Get help from best doctors, anonymously
Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Swollen Gums Treatment in Hindi - मसूड़ों की सूजन से राहत पाने के प्राकृतिक उपचार

Written and reviewed by
Dr. Sanjeev Kumar Singh 92% (193 ratings)
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurvedic Doctor, Lakhimpur Kheri  •  10 years experience
Swollen Gums Treatment in Hindi - मसूड़ों की सूजन से राहत पाने के प्राकृतिक उपचार

अक्सर देखा जाता है कि कई लोगों के मसूड़ों में सूजन आ जाता है. लेकिन इस बीमारी की शुरुआत को जिंजिवाइटिस के नाम से जाना जाता है. जिंजिवाइटिस के दौरान मसूड़ों में सूजन आ जाती है और उनसे खून बहने लगता है. यहाँ तक कि ये खून ब्रश या फ्लॉस करते समय कभी-कभी अपने-आप ही निकल पड़ता है. इकई बार ऐसा भी होता है कि मसूड़ों पर चोट लगने या अधिक गर्म पदार्थ व सख्त चीज़ें खाने से मसूड़ों पर पड़ने वाले दबाव के कारण भी मसूड़ों में सूजन उत्पन्न हो जाती है. इससे आपके मसूड़े ढीले-ढाले पड़ जातें हैं जिससे दांतों का काफी नुकसान हो सकता है. यदि समय पर इसका इलाज नहीं किया जाए तो दांत हिलकर गिरने लगते हैं. और फिर इसके कारण हम अपना मन पसंद खाना भी नहीं खा पाते हैं. इसलिए आइए मसूड़ों की सूजन से राहत पाने के प्राकृतिक उपचार के लिए कुछ उपायों को जानें.

मसूड़ों की सूजन का कारण

  • जिंजिवीटीज – जिंजिवीटीज के कारण भी कई बार हमारे मसूड़ों में सूजन आने लगती है. जिसका मुख्य कारण जिंजिवीटीज होता है. जबभी हमारे मसूड़ों में सूजन होता इसके उपरांत हमें अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है. कभी-कभी यह समस्या इतनी विकराल हो जाती है कि हमारे दांत भी गिरने लगते हैं.
  • पोषक तत्वों की कमी – हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी की वजह से कई तरह की परेशानियाँ उत्पन्न होने लगे हैं. इसकी वजह से कई बार हमारे मसूड़ों में सूजन आने लगती है जिसके द्वारा व्यक्ति को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ता है.
  • संक्रमण – मसूड़ों में होने वाले सूजन का एक कारण मुंह में होने वाल संक्रमण भी हो सकता है. इस संक्रमण  के कारण हमारे मसूड़ों में सूजन के साथ-साथ दर्द भी होने लगता है.

मसूड़ों के सूजन को दूर करने के उपाय

  • बबूल की छाल – यदि आप मसूड़ों में होने वाले सूजन से बचना चाहते हैं तो आपको भी बबूल की छाल के उपयोग करना चाहिए. इससे मसूड़ों के सूजन को आसानी से समाप्त किया जा सकता है. इसके लिए बबूल की छाल के काढ़े से कुल्‍ला करें. इससे आपके मसूड़ों की सूजन कम होने लगेगती है.
  • अरंडी का तेल और कपूर – यदि आप अरंडी के तेल में थोड़ी मात्रा में कपूर मिला कर प्रतिदिन सुबह तथा शाम मसूड़ों की मालिश करें तो ऐसा करके भी मसूड़ों की सूजन कम होने लगती है.
  • अजवायन – अजवायन का उपयोग भी मसूड़ों की सूजन को दूर करने के लिए एक अच्छा विकल्प है. इसके लिए अजवायन को तवे पर भून कर पीसने के बाद इसमें 2-3 बूंद राई का तेल मिला कर हल्‍का-हल्‍का मसूड़ों पर मलें.  ऐसा करने से मसूड़ों को आराम मिलता है साथ ही दांतों के अन्य रोग भी दूर किए जा सकते हैं.
  • अदरक और नमक – मसूड़ों से सम्बंधित समस्याओं को दुर करने के लिए थोड़े से अदरख में थोड़ा नमक मिलकर इसे अच्छे से पीस कर मिला लें. अब इस मिश्रण से धीरे-धीरे मसूड़ों को मले. इससे मसूड़ों की सूजन कम होने लगेगी.
  • नींबू का रस - नींबू के रस को ताजे पानी में नींबू में डाल लें. इसके बाद बाद इस पानी से कुल्‍ला करें. कुछ दिन इसका प्रयोग करें इससे मसूड़ों की सूजन दूर होने के साथ-साथ मुंह की दुर्गन्ध भी दूर होने लगती है.
  • प्याज - प्याज मसूड़ों की सूजन को दूर करने का अच्छा उपाय है. इसके सेवन के लिए प्याज में नमक मिलाकर खाने से एवं प्याज को पीसकर मसूड़ों पर दिन में करीब तीन बार मलने से मसूड़ों की सूजन ख़त्म हो जाती है तथा मसूड़े स्वस्थ बने रहते हैं.
  • फिटकरी - फिटकरी का प्रयोग भी मसूड़ों की सूजन को दूर करने का अच्छा उपाय है. इसके लिए फिटकरी के चूर्ण को मसूड़ों पर मले इससे मसूड़ों की सूजन को कम किया जा सकता है.
     

16 people found this helpful