Buy Saffola Fittify meal-soup to help you manage weight effectively.
Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Healthy Diet Chart For High Uric Acid Patients In Hindi - उच्च यूरिक एसिड रोगियों के लिए स्वस्थ आहार चार्ट

Written and reviewed by
Dr. Sanjeev Kumar Singh 91% (193 ratings)
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri  •  10 years experience
Healthy Diet Chart For High Uric Acid Patients In Hindi - उच्च यूरिक एसिड रोगियों के लिए स्वस्थ आहार चार्ट

यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाने से कई समस्याएँ होने लगती है. उच्च यूरिक एसिड होने से हमारे शरीर के बहुत से अंग प्रभावित होते हैं. उच्च यूरिक एसिड के कारण पैरों के अंगूठे, टखने. घुटने, जोड़ों और एड़ी भी प्रभावित हो सकते हैं. उच्च यूरिक एसिड के गुणों और लक्षणों के आधार पर कहा जा सकता है कि यह बीमारी अर्थराइटिस का ही एक रूप है. क्योंकि इसमें भी जोड़ों और अन्य स्थानों पर उसी तरह की सूजन होता है जैसा कि अर्थराइटिस में होता है. आमतौर पर लंबे समय तक भोजन न करने, डीहाइड्रेशन, तनाव, कसरत न करना, शराब का सेवन बहुत ज्यादा करना आदि के कारण उच्च यूरिक एसिड की समस्या हो सकती है. इसके अलावा जंक फूड और जीवन शैली में बदलाव भी इसके कारण हो सकते हैं. आइए उच्च यूरिक एसिड से पीड़ित मरीजों के लिए आवश्यक आहार चार्ट का अध्ययन करें.

कोल्ड प्रेस्ड जैतून का तेल
खाना पकाने के लिए आम तौर पर लोग सरसों के तेल का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन यदि उच्च यूरिक एसिड की समस्या है तो खाना पकाने के लिए सरसों के तेल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए बल्कि कोल्ड प्रेस जैतून के तेल का इस्तेमाल करना चाहिए. इससे उच्च यूरिक एसिड की समस्या कम होगी.

विटामिन सी
उच्च यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित व्यक्ति को अपने दैनिक आहार में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा से ज्यादा लेनी चाहिए. इससे काफी फायदा पहुंचता है. विटामिन सी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट उच्च यूरिक एसिड में उपयोगी साबित होते हैं.

अजवाइन के बीज का अर्क
उच्च यूरिक एसिड की समस्या से ग्रसित व्यक्ति को अपना दर्द कम करने के लिए अजवाइन के बीज के अर्क का सेवन करना चाहिए. अजवाइन में दर्द को कम करने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स में डाइयुरेटिक्स का गुण पाया जाता है. इसके अलावा यह एंटीसेप्टिक भी होता है. कई बार तो इसका इस्तेमाल नींद ना आने, नर्वस ब्रेकडाउन या व्यग्रता जैसी समस्याओं के उपचार में भी किया जाता है.

एंटीआक्सीडेंट युक्त भोजन
उच्च यूरिक एसिड रोगियों को एंटीऑक्सीडेंट युक्त भोजन करना करना चाहिए, इससे काफी मदद मिलता है. इसके लिए टमाटर, अंगूर, ब्लूबेरी, लाल शिमला मिर्च आदि का सेवन किया जा सकता है. इनमें एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन सी की भरपूर मात्रा मौजूद रहती है. एंटीऑक्सीडेंट्स मुक्त अणुओं को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है. इसके अलावा इससे यूरिक एसिड के स्तर में भी कमी आती है.

सेब का सिरका
उच्च यूरिक एसिड की समस्या में सेब के सिरके भी सहायक है. सेब का सिरका हमारे शरीर में रक्त का PH मान को बढ़ाकर उच्च यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है. पर यह ध्यान रखना चाहिए कि सिरका बनाते समय सेब कच्चा बिना पाश्चुरीकृत होना चाहिए और सिरका बिना पानी मिला हुआ होना चाहिए

बेकरी के उत्पाद से बचना चाहिए
जो व्यक्ति उच्च यूरिक एसिड से ग्रसित हैं उन लोगों को बेकरी उत्पादों का सेवन नहीं करना चाहिए. क्योंकि बेकरी के उत्पाद में अनसैचुरेटेड फैट की मात्रा अधिक होती है. इनके सेवन से यूरिक एसिड के स्तर में और भी वृद्धि होने का खतरा रहता है. इसलिए इसके सेवन से बचना चाहिए.

एल्‍कोहल से दूर रहना चाहिए
अल्कोहल के सेवन से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है. जिससे अटैक भी आ सकता है. इसलिए उच्च यूरिक एसिड वाले मरीज को अल्कोहल से दूर ही रहना चाहिए व व किसी भी तरह का शराब या अल्कोहल नहीं पीना चाहिए.

डिब्‍बा बंद भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए
डिब्बा बंद वाले भोजन में यूरिक एसिड को बढ़ाने वाले तत्व पाये जाते हैं. इसलिए इसके सेवन से यूरिक एसिड के स्तर में और भी वृद्धि होती है. इसलिए उच्च यूरिक एसिड वाले मरीज को डिब्बा बंद वाले भोजन एकदम ही नहीं खाना चाहिए.

मछली और मीट से भी परहेज करना चाहिए
मीट और मछली के सेवन से भी यूरिक एसिड के स्तर के बढ़ने की संभावना होती है. इसलिए उच्च यूरिक एसिड की समस्या वाले व्यक्ति को मछली और मीट का सेवन नहीं करना चाहिए. कुछ विशेष प्रकार की मछलियाँ तो एकदम ही नहीं खानी चाहिए.

20 people found this helpful