Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Dr. Bharathi

MBBS, DCP

Gynaecologist, Bangalore

29 Years Experience
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Bharathi MBBS, DCP Gynaecologist, Bangalore
29 Years Experience
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

I'm dedicated to providing optimal health care in a relaxed environment where I treat every patients as if they were my own family....more
I'm dedicated to providing optimal health care in a relaxed environment where I treat every patients as if they were my own family.
More about Dr. Bharathi
Dr. Bharathi is one of the best Gynaecologists in Nagarbhavi, Bangalore. She has been a practicing Gynaecologist for 29 years. She has completed MBBS, DCP . She is currently associated with Monika nursing home in Nagarbhavi, Bangalore. Book an appointment online with Dr. Bharathi and consult privately on Lybrate.com.

Lybrate.com has a nexus of the most experienced Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 36 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Bangalore and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Education
MBBS - Jawaharlal Nehru Medical College - 1989
DCP - Banglore Medical College - 1991
Languages spoken
English

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Bharathi

Monika nursing home

#5 Near moodalapalya circle Maduranagar Nagarbhavi Bangalore Get Directions
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Bharathi

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Nirgundi Benefits and Side Effects in Hindi - निर्गुण्डी के फायदे और नुकसान

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Nirgundi Benefits and Side Effects in Hindi - निर्गुण्डी के फायदे और नुकसान

हिमालय की तराई क्षेत्र में पाए जाने वाले निर्गुंडी के फायदे आपको मांसपेशियों को आराम देने और दर्द से राहत में मिल जाएंगे इसके अलावा निर्गुंडी मच्छरों को भी दूर करती है. और चिंता एवं अस्थमा को दूर करने वाली एक बहुत अच्छी औषधि मानी जाती है. निर्गुंडी का वैज्ञानिक नाम वाइट टैक्स निर्गुंडी है. निर्गुंडी की पत्तियां 5 - 5 के समूह में लगी होती हैं गर्म तासीर वाले निर्गुंडी का प्रयोग अंबानी और आंतरिक दोनों रूपों में कर सकते हैं मुख्य रूप से निर्गुंडी मध्य एशिया और भूमध्य सागर में पाई जाने वाली में पाया जाने वाला पौधा है.

1. पाचन में सुधार
पाचन में सुधार के लिए भी निर्गुंडी का प्रयोग किया जाता है. दरअसल निर्गुंडी भूख को उत्तेजित करती है. इसके अलावा यह एक कृमिनाशक के रूप में भी कार्य करती है. इसलिए पाचन तंत्र की सफाई करने वाले एजेंट के रूप में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए निर्गुंडी के 10 पत्तों पत्तों का 10 मिलीमीटर रस और दो किसी हुई काली में एवं अजवाइन के साथ सुबह शाम सेवन करने से पाचन शक्ति में सुधार होता है.
2. गठिया के उपचार में
निर्गुंडी गठिया में गठिया के उपचार में भी लाभदायक साबित होती है. निर्गुंडी के पत्तों से निकाले हुए तेल की हल्की मालिश गठिया संधि शोथ साइटिका आदि में आराम पहुंचाती है. इसके पत्तों का काढ़ा रोजाना सुबह-शाम पीने से भी इसमें फायदे मिलते हैं. इसके साथ ही यह मस्तिष्क टॉनिक के रूप में भी काम करता है.
3. त्वचा को चमकदार बनाने में
त्वचा की चमक को बरकरार रखने में भी निर्गुंडी का प्रयोग किया जाता है. त्वचा से रूखापन चेहरे से मुंहासों आदि को दूर करने में भी निर्गुंडी की मुख्य भूमिका होती है. इससे त्वचा में चमक भी आती है.
4. बालों के लिए
निर्गुंडी का नियमित प्रयोग बालों के गिरने को तो रोकता ही है. बालों का विकास भी करता है. यदि आप नियमित रूप से निर्गुंडी का प्रयोग बालों के लिए करते हैं तो आपके बाल बालों का सफेद होने की संभावना भी काफी हद तक कम हो जाती है. इस तरह से निर्गुंडी के पत्तों से बने तेल को बालों के लिए टॉनिक के रुप में इस्तेमाल किया जा सकता है.
5. खांसी के उपचार में
यदि आप खांसी की समस्या से परेशान हैं तो निर्गुंडी इसमें भी आपकी मदद करता है. दरअसल निर्गुंडी कब से भरे हुए रास्ते को साफ कर श्वसन को सुचारू बनाता है. इसके लिए निर्गुंडी के पत्तों के रस को हल्की आग पर चढ़ाकर गाढ़ा करके लगातार 7 दिन तक लेना होता है. ऐसा करने से खांसी निमोनिया दमा और ब्रोंकाइटिस आदि रोग नष्ट होते हैं.
6. घाव भरने के लिए
निर्गुंडी के पत्ते निर्गुंडी के पत्तों से बनाया हुआ तेल पुराने से पुराने घाव को भी भर सकता है. आप चाहें तो निर्गत निर्गुंडी के पत्तों को पीसकर लेप बना कर भी छोटी लिया सूजन वाले स्थान पर लगा सकते हैं. इससे भी आपको आराम मिलता है और घाव भी जल्द से जल्द ठीक होता है. निर्गुंडी के पत्तों का काढ़ा बनाकर भी आप प्रभावित क्षेत्रों को धो सकते हैं. इससे भी उस मक्खी मच्छर या आधी आपके गांव के आसपास नहीं आएंगे निर्गुंडी में एंटीबैक्टीरियल और सूजन को कम करने वाले गुणों की वजह से ऐसा होता है.
7. बांझपन में
बांझपन कई महिलाओं के लिए काफी परेशान करने वाली बीमारी है. इस समस्या से निपटने में भी निर्गुंडी के सकारात्मक प्रभाव देखे गए हैं. शोधों से पता चलता है कि 200 मिलीग्राम निर्गुंडी बचपन की विभिन्न समस्याओं नेतृत्व की मदद कर सकती है. 10 ग्राम निर्गुंडी 100 मिलीलीटर पानी में रात को भिगोकर रख दें. सुबह में इसके चौथाई होने तक उबालें और इसे जानने के बाद इसमें 10 ग्राम पिसा हुआ गोखरू मिलाकर पीरियड्स खत्म होने के बाद पहले दिन से लगभग 1 सप्ताह तक सेवन करते रहें ऐसा करने से महिलाएं गर्भ धारण करने के योग्य हो जाती हैं.
8. बुखार के लिए
निर्गुंडी की पत्तियां बुखार में भी काफी उपयोगी साबित होती है. दो गिलास पानी में निर्गुंडी की पत्ती को 15 मिनट तक उबालें इसके बाद काढ़े को छानकर इसे तीन भागों मेन बाँट लें. फिर 4 घंटे के अंतराल पर दिन में 3 बार इसका सेवन करने से आपको बुखार में काफी राहत मिलेगी. निर्गुंडी के बीज ग्राम पत्तों को 400 मिलीलीटर पानी में इसके चौथाई होने तक उबालें. इसके बाद इस कार्य में 2 ग्राम पीपल का चूर्ण डालकर सुबह शाम 10 से 20 मिलीलीटर पीने से सिर सिर दर्द बुखार और जुकाम में राहत मिलती है.
9. माइग्रेन में
निर्गुंडी के पत्ते माइग्रेन में भी फायदेमंद साबित होते हैं. निर्गुंडी के पत्तों को पानी के साथ पीसकर पेस्ट बनाएं. इस पेस्ट को माथे पर लगाने से आपको राहत मिलती है. इसके अलावा इसके सूखे पत्तों का धुंआ करके उसे सूंघने से भी आप लाभ प्राप्त कर सकेंगे. इसके अलावा निर्गुंडी के ताजे पत्तों के रस को हल्का गर्म करके दो-दो बूंद कान में डालने से भी माइग्रेन का दर्द खत्म होता है.
10. सूजन में
निर्गुंडी के पत्तों का रस 10 से 20 मिलीमीटर रोजाना सुबह-शाम लेने से हृदय की सूजन में लाभ मिलता है. विटामिन सी से भरपूर निर्गुंडी को एक बहुत अच्छा प्राकृतिक एंटीबायोटिक माना जाता है. इसके साथ ही यह सूजन को भी कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. यही कारण है कि निर्गुंडी की जड़ के सेवन से इस के काटने से कुल्ला करने से टॉन्सिल भी खत्म होता है.

निर्गुंडी के नुकसान

  • निर्गुंडी की अधिक मात्रा में सेवन करने से आपको जलन और सिर में दर्द जैसा दुष्परिणाम देखने को मिल सकता है. इसके अलावा किडनी पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है.
  • गर्म प्रकृति वाले लोगों को इसका सेवन करने से बचना चाहिए.
  • निर्गुंडी के आंतरिक प्रयोग के लिए चिकित्सकों की सलाह महत्वपूर्ण है.
     
2 people found this helpful

Hello doctor The question is little but byt can not help as issue is there I have insertion problem so we are going for iui. Also before 1 day of iui I ejaculate sperms on my wifes vagina and through fingers then I insert semen inside her vagina. Is pregnancy possible. Please help.

BHMS PGCGO
Homeopath, Hubli-Dharwad
Hello doctor The question is little but byt can not help as issue is there
I have insertion problem so we are going f...
if you going for iui then No need Of thinking of doing sex with difficulty. there are chances of pregnancy
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Best element for increasing sexual stamina

BHMS
Sexologist, Delhi
Best element for increasing sexual stamina

Best element for increasing sexual stamina

7 people found this helpful

Dear doctor my Wife have pain problem when she in period time give the best solution for her.

BHMS
Homeopath, Solan
Dear doctor my Wife have pain problem when she in period time give the best solution for her.
please take homeopathic medicines. Caulophylum 30, mag phos 200 and with this eat proper healthy diet. Drink full glass of milk daily, yoghurt and you. Can also eat fresh aloeveera gel before periods not during the periods. And during periods you can eat bannana, chocolate it will relax your muscles and eat healty.
Submit FeedbackFeedback

Hi doctor. My baby is 4 months old. My delivery was done at last year December 20th. When am having intercourse with my husband.

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Gurgaon
You may have it any time if you are comfortable and have no issues ,however you need to safeguard your self against pregnancy.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi I'm 29 years man last month I went for sex with my wife but both we are not get any bleeding may be I done sex wrong and she didn't get any pain can you suggest me. In this sex I used condoms with my partner and I need which branded condoms are available for women.

IPHH Delhi, Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS), Panchkarma, Diploma in Acupuncture
Sexologist, Gurgaon
Dear lybrate-user, sometimes the blood may be so little that you may not be able to notice. Pain may or may not be there. There are many companies of condoms, your chemist may suggest you better.
5 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I want to conceive and my age is 35. I m not aware of whether its safe to conceive at this age. Pls guide me on this.

MBBS, DGO, MD, Fellowship in Gynae Oncology
Gynaecologist, Delhi
I want to conceive and my age is 35. I m not aware of whether its safe to conceive at this age. Pls guide me on this.
Yes you can conceive at this age also but first you need to get these tests done i.e. AMH and USG for antral follicle count done and back with the reports.
Submit FeedbackFeedback

20 days late on period, should I be worried. Negative home pregnancy test, 23 years old, married.

MD - Ayurveda, Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Jammu
20 days late on period, should I be worried. Negative home pregnancy test, 23 years old, married.
If your urine pregnancy test is negative you can confirm your pregnancy by ultrasonography. But you should not worry because delayed periods are also caused by many other reasons like anaemia ,anxiety, pcod etc. U can msg me on my consult for more details.
Submit FeedbackFeedback

Hlo sir, meri shadi ko 3 years ho gye hain. Humara koi baby nhi hai. Hum 2 mnths se try kar rhe hain par pregnancy nhi ho pa rhi. Hum bhot preshan hai. Jab mere husbend discharge hote hain to spems andar rukte nhi hain. Pls hlp.

MD - Obstetrtics & Gynaecology, FCPS, DGO, Diploma of the Faculty of Family Planning (DFFP)
Gynaecologist, Mumbai
Hlo sir, meri shadi ko 3 years ho gye hain. Humara koi baby nhi hai. Hum 2 mnths se try kar rhe hain par pregnancy nh...
Sperms bahar aana normal hai. Pregnancy mahine k eek hi din rah sakti hai, jo din anda phute. Isliye couple 12 se 24 mahina bina family planning sadhan se yah din ke aaspas sambandh karne ke baad pregnancy nahi rahti hai to gynecologist ya to infertility specialist ke paas jate hai. Vahan bahut sare test karne padte hai aur dhiraj se treatment karani padti hai. Jiske par vishwas ho aise Gynecologist ya infertility specialist ke pas dono chale jaiye.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hi, I am 24 years old and got married 6 months ago. I am having pcod. I got my last period on 6th april. My pregnancy test kit has shown positive result. But I am getting pain in lower abdomen. Is there any problem in my pregnancy? When does fetus can be seen or heart beat can be seen in ultrasound?

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist,
Hi, I am 24 years old and got married 6 months ago. I am having pcod. I got my last period on 6th april. My pregnancy...
Lower abdomen is the place where the uterus lies. and due to pregnancy there is extra blood flow and the uterus becomes heavier. Due to this the ligaments which hold the uterus are under strain and patients feel ache in back and tummy. Apart from this there could be many reasons for pain right from acidity constipation gaseous entrapment ovarian cyst ureteric stone etc So only a examination and sonography can rule out why you have pain. Generally by 7 weeks the embryo's heart beats are visible on sonography
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

89%
(208 ratings)

Dr. Apoorva Pallam Reddy

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecology, DNB (Obstetrics and Gynecology)
Gynaecologist
Phoenix Speciality Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
86%
(18 ratings)

Dr. Shashi Agarwal

MBBS, DNB
Gynaecologist
Agarwal Health Care, 
300 at clinic
Book Appointment

Dr. Asha Hiremath

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist
Motherhood - Indiranagar, 
0 at clinic
Book Appointment

Dr. Vijayalakshmi

MBBS, DGO
Gynaecologist
Motherhood - Indiranagar, 
0 at clinic
Book Appointment

Dr. Payel Ray

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecologoy, DMAS
Gynaecologist
Motherhood - Indiranagar, 
0 at clinic
Book Appointment

Dr. S.K. Sharma

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecology
Gynaecologist
Motherhood - Indiranagar, 
0 at clinic
Book Appointment