Connect with top hairfall specialists
Get treatment details from verified doctors
Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

हेयर ट्रांसप्लांट के नुकसान - Hair Transplant Ke Nuksan!

Written and reviewed by
Dr. Sanjeev Kumar Singh 90% (193 ratings)
Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri  •  10 years experience
हेयर ट्रांसप्लांट के नुकसान - Hair Transplant Ke Nuksan!

मेडिकल साइंस की तरक्की के कारण हेयर ट्रांसप्लांट करवाना एकदम आसान हो गया है और आगे इससे भी आसान होने के आसार हैं. हेयर ट्रांसप्लांट को आप हिन्दी में बालों का प्रत्यारोपण कह सकते हैं. जिन लोगों के बालों में कोई समस्या आ जाती है उन्हें हेयर ट्रांसप्लांट का सहारा लेना पड़ता है. आपको बता दें कि अब वे लोग भी हेयर ट्रांसप्लांट करवा सकते हैं जिनके बाल सालों पहले झड़ चुके हैं या फिर जो गंजेपन की समस्या से जूझ रहे हैं. लेकिन इसके साथ कई नुकसान भी है जिसके बारे में आपको जानना चाहिए, तो आइए इस लेख के माध्यम से हेयर ट्रासप्लांट से होने वाले नुक़सानों पर एक नजर डालें.

ब्लीडिंग और इन्फेक्शन-
1. ब्लीडिंग सामान्य तौर पर सिर पर अनुभवहीनता के कारण ही होता है. इसलिये ऐसी सर्जरी करवाने से पहले अनुभवी कॉस्मेटिक सर्जन की सलाह दी जाती है. अनुचित और गंदे उपकरणों के उपयोग से भी अक्सर ऐसी संभावना हो सकती है. यह तब भी हो सकता है सर्जरी एक अशुद्ध जगह पर की गई हो.

2. बालों का पतला होना - सिर पर बाल लगाते वक्‍त कुछ बाल ठीक तरह से नहीं लग पाते, जिस वजह से वह बाद में पतले हो कर झड़ना शुरु कर देते हैं. कई लोग गंजेपन की भी शिकायत करते हैं.

3. खुजलाहट - अगर ठीक से इस समस्‍या पर ध्‍यान नहीं दिया गया तो खुजलाहट भयंकर भी हो सकती है. यह खुजली सिर पर पपड़ी बनने की वजह से होती है. वैसे यह समस्‍या कुछ दिनों में शैंपू करने से ठीक भी हो जाती है. पर अगर समस्‍या लगातार बनी रहे तो डॉक्‍टर को दिखाना ही सही रहता है.

4. घाव - यह घाव उन रोगियों को होता है जो सट्रिप प्‍लान्‍टेशन करवाते हैं. यह निशान कभी कभी भयंकर हो सकता है, खास कर के तब जब हेयरस्‍टाइल शॉर्ट हो.

5. अल्सर - सिस्‍ट या अल्‍सर तब होता है जब बालों की जड़ें डैमेज हो जाती हैं और त्‍वचा के एक दम अंदर तक धंस जाती हैं. यह एक पिंपल के साइज का होता है. हांलाकि अल्‍सर कभी भी घातक नहीं होता. पर इसे बिना देरी किये हुए डॉक्‍टर को दिखाना चाहिये.

6. सूजन - जिन लोगों की खराब स्‍किन टोन होती है उन्‍हें सिर पर सूजन की शिकायत आ सकती है. हांलाकि एक्‍सपर्ट की सलाह से इसे दूर किया जा सकता है. अगर सूजन बढ गई तो यह आंखों और माधे पर साफ दिखाई देने लगती है.

7. ब्लीडिंग - हेयर ट्रांसप्‍लांट में वैसे तो ब्‍लीडिंग नहीं होती मगर कुछ रोगियों को सिर पर ज्‍यादा दबाव की वजह से ब्‍लीडिंग शुरु हो सकती है. इस दौरान घाव लगने आम बात हैं.

8. दर्द - हांलाकि हेयर ट्रांसप्‍लांट में थोड़ा बहुत दर्द होना आम बात है. यह समय के साथ कम भी होता चला जाता है इसललिये परेशान होने की कोई बात नहीं.

9. सुन्‍न हो जाना - ट्रांसप्‍लांट के कई हफ्तों तक सिर सुन्‍न बना रहता है. अगर यह समय के साथ ना जाए तो आपको डॉक्‍टर को दिखाना चाहिये.

किन बातों का रखें ख्याल
* बजट का ध्यान रखें: -
हेयर ट्रांसप्लांट करवाने से पहले बजट का भी ध्यान रखें. दरअसल, हेयर ट्रांसप्लांट करवाना बहुत महंगा होता है, इसीलिए पहले पूरा बजट पूछ लें. तभी इस और अगला कदम उठाएं.

* तकनीकों की जानकारी: - हेयर ट्रांसप्लांट से पहले आपको तकनीकों के बारें में भी जानकारी होनी चाहिए कि आपके लिए किस तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा हैं. हालांकि बाल प्रत्यारोपण के लिए नई तकनीकों में फलिक्यूलर यूनिट हेयर ट्रांसप्लांट (एफयूएचटी) और फलिक्यूलर यूनिट सेपरेशन एक्स्ट्रेक्शन (एफयूएसई) का अधिक इस्तेमाल किया जाता हैं क्योंकि इनसे गंभीर से गंभीर स्थिति को आसानी से संभाला जा सकता है.

* जगह का ध्यान रखें: - यदि आप हेयर ट्रांसप्लांट करवाने की सोच रहे हैं तो इस बात पर जरूर ध्यान दें कि आप किस जगह पर हेयर ट्रांसप्लांट करवा रहे हैं. यानी क्लीनिक की गुणवत्ता और जगह दोनों का खास ख्याल रखें. आप किसी भी विज्ञापन को देखकर उस जगह यूं ही हेयर ट्रांसप्लांट के लिए ना जाएं बल्कि इस और सावधानी बरतें.

* डॉक्टर का चुनाव: - हेयर ट्रांसप्लांट से पहले ध्यान रखें कि डॉक्टर कैसा है यानी क्या डॉक्टर हेयर ट्रांसप्लांट विशेषज्ञ है या फिर जनरल डॉक्टर. हेयर ट्रांसप्लांट के लिए विशेषज्ञ का ही चुनाव करें क्योंकि बार-बार हेयर ट्रांसप्लांट करवाना संभव नहीं होता.

क्या करें क्या ना करें-
* हेयर ट्रांसप्लांट से पहले आपको एक सप्ताह तक एस्पीरिन या किसी तरह की एंटीबायोटिक और हार्ड दवाईयां नहीं लेनी चाहिए. लेकिन किसी गंभीर बीमारी का इलाज चल रहा है तो इस बारे में डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करना चाहिए.

* सर्जरी से एक सप्ताह पहले तक एल्कोहल, धूम्रपान और विटामिन ए, बी इत्यादि सप्लीमेंट्स भी नहीं लेने चाहिए.
सर्जरी से पहले आपको अपने बालों को सुबह-शाम दो बार अच्छी तरह से धोना चाहिए. लेकिन ध्‍यान रहें सर्जरी से पहले आप हेयर स्‍पा की प्रक्रिया को ना अपनाएं.

* आपको ढीले-ढाले कपड़े पहनने चाहिए ताकि सर्जरी के दौरान कोई समस्या ना आएं. हालांकि आप सर्जरी के बाद अपने सिर को खुला छोड़ सकते हैं.

* आपको अपने आने-जाने के लिए अच्छी सुविधा करनी चाहिए ताकि हेयर ट्रांसप्लांटेशन के आप क्लीनिक से अपने घर आराम से जा सकें.

* अगर आप डायबिटिक हैं तो आपको सर्जरी के दिन अपने डॉक्टर से कंसल्च करना चाहिए कि आपको इंसुलिन और डायबिटीज की टेबलेट्स कैसे लेनी चाहिए.

In case you have a concern or query you can always consult a specialist & get answers to your questions!
2 people found this helpful

Nearby Doctors

RECOMMENDED HEALTH PACKAGES