Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Dr. Lathi

Gynaecologist, Pune

150 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Lathi Gynaecologist, Pune
150 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Feed
Services

Personal Statement

I pride myself in attending local and statewide seminars to stay current with the latest techniques, and treatment planning....more
I pride myself in attending local and statewide seminars to stay current with the latest techniques, and treatment planning.
More about Dr. Lathi
Dr. Lathi is a trusted Gynaecologist in Uruli Kanchan, Pune. You can consult Dr. Lathi at Lathi Hospital in Uruli Kanchan, Pune. Don’t wait in a queue, book an instant appointment online with Dr. Lathi on Lybrate.com.

Lybrate.com has top trusted Gynaecologists from across India. You will find Gynaecologists with more than 33 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Pune and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Lathi

Lathi Hospital

Ashram road,Landamrk:-Uruli Kanchan, PunePune Get Directions
150 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Lathi

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Sir pregnancy test done by prega news is positive. How can I avoid pregnancy. Last month periods start on 1 Feb. Please help.

Diploma in Obstetrics & Gynaecology, MBBS
General Physician, Delhi
If test is positive, why do you ask for preventing pregnancy you only know that you want to keep it or not if you are confused, feel free to ask again.
Submit FeedbackFeedback

Menstrual Cycle in hindi - मासिक धर्म क्या है ?

MBBS, M.Sc - Dietitics / Nutrition
Dietitian/Nutritionist, Delhi
Menstrual Cycle in hindi - मासिक धर्म क्या है ?

अक्सर हमेशा हंसने खेलने वाली चंचल लड़कियां भी महीने के कुछ दिन दबी दबी दुखी सी शर्माती खुदको छिपाती नजर आती हैं। और इसी वक़्त पर हम गौर करें तो पाएंगे कि घर परिवार के कुछ लोग भी उससे कटे कटे रहते हैं कई चीजों को छूने कई जगह जाने पर पर भी मनाही होती है। जी हां बिलकुल सही समझें आप हम बात कर रहे हैं पीरियड्स की। यह केवल महिलाओं ही नही पुरुषों या यूँ कहें मानव वृद्धि के लिए सबसे अहम घटना है। तो चलिए आज हम जानते हैं पीरियड्स क्या हक़ क्यों आता है इसका सही समय, महत्व आदि। 
पीरियड्स या मासिक धर्म स्त्रियों को हर महीने योनि से होने वाला लाल रंग के स्राव को कहते है। पीरियड्स के विषय में लड़कियों को पूरी जानकारी नहीं होने पर उन्हें बहुत दुविधा का सामना करना पड़ता है। पहली बार पीरियड्स होने पर जानकारी के अभाव में लड़कियां बहुत डर जाती है। उन्हें बहुत शर्म महसूस होती है और अपराध बोध से ग्रस्त हो जाती है। 

पीरियड्स को रजोधर्म भी कहते है। ये शारीरिक प्रक्रिया सभी क्रियाओं से अधिक महवपूर्ण है, क्योकि इसी प्रक्रिया से ही मनुष्य का ये संसार चलता है। मानव की उत्पत्ति इसके बिना नहीं हो सकती। प्रकृति ने स्त्रियों को गर्भाशय ओवरी फेलोपियन ट्यूब, और वजाइना देकर उसे सन्तान उत्पन्न करने का अहम क्षमता दिया है। इसलिए पीरियड्स या मासिक धर्म गर्व की बात होनी चाहिए ना कि शर्म की या हीनता की। सिर्फ इसे समझना और संभालना आना जरुरी है। इस प्रक्रिया से घबराने या कुछ गलत या गन्दा होने की हीन भावना महसूस करने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है। पीरियड्स मासिक धर्म को एक सामान्य शारीरिक गतिविधि ही समझना चाहिए जैसे उबासी आती है या छींक आती है। भूख, प्यास लगती है या सू-सू पोटी आती है।

मासिक चक्र

  • दो पीरियड्सके बीच का नियमित समय मासिक चक्र ( Menstruation Cycle ) कहलाता है। नियमित समय पर पीरियड्स( Menses ) होने का मतलब है कि शरीर के सभी प्रजनन अंग स्वस्थ है और अच्छा काम कर रहे है। मासिक चक्र की वजह से ऐसे हार्मोन बनते है जो शरीर को स्वस्थ रखते है। हर महीने ये हार्मोन शरीर को गर्भ धारण के लिए तैयार कर देते है।
  • मासिक चक्र के दिन की गिनती पीरियड्सशुरू होने के पहले दिन से अगली पीरियड्सशुरू होने के पहले दिन तक की जाती है। लड़कियों में मासिक चक्र 21 दिन से 45 दिन तक का हो सकता है। महिलाओं को मासिक चक्र 21 दिन से 35 दिन तक का हो सकता है। सामान्य तौर पर मासिक चक्र 28 दिन का होता है।

मासिक चक्र के समय शरीर में परिवर्तन 

1. हार्मोन्स में परिवर्तन
 मासिक चक्र के शुरू के दिनों में एस्ट्रोजन नामक हार्मोन बढ़ना शरू होता है। ये हार्मोन शरीर को स्वस्थ रखता है विशेषकर ये हड्डियों को मजबूत बनाता है। साथ ही इस हार्मोन के कारण गर्भाशय की अंदरूनी दीवार पर रक्त और टिशूज़ की एक मखमली परत बनती है ताकि वहाँ भ्रूण पोषण पाकर तेजी से विकसित हो सके। ये परत रक्त और टिशू से बनी होती है।
2. ओव्यूलेशन 
संतान उत्पन्न होने के क्रम में किसी एक ओवरी में से एक विकसित अंडा डिंब निकल कर फेलोपीयन ट्यूब में पहुँचता है। इसे ओव्यूलेशन कहते है। आमतौर पर ये मासिक चक्र के 14 वें दिन होता है । कुछ कारणों से थोड़ा आगे पीछे हो सकता है। 
ओव्यूलेशन के समय कुछ हार्मोन जैसे एस्ट्रोजन आदि अधिकतम स्तर पर पहुँच जाते है। इसकी वजह से जननांगों के आस पास ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है। योनि के स्राव में परिवर्तन हो जाता है। जिसके कारण महिलाओं की सेक्सुअल डिजायर बढ़ जाती हैं। इसलिए इस ड्यूरेशन में सेक्स करने पर प्रेग्नेंट होने के चन्वेस बढ़ जाते हैं।
3. अंडा 
फेलोपियन ट्यूब में अगर अंडा शुक्राणु द्वारा निषेचित हो जाता है तो भ्रूण का विकास क्रम शुरू हो जाता है। अदरवाइज 12 घंटे बाद अंडा खराब हो जाता है। अंडे के खराब होने पर एस्ट्रोजन हार्मोन का लेवल कम हो जाता है। गर्भाशय की ब्लड व टिशू की परत की जरुरत ख़त्म हो जाती है। और ऐसे में यही परत नष्ट होकर योनि मार्ग से बाहर निकल जाती है। इसे ही पीरियड्स, मेंस्ट्रुल साइकिल, महीना आना या रजोधर्म भी कहा जाता है। और इस दौर से गुजऱने वाली स्त्री को रजस्वला कहा जाता है।
4. ब्लीडिंग
पीरियड्स के समय अक्सर यह मन में यह मन में यह सवाल आता है की ब्लीडिंग कितने दिन तक होना चाहिए और कितनी मात्रा में होना चाहिए कि जिसे सामान्य मानें। पीरियड यानि MC के समय निकलने वाला स्राव सिर्फ रक्त नहीं होता है। इसमें नष्ट हो चुके टिशू भी होते है। अतः ये सोचकर की इतना सारा रक्त शरीर से निकल गया, फिक्र नहीं करनी चाहिए। इसमें ब्लड की क्वांटिटी करीब 50 ml ही होती है। नैचुरली पीरियड्स तीन से छः दिन तक होता है। तथा स्राव की मात्रा भी अलग अलग हो सकती है। यदि स्राव इससे ज्यादा दिन तक चले तो डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।

पीरियड्स से पहले के लक्षण
लड़कियों को शुरू में अनियमित पीरियड्स, ज्यादा या कम दिनों तक पीरियड, कम या ज्यादा मात्रा में स्राव, डिप्रेशन आदि हो सकते है। इसके अलावा पीएमएस यानि पीरियड्स होने से पहले के लक्षण नजर आने लगते है। अलग अलग स्त्रियों को पीएमएस के अलग लक्षण हो सकते है। इस समय पैर, पीठ और अँगुलियों में सूजन या दर्द हो सकता है। स्तनों में भारीपन, दर्द या गांठें महसूस हो सकती है। सिरदर्द, माइग्रेन, कम या ज्यादा भूख, मुँहासे, त्वचा पर दाग धब्बे, आदि हो सकते है। इस तरह के लक्षण पीरियड शुरू हो जाने के बाद अपने आप ठीक हो जाते है। इसलिए उन दिनों में अपने आपको सहारा डैम और मजबूत बनें।

पीरियड्स आने की उम्र 
आमतौर पर लड़कियों में पीरियड्स 11 से 14 साल की उम्र में शुरू हो जाती है। लेकिन अगर थोड़ा देर या जल्दी आजाए तो चिंता न करें। पीरियड्सशुरू होने का मतलब होता है की लड़की माँ बन सकती है। शुरुआत में पीरियड्सऔर ओव्यूलेशन
के समय में अंतर हो सकता है। यानि हो सकता है की पीरियड्सशुरू नहीं हो लेकिन ओव्यूलेशन शुरू हो चुका हो। ऐसे में गर्भ धारण हो सकता है। और इसका उल्टा भी संभव है। यह बहुत महत्त्वपूर्ण है कि पीरियड्स शुरू नहीं होने पर भी प्रेगनेंट होना संभव है इसलिए सावधानी बरतें।

पहले ही किशोरियों को समझाएं 
लड़कियों में शारीरिक परिवर्तन दिखने पर या लगभग 10 -11 साल की उम्र में मासिक धर्म के बारे में जानकारी देकर इसे कैसे मैनेज करना है समझा देना चाहिए। जिससे वे शरीर में होने वाली इस सामान्य प्रक्रिया के लिए मानसिक रूप से भी तैयार हो जाएँ। साथ ही आप लोगों को भी यह समझने की जरूरत है कि पीरियड्स मवं में अपवित्रता जैसा कुछ नहीं है। ये एक सामान्य शारीरिक क्रिया है जो एक जिम्मेदारी का अहसास कराती है। इसकी वजह से लड़कियों पर आने जाने या खेलने कूदने पर पाबन्दी नहीं लगानी चाहिए। पर ध्यान रहे बच्चियों को गर्भ धारण करने की सम्भावना के बारे में जरूर समझाना चाहिए जिससे वे सतर्क रहें। 

पीरियड्स आने पर 
सभी महिलाएं पीरियड्स की डेट जरूर याद रखें जिससे आप पहले ही तैयार रहें। 
इस दौरान खुदको किसी चीज़ से न रोकें नहीं। सामान्य जीवन शैली ही जिएं। बस अगर मौका मिले तो थोड़ा आराम करें।
 

4 people found this helpful

Hi doctor, I am 25 years old and married I have so much of interest in sex, but my wife did have a that much of interest we don't have personal issues its a love marriage, at the time of sex she feels so much of pain I am not able to do the sex, that means her Virginia is very tight. I am not able to push into her pussy Is there any medicine for my wife to get a interest in sex. Please help me.

MBBS, Diploma in Diabetology
General Physician, Chennai
Hi doctor,
I am 25 years old and married I have so much of interest in sex, but my wife did have a that much of inter...
Hi lybrate-user you have involve in foreplay at least 15-30 mins before intercourse. Good foreplay can arouse the female and get into sex mode. Start your foreplay by clitoris's stimulation, breast stimulation, kissing etc. Proper foreplay can lubricate your wife vagina. Apply lubricant oil over penis before start to intercourse.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Can I have sex with two girls at a time as of my wife fancy to have threesome with one of her friend? Is it safe?

MBBS .DGO.DA.(Trained in Andrology)
Sexologist, Ernakulam
Hi there is always a chance of spreading infection from one to other. Multiple partners means chances of infections are high over to that threesome. So no gynaecologist will advise in the interest of all. Regards.
12 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My girlfriend has irregular periods and some time her periods are come in 15 days some time in two months and she doesn't enjoy sex.

BHMS
Homeopath, Faridabad
My girlfriend has irregular periods and some time her periods are come in 15 days some time in two months and she doe...
Hello, The main reason of irregular menses is any nutritional deficiency apart from many other reasons. Take more of green vegetables, nuts, salads, seasonal fruits, yellow coloured veggies, milk & milk products, plenty of water and enough of sleep & rest. Take homoeopathic medication – Schwabe's Five Phos. And Alfaalfa Tonic – both thrice daily for 1 month. Thereafter revert me back..take care.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

HelloMy doctor suggested me hempushpa twice daily with raw rice water. I have a PCOD problem. .and I want to conceive. Is that a correct method of taking hempushpa? Or Should I take with plain water?

MBBS
General Physician, Jalgaon
HelloMy doctor suggested me hempushpa twice daily with raw rice water. I have a PCOD problem. .and I want to conceive...
Please Alone hempushpa won't work Wake up early go for morning walk in greenery daily Do yogasanas and pranayam daily Do perineal and pelvic exercises daily Take salads and fruits more Take carrots and beet root juice daily Take Cap evecare by Himalaya 2 2 for 6 mths Lohasav 10 ml twice a day for 6 mths Ashokarishta 20 ml twice a day for 6 mths Reconsult me on Lybrate after 3 mths with latest sonography report.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 31 years old and I am 4th month pregnant. I am suffering from Bronchial Asthma. Please let me know the food to be taken and as well as precautions to be taken.

MD - Alternative Medicine
Alternative Medicine Specialist, Mumbai
I am 31 years old and I am 4th month pregnant. I am suffering from Bronchial Asthma. Please let me know the food to b...
Hello, always eat less then your capacity, eat slowly, chewing foods properly, need to drink minimum 10 glass of water in a day, avoid excess use of spices, chilies, pickles, tea n coffee. Take 1 cap garlic pearls in morning fresh fruits n home made juice, steam vegetable or soup in diet is good for you stay healthy- naturally.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My wife having high stomach pain. On periods date she had pcod. What should we do. We are trying for a baby. Please

Certified Diabetes Educator, Registered Dietitian (RD), PGDD, Bachelor of Unani Medicine and Surgery (B.U.M.S), General Physician
Dietitian/Nutritionist, Mumbai
There are various causes affecting mensuration. You need to immediately consult me privately. I can prescribe some tests to identify the causes and treat accordingly.
Submit FeedbackFeedback

My blood test report for glucose is showing 139 .2 hours post breakfast. I am 32 weeks pregnant. Is this normal? Or do I need medicines?

BHMS
Homeopath,
My blood test report for glucose is showing 139 .2 hours post breakfast. I am 32 weeks pregnant. Is this normal? Or d...
No it's within normal limit. Bt close to the normal level. Alarming. Change your diet. Walk. After pregnancy you need to walk 40-50 mins briskly regularly. Medicine is not needed.
2 people found this helpful
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

92%
(53 ratings)

Dr. Seema Jain

MBBS, MD - Obstetrtics & Gynaecology, DNB (Obstetrics and Gynecology), Royal College of Obstetricians and Gynaecologists (MRCOG)
Gynaecologist
Dr. Seema Jain's GynaeGalaxy - A Women's Specialty & Fertility Clinic, 
350 at clinic
Book Appointment
89%
(119 ratings)

Dr. Nitin Sangamnerkar

MBBS, MD - Obstetrics & Gynaecology
Gynaecologist
Colony Nursing Home, 
200 at clinic
Book Appointment
91%
(375 ratings)

Dr. Kuldeep R Wagh

MS - Obstetrics and Gynaecology, MBBS, Post Doctoral Fellowship in Reproductive Medicine, Fellowship in Minimal Access Surgery
Gynaecologist
Blossoms Women Care, 
300 at clinic
Book Appointment
89%
(183 ratings)

Dr. Neelima Deshpande

EMDR, FRCOG (LONDON) (Fellow of Royal College of Obstetricians and Gynaecologists), MFSRH , Diploma in psychosexual therapy, Medical diploma in clinical Hypnosis, Diploma in Evidence Based Healthcare, DNB (Obstetrics and Gynecology), MD - Obstetrics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist
Health Point Polyclinic, 
300 at clinic
Book Appointment

Dr. Alka Ranade

MBBS, MD - Obstetrics & Gynaecology
Gynaecologist
Shashwat Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(28 ratings)

Dr. Sagar

DGO , MBBS
Gynaecologist
Dr Bumb Nursing Home, 
300 at clinic
Book Appointment