Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call

Sonal Clinic

Homeopath Clinic

Neela Sadan, Ground Floor, Walkeshwar, Mumbai Mumbai
1 Doctor
Book Appointment
Call Clinic
Sonal Clinic Homeopath Clinic Neela Sadan, Ground Floor, Walkeshwar, Mumbai Mumbai
1 Doctor
Book Appointment
Call Clinic
Report Issue
Get Help
Feed
Services

About

We will always attempt to answer your questions thoroughly, so that you never have to worry needlessly, and we will explain complicated things clearly and simply....more
We will always attempt to answer your questions thoroughly, so that you never have to worry needlessly, and we will explain complicated things clearly and simply.
More about Sonal Clinic
Sonal Clinic is known for housing experienced Homeopaths. Dr. Sonal Clinic, a well-reputed Homeopath, practices in Mumbai. Visit this medical health centre for Homeopaths recommended by 49 patients.

Timings

MON-SAT
03:00 PM - 07:00 PM

Location

Neela Sadan, Ground Floor, Walkeshwar, Mumbai
Walkeshwar Mumbai, Maharashtra
Get Directions

Doctor

Available today
03:00 PM - 07:00 PM
View All
View All

Services

Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
Get Cost Estimate
View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Sonal Clinic

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Jamalgota Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Jamalgota Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

वानस्पतिक नाम क्रोटन टिग्लियम वाली, जमालगोटा के फायदों और नुकसान दोनों ही ज्यादा हैं. उत्तर-पूर्व और दक्षिण भारतीय राज्यों में पाया जाने वाला जमालगोटा के पेड़ की ऊंचाई 15-20 फीट होती है. इसके फुल के अन्दर लाल-भूरे रंग का जो तेल जैसा पदार्थ होता है उसका औषधीय महत्व काफी ज्यादा है. जमालगोटा की तासीर गर्म होती है इससे शरीर में पित्त बढ़ता है और काफ पतला होता है. आइए जमालगोटा के लाभ और हानि को विस्तारपूर्वक समझें.

1. आंत के लिए
शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक आंत में कई बार कीड़े हो जाते हैं. आंत के इन कीड़ों को भगाने के लिए 20 मिलीग्राम जमालगोटा के बीज को पानी के साथ लेने से आंत के कीड़े ख़त्म होते हैं.
2. कब्ज में
कब्ज से पीड़ित मरीज को यदि सावधानीपूर्वक जमालगोटा दिया जाए तो उसे काफी आराम मिलता है. इसके लिए आपको जमालगोटा के बीज का पाउडर 20-40 मिलीग्राम नियमित रूप से देना होता है. इससे गंभीर कब्ज का इलाज भी संभव है.
3. बालों के लिए
जमालगोटा का प्रयोग बालों की समस्याओं को दूर करने के लिए भी किया जाता है. इसके शुद्ध बीजों का पेस्ट बनाकर सर में लगाने से गंजापन में सुधार होता है. यानी बालों का झड़ना रोकने में जमालगोटा काफी उपयोगी है.
4. पीलिया में
जमालगोटा की जड़ों के बाहरी छाल को गुड़ के साथ लेने से ऐसा माना जाता है कि इससे पित्त का स्त्राव बढ़ता है. इसे सफ़ेद मल को कम करने और पीलिया के उपचार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.
5. जोड़ों के दर्द में
जोड़ों का दर्द जिसे गठिया भी कहते हैं, इसके इलाज के लिए भी जमालगोटा का इस्तेमाल किया जाता है. जमालगोटा के बीजों से निकला तेल सूजन, फेफड़े के रोगों, गठिया और क्रोनिक ब्रोंकाइटीस आदि पर लागने से राहत मिलती है.
6. सांप काटने पर
सांप काटने के इलाज के रूप में भी जमालगोटा का उपयोग किया जाता है. इसके बीज के पेस्ट में नींबू का रस मिलाकर दिया जात्ता है. इसके अलावा एक उपाय और है कि जमालगोटा के 100 मिलीग्राम पाउडर में काली मिर्च को पीसकर मिलकर इसे पानी के साथ पिने से उल्टी होकर जहर निकल जाता है.
7. स्तंभन में
जमालगोटा से होने वाले विभिन्न लाभों में से एक स्तंभन दोष में इससे होने वाला लाभ भी है. जमालगोटा के बीज का पेस्ट बनाकर पनील क्षेत्र में लगाने से स्तंभन दोष में राहत मिलता है.
8. फोड़ा के लिए
जमालगोटा और क्रोटन के जड़ की बाहरी छाल के पेस्ट को त्वचा के फोड़े पर लगाया जाता है. जमालगोटा इन फोड़ों के फूटने में मदद करता है.
9. एक्जीमा में
इसका बीज एक्जीमा के उपचार में काफी सकारात्मक भूमिका निभाता है. जमालगोटा के बीज के पाउडर से पेस्ट तैयार करें और इस पेस्ट को एक्जीमा जैसे चमड़े से सम्बंधित किसी भी रोग में लगाने पर उसमें सुधार होता है.
10. बवासीर में
जमालगोटा के जड़ों का पाउडर और छाछ के पेस्ट का उपयोग बाहरी बवासीर के ऊपर करने से बवासीर सिकुड़कर सूखने लगता है. इससे सुजन में कमी आती है और मरीज राहत महसूस करता है.
11. जमालगोटा के अन्य फायदे
कफ रोगों के फायदेमंद जमालगोटा का लाभ पाचन और अवशोषण को सही करने में भी देखा गया है. इसके अलावा ये हमारा खून भी साफ़ करता है. आपको बता दें की पित्त के असंतुलित होने पर स्वाद में कड़वा लगने वाले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए.

जमालगोटा के नुकसान

  • त्वचा पर फफोले और पेट में निर्जलीकरण व दर्द होसकता है.
  • जमालगोटा का विषैला प्रभाव भी देखा गया है.
  • यदि सावधानी न बरतें तो इसके तेल से म्रत्यु भी हो सकती है.
  • गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली महिलाएं इसके इस्तेमाल से बचें.
  • किसी चिकित्सक के सलाह से ही इसका प्रयोग करें.

Shivlingi Beej Ke Benefits And Side Effects In Hindi

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Shivlingi Beej Ke Benefits And Side Effects In Hindi

वानस्पतिक नाम ब्रायोनिया लैसिनोसा वाले शिवलिंगी बीज के फायदे कितने महत्वपूर्ण हैं इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि ये बांझपन को भी दूर करता है. प्रजनन शक्ति बढ़ाने के अलावा भी इसमें कई अन्य गुण जैसे रक्त मेन लिपिड के स्तर को कम करना, रोगाणुओं का नाश करना, सूजन कम करना, फंगसरोधी, शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाना और दर्दनिवारक के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाता है. स्वाद में कड़वा लगाने वाले शिवलिंगी बीज के फ़ायदे निंलिखित हैं.

1. बुखार में
बुखार को कम करने में शिलिंगी बीज महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. शिवलिंगी के पत्तों का सेवन बुखार में अत्यंत लाभदायक सिद्ध होता है. शिवलिंगी के पत्तों में पैरासेटामॉल जैसे ज्वरनाशी गुण पाए जाते हैं. आप चाहें तो इसके पत्तों का काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं. आपको बता दें कि शिवलिंगी बीज में पीड़ा-नाशक प्रभाव भी देखा जाता है.
2. वजन कम करने में
बॉडी मॉस इंडेक्स को सही करने और शरीर के वजन को कम करने में शिवलिंगी बीज की सकारात्मक भुमिका है. इसके लिए इसमें पाया जाने वाला ग्लुकोमानन जिम्मेदार है. अपना मोटापा कम करने के लिए आपको शिवलिंगी बीज को नियमित रूप से और सही मात्रा में इस्तेमाल करना जरुरी है.
3. बांझपन को दूर करने में
कई महिलाओं में बांझपन की समस्या देखने को मिलती है. प्रजनन का सीधा संबंध अंडाणु और शुक्राणु से है. विशेषज्ञों का कहना है कि महिलाओं में बांझपन अंडे की कम संख्या या गुणवत्ता के कारण हो सकती है. इस तरह की स्थिति के लिए कोई बीमारी या चोट लगना जिम्मेदार हो सकती है. स्वाभाविक रूप से ये समस्या बढ़ती उम्र के साथ आती है.
शिवलिंगी बीज ओवेरियन रिज़र्व जैसी ओवुलेशन से निजात पाने में अत्यंत लाभकारी सिद्ध होता है. दरअसल ये पीरियड्स को नार्मल करता है. हलांकि इस विषय में अभी भी काफी शोध किया जाना बाकी है ताकि इसका और प्रभावी तरीके से इस्तेमाल किया जा सके.
4. कब्ज में शिवलिंगी बीज के फायदे
शिवलिंगी के बीज में ग्लुकोमानन नाम का एक पानी में घुलनशील प्राकृतिक फाइबर पाया जाता है. इसलिए ये पानी को अवशोषित करके आंत में मल त्याग की प्रक्रिया को बेहतर करता है. इस प्रकार ये कब्ज के उपचार में फायदेमंद साबित होता है. कब्ज आदि समस्याएं, हमारे शरीर में कई अन्य समस्याओं को भी जन्म देती हैं. इसलिए इसका ये अतिरिक्त फायदा है कि आप अनावश्यक बिमारियों से बच जाते हैं.
5. यौन ऊर्जा बढ़ाने के लिए
यदि आप शिवलिंगी बीज का उचित मात्रा में सेवन करें तो ये पुरुष के यौन अंगों जैसे वृषण, अधिवृषण और प्रोस्टेट आदि के वजन में वृद्धि करता है. यही नहीं ये शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाकर शुक्राणु कोशिकाओं में फ्रक्टोज की मात्रा भी बढ़ाते हैं. जिससे कि शुक्राणु द्रव के पोषण के स्तर में सुधार होता है. कुल मिलाकर ये आपकी यौन ऊर्जा में वृद्धि करते हैं.
6. गर्भाशय के लिए फायदेमंद
आयुर्वेद के अनुसार शिवलिंग बीजों को पुत्र जीवक बीज के साथ मिलाकर इसका पाउडर लेने से गार्भाशय की मांसपेशियों में मजबूती आती है. शिवलिंग बीज महिलाओं को गर्भवती होने में भी उनकी सहायता करता है. इसके लिए अप इस पाउडर को उस गाय के दूध के साथ मिलाएं जिसने बछड़े को जन्म दिया हो. इसे सुबह-शाम खाली पेट लेने से आपको इसका लाभ मिलता है.

क्या है शिवलिंगी का नुकसान
शिवलिंगी के बीज का वैसे तो कोई खास नुकसान नहीं देखा गया है. लेकिन कुछ आम सावधानियां जो कि सभी दवाओं को लेने में बरतनी चाहिए, उन्हें जरुर फॉलो करें. शिवलिंगी बीज से बनी दवाओं को जरूरत से ज्यादा मात्रा में न लें. जब भी किसी बीमारी के लिए शिवलिंगी बीज का इस्तेमाल करना हो तो किसी आयुर्वेदाचार्य से परामर्श अवश्य लें.
 

Sex And Infertility

MBBS, MD - Psychiatry, D.P.M - Sex-Psychotherapy
Sexologist, Surat
Sex And Infertility

Proper protein intake is essential for proper sex.

Health Benefits of Oysters

Sexologist Clinic
Sexologist, Faridabad

Love ’em or hate ’em, oysters are a staple of cuisines all over the world. Some people shudder at the thought of slurping down the slimy inside. Others can’t get enough of the briny flavor. 

Sexual Health:

The zinc found in oysters is why they are considered an age-old aphrodisiac! Zinc helps the body produce testosterone, a hormone critical in regulating women’s and men’s libido and sexual function. In men, research suggests that this mineral improves sperm count and swimming ability. In women, zinc may help ovaries, and therefore help in balancing and regulating the combination of estrogen, progesterone, and testosterone.

Immune Boosting:

These mollusks pack a solid dose of both vitamin E and C. They also contain various other minerals that help our immune system. The anti-inflammatory and anti-oxidant properties of oysters also protect against free radicals, which are released during cellular metabolism.

Heart Health: 

Oysters positively influence heart health. They reduce the plaque that accumulates on arteries by inhibiting it from binding to the artery walls and blood vessels. Moreover, the high magnesium and potassium content in oysters helps lower blood pressure and relaxes the blood vessels. The vitamin E increases the flexibility and strength of cellular membranes.

Good for Eyes:

Oysters top the list of natural sources of zinc, the mineral that ensures that the eye’s pigment is adequately produced in the retina. The more zinc, the stronger your eyesight, because reduced pigmentation is often related to a reduction in the central visual field of vision.

Improves Brain Function:

Oysters are a rich source of B12, omega-3 fatty acids, zinc and iron, benefiting both brain function. Studies have shown that low iron in the brain reduces the ability of a person to concentrate while zinc deficiency can affect the memory.

Good for the Skin:

The powerful mineral zinc plays a big role in skin repair by helping create and boost collagen. Collagen is crucial for the structural support in skin and reduces sagging. It also helps maintain stronger nails, and keeps scalp and hair healthy.

Healthy vascular system and blood vessels:

A serving of oysters contains 16-18% of the daily recommended amount of vitamin C. Vitamin C  helps fight cardiovascular disease by activating the coenzymes the body needs to make norepinephrine- a chemical essential for nerve function. They are also high in omega–3 fatty acids, potassium, and magnesium which are known to reduce the  risk of heart attack, stroke, and also effective at lowering blood pressure.

Energy Boosting:

Oysters contain a good amount of B12 vitamins, which boost energy and turn the food we eat into energy. Recent studies suggest anywhere from 15-40% of Americans don’t have adequate levels of B12 for optimal health. Oysters also contain iron, which helps the body transport oxygen to individual cells giving an energy boost.

1 person found this helpful

Sleep is Important

MBBS, FIAGES-MInimal Access Surgery
General Surgeon, Kota
Sleep is Important

Finding it difficult to get a good night’s sleep? Sleep deprivation can lead to fatigue, confusion, memory lapses and irritability.

To get a restful sleep:

  • Create a sleep schedule and stick to it. Reading a book, listening to relaxing music, or taking a warm shower can help in relaxing your body.
  • Avoid watching TV or surfing on your mobile as this can interfere with your sleep.
  • Pay attention to what you eat and drink. Going to bed hungry or stuffing yourself too much can cause discomfort and keep you awake.

लहसुन के सेवन के स्वास्थ्य लाभ

Sexologist Clinic
Sexologist, Faridabad

कई बार हम ध्यान नहीं देते कि हमारे घर में ही मौजूद कोई चीज़ हमारे लिए कितनी फायदेमंद साबित हो सकती है। ऐसी ही एक चीज़ किचन में पाए जाने वाला लहसुन है। लहसुन में कई सारे औषधीय गुण होते हैं। लहसुन को खाना तब ज़्यादा लाभकारी होता है जब आप उसे खाली पेट कच्चा खाते हैं। आइये जानें इसके सभी स्वास्थ्य लाभों के बारे में।

1. इंफेक्शन से बचाए 

लहसुनलहसुन का सेवन करने से शरीर में टी-सेल्स, फैगोसाइट्स, लिंफोसाइट्स आदि प्रतिरोधी तत्व बढ़ते हैं। ये सभी तत्व शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं। इससे किसी भी प्रकार का इंफेक्शन शरीर को तुरंत नहीं होता।

2. ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रखे

 लहसुन खाने से हाइपरटेंशन की समस्या में आराम मिलता है। यह न सिर्फ रक्त के प्रवाह को नियमित करता है बल्कि यह दिल से संबंधित समस्याओं को भी दूर करता है तथा लीवर और मूत्राशय को भी सुचारू रूप से काम करने में सहायक होता है

3. पिंप्लस का उपचार 

लहसुनलहसुन में एंटी बैक्टिरियल तत्व पाए जाते हैं। इसीलिए पिंपल्स की समस्या हो तो इसका इस्तेमाल करने से काफी फायदा होता है। पिंपल पर लहसुन की स्लाइस लेकर हल्के से रब करें, बहुत जल्द पिंपल ठीक हो जाएगा।

दांत के दर्द में आरामजी हां, लहसुन के सेवन से दांतों के दर्द में भी काफी आराम मिलता है। इसके लिए लहसुन को लौंग के साथ पीसकर दांतों के दर्द वाले हिस्से पर लगाएं, दर्द से तुरंत राहत मिलेगी|

4. दांत के दर्द में आराम

जी हां, लहसुन के सेवन से दांतों के दर्द में भी काफी आराम मिलता है। इसके लिए लहसुन को लौंग के साथ पीसकर दांतों के दर्द वाले हिस्से पर लगाएं, दर्द से तुरंत राहत मिलेगी।

5. भूख बढ़ाए

लहसुन पाचन प्रक्रिया को तेज़ करता है और इसी वजह से भूख भी बढ़ाता है। जब भी आपको घबराहट होती है तो पेट में एसिड बनने लगता है। लहसुन इस एसिड को बनने से रोकता है।

6. ब्लड क्लॉटिंग न होने दे

लहसुन उन लोगों के लिए भी बहुत फायदेमंद हैं जिनका खून अधिक गाढ़ा होता है, और इस वजह से ब्लड क्लॉटिंग की समस्या हो जाती है। लहसुन खून पतला करता है और रक्त प्रवाह सुचारू करता है और इस तरह से ब्लड क्लॉटिंग को रोकता है।

7. श्वसन तंत्र मज़बूत बनाए

लहसुन श्वसन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं जैसे ट्यूबरक्लोसिस, अस्थमा, निमोनिया, ज़ुकाम, ब्रोंकाइटिस, पुरानी सर्दी, फेफड़ों में जमाव और कफ़ आदि रोकथाम तथा उपचार में बहुत प्रभावशाली होता है।

8. डायरिया दूर करने में मदद करे

पेट से संबंधित समस्याओं जैसे डायरिया आदि के उपचार में भी लहसुन प्रभावकारी होता है। लहसुन तंत्रिकाओं से संबंधित बीमारियों के उपचार में काफी प्रभावकारी होता है, लेकिन सिर्फ तभी जब इसे खाली पेट खाया जाए।

3 people found this helpful

लहसुन के सेवन के स्वास्थ्य लाभ

Sexologist Clinic
Sexologist, Faridabad

 

कई बार हम ध्यान नहीं देते कि हमारे घर में ही मौजूद कोई चीज़ हमारे लिए कितनी फायदेमंद साबित हो सकती है। ऐसी ही एक चीज़ किचन में पाए जाने वाला लहसुन है। लहसुन में कई सारे औषधीय गुण होते हैं। लहसुन को खाना तब ज़्यादा लाभकारी होता है जब आप उसे खाली पेट कच्चा खाते हैं। आइये जानें इसके सभी स्वास्थ्य लाभों के बारे में।

इंफेक्शन से बचाए 

लहसुनलहसुन का सेवन करने से शरीर में टी-सेल्स, फैगोसाइट्स, लिंफोसाइट्स आदि प्रतिरोधी तत्व बढ़ते हैं। ये सभी तत्व शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं। इससे किसी भी प्रकार का इंफेक्शन शरीर को तुरंत नहीं होता।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रखे

 लहसुन खाने से हाइपरटेंशन की समस्या में आराम मिलता है। यह न सिर्फ रक्त के प्रवाह को नियमित करता है बल्कि यह दिल से संबंधित समस्याओं को भी दूर करता है तथा लीवर और मूत्राशय को भी सुचारू रूप से काम करने में सहायक होता है

पिंप्लस का उपचार 

लहसुनलहसुन में एंटी बैक्टिरियल तत्व पाए जाते हैं। इसीलिए पिंपल्स की समस्या हो तो इसका इस्तेमाल करने से काफी फायदा होता है। पिंपल पर लहसुन की स्लाइस लेकर हल्के से रब करें, बहुत जल्द पिंपल ठीक हो जाएगा।

दांत के दर्द में आरामजी हां, लहसुन के सेवन से दांतों के दर्द में भी काफी आराम मिलता है। इसके लिए लहसुन को लौंग के साथ पीसकर दांतों के दर्द वाले हिस्से पर लगाएं, दर्द से तुरंत राहत मिलेगी|

दांत के दर्द में आराम

जी हां, लहसुन के सेवन से दांतों के दर्द में भी काफी आराम मिलता है। इसके लिए लहसुन को लौंग के साथ पीसकर दांतों के दर्द वाले हिस्से पर लगाएं, दर्द से तुरंत राहत मिलेगी।

भूख बढ़ाए

लहसुन पाचन प्रक्रिया को तेज़ करता है और इसी वजह से भूख भी बढ़ाता है। जब भी आपको घबराहट होती है तो पेट में एसिड बनने लगता है। लहसुन इस एसिड को बनने से रोकता है।

ब्लड क्लॉटिंग न होने दे

लहसुन उन लोगों के लिए भी बहुत फायदेमंद हैं जिनका खून अधिक गाढ़ा होता है, और इस वजह से ब्लड क्लॉटिंग की समस्या हो जाती है। लहसुन खून पतला करता है और रक्त प्रवाह सुचारू करता है और इस तरह से ब्लड क्लॉटिंग को रोकता है।

श्वसन तंत्र मज़बूत बनाए

लहसुन श्वसन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे जुड़ी स्वास्थ्य समस्याओं जैसे ट्यूबरक्लोसिस, अस्थमा, निमोनिया, ज़ुकाम, ब्रोंकाइटिस, पुरानी सर्दी, फेफड़ों में जमाव और कफ़ आदि रोकथाम तथा उपचार में बहुत प्रभावशाली होता है।

डायरिया दूर करने में मदद करे

पेट से संबंधित समस्याओं जैसे डायरिया आदि के उपचार में भी लहसुन प्रभावकारी होता है। लहसुन तंत्रिकाओं से संबंधित बीमारियों के उपचार में काफी प्रभावकारी होता है, लेकिन सिर्फ तभी जब इसे खाली पेट खाया जाए।

3 people found this helpful

Health Benefits of Green Tea

Sexologist Clinic
Sexologist, Faridabad

Promotes Heart Health

Potentially due to its ability to lower blood cholesterol, green tea has been shown to aid the body in its ability to burn off harmful forms of fat, preventing them from laying stagnant in the blood stream. Large-scale studies done on green tea have associated it with long-term heart disease prevention. A Japanese trial found that drinking at least four cups of green tea daily could lower the severity of heart disease in men. 

Antioxidants

Green tea is loaded with antioxidants. These free-radical fighting substances increase the body’s ability to ward off disease and slow down the degenerative processes of aging. Green tea contains antioxidants called catechins and polyphenols, forms of antioxidants known to stop the response associated with damaged DNA, high cholesterol, and even cancer. These antioxidants act as dilators on our blood vessels, improving their elasticity and reducing the chance of clogging. What is more, green tea undergoes very little processing, allowing the natural antioxidants to remain intact and concentrated.

 Weight-Loss Aid and Metabolism Booster

Green tea extract has been shown to be effective in both the prevention and reduction of weight gain. One study found that green tea’s fat oxidation properties aided participants in weight loss over a period of three months. A Japanese study found that participants using green tea extracts were most easily able to lose weight, lower blood pressure levels and get rid of harmful LDL cholesterol. Clinical studies suggest that green tea’s polyphenols create a fat-burning effect in the body, as well as increase metabolism. But, and this is a big but, some research has shown that green tea extract may offer too much of a good thing to the point it can negatively affect liver health. Although we can’t talk about the benefits of green tea without mentioning green tea extract and weight loss, we also can’t mention that without the caveat against green tea extract.

Supports Digestion

Green tea is a well-known digestive stimulant. It reduces intestinal gas and may even offer support for digestive disorders such as Crohn’s disease and ulcerative colitis, the two types of IBD.

Encourages Normal Blood Sugar

Green tea has been used in traditional medicine to keep blood sugar levels stabilized. This may be due to the fact that it regulates glucose in the body.

Support for Arthritis

Studies show that green tea counteracts the response typically associated with diseases like arthritis. It does this by slowing the inflammation response as well as the breakdown of cartilage in arthritic individuals.

Boosts the Immune System

Green tea may act as an overall immune booster. Chemicals in green tea have been used to promote good health in so many ways. Some studies on laboratory animals even show promising evidence that green tea can slow the aging process and even keep us alive longer!

2 people found this helpful

Health Benefits of Green Tea

Sexologist Clinic
Sexologist, Faridabad

Promotes Heart Health

Potentially due to its ability to lower blood cholesterol, green tea has been shown to aid the body in its ability to burn off harmful forms of fat, preventing them from laying stagnant in the blood stream. Large-scale studies done on green tea have associated it with long-term heart disease prevention. A Japanese trial found that drinking at least four cups of green tea daily could lower the severity of heart disease in men. 

 

Antioxidants

Green tea is loaded with antioxidants. These free-radical fighting substances increase the body’s ability to ward off disease and slow down the degenerative processes of aging. Green tea contains antioxidants called catechins [4] and polyphenols, forms of antioxidants known to stop the response associated with damaged DNA, high cholesterol, and even cancer. These antioxidants act as dilators on our blood vessels, improving their elasticity and reducing the chance of clogging. What is more, green tea undergoes very little processing, allowing the natural antioxidants to remain intact and concentrated.

 Weight-Loss Aid and Metabolism Booster

Green tea extract has been shown to be effective in both the prevention and reduction of weight gain. One study found that green tea’s fat oxidation properties aided participants in weight loss over a period of three months. A Japanese study found that participants using green tea extracts were most easily able to lose weight, lower blood pressure levels and get rid of harmful LDL cholesterol. Clinical studies suggest that green tea’s polyphenols create a fat-burning effect in the body, as well as increase metabolism. But, and this is a big but, some research has shown that green tea extract may offer too much of a good thing to the point it can negatively affect liver health. Although we can’t talk about the benefits of green tea without mentioning green tea extract and weight loss, we also can’t mention that without the caveat against green tea extract.

Supports Digestion

Green tea is a well-known digestive stimulant. It reduces intestinal gas and may even offer support for digestive disorders such as Crohn’s disease and ulcerative colitis, the two types of IBD.

Encourages Normal Blood Sugar

Green tea has been used in traditional medicine to keep blood sugar levels stabilized. This may be due to the fact that it regulates glucose in the body.

Support for Arthritis

Studies show that green tea counteracts the response typically associated with diseases like arthritis. It does this by slowing the inflammation response as well as the breakdown of cartilage in arthritic individuals.

Boosts the Immune System

Green tea may act as an overall immune booster. Chemicals in green tea have been used to promote good health in so many ways. Some studies on laboratory animals even show promising evidence that green tea can slow the aging process and even keep us alive longer!

Do you drink a lot of green tea? What thoughts or experiences can you share? Please leave a comment below!

1 person found this helpful

Hi sir, I have some sexual problem. My penis size is 2 inch in normal and erect 3.5 is it ok for sexual life.

MBBS
Sexologist, Panchkula
Hi sir, I have some sexual problem. My penis size is 2 inch in normal and erect 3.5 is it ok for sexual life.
Normal average size of penis is 5 to 7 inches when erected. Your penis is small in size in normal and erect position. This is not ok for sexual life.
Submit FeedbackFeedback

Hi my name s vijetha and ma question s I am facing pcod nd how to take ths Primson 35 tablet? Whthr to take before food r after food?

MBBS, MS - Obstetrics and Gynaecology
Gynaecologist, Delhi
Hi my name s vijetha and ma question s I am facing pcod nd how to take ths Primson 35 tablet? Whthr to take before fo...
Krimson35 should be taken from 5th day of cycle ,it should be taken after dinner ,should be taken on the same time each day daily for 21 days.
Submit FeedbackFeedback

Hi am a 26 year old I have a one problem that is my pennies size, and also am not able to do long time sex That's why am worried, but I want to consult any good Lady sexologist in bangalore in any area also.

MD - Alternate Medicine, PGDIP.IN GERIATRIC CARE, Post Graduate Diploma in Holistic Healthcare
Ayurveda, Balasore
Hi am a 26 year old I have a one problem that is my pennies size, and also am not able to do long time sex That's why...
Hi Try to control your urge. Size no matter what you think but you must be potential to the highest level .Try to boost your energy level so that it would help you building your erectile power along with size of penis. Feel free to contact me for better results.
Submit FeedbackFeedback

Whenever I eat or try to eat and even after eating (except tasty food ), I feel vomiting, dryness of mouth. Dryness of mouth remains even after drinking enough water.

BHMS, MD - Homeopathy
Homeopath, Vellore
Whenever I eat or try to eat and even after eating (except tasty food ), I feel vomiting, dryness of mouth. Dryness o...
Dear lybrate-user! Do not worry about the dryness of mouth and vomiting 1. Do not take any spicy food 2. Take more of curd and buttermilk 3. Avoid oily food, deep fried food 4. Take more of fruits and vegetables 5. Eat cucumber, and drink chilled milk before going to sleep 6. Avoid stress, it may induce your problem more 7. Check for H.Pyroli 8. Take homeopathy medicine, you can get normal within few days Thank you For more doubts contact us in private question section.
Submit FeedbackFeedback

I am suffering from headache for the last 3 week and I have also brain pain can you suggest what should be done.

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Zirakpur
I am suffering from headache for the last 3 week and I have also brain pain can you suggest what should be done.
Prima facie, pl get SHADBINDU OIL (ayurvedic) and put 2-3 drops in each nostril every morning (as early as possible better before sunrise). Take Godanti Hartal powder and Guduchi /Giloy satv powder both 10 gms each. Mix powders. These are 20 gms. These are 40 doses (1/2 gm ech). Take 1 dose with honey twice a day. Very safe. Your stomach should be clean. Take Swadisht Virechan chooran 1 tsp at night with warm water every alternative day. Report after two weeks.
Submit FeedbackFeedback

Hello sir, 24 year male I want to know about how to boost testosterone naturally. I have less beard my total testosterone level 2.50 ng/ml. Can it boost naturally. Any home remedies for it.

M.D.(Ayu.) Basic Principles, B.A.M.S.
Ayurveda, Ajmer
Hello sir, 24 year male I want to know about how to boost testosterone naturally. I have less beard my total testoste...
Hi Lybrate user You can use pwd Ashwagandh 6gm (1full TSF) with milk two times a day to boost your testosterone level. Thanks Regards!
Submit FeedbackFeedback

Sir I had a protected intercourse 2 months back. But experienced abdominal pain and gastritis symptoms for 1 month. I had tested at 39 53 and 60th day by HIV 1&2 CMIA .should I test further.

MBBS
Sexologist, Panchkula
Sir I had a protected intercourse 2 months back. But experienced abdominal pain and gastritis symptoms for 1 month. I...
You can do ELISA TEST FOR HIV after 90 days of exposure. This is 99.9 % accurate and conclusive and tell me report for better guidance to you.
Submit FeedbackFeedback

Hello I am addicted to incest porn like mom son, bro sis. Is it bad through I know incest marriage not possible neither I want nor I want child from incest sex. Kindly guide.

MBBS
Sexologist, Panchkula
Hello I am addicted to incest porn like mom son, bro sis. Is it bad through I know incest marriage not possible neith...
You should avoid watching incest porn. I advise you to be vegetarian. Take plenty of water daily. Do meditation for increasing mental focus to control your mind, to stop watching incest porn. Follow this and be happy.
Submit FeedbackFeedback

Hi. Am a male. Am married 6 month ago I have erection dysfunction and I consulted a doctor and he took tests regarding my sperm count and everything looks normal he gave some tablets like NUTRICHARGE Man but it doesn't work out. Then I came to know about LEVITRA tablet and I saw the review its good. My question is this tablet OK for conception or is this will bring any side effects in future. I need a clear answer for this. I can not move my marriage life with out satisfied sex.

MD - Alternate Medicine, PGDIP.IN GERIATRIC CARE, Post Graduate Diploma in Holistic Healthcare
Ayurveda, Balasore
Hi. Am a male. Am married 6 month ago I have erection dysfunction and I consulted a doctor and he took tests regardin...
Hi There are so many products to boost your energy level. Take care and be natural. Avoid steroids which are available though items are sensitive to the body cause of some hazard. Be natural. Try to take herbal products and minerals. Feel free to contact me.
Submit FeedbackFeedback

I was suffering from fever for the last two days. I thought it would recover automatically. Now should I meet a doctor?

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Bangalore
I was suffering from fever for the last two days. I thought it would recover automatically. Now should I meet a doctor?
During this time of the season, viral fever such as dengue and chikengunya are widely spread so it is advisable to atleast get your blood test (Cbc) done and if you find any abnormalities in the report please visit your nearest doctor.
Submit FeedbackFeedback

I took ipill after 7 days I got little bit bleeding nd headache vomiting 3 times please tell its safe or not?

DHMS (Hons.)
Homeopath, Patna
I took ipill after 7 days I got little bit bleeding nd headache vomiting 3 times please tell its safe or not?
Hello, It might be due to anxiety & stress. Proper, pathological test be needed to ascertain the exact condition, please. Tk, care.
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Clinics