Don't ignore your skin issues
Ask FREE question to skin specialists
Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

How To Reduce Breast Size in hindi - ब्रैस्ट कम करने के उपाय

Written and reviewed by
Dt. Radhika 93% (473 ratings)
MBBS, M.Sc - Dietitics / Nutrition
Dietitian/Nutritionist,  •  10 years experience
How To Reduce Breast Size in hindi - ब्रैस्ट कम करने के उपाय

इतिहास इस बात का गवाह है कि समाज में सुंदरता की हमेशा होड़ रही है। इसे पाने में दिखाने में और खुद में अपने आपको परफेक्ट फील करने में। वैसे तो महिला का हर अंग पुरुषों के लिए आकर्षण और कामुकता का हिस्सा रहा है पर सारी दुनिया के पुरुष अगर सबसे ज्यादा बदन के किसी हिस्से पर अट्रैक्ट होते हैं तो वह है ब्रेस्ट यानि स्तन। हर महिला को यह पसंद होता है कि पुरूष उनपर फ़िदा और ऐसा ही हो इसके लिए महिलाएं हमेशा कोशिश करती हैं कि उनके ब्रेस्ट का साइज बड़ा हो, ब्रेस्ट में कसावट हो, सही आकार में हो इत्यादि। पर ये चाहत और कोशिशें तब उलटी पड़ जाती हैं, जब ब्रेस्ट का साइज जरूरत से ज्यादा बड़ा हो। न सिर्फ ये दिखने में भद्दा लगता है, बल्कि उस महिला के तकलीफ का भी सबब बन जाता है। कुछ महिलाएं सुंदर कपड़े और शर्ट पहनना चाहती हैं, पर उनका ब्रेस्ट सही आकार में ना होने के कारण उनको ऐसा करने में तकलीफ होती है। कई बार जरूरत से ज्यादा बड़े ब्रेस्ट होने से महिलाओं को कपड़े सही फिट नहीं आते। 

ऐसे में कई महिलाएं अपनी ब्रेस्ट साइज को कम करना चाहती है। पर नही कर पाती जिसके कई कारण होजैसे वे वह हिचकिचाती है किसी से कहने मे की लोग क्या सोचेंगे। कुछ महिलाएं यह सोच कर भी पीछे हट जाती है कि, आपरेशन करके ब्रेस्ट साइज कम करना काफी महंगा होता है वगैरा वगैरा। पर वह यह नही जानती की ब्रेस्ट के साइज को नैचुरली भी कम किया जा सकता है। जी तोआज हम जानेंगे नैचुरली अपने ब्रेस्ट कम करने के नुस्खे जो बेहद आसान भी हैं और असरदार भी। 

1. नियमित व्यायाम 
ब्रेस्ट बहुत से फैटी टिशू से मिलकर बना होता है, जिनको कम करके महिलाएं अपने ब्रेस्ट के आकार को कम कर सकती हैं। इसके लिए सही व्यायाम करना बहोत जरूरी होता है। शरीर की चर्बी काम करके ब्रेस्ट का आकार कम किया जा सकता है। यह करने के लिए दौड़ लगाना, साइकलिंग करना, सीढि़यां चढ़ने व उतारने से कैलोरी बर्न होती है। इसके अलावा नियमित रूप से पुश-अप एक्सर्साइज, जौगिंग तथा चेस्ट फ्लाइ जैसे व्यायाम करना फायदे मंद होता है, पर ध्यान रहे जब भी आप व्यायाम करें तो स्पोर्ट्स ब्रा जरूर पहने। क्योंकि हम जैसे-जैसे मूवमेंट करते हैं, ब्रेस्ट भी वैसे ही मूवमेंट करते हैं, इसलिए बिना सही सपोर्ट के व्यायाम करने से स्तनों में दर्द हो सकता है। साथ ही इसके लिगामेंट को भी नुकसान पहुंच सकता है और त्वचा ढीली पड़ सकती है।

2. योगा 
अपने बेस्ट के आकार को कम करने के लिए आप योग का सहारा ले सकती हैं। इसके लिए नियमित रूप से अर्द्ध चक्रासन मुद्रा बेहद मददगार साबित होती है।

3. अंडे का उपयोग
स्तन का आकार कम करने के लिए अंडे की सफेदी भी सहायक होती है। यह आपके स्तनों को सुडौल बनाती है तथा छाती के भाग में कसावट लाकर स्तनों को छोटा करने में मदद करती है। एक अंडे के सफ़ेद भाग को फेंटकर पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को अपने स्तनों के नीचे लगाएं और इसे आधे घंटे के लिए छोड़ दें। आधे घंटे के बाद एक गिलास में प्याज का रस लें और उससे अंडे की सफेदी लगी जगह को धो लें। इस प्रक्रिया का प्रयोग कुछ हफ़्तों तक रोजाना करने से आपके स्तन को कम कियांज सकता है।

4. ग्रीन टी 
ग्रीन टी वज़न घटाने में काफी लाभदायक है और इसका प्रयोग स्तनों का आकार घटाने में भी किया जा सकता है। ग्रीन टी में कथेचिंस मौजूद होते हैं जो शरीर की कैलोरी घटा के शरीर की चर्बी कम करती है और आपका वज़न घटाती हैं। ग्रीन टी स्तनों के कैंसर के खतरे को भी काफी कम करती है। 1 चम्मच ग्रीन टी के पत्तों को एक कप गर्म पानी में मिलाकर इसे कुछ मिनटों तक ढककर रखें और फिर इस मिश्रण को छान कर इसमें थोड़ा शहद मिलाकर हर रोज़ कुछ महीनों तक 3 से 4 कप ग्रीन टी का सेवन करने से आपको जरूर फर्क नजर आएगा।

5. नीम और हल्दी 
नीम और हल्दी स्तनपान के दौरान स्तनों में हुई जलन और सूजन दूर करने में काफी कारगर साबित होती है क्योंकि इन पदार्थों में जलन कम करने के गुण हैं। इनका प्रयोग करने से आपके स्तनों का आकार अपने आप ही कम हो जाता है। यह करने के लिए आप 4 कप पानी में 10 मिनट तक मुट्ठीभर नीम की पत्तियों को उबालें और फिर इन्हें छान लें। इन्हें अच्छे से मिलाकर इसमें 2 चम्मच हल्दी और थोड़ा सा शहद डालकर इस पानी को कुछ महीनों तक रोजाना पीने से काफी हद तक ब्रेस्ट का आकार कम हो जाता है।

6. मसाज 
मसाज एक कारगर तरीका है वज़न घटाने का और इससे आपके स्तनों का आकार भी काफी कम हो सकता है। स्तनों पर मसाज करते समय दोनों स्तनों को बराबर समय देकर स्तनों पर गर्म जैतून का तेल या नारियल का तेल लगाएं और इस प्रक्रिया के लिए अपने बीच की ऊँगली और अनामिका उंगली का इस्तेमाल करके अपने स्तनों पर गोल आकर में व नीचे से ऊपर जाने की मुद्रा में करीब 10 मिनट तक मसाज करें। इस प्रक्रिया को नियमित रूप से कम से कम 3 महीने तक हर रोज़ दिन में 2 बार करने से स्तनों के आकार में फर्क दिखने लगेगा।
 

9 people found this helpful