Maintain a healthier lifestyle!
Explore Natural Products recommended by Top Health Experts.
Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Bone Cancer In Hindi - बोन कैंसर के लक्षण

Written and reviewed by
Dr. Sanjeev Kumar Singh 90% (193 ratings)
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurvedic Doctor, Lakhimpur Kheri  •  11 years experience
Bone Cancer In Hindi - बोन कैंसर के लक्षण

हड्डी का कैंसर, हड्डी की एक घातक ट्यूमर का वर्णन करता है जो स्वस्थ हड्डियों के ऊतकों को नष्ट कर देता है. सभी हड्डी की ट्यूमर कैंसर रहित नहीं होते हैं. गैर-घातक ट्यूमर, इनमे सबसे आम प्रकार है. हड्डी का कैंसर दो वर्गों में विभाजित है: प्राथमिक और माध्यमिक हड्डियों के कैंसर. प्राथमिक हड्डी का कैंसर हड्डी की कोशिकाओं में शुरू होता है. और माध्यमिक हड्डी का कैंसर कहीं से भी शुरू हो सकता है और फिर सारे हड्डियों में फैल जाता है. प्राथमिक हड्डी का ट्यूमर हड्डी में ही शुरू होता है. प्राथमिक अस्थि के कैंसर को सारकोमा कहा जाता है. सोरकोमा कैंसर वो होते हैं जो हड्डी, मांसपेशी, रेशेदार ऊतक, रक्त वाहिकाओं, वसा ऊतकों, साथ ही कुछ अन्य ऊतकों में शुरू होते हैं. यह शरीर में कहीं भी विकसित हो सकते हैं. अधिकांश हड्डी के कैंसर को सारकोमा कहा जाता है.
 

कैसे पता लगाया जाता है?
ज्यादातर समय जब किसी व्यक्ति को कैंसर होता है तो उससे कहा जाता है कि उनके हड्डियों में कैंसर है, लेकिन जब डॉक्टर ऐसे कैंसर के बारे में बात करते है, जो कहीं और से शुरू होके आपके हड्डियों में फैलता है, जिसे माध्यमिक कैंसर या मेटास्टाटिक कैंसर कहा जाता है. यह कई विभिन्न प्रकार के उन्नत कैंसर में देखा जा सकता है, जैसे स्तन कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर, और फेफड़ो के कैंसर. जब हड्डी के ये कैंसर माइक्रोस्कोप के नीचे देखे जाते हैं, तो वे उन ऊतकों की तरह लगते हैं जिस अंग से वो आए थे. उदाहरण के लिए, यदि किसी व्यक्ति को फेफड़ो का कैंसर है जो हड्डी में फैल गया है, तो हड्डी में कैंसर की कोशिकाएं तभी फेफड़ो के कैंसर की कोशिकाएं की तरह ही दिखती और काम करती हैं. और ना ही वो हड्डियों के कैंसर कोशिकाओं की तरह दिखती और काम करती हैं जबकि वो आपके हड्डियों में ही क्यों न हो. हालाँकि ऐसे कैंसर कोशिकाएं तभी लंग कैंसर कोशिकाओं की तरह काम करती हैं. इसलिए इसके उपचार में भी लंग कैंसर के ही दवाइयों की सुझाव दी जाती हैं. इनके लक्षण अक्सर कैंसर के अलावा अन्य स्थितियों की वजह से शुरू होता है, जैसे चोट या फिर गठिया, अगर ऐसी कोई समस्या बिना कारण लंबे समय तक चले, तो आपको अपने चिकित्सक को देखना चाहिए.
1. दर्द: प्रभावित हड्डी में दर्द की शिकायत बोन कैंसर के रोगियों में आम होते हैं. सबसे पहले दर्द नियंत्रण में नहीं होता है. यह रात के समय या जब हड्डी का उपयोग किया जाता है (उदाहरण के लिए, पैदल चलने पर पैर की गड़बड़ी) तो स्थिति और खराब हो सकती है. जैसे जैसे कैंसर बढ़ता है तो दर्द हर समय होगा. गतिविधि के साथ दर्द बढ़ता है और किसी व्यक्ति का पैर इसमें शामिल हो तो वो लंगड़ा भी हो सकता है.
2. सूजन: दर्द के क्षेत्र में सूजन एक सप्ताह के बाद नहीं हो सकती, ऐसा संभव है की जिस क्षेत्र में आपको दर्द हो रहा है वहां आपको गांठ या द्रव्यमान महसूस होने की संभावना हो जो ट्यूमर हो सकता है. .
3. भंग: हड्डी का कैंसर उस हड्डी को कमजोर बना सकता है जिसमें वह विकसित होता है, लेकिन ज्यादातर हड्डियों में फ्रैक्चर नहीं होते हैं. हड्डी के कैंसर या फ्रैक्चर वाले लोग आमतौर पर उनके एक अंग में अचानक गंभीर दर्द का वर्णन करते हैं जो कुछ महीनों तक पीड़ादायक हो सकता है.
4. सुन्न होना: रीढ़ की हड्डियों में कैंसर तंत्रिकाओं को दबा सकता है, जिससे सुन्नता और झुनझुनी या कमजोरी भी हो सकती है.
5. अन्य लक्षण: कैंसर वजन घटाने और थकान को पैदा कर सकता है. यदि कैंसर आंतरिक अंगों में फैलता है तो यह अन्य लक्षण भी पैदा कर सकता है. उदाहरण के लिए, यदि कैंसर फेफड़ों में फैलता है, तो आपको श्वास लेने में परेशानी हो सकती है.

3 people found this helpful
Icon

Book appointment with top doctors for Bone Tumors treatment

View fees, clinic timings and reviews