Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Clinic
Book Appointment
Kashyap Clinic Pvt. Ltd., Allahabad

Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Sexologist Clinic

No.30 Nawab Yusuf Road, Near Pani Tanki - Civil Lines Allahabad
1 Doctor · ₹300
Book Appointment
Call Clinic
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Sexologist Clinic No.30 Nawab Yusuf Road, Near Pani Tanki - Civil Lines Allahabad
1 Doctor · ₹300
Book Appointment
Call Clinic
Report Issue
Get Help
Services
Feed

About

By combining excellent care with a state-of-the-art facility we strive to provide you with quality health care. We thank you for your interest in our services and the trust you have place......more
By combining excellent care with a state-of-the-art facility we strive to provide you with quality health care. We thank you for your interest in our services and the trust you have placed in us.
More about Kashyap Clinic Pvt. Ltd.
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. is known for housing experienced Sexologists. Dr. B K Kashyap, a well-reputed Sexologist, practices in Allahabad. Visit this medical health centre for Sexologists recommended by 108 patients.

Timings

MON-SUN
01:00 PM - 08:00 PM

Location

No.30 Nawab Yusuf Road, Near Pani Tanki - Civil Lines
Allahabad Allahabad, Uttar Pradesh - 211001
Get Directions

Photos (10)

Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 1
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 2
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 3
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 4
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 5
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 6
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 7
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 8
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 9
Kashyap Clinic Pvt. Ltd. Image 10
View All Photos

Doctor in Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Dr. B K Kashyap

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist
87%  (10 ratings)
18 Years experience
300 at clinic
₹300 online
Available today
01:00 PM - 08:00 PM
View All
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad

 सेक्स से कैसे बढती है आपकी खूबसूरती 


सेक्स कुदरती रूप से खूबसूरती को बढ़ाता है। आइए जानते हैं कि कैसे यह ‘कुदरती’ उपाय आपके चेहरे पर चमक बढ़ा सकता है।
सेक्‍स से खूबसूरती
खूबसूरत दिखने के लिए न जाने हम कितना वक्त और पैसा खर्च करते हैं। अच्छा खाना, व्यायाम और अपने बारे में अच्छा–अच्छा महसूस करना यह सब चीजें हमें खूबसूरती और सेहत का खजाना देती है। लेकिन हमारे पास आपके लिए सुन्‍दर दिखने का एक और उपाय भी हैं। ऐसा उपाय जो मुफ़्त, मजेदार और कुदरती हैं। वह उपाय है सेक्‍स। क्‍या आप जानते हैं सेक्‍स से न केवल आपका स्‍वास्‍थ्‍य ठीक रहता है बल्कि यह आपको सुंदर भी बनाता है। 
डिप्रेशन दूर करें ऑर्गेज्म
सेरोटोनिन एक न्यूकरोट्रांसमीटर है, जो व्‍यक्ति की मनोदशा को नियंत्रित करने का काम करता है। इसी तत्‍व से हमें खुशी और तृप्ति का अहसास भी होता है। सेक्‍स में ऑर्गेज्‍म पर पहुंचने पर शरीर से सेरोटोनिन और डीएचईए का स्राव होता है। जिससे आप खुशी अनुभव करते है और आपका चेहरा खिलाखिला रहता है। साथ ही डीएचईए अवसाद से बचाने का काम करता है। और साथ ही यह हमारी इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाता है।
जवां रखता है सेक्‍स
नियमित सेक्‍स आपको पहले से अधिक जवां बनाये रखने में मदद करता है। ऐसे लोग जो सप्ताह में तीन या उससे अधिक बार सेक्स करते हैं वे कम सेक्स करने वालों के मुकाबले अधिक जवां दिखायी देते हैं।
आत्मविश्वास बढ़ता है
जिन लोगों में आत्मविश्वास होता है, वे अधिक आकर्षक दिखते हैं। शोध से यह बात सामने आई है‍ कि ध्यान और सेक्स से आपको एक जैसा लाभ मिलता हैं। आप अपने और अपने आसपास के बारे में अच्छा महसूस करते हैं। आप मानसिक रूप से अधिक शांत, एकाग्र, शक्तिवान और सामर्थ्यवान महसूस करते हैं।
झुर्रियों दूर करें
सेक्स से आपके शरीर में रक्त प्रवाह बढ़ जाता है, जिससे चेहरे पर कुदरती रूप से चमक आती है। एक शोध से यह बात स्‍पष्‍ट हो गई है कि जो लोग अपनी सेक्स लाइफ से संतुष्‍ट होते हैं उनके चेहरे पर अन्‍य लोगों की तुलना में झुर्रियां बहुत देर से पड़ती हैं।

भागदौड़ की जिंदगी में होने वाले तनाव के कारण भी सेक्स समस्या पैदा करती है

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
भागदौड़ की जिंदगी में होने वाले तनाव के कारण भी सेक्स समस्या पैदा करती है

 भागदौड़ की जिंदगी में होने वाले तनाव के कारण भी सेक्स समस्या पैदा करती है 

हर व्यक्ति अपना वैवाहिक जीवन खुशहाल रखना चाहता है। जिसके लिए वह हर संभव प्रयास भी करता है ।
लेकिन कई बार व्यक्ति को कुछ ऐसी बीमारियां घेर लेती है जिससे वह न सिर्फ अनजान होता है बल्कि उसका वैवाहिक जीवन भी बिखर जाता है। व्यक्ति को विभिन्न आयु में सेक्स संबंधी रोग, सेक्स विकार,  सेक्स हार्मोंन संबंधी समस्याएं आने लगती है।  सेक्स रोग और विकारों से बचने के लिए, लोग दवाओं का सेवन करते हैं लेकिन वे इस बात से अनजान रहते हैं कि दवाओं के सेवन से सेक्स हार्मोंस में गड़बड़ हो सकती है, जिससे कई बार सेक्स मे रूचि कम हो जाती है। बहरहाल, आइए जानें सेक्स इच्छा में कमी के कारणों को ।

कई बार दवाओं के सेवन का सेक्स लाइफ पर प्रभाव पडता है। ऐसी कई दवाईयां है जिनके सेवन से सेक्स हार्मोन्स पर गहरा असर होता है। हालांकि आपकी सेक्स लाइफ के प्रति अरूची सिर्फ दवाओं की वजह से ही हो यह भी जरूरी नहीं।
कुछ ऐसी दवाईयां है जो आप अपनी आम बीमारियों को दूर करने के लिए लेते हैं लेकिन उन दवाओं के सेवन से आपकी सेक्स इच्छा में कमी आ सकती है। जैसे- उच्च रक्तचाप की दवाएं, हार्मोंन संबंधी दवाईयां, पेनकिलर्स, अस्थमा में ली जाने वाली दवाईयां, एंटी डिप्रेसेंट दवाएं, अल्सर  की दवाएं ऐसी हैं जिनके नियमित लेने से सेक्स में रूचि कम होने लगती हैं।
  
व्यक्ति अचानक से सेक्स के दौरान घबरा जाए तो जल्दी शीघ्रपतन का शिकार हो जाता है । कई बार शीघ्रपतन के कारण भी सेक्स इच्छा में कमी होने लगती है।
कई बार सेक्स संबंधी भ्रम और  (डिप्रेशन) भी सेक्स में कम रूचि होने का कारण बनते हैं। दोस्तों और अन्य माध्यमों से ली गई गलत जानकारियां, कुछ बुरे अनुभव, सेक्स के प्रति पूरी तरह से जागरूक न होने से भी सेक्स‍ इच्छा में कमी आने की संभावना रहती है।
परिवार की जिम्मेदारियों का बोझ और भागदौड़ की जिंदगी में होने वाले तनाव के कारण भी सेक्स इच्छा में कमी आ जाती है ।

प्रोस्टेट ग्रंथि के अधिक बढ़ जाने यानी सेक्स विकार से भी सेक्स हार्मोंस में बदलाव आता है ।
शरीर में टेस्टोरॉन हार्मोंन के स्तर में कमी आने से सेक्स करने की इच्छा कम हो जाती है ।
शरीर में सेक्स संबंधी कमजोरी आने से यानी शरीर में कोई रोग हो जाए तो उसका सबसे ज्यादा प्रभाव सेक्स शक्ति पर पड़ता है । 
ये तमाम ऐसे कारण है जिनसे सेक्स इच्छा में कमी आ जाती है । कई बार महिला सेक्स विकार होने या फिर विभिन्न आयु में सेक्स संबंधी परेशानियों से सेक्स में व्यक्ति की रूचि कम हो जाती हैं। सेक्स संबंधी कोई भी विकार या रोग होने पर तुरंत डॉक्टर्स से संपर्क करना चाहिए और जल्द से जल्द उसका इलाज कराना चाहिए।

अंसतुष्ट वैवाहिक जीवन ( Unhappy Married Couple )

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
अंसतुष्ट वैवाहिक जीवन ( Unhappy Married Couple )

अंसतुष्ट वैवाहिक जीवन ( Unhappy Married Couple )..

हमेशा से विवाह टूटने का अहम कारण होता हैं अंसतुष्ट वैवाहिक जीवन या खराब सेक्स लाइफ। और इसका प्रमुख कारण है सेक्स समस्याएं जो समय के साथ अगर न सुलझाई न जाएं तो रिश्ता बचा पाना नामुमकिन हो जाता है। शरीर की अन्य समस्याओं की तरह सेक्स संबंधी समस्याएं भी आम हैं। सेक्स करने के दौरान संतुष्टि ना होना या फिर शादी के बाद महिला या पुरुष में सेक्स को लेकर उत्तेजना ना होना जैसी कई सेक्स समस्याएं आम हैं। पुरुषों के पेनिस में तनाव ना आना, महिलाओं की योनि का सूखापन जैसी बहुत सी सेक्स प्रॉब्लम्स हैं, जिनके बारे में महिलाएं ही नहीं, पुरुष भी चर्चा नहीं करना चाहते। सेक्स प्रॉब्लम्स के चलते अगर समय रहते उचित सलाह और चिकित्सा न मिले तो व्यक्ति हीन भावना और डिप्रेशन का भी शिकार हो सकता है। ऐसी सेक्स प्रॉब्लम अगर सॉल्व न हों तो इसकी परिणति रिश्ता टूटने से लेकर आत्महत्या तक हो सकती है।
इनका निदान कैसे किया जाए...।

1. इरेक्टाइल डिसफंक्शन
कामेच्छा के समय पेनिस में तनाव न आना या आते ही पेनिस का ढीला पड़ जाना इरेक्टाइल डिस्फन्क्शन कहलाता है। इसका प्रमुख कारण भी शारीरिक न होकर मानसिक होता है। पेनिस में तनाव ना आने की सबसे बड़ी वजह चिंता करना और टेंशन लेना और सही खान पान ना होना है।
समाधान
यह सेक्स समस्या मानसिक होती है, इसीलिए इसका इलाज भी यही है कि आप सेक्स के पहले खुश रहें और पूरी तरह तनाव रहित होकर बेड पर जाएं। अगर तब भी बात न बने तो साइकोलॉजिस्ट का सहारा लें और फिर भी समस्या बनी रहे तो आखिर में सेक्सोलॉजिस्ट के पास जाएं।

2. दर्द भरा सेक्सुअल इंटरकोर्स
यह लेडीज की आम समस्या है। इंटरकोर्स के दौरान दर्द होना भी कई महिलाओं को सेक्स से दूर करता है। वेजाइना में सूखेपन, सूजन या किसी इंफेक्शन आदि के कारण यह समस्या हो सकती है।
समाधान
पार्टनर को मालूम होना चाहिए कि कब महिला को दर्द हो रहा है और कब महिला सहयोग दे रही है। जिसमें महिला आनंद उठाए, ऐसी पोजीशन में सेक्स करें तो यह समस्या उत्पन्न ही नहीं होगी। साथ ही इसके लिए एक अच्‍छा लुब्रिकेंट भी इस्‍तेमाल करना चाहिए। अगर इससे भी आराम ना हो या इंटरकोर्स के दौरान लगातार दर्द हो तो डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

3. गुप्त अंगों में इंफेक्शन
गुप्त अंग में खुजली एक और सेक्स समस्या है। इंफेक्शन, ठीक से वेजाइना की सफाई ना करने, कब्ज, गुप्त अंगों में इंफेक्शन आदि के कारण हो जाती है।
समाधान
यह समस्या साफ-सफाई रखने और सेक्स के दौरान कंडोम के प्रयोग से सही हो जाती है। अगर फिर भी समस्या लगातार बनी रहे तो डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

4. लुब्रिकेशन की कमी
महिलाओं की वेजाइना में लुब्रिकेशन यानि गीलेपन को उत्तेजना का पैमाना माना जाता है। उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं में लुब्रिकेशन की कमी सामान्य है, लेकिन यदि कम उम्र में भी किसी महिला को इसमें कमी की शिकायत होती है, तो इस समस्या का इलाज होना चाहिए। लुब्रिकेशन में कमी होने पर इंटरकोर्स काफ़ी तकलीफ़देह हो जाता है।
समाधान
इसका इलाज भी सायकोलॉजिकल है। यूं तो पार्टनर का टच ही लुब्रिकेशन में काफी मददगार होता है। कई बार महिलाओं को पार्टनर के टच से लुब्रिकेशन नहीं होता। अगर पार्टनर के छूने से बात न बने तो बाज़ार में कई तरह की लुब्रिकेंट भी उपलब्ध हैं, इनका इस्तेमाल करें

5. सेक्स की इच्छा में कमी
यह समस्या सामान्य तौर पर महिलाओं में देखने को मिलती है। महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी डिप्रेशन, थकान या स्ट्रेस की वजह से हो सकती है। कई महिलाओं को शरीर के कुछ ख़ास हिस्सों पर हाथ लगाने से दर्द भी महसूस होता है या ऐसा करना उन्हें अच्छा नहीं लगता। इससे भी वो सेक्स से बचना चाहती हैं।
समाधान
इसका इलाज किसी डाक्टर या नीम- हकीम के पास न होकर पार्टनर के पास ही है। पारिवारिक कलह व रिश्तों में टेंशन न हो, इसका खास ख्याल रखें। पार्टनर को चाहिए कि वो पहले अपने साथी को और उसकी जरूरत को समझें। अगर आपका साथी आपके साथ कम्फर्टेबल होगा तो आपकी सेक्स लाइफ भी अच्छी हो जाएगी।

6. पुरुषों में प्री मच्योर इजेकुलेशन
अगर सेक्स करते समय, समय से पहले पुरुष का सीमेन निकल जाए तो इसे प्री मच्योर इजेकुलेशन कहा जाता है। यह स्थिति सेक्स लाइफ खराब कर देती है। पर यह अक्सर कोई बीमारी न होकर मन की स्थिति होती है जिसका समाधान बहुत ही आसान है।
समाधान
जब व्यक्ति सेक्स करना शुरू करता है तो ज्यादा एक्साइटमेंट के कारण प्री मच्योर इजेकुलेशन होना आम बात है। यह बीमारी कम और मानसिक स्थिति पर ज्यादा निर्भर करता है। इसका उचित कारण ढूढें। सबसे पहले किसी साइकोलॉजिस्ट की सलाह लें। नीम- हकीम के पास जाने से बेहतर इसका सही इलाज करवाएं वो भी किसी अच्छे सेक्स विशेषज्ञ से।

3 people found this helpful

कामेच्छा का अभाव व उपचार

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
कामेच्छा का अभाव व उपचार

कामेच्छा का अभाव व उपचार 
 


आमतौर पर शारीरिक समस्याओं में मुख्य होते हैं, नापुंसकता,( इरेक्टल डिस्फक्शन, )कामेच्छा का अभाव, जिनकी वजह से कई बार वैवाहिक जीवन टूटने की कगार पर आ जाता है। 

गौरतलब है कि आहार मे दूध का प्रयोग, उडद का प्रयोग, नये देसी घी का सेवन, नये अन्नॊ का सेवन, साठी चावल दूध के साथ सेवन, सूखे मेवे, खजूर , मुन्नका, सिंघडा, मधु, मक्खन, मिश्रि, आदि आहार वीर्य वर्धक होते है।

जबकि इन समस्याओं से निजात पाने के लिए घरेलू और अनेकों आयुर्वेदिक उपाय हैं। आयुर्वेद में ऐसी अनेक प्रकार की जड़ी-बूटियों का उल्लेख है, जिनके सेवन से आप शारीरिक समस्याओं से निजात पा सकते हैं।   
आयुर्वेदिक उपचार:  प्रतिदिन दूध के साथ शतावरी का सेवन करें ।  दूध को बहुत उबाल कर ही पीएं । केले और संतरे का नियमित सेवन करें ।  

घी, मख्खन, हरी सब्जियां, फल और बादाम का रोजाना सेवन करें । इससे प्रोटीन  मिलता है और शुक्राणुओं में वृद्धि होती है । प्रतिदिन एक ग्लास गाजर का जूस पिएं या फिर प्रतिदिन चार-पांच गाजर खाएं।   
मूंगफली के दाने और सूखा नारियल खाना भी लाभदायक है।   सिर्फ दूध पीना शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। दूध के पाचन के लिए जरूरी हे कि उसमें थोड़ी सी शक्कर भी मिलाई जाएं ।

शरीर में विटामिन या ( एंटीअक्ससिडेंट ) की मात्रा बनाए रखने के लिए पालक, फूल गोफी, गाजर जैसी हरी-सब्जियों का सेवन करना बहुत आवश्यक है ।   
शरीरिक कमजोरी के मामले में एक बात का विशेष ध्यान रखें कि शराब-सिगरेट का सेवन बिलकुल न करें । चिकित्सीय सलाह पर अश्वगंधा का सेवन भी कर सकते हैं। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सिर्फ आहार ही पर्याप्त नहीं है, बल्कि पाचन क्रिया भी सही होनी चाहिए ।   
इसके लिए नियमित एक्सरसाइज भी बहुत जरूरी है। 
नियमित एक्सरसाइज तनाव से मुक्ति व सेक्स लाइफ का खास टॉनिक है । हर एक व्यक्ति की शारीरिक बनावट और क्षमताएं अलग-अलग होती है। इसीलिए किसी भी प्रकार की औषिधि या अन्य खाद्य पदार्थो का सेवन चिकित्सीय सलाह पर ही करें ।

इसके लिए नियमित एक्सरसाइज भी बहुत जरूरी है। नियमित एक्सरसाइज तनाव से मुक्ति व सेक्स लाइफ का खास टॉनिक है । हर एक व्यक्ति की शारीरिक बनावट और क्षमताएं अलग-अलग होती है। इसीलिए किसी भी प्रकार की औषिधि या अन्य खाद्य पदार्थो का सेवन चिकित्सीय सलाह पर ही करें ।
शरीरिक कमजोरी के मामले में एक बात का विशेष ध्यान रखें कि शराब-सिगरेट का सेवन बिलकुल न करें । चिकित्सीय सलाह पर अश्वगंधा का सेवन भी कर सकते हैं। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सिर्फ आहार ही पर्याप्त नहीं है, बल्कि पाचन क्रिया भी सही होनी चाहिए ।   
इसके लिए नियमित एक्सरसाइज भी बहुत जरूरी है। 
नियमित एक्सरसाइज तनाव से मुक्ति व सेक्स लाइफ का खास टॉनिक है । हर एक व्यक्ति की शारीरिक बनावट और क्षमताएं अलग-अलग होती है। इसीलिए किसी भी प्रकार की औषिधि या अन्य खाद्य पदार्थो का सेवन चिकित्सीय सलाह पर ही करें ।

3 people found this helpful

ज्यादा सम्भोग करने से पार्टनर को कई तरह के नुक्सान हो सकते है

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
ज्यादा सम्भोग करने से पार्टनर को कई तरह के नुक्सान हो सकते है

ज्यादा सम्भोग करने से पार्टनर को कई तरह के नुक्सान हो सकते है
 

 

आपने संभोग करने के फायदे तो सुने होंगे लेकिन शायद ही आपने ज्यादा सेक्स करने के नुकसान के बारे में सुना हो। कहते हैं हर चीज की अति बुरी होती है इसी तरह ज्यादा सेक्स भी कुछ मामलों में आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

इस शोध ने बदली तस्वीर

सेक्स करने से होने वाले फायदों के बारे में अब तक तमाम शोध सामने आ चुके हैं। लेकिन एक शोध ने ज्यादा सेक्स करने से होने वाले नुकसान की तरफ लोगों का ध्यान आकर्षित किया है। अमूमन लोगों का यही ख्याल होता है कि सेक्स करने से शरीर को कोई नुकसान नहीं होता। 

सेक्स की कोई लिमिट नहीं

हालांकि एक दिन में कितनी बार संभोग किया जाए, इसकी कोई लिमिट नहीं होती। यह आपके शरीर और मूड पर निर्भर करता है। लेकिन अधिकतर लोग इस बात से अनजान होते हैं कि ज्यादा सेक्स करने के साइडइफेक्ट्स भी होते हैं। 

इनफेक्शन का खतरा
एक समय में बहुत बार यौन संबंध बनाने से महिला के प्राइवेट पार्ट में इनफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। इनफेक्शन होने से महिलाओं को काफी परेशानी होती है।

अनचाहा गर्भधारण

यदि आप ज्यादा संभोग करते हैं तो ऐसे में महिला को अनचाहे गर्भधारण की संभावना सामान्य के मुकाबले बढ़ जाती है। ऐसे में महिला के शरीर पर विपरीत असर पड़ता है।

संबंधों पर असर

यदि आप अपने जीवनसाथी पर ज्यादा संभोग करने का दबाव बनाते हैं तो इससे आप दोनों के रिश्तें भी प्रभावित हो सकते हैं। ऐसे में आपके बीच के मधुर संबंधों पर असर पड़ना स्वाभाविक है।

दिमागी समस्या

ज्यादा सेक्स करना शारीरिक जरूरत नहीं बल्कि यह एक लत भी हो सकती है। जानकारों का मानना है कि सेक्स की लत दिमागी प्रॉब्लम का कारण भी हो सकती है।

2 people found this helpful

सुहागरात यानी शादी की पहली रात

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
सुहागरात यानी शादी की पहली रात

सुहागरात यानी शादी की पहली रात

सुहागरात यानी शादी की पहली रात, हर नया जोड़ा इसे यादगार लम्‍हा बनाना चाहता है। लेकिन जब सुहागरात को लेकर युवा जोड़ों के मन में संकोच और हिचकिचाहट होती है। आप इस रात को सचमुच यादगार बनाना चाहते हैं तो अपने पार्टनर के साथ अच्‍छा वक्‍त गुजारिए ।
शादी की पहली रात को पुरुष सेक्‍स के प्रति बेहद चिंतित रहते हैं। वे इस बात को लेकर बेहद फिक्रमंद रहते हैं कि क्‍या वे अपने साथी को खुश रख पाएंगे या नहीं। उन्‍हें इस बात का डर रहता है कि कहीं इस रात की कोई गलती उन्‍हें सारी उम्र के लिए परेशनी में न डाल दे। तो हम आपको बताएं कि किसी भी लम्‍हे का पूरा आनंद उठाने के लिए सबसे जरूरी है कि चिंता से दूर रहा जाए।
शादी की पहली रात और सेक्‍स -

  • जरूरी नहीं कि शादी की पहली रात को पुरुष ही पहल करे। दोनों मिलकर भी शुरुआत कर सकते हैं। इससे किसी के मन में किसी प्रकार की चिंता नहीं रहेगी।
  • सेक्‍सुअल होने से पहले अपने साथी से अच्‍छी तरह बात कीजिए। अपनी सारी शंकाओं का समाधान बातचीत के जरिए पहले निकाल लीजिए नहीं तो सेक्‍स के दौरान मन में झुंझलाहट बनी रहेगी। किसी भी तरह की जल्‍दबाजी न कीजिए।
  • इस रात अपने पार्टनर सरप्राइज दीजिए, कोई ऐसा गिफ्ट दें जो आपके पार्टनर को पसंद आये। इस रात रोमैंटिक हनीमून पैकेज, सेक्सी ड्रेस और ग्लैमरस परिधान जैसे गिफ्ट दे सकते हैं ।
  • सुहागरात को अधिक उत्‍सुक होने से बचना चाहिए । व्‍यवहार सामान्‍य बनाए रखिए। बहुत सारे सपनों को एक साथ न संजोएं। उस रात जो भी हो उसे सहज भाव से स्वीकार करें 
  • पति-पत्‍नी के बीच संबंध जीवन भर के लिए होते है, उसकी शुरुआत अगर अच्छी बातों से हो तो अच्छा है। तो शुरूआत में ही सेक्‍स करने से अच्‍छा है कि आप अपने पार्टनर से कुछ देर बात करें। अपने साझा भविष्‍य को लेकर कुछ चर्चा करें। कुल मिलाकर अपने साथी को जानने की कोशिश करें। इसके बाद ही आप सेक्‍स का भरपूर आनंद उठा पाएंगे ।
  • एकाएक ही सेक्‍स संबंध बनाने की कोशिश मत कीजिए। इससे आपके पार्टनर को असहज महसूस होगा और इसमें वह आपका भरपूर साथ नही दे पाएगा ।
  • अगर आप सोच रहे हैं कि शादी की पहली रात सेक्स से संबंधित बातें करना गलत है तो आप गलत हैं। सेक्स से पहले आप अपने पार्टनर से इस विषय पर बात कर उसे सहज महसूस करवा सकते हैं। इससे आपकी छवि पर कोई नकारात्मक असर नहीं पड़ेगा।
2 people found this helpful

शादी के बाद हर दिन सेक्स करने के 4 कारण

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad

 


सेक्स सिर्फ शारीरिक सुख के लिए ही नहीं किया जाता, बल्कि कई रिसर्च इस बात को साबित करते हैं इसको करने से इंसान का शरीर स्वस्थ और कई बीमारियों से दूर रहता है । सेक्स, इंसान की खोजी हुई वो पहली दवा है जिसे हर दिन लेने से शरीर को फायदा होता है । आपको बताते हैं वो 4 कारण जिनकी वजह से खासकर पुरुषों को हर दिन सेक्स करना चाहिए ।

1. स्ट्रेस रिलीफ़ 
आयुर्वेद के अनुशार डॉ0 बी० के० कश्यप का कहना है की ये एक वैज्ञानिक तथ्य है कि सेक्स करने से स्ट्रेस यानी तनाव से मुक्ति मिलती है । इस प्रक्रिया के दौरान आपके शरीर में डोपामाइन नाम का एक पदार्थ बनता है जो स्ट्रेस हॉरमोन से लड़ता है । इसके अलावा इंडॉरफिन हॉरमोन और ऑक्सिटॉक्सिन भी शरीर में बनता है जो तनाव से शरीर को छुटकारा दिलाता है ।
2. एक्ससाईज़ का अच्छा तरीका
सेक्स एक शारीरिक क्रिया है । इंटरकोर्स के दौरान आपके शरीर में ठीक वैसे ही क्रियात्मक बदलाव होते हैं जैसा कि वर्कआउट या व्यायाम करते वक्त। लिहाजा आप थकते हैं और आपके शरीर की कैलोरी बर्न होती है । एक रिसर्च के मुताबिक अगर आप हफ्ते में 3 बार सेक्स करते हैं तो आप 1 साल में उतनी ही कैलोरी बर्न करते हैं जितनी 75 मील जॉगिंग करने से । सेक्स करने से शरीर की हड्डियां और मांसपेशियां भी मजबूत बनती हैं ।
3. प्रॉस्टेट की सुरक्षा 
सेक्स के दौरान जो भी द्रव शरीर से बाहर आता है वो ज्यादातर प्रॉस्टेट ग्रंथि से सिक्रीट होता है । ऐसे में अगर इजैक्यूलेशन की प्रक्रिया रुक जाती है, तो ये द्रव पदार्थ ग्रंथि में ही रह जाता है जिससे सूजन हो सकती है और कई तरह की समस्याएं भी । समय-समय पर इजैक्यूलेशन की प्रक्रिया होने से प्रॉस्टेट ग्रंथि की सुरक्षा होती है ।
4. दर्द से छुटकारा
"आज नहीं, आज मेरे सिर में दर्द है..." अब इस तरह के बहाने नहीं चलेंगे, क्योंकि सेक्स के दौरान स्त्री और पुरुष दोनों के शरीर में इंडॉरफिन नाम का हॉरमोन बनता है जो पेनकिलर का काम करता है। एक स्टडी के मुताबिक सेक्स खासकर ऑर्गेज़म के दौरान लोगों को दर्द महसूस नहीं होता । महिलाओं में तो सेक्स करने से फर्टिलिटी पावर भी बढ़ता है ।

1 person found this helpful

जानिये सेक् स के दौरान चरम सुख का आनंद कैसे पाती है महिलाएं?

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
जानिये सेक् स के दौरान चरम सुख का आनंद कैसे पाती है महिलाएं?

जानिये सेक्‍स के दौरान  चरम सुख का आनंद कैसे पाती है महिलाएं ?

सेक्स की चाहत सभी के मन में होती है । हर कोई चाहता है कि वह सेक्स का भरपूर आनंद उठाये । लेकिन सभी ने मन में इस दौरान तरह-तरफ के सवाल भी पैदा होते रहते है । बताना चाहेंगे कि यौन उत्‍तेजना का पहला अनुभव मस्तिष्‍क में होता है । उसके बाद सभी तंत्रिकाओं (नर्व्‍स) में खून तेजी से दौड़ने लगता है । सेक्स करने के दौरान अपने पार्टनर की जरूरतों का भी विशेष ध्यान रखें । जिससे आप परेशान नहीं रहेंगे ।

इन सब चीजों के बाद स्‍त्री का चेहरा तमतमा उठता है । कान, नाक, आंख, स्‍तन, भगोष्‍ठ व योनि की आंतरिक दीवारें फूल जाती हैं । इसके साथ ही स्त्री की योनि द्वार के अगल-बगल स्थित बारथोलिन ग्रंथियों से तरल पदार्थ निकल कर योनि पथ को चिकना बना देता है, जिससे पुरुष लिंग का गहराई तक प्रवेश आसान हो जाता है । 
कई बार देखा जाता है कि लोग सेक्स पोजीशन को भी लेकर परेशान रहते है। ऐसे लोगो को बताना चाहते है कि पोर्न देखकर कोई ऐसी पोजीशन अपने पार्टनर के साथ ना करें । जिससे बाद में आपको परेशानी होगी । क्योंकि यह जरुरी नहीं है कि आप सारी चीजे बेहतर तरीके से कर पाएं ।
कई डॉक्टर एक्सपर्ट्स का कहना है कि जब तक पुरुष का लिंग स्‍त्री योनि की गहराई तक प्रवेश नहीं करता, तब तक स्‍त्री को पूर्ण आनंद नहीं मिलता है । हालांकि उत्तेजित होने के कारण स्‍त्री के गर्भाशय ग्रीवा से कफ जैसा दूधिया गाढ़ा स्राव निकल आता है ।
बताना चाहेंगे कि संभोग काल में हर स्‍त्री की चरम तृप्ति एक समान नहीं होती है। हर स्‍त्री के आर्गेज्‍म अनुभव अलग होता है। साथ ही कोई स्‍त्री अनुभव करती है कि उसका गर्भाशय एक बार खुलता फिर बंद हो जाता है । इसमें कई स्त्रियों के मुंह से सिसकारी निकलने लगती है । 
यौन उत्‍तेजना के समय स्‍त्री की योनि के भीतर व गुदाद्वार के पास की पेशियां सिकुड़ जाती हैं। ये रुक-रुक कर फैलती और सिकुड़ती रहती है । यह इस बात का प्रमाण है कि स्‍त्री संभोग में पूरी तरह से संतुष्‍ट हो गई हैं। पुरुष अपने लिंग के ऊपर पेशियों के फैलने सिकुड़ने का अनुभव कर सकता है ।
-यह भी बताना चाहते है कि कुछ स्त्रियों में संपूर्ण योनि प्रदेश, गुदा से लेकर नाभि तक में सुरसुराहट की तरंग उठने लगती है । कई बार यह तरंग जांघों तक चली जाती है । उस समय स्‍त्री के चरम आनंद का ठिकाना नहीं रहता। अक्सर कई बार स्त्रियों को लगता है कि उनकी योनि के भीतर गुब्‍बारे फूट रहे हैं या फिर आतिशबाजी हो रही है। यह योनि के अंदर तीव्र हलचल का संकेत है, जो स्‍त्री को सुख से भर देता है । 
डॉक्टर्स यह भी कहते है कि वैंडर व फिशर के अनुसार, जिस वक्‍त संभोग में स्‍त्री को आर्गेज्‍म की प्राप्ति होती रहती है उस वक्‍त उसकी आंखें मूंद जाती है, कानों के अंदर झनझनाहट उठने लगती है साथ ही कई बार हल्‍की भूख का भी अहसास होता है । कई स्त्रियों को पेशाब लग जाता है ।
ज्ञात हो कि मर्दों के आर्गेज्‍म काल में उसके लिंग से वीर्य का स्राव होता है, जिसमें उसे आनंद की प्राप्ति होती है। हालांकि आर्गेज्‍म की अवस्‍था में महिला में ऐसा कोई स्राव होता है या नहीं, बहुत से स्त्रियों के गर्भाशय से कफ जैसा पदार्थ निकलता है और संपूण योनि पथ को गीला कर देता है। इस स्राव में चिपचिपाहट होती है । इन चीजों के अच्छे से ध्यान में रखिये और सेक्स का भरपुर आनंद उठाईये ।

6 people found this helpful

कंडोम के बिना और बिना कोई पिल्स खाए ही ऐसे करें सेफ सेक्स!

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
कंडोम के बिना और बिना कोई पिल्स खाए ही ऐसे करें सेफ सेक्स!

कंडोम के बिना और बिना कोई पिल्स खाए  ही ऐसे करें सेफ सेक्स !
सेक्स के दौरान कंडोम यूज़ करना पसंद नहीं लेकिन प्रेगनेंसी और बीमारी का खतरा सताता है तो इन तरीकों से जानें कंडोम के बिना आप सुरक्षित तरीके से कैसे कर सकते हैं सेक्स ।
1. कंडोम बिना सुरक्षित सेक्स
सेक्स के दौरान सामान्य तौर पर पुरुषों को कंडोम का प्रयोग करना पसंद नहीं होता। ऐसे में महिलाओं को सेक्स के बाद गर्भनिरोधक गोलियां लेनी पड़ती हैं जिसकी संख्या ज्यादा होने पर बहुत सारी स्वास्थ्य समस्याओं से महिलाओं को जूझना पड़ता है। ऐसे में महिलाएं पिल नहीं लेती हैं तो प्रेगनेंसी के डर से तनावग्रस्त रहती हैं। महिलाओं और पुरुषों की इन जरूरतों को समझते हुए हम आपके लिए लाए हैं कंडोम बिना सेफ सेक्स करने के ये बेस्ट तरीके । इन तरीकों से आप कंडोम के बिना सेक्स का आनंद ले भी पाएंगे और प्रेगनेंसी के डर से भी दूर रहेंगे। ये टिप्स उन लोगों के लिए अधिक फायदेमंद हैं जिन्हें कंडोम से एलर्जी है या जो लोग कंडोम का यूज करना पसंद नहीं करते । 
2. सेक्स के बीच में गैप
सेक्स के बीच में गैप रखकर आप प्रेगनेंसी से बच सकते हैं। इसके लिए केवल पुरुषों को ये करना है कि वे जब इंटरकोर्स के दौरान चरम पर हों तो स्पर्म वैजाइना में डिस्चार्ज करने के बजाय बाहर डिस्चार्ज करें। ये मुश्किल कंडीशन है लेकिन रेगुलर प्रैक्टिस कर आप इसे सीख सकते हैं और उसके बाद इससे आप सेक्स को बेहतर तरीके से एन्‍जॉय कर सकते हैं और इसके लिए आपको कंडोम की भी जरूरत नहीं होगी ।
3. ऐनल सेक्स
इस तरह के सेक्स में काफी दर्द होता है जिस कारण इसे काफी पेनफुल माना जाता है। लेकिन इसकी सबसे बड़ी खासियत है कि इसे बिना कंडोम के कर सकते हैं और इसमें प्रेगनेंसी का कोई खतरा नहीं होता। ये पुरुषों को बहुत पसंद है क्योंकि इसमें कंडोम का यूज़ नहीं होता है और स्पर्म भी डिस्चार्ज हो जाता है जबकि महिलाओं को इसलिए पसंद आता है क्योंकि इसमें प्रेगनेंसी का डर नहीं होता। ऐसे में अगर आपको या आपके पार्टनर को ऐनल सेक्स का क्रेज है तो आप इसे बेझिझक एन्जॉय कर सकते हैं ।

4. ड्राई सेक्स
सेक्स में जरूरी नहीं कि इंटरकोर्स हो। अगर आप भी ये सोचते हैं तो ड्राई सेक्स आपके लिए बेस्ट है। ड्राई सेक्स में लोग फिंगरिंग करके भी कई बार सेक्स का मजा लेते हैं। इसका मजा लोग अधिक इसलिए लेते हैं क्योंकि इसमें स्मूचिंग बहुत होती है और फिंगरिंग से सेक्स की इच्छा भी पूरी हो जाती है। तो बिना कंडोम यूज किए ड्राई सेक्‍स को करें एन्जॉय ।

3 people found this helpful

क्या आप जानते हैं कि सेक्स का शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Allahabad
क्या आप जानते हैं कि सेक्स का शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

क्या आप जानते हैं कि सेक्स का शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

सेक्स एक ऐसा विषय है जो हमारे जीवन के लिए बहुत अहम है और सेक्स का शरीर पर क्या प्रभाव पड़ता है इसके बारे में सही जानकारी होना हमारे लिए बेहद जरूरी है ।
1. सेक्स और शरीर ?
सेक्स ऐसा विषय है जिससे हर इंसान खुद को जुड़ा महसूस करता है। क्योंकि यह विषय हमारे देश में थोड़ा दबा हुआ व छुपाया जाने वाला है, इस कारण लोगों में इसकी सही जानकारी का अभाव है और वे इसके बारे में अधिक जानना चाहते हैं। इसी के चलते सेक्स को लेकर कई गलतफहमियां भी मौजूद हैं। लेकिन असल में तो सेक्स कई लिहाज से फायदेमंद है। वहीं इसके कुछ नुकसान भी हैं ।  कुल मिला कर सेक्स से हमारे शरीर और हेल्थ पर काफी असर पड़ता है । चलिए जानते हैं कि शरीर पर सेक्स का क्या प्रभाव पड़ता है ।
2. शादी के बाद सेक्स करते रहना सेहत के लिए लाभदायक होता है ?
खासतौर पर प्रतिबद्ध और अपने प्यारे साथी के साथ सुरक्षित सेक्स, चिकित्सा स्वास्थ्य लाभ युक्त होता है। यह एक व्यायाम की तरह लाभ प्रदान कर सकता है। ऐसे में बिस्तर एक अच्छी एक्ससाइज मशीन की तरह काम करता है और यौन गतिविधि 200 कैलोरी तक बर्न कर सकता है । सेक्स फिटनेस सुधारने में योगदान करता है ।
3. सेक्स शरीर में दर्द भी पैदा कर सकता है ? 
हां यह जानकारी शायद आपको अच्छी न लगे। लेकिन कभी कभी संभोग के दौरान शरीर दर्द का अनुभव करता है । दर्द के कई कारणों हो सकते हैं, जैसे योनि का सूखापन, एसटीडी, मूत्र मार्ग में संक्रमण, एन्डोमीट्रीओसिस व कुछ अन्य कारण । यदि सेक्स में दर्द अधिक हो तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें । रक्त स्राव या सेक्स के बाद दर्द योनि संक्रमण या किसी अन्य समस्या का परिणाम हो सकता है । सेक्स के दौरान पीठ के निचले हिस्से में दर्द भी हो सकता है ।
4. दिल के लिए फायदेमंद ?
भारतीयों में दिल की बीमारी काफी आम है । लेकिन शोध बताते हैं कि सेक्स से दिल की बीमारी से बचा जा सकता है । नियमित रूप से सेक्स करने वाले लोगों में दिल की बीमारी का खतरा कम हो जाता है । सेक्स से शरीर में कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा घटती है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है ।

5. मजबूत होता है इम्यून सिस्टम और बढ़ता है मेटोबॉलिजम ?
नियमित व सुरक्षित सेक्स करने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है । गौरतलब है कि कमजोर इम्यून सिस्टम होने से बीमारियों से पीड़ित होने का खतरा बढ़ जाता है । दरअसल इंटरकोर्स के दौरान शरीर से डीएचईए नामक हॉर्मोन निकलता है जो शरीर के इम्यून सिस्टम को बढ़ाता है । साथ ही सेक्स हार्ट रेट और सर्कुलेशन को बढ़ाता है। जो शरीर के मेटाबॉलिजम को बेहतर बनाता है ।

8 people found this helpful
View All Feed

Near By Clinics

  4.4  (589 ratings)

Smile Care Centre

Civil Lines, Allahabad, Allahabad
View Clinic
  4.6  (14 ratings)

Maa Homeo Chikitsa Kendra

Civil Lines, Allahabad, Allahabad
View Clinic

Srijanvatsalya Hospital

Civil Lines, Allahabad, Allahabad
View Clinic