Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime)

Prescription vs.OTC: चिकित्सक द्वारा परामर्श आवश्यक है
Last Updated: December 14, 2018

एक विरोधी जैविक दवा है जो कि दवाओं के वर्ग का हिस्सा है जिसे सेफलोस्पोरिन कहा जाता है। यह व्यापक स्पेक्ट्रम एंटीबायोटिक बैक्टीरिया की वजह से संक्रमण की एक विस्तृत विविधता के उपचार में उपयोगी है। इसका उपयोग तीव्र या क्रोनिक ब्रोन्काइटिस, टॉन्सिलिटिस,लाइम रोग , क्लैमाइडिया , गोनोरेहा , सिफलिस , निमोनिया, लेरिन्जिटिस , साइनसाइटिस और मूत्र पथ के संक्रमण जैसे स्थितियों के उपचार में किया जाता है। इस दवा का उपयोग गले, गर्भाशय ग्रीवा, श्रोणि, मूत्रमार्ग, त्वचा, मध्य कान और नाक बीतने के जीवाणु संक्रमण के इलाज के लिए भी किया जाता है।

 जीवित रहने के लिए जीवाणुओं के लिए शत्रुतापूर्ण वातावरण बनाकर काम करता है। यह बैक्टीरिया की कोशिका की दीवारों को नुकसान पहुंचाता है, बैक्टीरिया के विकास को रोकता है और इसलिए बैक्टीरिया संक्रमण को समाप्त करता है I 

एक दवा है, जो कैफलोस्पोरिन नामक एंटी जैविक परिवार का सदस्य है। यह संक्रमण का कारण बनने वाले बैक्टीरिया को नष्ट कर देता है। इसलिए इस व्यापक स्पेक्ट्रम विरोधी जैविक लाइम रोग, ब्रोंकाइटिस, गोनोरेहा, निमोनिया, टॉन्सिलिटिस, लेरिन्जिटिस, सर्विसाइटिस और साइनसाइटिस जैसी शर्तों के उपचार में उपयोगी है। यह मूत्र पथ, त्वचा, कान, नाक, गुर्दा, मूत्रमार्ग और गले के जीवाणु संक्रमण का इलाज करने के लिए भी प्रयोग किया जाता है।

 सेल की दीवारों के गठन की बैक्टीरिया की प्रक्रिया में हस्तक्षेप करता है बैक्टीरिया की कोशिका की दीवारें उनके अस्तित्व के लिए आवश्यक हैं। बैक्टीरियल सेल की दीवार कोशिकाओं की सामग्री को बाहर निकलने से बचाती है। इस एंटीबायोटिक क्षति के बंधन को एक टुकड़ा में सेल दीवार रखता है। इसलिए सेल दीवार में छेद दिखाए जाने के कारण, बैक्टीरिया को जीवित रहने के लिए असंभव बनाते हैं। इस तरह, बैक्टीरिया को नष्ट करने और बैक्टीरिया कोशिकाओं के प्रजनन को बाधित करके, एंटीबायोटिक बैक्टीरिया संक्रमण को समाप्त करने में प्रभावी हैI

इस एंटीबायोटिक को मौखिक रूप से एक गोली या एक तरल निलंबन के रूप में लिया जा सकता है। इस दवा पर खुराक संभव है। इसलिए, अपने चिकित्सक के निर्देशों का पालन करना और है लेने के लिए आवश्यक है। केवल नुस्खे के अनुसार 

क्लोस्ट्रिडियम डिफिसिले की वजह से जिगर विकार, किडनी की समस्याएं, हृदय की स्थिति, एलर्जी, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बीमारियों, फेनिलकेटोन्यूरिया और दस्त जैसे स्थितियों से पीड़ित होने पर दुष्प्रभावों का खतरा बढ़ जाता है। यह एंटीबायोटिक लेने से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं, स्तनपान करने वाली माताओं और बच्चों के लिए सलाह दी जाती है क्योंकि इन रोगियों के लिए नकारात्मक प्रतिक्रिया हो सकती है। इसलिए आपको की खुराक शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। यदि आपके पास उपर्युक्त शर्तों में से कोई भी है

 ले जा रहा है जबकि , आम साइड इफेक्ट होते हैं जो मरे हुए सिरदर्द , चक्कर आना, उल्टी , चकत्ते , बुखार, ठंड लगना, मांसपेशियों में दर्द और दस्त से उत्पन्न हो सकता है। यह दुष्प्रभाव कुछ दिनों के भीतर खुद को हल कर सकते हैं। इसलिए, यह चिंता का एक प्रमुख कारण नहीं है। कुछ प्रमुख दुष्प्रभाव जो हो सकते हैं गंभीर पेट दर्द, मूड बदलना, थकान, आंखों या त्वचा, खमीर संक्रमण, आंत्र की सूजन, खूनी दस्त और गहरे मूत्र के कारण होता है। जैसे ही आप इन दुष्प्रभावों में से किसी एक का पता लगाएंगे आपको चिकित्सकीय सहायता के लिए कॉल करना चाहिए। लेने से एलर्जी की प्रतिक्रिया हो सकती है। इस विरोधी जैविक के लिए एक एलर्जी का परिणाम होगा जैसे कि अंगूठियां, दंश, जीभ, गले, चेहरे, हाथ या पैर, खुजली और सांस लेने में कठिनाई जैसी सूजन आदि हो सकती है। यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो आपको इस दवा का उपयोग बंद करना चाहिए और एक चिकित्सा स्वास्थ्य पेशेवर से तुरंत संपर्क करना चाहिए।

यहां दी गई जानकारी साल्ट (सामग्री) पर आधारित है. इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स एक से दूसरे व्यक्ति पर भिन्न हो सकते है. दवा का इस्तेमाल करने से पहले Internal Medicine Specialist से परामर्श जरूर लेना चाहिए.
  • सिस्टाइटिस (Cystitis)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) सिस्टिटिस के उपचार में प्रयोग किया जाता है जो ई-कोलाई, स्यूडोमोनस एरुगिनोसा, एन्ट्रोकोकी और क्लेबसीला न्यूमोनिया के कारण होने वाला मूत्राशय संक्रमण है।
  • पाइलोनेफ्रिटिस (Pyelonephritis)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) पाइलोनफ्राइटिस के उपचार में उपयोग किया जाता है जो कि ईकोलाई, स्यूडोमोनस एरुगिनोसा, एन्ट्रोकोकी और क्लेबसिला न्यूमोनिया के कारण गुर्दा की एक प्रकार का संक्रमण है।
  • नोंगोनोकोकल यूरेटिस (Nongonococcal Urethritis)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) नोंगोनोकॉक्सेल उदरशोथ के उपचार में प्रयोग किया जाता है जो ईकोलाई , स्यूडोमोनस एरुगिनोसा और क्लेबिसिला के कारण मूत्रमार्ग की सूजन हो सकती है।
  • त्वचा और संरचना संक्रमण (Skin And Structure Infection)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) त्वचा और संरचना के उपचार में सेल्युलाइटिस, जख्म संक्रमण और स्टाटेप्टोकोकस पायरेनीज और स्टेफिलोकोकस ऑरियस की वजह से त्वचीय फोड़ा के उपचार में प्रयोग किया जाता है।
  • निमोनिया (Pneumonia)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) सामुदायिक निकाय निमोनिया के उपचार में प्रयोग किया जाता है जो स्ट्रैपटोकोकस न्यूमोनिया और हैमोफिलस इन्फ्लूएंजा की वजह से फेफड़ों में संक्रमण का सबसे सामान्य प्रकार है।
  • ब्रोंकाइटिस (Bronchitis)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) ब्रोंकाइटिस के उपचार में प्रयोग किया जाता है जो स्ट्रैपटोकोकस निमोनिया, हेमोफिलस इन्फ्लूएंजा और कुछ मायकोप्लाज्मा न्यूमोनिया की वजह से फेफड़ों में सूजन होती है।
  • साँस लेना एन्थ्रेक्स (Inhalation Anthrax)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) एंथ्रेक्स के उपचार में उपयोग किया जाता है जो कि बैसिलस एंथ्रेसीस की वजह से एक दुर्लभ लेकिन गंभीर बैक्टीरियल बीमारी है।
  • प्लेग (Plague)

    सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) प्लेग के उपचार में प्रयोग किया जाता है जो कि येर्सिनिया पेस्टिस की वजह से एक गंभीर जीवाणु बीमारी है।
  • एलर्जी (Allergy)

    अगर आपको सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) या किसी अन्य फ्लोरोक्विनॉलोन से ज्ञात एलर्जी है तो दवा ना लेंI
  • टेडिनाइटिस या टेंडन टूटना (Tendinitis Or Tendon Rupture)

    यदि सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime)का उपयोग करने के बाद आपको टेंडिनिटिस या कण्डरा टूटना का पिछले इतिहास है, तो इसके सेवन बचना चाहिएI
  • मायस्थीनिया ग्रेविस (Myasthenia Gravis)

    अगर आपके पास मायसथेनिया ग्रेविस का इतिहास है या मायसथेनिया ग्रेविज़ का परिवार इतिहास है तो दवा ना लें।
  • इस दवा का प्रभाव कितनी अवधि तक रहता है?

    प्रभाव 24 से 32 घंटे की अवधि के लिए रहता है।
  • इसका असर कब शुरू होता है?

    खुराक के प्रशासन के 1 से 2 घंटे के भीतर इस दवा का चोटी प्रभाव देखा जा सकता है।
  • क्या कोई गर्भावस्था की चेतावनी और सावधानियां है?

    इस दवा को आम तौर पर गर्भवती महिलाओं के लिए अनुशंसित नहीं किया जाता है और इसका इस्तेमाल केवल डॉक्टर की देखरेख में स्पष्ट रूप से किया जाना चाहिए।
  • क्या इसकी आदत पड़ जाती है?

    कोई आदत बनाने की प्रवृत्ति की सूचना नहीं मिली है।
  • क्या कोई स्तनपान चेतावनी होती है?

    यह दवा स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए अनुशंसित नहीं है क्योंकि यह शिशु के जोड़ों के विकास को प्रभावित करती है। केवल डॉक्टर की देखरेख में स्पष्ट रूप से आवश्यक होने पर इसका उपयोग करेंI दस्त की तरह अवांछित प्रभावों जैसे डायपर दाने की निगरानी करना आवश्यक है।
  • दवा की डोज़ भूल जाने पर क्या करें?

    मिस्ड खुराक को जल्द से जल्द लिया जाना चाहिए। छूटी दवा की मात्रा को छोड़ने के लिए सलाह दी जाती है अगर यह आपके अगले अनुसूचित खुराक लेनेका समय हो गया होI
  • अधिक मात्रा में डोज़ लेने पर क्या करें?

    अधिक मात्रा के मामले में आपातकालीन चिकित्सा उपचार लें या डॉक्टर से संपर्क करें।
  • India

  • United States

  • Japan

नीचे दी गई दवाओं की सूची में सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) घटक के रूप में शामिल हैं

View More

सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) दूसरी पीढ़ी के सेफलोस्पोरिन से संबंधित है। यह जीवाणु कोशिका दीवार संश्लेषण को पेनिसिलिन बाध्यकारी प्रोटीन से बाध्य करके जीवाणुनाशक के रूप में काम करता है, जो बैक्टीरिया के विकास करने और बढ़ने से रोकता है।

जब भी आप एक से अधिक दवा लेते हैं या इसे किसी अन्य खाद्य या पेय पदार्थों के साथ मिलाने पर इंटरैक्शन होने का खतरा रहता हैं।

  • रोग के साथ इंटरैक्शन

    सेंट्रल नर्वस सिस्टम डिप्रेशन (Central Nervous System Depression)

    यदि आप सीएनएस विकार से पीड़ित हैं और {लेवोफ्लॉक्सासिन} या अन्य फ्लोरोक्विनॉलोन का प्रयोग करते हैं, तो आपको झटके , बेचैनी, चिंता, भ्रम, भ्रम का अनुभव हो सकता है। कॉफी, चॉकलेट और ऊर्जा पेय जैसे कैफीन युक्त उत्पादों का उपयोग करने से बचें।

    कोलाइटिस (Colitis)

    यदि आप गंभीर दस्त, पेट में दर्द, और मल में खूननिर्जलीकरण को रोकने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरुरी हैI

    क्युटी प्रोलोंगेशन (Qt Prolongation)

    अगर आपको किसी छाती की असुविधा महसूस होती है तो सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) का प्रयोग करने से बचेंI यदि आपके पास हृदय रोग (अतालता) या पारिवारिक इतिहास है, तो नियमित हृदय क्रिया परीक्षण किया जा सकता हैI
  • शराब के साथ इंटरैक्शन

    Alcohol

    शराब के साथ इंटरेक्शन अज्ञात है। खपत से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना उचित है।
  • लैब टेस्ट के साथ इंटरैक्शन

    Lab

    जानकारी उपलब्ध नहीं है।
  • भोजन के साथ इंटरैक्शन

    Food

    जानकारी उपलब्ध नहीं है।
  • दवाओं के साथ इंटरैक्शन

    कॉर्टिकॉस्टेरॉइड्स (Corticosteroids)

    यदि ये दवाएं एक साथ उपयोग की जाती हैं तो आपको टखने, कंधे, हाथ या दर्द , सूजन का अनुभव हो सकता हैI यह तकलीफ बुजुर्ग जनसंख्या में होने की संभावना है जिनका गुर्दा या हृदय प्रत्यारोपण हुआ हो। दवा का प्रतिस्थापन चिकित्सक की देखरेख के तहत किया जाना चाहिए।

    ऐसकीटालोप्राम (Escitalopram)

    अगर आप ये दवाएं एक साथ उपयोग करते हैं तो आपको चक्कर आना, हल्कापन, सांस की तकलीफ या दिल का दौरा पड़ सकता है। यदि आपकी कोई हृदय रोग (अतालता) या अतालता का पारिवारिक इतिहास है तो यह बातचीत होने की अधिक संभावना है। चिकित्सकीय पर्यवेक्षण के तहत उचित खुराक समायोजन या दवा के प्रतिस्थापन को बनाया जाना चाहिए।

    क्विनीडाइन (Quinidine)

    यदि ये दवाएं एक साथ उपयोग की जाती हैं तो आपको चक्कर आना, हल्कापन, और हृदय की धड़कन का अनुभव हो सकता है। यदि आपके पास हृदय रोग (अतालता) या अतालता का पारिवारिक इतिहास है, तो नियमित हृदय क्रिया परीक्षण किया जाता है। चिकित्सकीय पर्यवेक्षण के तहत उचित खुराक समायोजन या दवा के प्रतिस्थापन को बनाया जाना चाहिए।

    एंटिडाइबेटिक ड्रग्स (Antidiabetic drugs)

    यदि ये दवाएं एक साथ उपयोग की जाती हैं तो आपको चक्कर आना, सिरदर्द, घबराहट, भ्रम, कंपन और कमजोरी जैसे हाइपोग्लाइसेमिक प्रभाव का अनुभव हो सकता हैI बढ़ी हुई प्यास , पेशाब और भूख जैसे हाइपरग्लिसैमिक प्रभाव कम होने की संभावना है। यदि आपको मधुमेह या कोई भी गुर्दा की बीमारी है है तो नियमित रक्त शर्करा की जांच करनी चाहिए। चिकित्सकीय पर्यवेक्षण के तहत उचित खुराक समायोजन या दवा के प्रतिस्थापन को बनाया जाना चाहिए।

    एस्पिरिन (Aspirin)

    यदि यह दवाइयां एक साथ उपयोग की जाती हैं तो आप झटके, अनैच्छिक मांसपेशियों की गति, मतिभ्रम या मिर्गी का अनुभव हो सकता हैI यह बातचीत अधिक होने की संभावना है यदि आपके पास मिर्गी का इतिहास या मिर्गी का पारिवारिक इतिहास है तो चिकित्सकीय पर्यवेक्षण के तहत उचित खुराक समायोजन या दवा के प्रतिस्थापन को बनाया जाना चाहिए।

    एथीनील ऐस्ट्राडिओल (Ethinyl Estradiol)

    गर्भनिरोधक गोलियों का वांछित प्रभाव तब प्राप्त नहीं किया जाएगा, जब यह दवाएं एक साथ उपयोग की जाती हों। डॉक्टर के पर्यवेक्षण के तहत उचित खुराक समायोजन या दवा के प्रतिस्थापन को बनाया जाना चाहिए।
Disclaimer: The information produced here is best of our knowledge and experience and we have tried our best to make it as accurate and up-to-date as possible, but we would like to request that it should not be treated as a substitute for professional advice, diagnosis or treatment.

Lybrate is a medium to provide our audience with the common information on medicines and does not guarantee its accuracy or exhaustiveness. Even if there is no mention of a warning for any drug or combination, it never means that we are claiming that the drug or combination is safe for consumption without any proper consultation with an expert.

Lybrate does not take responsibility for any aspect of medicines or treatments. If you have any doubts about your medication, we strongly recommend you to see a doctor immediately.

लोकप्रिय प्रश्न और उत्तर

लोकप्रिय स्वास्थ्य टिप्स

विषय सूची
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) के बारे में
इस दवा की सलाह कब दी जाती है?
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) के विपरित संकेत क्या हो सकते है?
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) की मुख्य विशेषताएं क्या है?
खुराक के निर्देश क्या हैं?
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) कहां - कहां स्वीकृत है?
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) युक्त दवाएं
यह दवा कैसे काम करती है?
सेफुरॉक्सिम (Cefuroxime) के इंटरैक्शन क्या है?