Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Food Poisoning Home Remedies - फ़ूड पोइसिनिंग के घरेलू उपचार

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri  •  8 years experience
Food Poisoning Home Remedies -  फ़ूड पोइसिनिंग के घरेलू उपचार

दोस्तों आज के दौर में बीमारियों को तो जैसे बस बहाने की तलाश होती है कि बस हमसे कोई चूक हो और वो हमें अपनी चपेट मे लें। अब ऐसे ही मामलों आज के समय में अक्सर फ़ूड पॉइजन हो जाता है। जब भी हम बाहर का कुछ खा लेते हैं या फिर हम बाहर के खाने में अधिक दिलचस्पी लेते हैं, तो अक्सर हमारा डाइजेशन खराब हो जाता है। हम अक्सर जल्दी- जल्दी में जो भी मिलता है उसे खा लेते हैं, नतीजन हम कई तरह की बीमारियों सहित फूड पॉइजनिंग जैसी बीमारी हो जाती है। 
फ़ूड पॉइजनिंग की सबसे अहम वजह है साफ सफाई में कमी। जब भी हम कुछ खाते हैं, अगर वो अस्वच्छ स्थान पर हो या फिर वहां गंदगी हो, तो ऐसे में नुकसानदायक बैक्टीरिया हमारे शरीर के अंदर चले जाते हैं और यह बैक्टीरिया हमारे शरीर में इन्फेक्शन फैलाते हैं, जिसकी वजह से हमारी तबियत खराब ही जाती है जो कई बार फ़ूड पॉइजन होता है।

फूड पॉइजनिंग के लक्षण
जब भी हमें फूड पॉइजनिंग हो जाता है, तो हमारे शरीर में कई तरह की बीमारियों के लक्षण दिखाई देते हैं जैसे।

  • बार-बार उल्टी आना
  • पेट दर्द होना
  • सिर दर्द होना
  • दस्त होना
  • शरीर का थका हुआ और कमजोर महसूस होना
  • फूड पॉइजनिंग के कारण
  • फूड पॉइजनिंग हमें ज्यादातर तब होता है जब हम खाने-पीने की चीजों में सफाई पर ध्यान नहीं देते जैसे की
  • बासी खाने का सेवन
  • खाना बनाते समय गंदे पानी का इस्तेमाल
  • खाने पर मक्खियों का बैठना
  • सब्जियों और फलों को अच्छे से न धोना
  • खाना गंदे हाथों से खाना आदि।

नुकसानदायक बैक्टीरिया जब हमारे शरीर के अंदर चले जाते हैं, तो हमें फूड पॉइजनिंग हो सकती है। जब हमें इसे रोकना हो, तो सबसे पहले साफ सफाई का ध्यान रखना चाहिए। फलों और सब्जियों को धोकर खाना चाहिए। ऐसा करने से हम फूड पॉइजनिंग के खतरे से बच सकते हैं और जब हमें फूड पॉइजनिंग हो जाती है, तो हमें कुछ घरेलू उपाय करने चाहिए।
हमने जाना फ़ूड पॉइजन के कारण और लक्षण जिससे बचकर हम फ़ूड पॉइजन की बीमारी से अपना बचाव कर सकते  हैं। पर तब क्या किया जाए जब फ़ूड पॉइजन हमें हो जाए। तो दोस्तों चिंता करने की जरूरत नहीं हम आपको बताएंगे कि फ़ूड पॉइजन होने पर कुछ घरेलू नुस्खों को अपनाएं और फटाफट आराम पाएं।
फूड पॉइजनिंग को दूर करने के घरेलू उपाय

1. अदरक
अदरक से हमारे व्यंजन तो स्वादिष्ट होते हैं, साथ ही यह पाचन संबंधी समस्याओं के लिए भी एक घरेलू उपाय है। एक चम्मच शहद में अदरक के रस की कुछ बूंदे मिलाकर लेने से पेट का दर्द ठीक हो जाता है।

2. जीरा
फूड पॉइजनिंग होने पर जीरा बहुत ही फायदेमंद होता है। एक चम्मच भुने जीरे को पीसकर अपने सूप में मिलाकर लेने से पेट की सूजन और दर्द कम हो जाती है।

3. एप्पल साइडर सिरका
अपने क्षारीय गुण के कारण सिरका, विशेष रूप से एप्पल साइडर सिरका गैस्ट्रो आंत्र अस्तर में आराम देने वाला होता है। यह पेट में बैक्टीरिया पनपने से रोकता है। इससे फूड पॉयजनिंग के प्रभाव को तेजी से कम किया जा सकता है।

4. तुलसी
तुलसी इन्फेक्शन के ट्रीटमेंट के लिए बहुत ही शानदार उपाय होता है। फूड पॉइजनिंग होने पर तुलसी के पत्तों के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर खाने से आप को बहुत ही लाभ मिलाता है।

5. फल खाएं
केले में पोटैशियम की अधिक मात्रा होती है, इसलिए जब भी हमें फूड पॉइजनिंग हो तो खूब केला खाना चाहिए। केले में ऑक्सीडेंट मौजूद होता है, जो लिवर में ठंडक बनाये रखने में मददगार होता है। इसके अलावा सेब में भी यही खूबी होती है। यदि आपको फ़ूड पॉइजनिंग हो गया है तो सेब और केले को अच्छी तरह मैश कर ले, फिर इस मिश्रण को दिन में तीन से चार बार लेने से आराम मिलता है। 

6. नींबू सरबत
एक गिलास पानी में नींबू का रस, नमक, और चीनी मिलाकर एक घोल तैयार करो, फिर उस घोल को पी लें, इसे एक से दो घंटे के बीच लेते रहें।

7. पुदीना चाय
पुदीना चाय सिर्फ अरोमाथेरेपी नहीं है बल्कि पेपरमिंट तेल अपने सुखदायक प्रभाव के लिए भी जाना जाता है। फूड पॉयजनिंग से पेट की ऐंठन से पीड़‍ित लोगों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। अपनी चाय में इसकी कुछ बूंदे जोड़कर देखें, कैसे आपके पेट की ऐंठन कुछ घंटों में गायब हो जाती हैं।

8. दही
आपने हमेशा सुना होगा की दही खाने से खाना अच्छे से पचन होता है। इसलिए दही को खाना खाने से पहले और बाद में खाना चाहिए। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुणों की वजह से यह लिवर में मौजूद संकरण को नष्ट करता है। गर्मियों के दिनों इसके सेवन से पेट की जलन भी दूर होती है।
 
9. खिचड़ी
फूड पॉइजनिंग वाले मरीज को खिचड़ी देनी चाहिए, क्योंकि यह हल्की होने के कारण आसानी से पच जाती है।

10. खूब पिएं पानी
जब भी फूड पॉइजनिंग हो जाए तो सबसे पहले हमें इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि शरीर में पानी की कमी न आ जाये। इसलिए हमें ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए, साथ ही सूप, चावल का पानी, नारियल पानी, खिचड़ी, ग्लूकोज आदि लेते रहना चाहिए।

4 people found this helpful