Get help from best doctors, anonymously
Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Bhringraj Oil Benefits and Side Effects in Hindi - भृंगराज तेल के फायदे और नुकसान

Written and reviewed by
Dr. Sanjeev Kumar Singh 90% (193 ratings)
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri  •  10 years experience
Bhringraj Oil Benefits and Side Effects in Hindi - भृंगराज तेल के फायदे और नुकसान

भृंगराज के तेल का औषधीय महत्त्व पुरे विश्व में लोकप्रिय है. इसकी गिनती उत्कृष्ट आयुर्वेदिक तेलों में की जाती है. ये बालों के झड़ने, सर दर्द, सफ़ेद बाल और मानसिक कमजोरी आदि समस्याओं को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. आयुर्वेद में इसके कई औषधीय गुणों का उल्लेख मिलता है. इसकी सहायता से मेमोरी को भी बढ़ाया जा सकता है. ये एक महत्वपूर्ण औषधीय तेल है. भृंगराज तेल के फायदे और नुकसान को समझने के लिए निम्लिखित बिन्दुओं का अध्ययन आवश्यक है.

1. सरदर्द के उपचार में
आयुर्वेद के अनुसार अतिरिक्त वात के कारण सरदर्द की समस्या उत्पन्न होती है. भृंगराज तेल की मालिश से अतिरिक्त वात ख़त्म होता है और सरदर्द में आराम मिलता है. इसके अलावा ये नाक प्रशासन सरदर्द में भी राहत देने का कम करता है.
2. बालों को मुलायम बनाए
भृंगराज के तेल के नियमित प्रयोग से आपके सर के बाल पहले की तुलना में मुलायम बन जाते हैं. इससे बाल देखने में भी काफी सुन्दर लगाने लगते हैं.
3. बालों के झड़ने में
शरीर में वात की अधिकता को नियंत्रित करके भृंगराज का तेल बालों के झड़ने से रोक सकता है. इसके लिए आपको भृंगराज हेयर ऑइल से 5-10 मिनट तक बालों में मालिश करना होगा. ये रक्त संचरण बढ़ाकर बालों को झड़ने से रोकता है.
4. आँखों के लिए
आँखों के लिए भी भृंगराज का तेल अत्यन्त लाभकारी साबित होता है. इसके लिए सुबह के समय दोनों नथुने में भृंगराज तेल की दो-दो बूंदें डालनी चाहिए. हलांकि अभी इस बात को प्रमाणित नहीं किया जा सका है.
5 .रुसी के उन्मूलन में
भृंगराज का तेल किसी भी तरह के रुसी का उन्मूलन कर सकता है. इसके लिए आपको अपने बालों में इसके तेल से 5-10 मिनट तक की मालिश करनी होती है. इसका इस्तेमाल आप गुनगुने पानी के साथ भी कर सकते हैं.
6. फंगल इन्फेक्शन में
इसमें फंगल इन्फेक्शन से भी बचने के गुण होते हैं. क्योंकि इसमें एंटी फंगल गुण पाए जाते हैं. इससे फंगल के कारण होने वाली कई तरह की समस्याओं से हमें छुटकारा मिलता है और हम निश्चिन्तता से रह सकते हैं.
7. सूजन कम करने में
भृंगराज के तेल से होने वाले कई फायदों में से एक ये भी है कि ये सूजन को कम करने की क्षमता रखता है. इसमें पाए जाने वाले तत्व आपमें सूजन की समस्या को काफी हद तक कम कर सकते हैं.
8. फोलिक्युलाइटिस में
मुंह पर होने वाले फोड़े-फुंसियों से भी भृंगराज का तेल बचा सकता है. क्योंकि ये जीवाणु, वायरस और कवक के प्रभाव को नष्ट करने की क्षमता रखता है.
9. तनाव दूर करने में
तनाव को दूर करने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. तनाव को दूर करने के लिए पुरे शरीर में भृंगराज तेल की मालिश करनी चाहिए. इससे आपको काफी आराम भी महसूस होगा.
10. बालों को सफ़ेद होने से बचाने में
बालों के सफ़ेद होने की समस्या आजकल आम बात हो गई है. इस समस्या से निजात पाने के लिए आपको जटामांसी के तेल के साथ भृंगराज का तेल मिलाकर इस्तेमाल करना होगा. इसका इस्तेमाल आपको 6 महीने तक करना होगा.

भृंगराज तेल के नुकसान

  • भृंगराज तेल के प्रयोग से कुछ लोगों के नाक में जलन हो सकती है.
  • छींक आने की समस्या भी कुछ लोगों को हो सकती है.
  • इसके प्रयोग से कुछ लोगों के गले में जलन की समस्या भी देखी जा सकती है.
     

2 people found this helpful