आदि का सेवन कर सकते हैं.
3. बीटा कैरोटिन
बीटा कैरोटिन एक ऐसा एंटी-ऑक्सिडेंट है जो कि इंफ्लैमेशन को निंयत्रित रखने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसकी एक खासियत ये भी है कि ये हमारे शरीर के अन्दर विटामिन ए में बदल जाता है. इसके लिए आपको अपने दैनिक आहार में हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे चौलाई का साग, धनिया, मेथी, लेटस और पालक आदि का सेवन करना चाहिए. आप चाहें तो इसे पाने के लिए मूली के पत्ते और गाजर भी खा सकते हैं.
4. ओमेगा 3 फैट
वायु प्रदुषण हमारे शरीर में कई परेशानियाँ पैदा करता है. यह साँसों के रूप में ह्रदय में जाकर यह शरीर को वायु प्रदूषण से पहुंचने वाले हानिकारक प्रभावों से बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. ऐसे में दिल के स्वस्थ बनाए रखने के लिए नट्स और बीज जैसे अखरोट, चिया के बीज, अलसी के बीज को दही में डालकर खाना ठीक रहता है. इसके अलावा मेथी के बीज, सरसों के बीज, हरे पत्तेदार सब्जियां, काले चने, राजमा और बाजरा आदि कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिसमें ओमेगा 3 की मौजूदगी होती है.
5. हल्दी
हल्दी के औषधीय गुण आपको वायु प्रदुषण से भी बचाने के काम आते हैं. जाहिर है ये एक लोकप्रिय एंटी-ऑक्सिडेंट है और प्रदूषण के जहरीले प्रभावों से फेफड़ों को बचाने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है. यदि आप हल्दी को घी के साथ मिलाकर खाएं तो इससे खांसी और अस्थमा में आराम मिलता है. जब भी अस्थमा अटैक हो तो उस दौरान गुड़ के साथ हल्दी और मक्खन देने से राहत मिलती है.
6. हरीतकी
वायु प्रदुषण से बचाने में हरीतकी की भी भूमिका महत्वपूर्ण होती है. यदि आप हरीतकी को गुड़ के साथ मिश्रित करके सोने से पहले और सुबह में लें टी इससे कफ में आराम मिलता है. यही नहीं अस्थमा के दौरान भी आयुर्वेद कड़वी और कसैली फूड से भरपूर डाइट है, जो मीठे या नमकीन फूड के विपरीत होती है.
 

Bleeding Problems

BDS, Basic Life Support (B.L.S)
Dentist, Pune
Bleeding Problems

Bleeding will usually subside within an hour. Just keep gauze on the surgical area with some pressure for 30 to 45 minutes.

2 people found this helpful

My vagina is becoming dark day by day and its near area is full of blackheads please suggest me some medical cream or some thing that make vagina fair my husband do not want to make physical relation at this tym due to dark vagina area.

BHMS, DEMS
Homeopath, Pune
Hello Lybrate user, Dark vaginal color may be due to hyper pigmentation, it may be due to the side effects of using certain medications or lubricating creams. It may occurs due to wearing of polyster or synthetic underwear. Always wear cotton underwear. Do not use too tight underwear and allow free movement of air. Here are following tips to lighten the dark vaginal area :- Clean the vagina regularly. Apply a mixture of lemon juice and turmeric paste, it is a natural bleach to treat this darkening. Take slice of papaya and rub it against the dark pigmented area of vagina. Clean the vagina with baking soda, is also one of the reliable remedy for dark vagina. Avoid using any kind of talcum powder on the vagina. Eat plenty of fruits and vegetables, both contain vitamins that are necessary for skin health. Avoid shaving the pubic area too often and avoid hair removing cream. Some homoeopathic medicines can also cure this. Consult me if you need the homoeopathic medicinal advice.

Hello, I had sex 7 day of my period is it possible can I get pregnant now I feel some symptoms of pregnancy my last period first day is 9 dec and 16 dec I had sex my period cycle is regular I am waiting for result I am diabetic when I check it properly.

BHMS
Homeopath, Hyderabad
Hello, I had sex 7 day of my period is it possible can I get pregnant now I feel some symptoms of pregnancy my last p...
Within 1 week of periods the chances of becoming pregnant are very less how ever if you have doubt get it confirmed with a ICAN spot test done with first urine sample in the morning.

I had sex on the sixth day of my menses and is there possible for me getting pregnant.

Mbbs, D.G.O, Diploma in hospital management
Obstetrician, Delhi
I had sex on the sixth day of my menses and is there possible for me getting pregnant.
How do You consider the start at your menses? The first day or the last day of bleeding? In first option- pregnancy chance minimal. In 2nd option- pregnancy highly likely.

Is oral sex good for health? Detail description needed with advantages and disadvantages.

MBBS
General Physician, Greater Noida
The risks depend on a lot of different things, including how many sexual partners you have, your gender, and what particular oral sex acts you engage in. Oral sex can be an enjoyable, healthy part of an adult relationship. But there are some things that many people don't know about oral sex. Here are four facts that might surprise you. Several sexually transmitted diseases (stds), including hiv, herpes, syphilis, gonorrhea, hpv, and viral hepatitis can be passed on through oral sex. Oral sex is linked to throat cancer.
1 person found this helpful

Everyday I have a fever, headache and also acidity. Its severe acidity problem. When I am in periods stomach is very very painful. In night leg pain also.

Advanced Aesthetics
Ayurveda, Gulbarga
Everyday I have a fever, headache and also acidity. Its severe acidity problem. When I am in periods stomach is very ...
For acidity ayurvedic medicenes are drakshasava spl 3spoon ix with watrer 1glass 3 times a day before food and in bed time 1 spoon triphala churna with glass of water regularly.

What are the safe days after periods to have sex with my hubby. Without using contraceptives? so that I shouldn't get pregnant.

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS), MSCP
Ayurveda, Bangalore
There is no contraceptive which is 100 percent effective. Similarly, safe period sex may not ensure 100% results. However a week after your periods and 5 days prior to the beginning of your periods is considered safe.
3 people found this helpful
View All Feed

Near By Doctors

88%
(42 ratings)

Dr. Bhavna Mehta

DGO, MBBS
Gynaecologist
Murugan Hospital, 
350 at clinic
Book Appointment
87%
(110 ratings)

Dr. Shantha Rama Rao

MD, DGO, MBBS
Gynaecologist
Thulasi Krishna Nursing Home, 
300 at clinic
Book Appointment
85%
(10 ratings)

Dr. Surakshith Battina

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, MD - Obstetrics & Gynaecology, Diploma In Laparoscopy
Gynaecologist
Indigo Womens Center, 
350 at clinic
Book Appointment
85%
(10 ratings)

Dr. K.M.Kundavi Shankar

MBBS, Diploma in Obstetrics & Gynaecology, DNB (Obstetrics and Gynecology), MNAMS (Membership of the National Academy) (General Surgery)
Gynaecologist
Institute of Reproductive Medicine - MadrasMedical Mission Hospital, 
0 at clinic
Book Appointment
93%
(558 ratings)

Dr. Sujatha Rajnikanth

MBBS, DNB (Obstetrics & Gynecology), (MRCOG)
Gynaecologist
Penn Nalam, Ambattur Rotary Hospital Campus, 
300 at clinic
Book Appointment
92%
(131 ratings)

Dr. Shiva Singh Shekhawat

MBBS, DGO, DNB, CIMP, Fellowship In Minimal Access Surgery, Diploma In Minimal Access Surgery, Fellowship In ART
Gynaecologist
Apollo Medical Center Karapakkam (Apollo Cradle), 
350 at clinic
Book Appointment