Lybrate Logo
Get the App
For Doctors
Login/Sign-up
Last Updated: Mar 12, 2022
BookMark
Report

डायबिटीज के लिए ग्रीन टी - Green Tea for Diabetes in Hindi

Profile Image
Dr. Sanjeev Kumar SinghAyurvedic Doctor • 15 Years Exp.BAMS
Topic Image

ग्रीन टी (Green Tea) के कई स्वास्थ्य लाभ हैं जो बहुत से लोगों को नहीं पता हैं और उनमें से एक यह है कि ग्रीन टी मधुमेह (डायबिटीज) वाले लोगों के लिए भी अच्छी होती है।

ग्रीन टी पीना डायबिटीज से पीड़ित व्यक्तियों के लिए एक अच्छा विचार है क्योंकि यह ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है। कई सकारात्मक परिणाम हैं कि अगर मधुमेह वाले लोग ग्रीन टी पीते हैं तो वे लंबे समय तक स्वस्थ रह सकते हैं।

डायबिटीज के लिए ग्रीन टी के फायदे: Green Tea Benefits For Diabetes in Hindi

टाइप -1 और टाइप -2 डायबिटीज वाले लोगों के लिए ग्रीन टी फायदेमंद होता है। जो लोग मधुमेह से पीड़ित होते हैं, वे अपनी दिनचर्या में ग्रीन टी शामिल कर सकते हैं, लेकिन ऐसा क्यों करें, नीचे दिए गए है:

  • ग्रीन टी कैटेचिन (एंटी-ऑक्सीडेंट) की मदद से शरीर में इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करती है। कैटेचिन कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण को कम करते हैं जिससे इंसुलिन का स्तर बना रहता है।
  • ग्रीन टी जीरो-कैलोरी पेय में से एक है और डायबिटीज वाले लोगों के लिए उपयोगी होता है क्योंकि यह ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रण में रखता है।
  • ग्रीन टी तनाव और एंजायटी को कम करती है जो डायबिटीज वाले लोगों के लिए हानिकारक होता है। इसमें एमिनो-एसिड एल-थीनिन होता है जो दिमाग पर शांत प्रभाव प्रदान करता है, इस प्रकार तनाव और एंजायटी को कम करता है।
  • ग्रीन टी पाचन तंत्र को मजबूत रखने में मदद करती है और एक अच्छा पाचन तंत्र ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित रखता है। इस प्रकार ग्रीन टी मधुमेह रोगियों के लिए अच्छी होती है।

डायबिटीज के लिए सबसे अच्छा ग्रीन टी- Best Green Tea for Diabetes in Hindi

अन्य सभी ग्रीन टी में, फनमत्सुचा और निबांचा(Funmatsucha and Nibancha) सबसे अच्छी ग्रीन टी है जिसका सेवन मधुमेह से पीड़ित लोग कर सकते हैं। फ़नमाटसुचा और निबांचा सबसे अच्छे हैं क्योंकि वे देर से कटाई के कारण अधिक समय तक धूप में रहते हैं। जिसके कारण इन विशिष्ट पौधों में बड़ी मात्रा में कैटेचिन का उत्पादन होता है और कैटेचिन डायबिटीज को रोकने के लिए जिम्मेदार होते हैं।

डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए आपको कितनी ग्रीन टी पीनी चाहिए?

अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं तो बहुत अधिक कैफीन का सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। हालांकि ग्रीन टी में कैफीन की कम मात्रा मौजूद होती है, फिर भी इसे दिन में 1-2 बार से अधिक नहीं लेना चाहिए क्योंकि कैफीन डायबिटीज रोगियों के लिए अच्छा नहीं होता है क्योंकि यह ब्लड शुगर के स्तर और ब्लड प्रेसर पर प्रभाव डालता है। यदि आपको ग्रीन टी के बारे में कोई संदेह है तो आप अपने हेल्थ एक्सपर्ट से परामर्श कर सकते हैं।

डायबिटीज के लिए ग्रीन टी रेसिपी - Green Tea Recipes For Diabetes in Hindi

डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए यहां कुछ ग्रीन टी रेसिपी दी गई हैं:

  1. मिंट-ग्रीन टी कूलर

    यह गर्मियों के दौरान एक ताज़ा पेय होता है, जो लोगों को हाइड्रेटेड होने में मदद करता है और बनाने में आसान होता है:

    सामग्री:

    • 2 ग्रीन टी बैग्स
    • 4 अदरक के टुकड़े
    • 6-7 बड़े मिंट के पत्ते
    • 2 कप पानी
    • 1 कप बर्फ

    कैसे बनाना है:

    • एक कप उबलते पानी में ग्रीन टी बैग, मिंट की पत्तियां, अदरक को डालें।
    • इसे 2-4 मिनट तक ऐसे ही रखें।
    • उसके बाद टी बैग्स, अदरक, और मिंट की पत्तियों को हटा दें।
    • चाय को सामान्य या कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें।
    • क्रश्ड बर्फ एक कप डालें और पुदीने की पत्तियों के साथ गार्निश करें।
  2. नींबू ग्रीन टी/ लेमन ग्रीन टी

    लेमन ग्रीन टी एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होती है और वजन और मधुमेह को नियंत्रित करने में भी मदद करती है।

    सामग्री:

    • 1 टीस्पून ग्रीन टी
    • 1 टीस्पून नींबू का रस
    • 1 टीस्पून अदरक के रस
    • 1 कप पानी

    कैसे बनाना है:

    ग्रीन टी के साथ एक कप पानी उबालें और इसे कुछ देर तक रहने दें, जिससे चाय पानी में डूबी रहे। जब प्रक्रिया पूरी हो जाती है, तो चाय को छोड़ दें और अदरक जूस और लाईम जूस का एक बड़ा चमचा जोड़ें। सर्व हॉट.

जेस्टेशनल डायबिटीज के लिए ग्रीन टी - Green Tea for Gestational Diabetes in Hindi

जेस्टेशनल डायबिटीज हाई ब्लड शुगर होता है जो आमतौर पर गर्भावस्था के समय मां और बच्चे को होता है। यह जन्म देने के बाद गायब हो जाता है। ग्रीन टी की मदद से जेस्टेशनल डायबिटीज को ठीक किया जा सकता है क्योंकि ग्रीन टी में ईसीजीसी होता है। यह ईसीजीसी यौगिक माताओं और शिशुओं में मधुमेह के परिणाम को बेहतर बनाने में मदद करता है।

ज्यादातर महिलाएं तीसरी तिमाही के दौरान जेस्टेशनल डायबिटीज से पीड़ित होती हैं और गर्भावस्था के समय महिलाएं ग्रीन टी का सेवन कर सकती हैं। इसलिए जेस्टेशनल डायबिटीज से पीड़ित महिलाओं के लिए ग्रीन टी उपयोगी होता है।

ग्रीन टी पीने से इंसुलिन का स्तर काफी कम हो जाता है और गर्भावस्था के समय गर्भवती महिलाओं में पाचन में भी सुधार होता है।

इस तरह से डायबिटीज से पीड़ित लोगों द्वारा ग्रीन टी का सेवन किया जा सकता है क्योंकि ग्रीन टी पीने से फायदे होते हैं। यदि आपको कोई संदेह है या आप ग्रीन टी का सेवन करने के बाद किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या का सामना करते हैं तो आप अपने हेल्थ एक्सपर्ट से परामर्श कर सकते हैं।

यदि आपके पास कोई चिंता या प्रश्न है, तो आप हमेशा किसी विशेषज्ञ से परामर्श कर सकते हैं और अपने प्रश्नों के उत्तर प्राप्त कर सकते हैं!

chat_icon

Ask a free question

Get FREE multiple opinions from Doctors

posted anonymously
doctor

View fees, clinc timings and reviews
doctor

Treatment Enquiry

Get treatment cost, find best hospital/clinics and know other details