Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}

Doppler Scrotum Health Feed

Sir my left side testes is larger than left side, sir it is hydrocele or other things.

C.S.C, D.C.H, M.B.B.S
General Physician, Alappuzha
Sir my left side testes is larger than left side, sir it is hydrocele or other things.
Usually one testicle are larger than other testis to see wheater it is hydrocele you need examination.
Submit FeedbackFeedback

Hello doctor, I had a habit of masturbation and even I have done it many times, due to that reason my testicles became loose and hanging loosely. 1) is there any problem or in the future? 2) is there problem for infertility? 3) am I useful for sex? 4) how to tight my testicles? I'm being scared because of this reason. Can I get solution for this problem? I'm just 24 years old.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Hello doctor,
I had a habit of masturbation and even I have done it many times, due to that reason my testicles becam...
Hello lybrate-user. Just take semen analysis test from a laboratory. See if it is fine or not. There is no much difference in loose or tight testis. In summer when temperature is hight it becomes loose. And better stop masturbation. It is not good for overall health.
Submit FeedbackFeedback

What Happens If Varicocele Is Left Untreated?

M.D. Natural medicine, Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Sexologist, Mathura
What Happens If Varicocele Is Left Untreated?
The pooling blood around the testicle increases the pressure, which may cause shrinkage. Infertility is another strong possibility for those who don't get varicocele treatment. Untreated varicoceles of large veins can cause overheating. That, in turn, affects the number, mobility, and quality of the sperm.
2 people found this helpful

After workout yesterday I noticed my left side hydrocele size increase and light pain so what are the solution please suggest me as soon as possible. Please suggest me.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
After workout yesterday I noticed my left side hydrocele size increase and light pain so what are the solution please...
Hello lybrate-user. You may have developed hernia with hydroceles. Get proper check up like sonography scrotum. You can consult me at Lybrate for homoeopathic treatment. Till then take nux vomica 0/1 thrice.
Submit FeedbackFeedback

अंडकोष का बढ़ना का कारण - Andkosh Ke Badhne Ka Karan!

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
अंडकोष का बढ़ना का कारण - Andkosh Ke Badhne Ka Karan!
पुरुषों में अक्सर अंडकोष के बढ़ने की समस्या होती है जिसे आमतौर पर हाइड्रोसील की समस्या भी कहा जाता है. यह समस्या पुरुषों के एक अंडकोष में या फिर दोनों अंडकोषों में भी हो सकती है. अंडकोष बढ़ने की समस्या तब होती है जब किसी कारणों से अंडकोष में अधिक पानी जमा हो जाता है. इसके कारण अंडकोष की थैली फूल जाती है और ऐसी स्थिति को हमलोग आमतौर पर हाइड्रोसील या प्रोसेसस वजायनेलिस या पेटेन्ट प्रोसेसस वजायनलिस भी कहते हैं. आपको बता दें कि अंडकोष में अत्यधिक पानी भर जाने के कारण कई बार तो अंडकोष गुब्बारे की तरह फुला हुआ दिखाई पड़ने लगता है. अंडकोष में अधिक पानी भर जाने के कारण सूजन और दर्द की शिकायत हो सकती है, इसलिए हाइड्रोसील से इकट्ठा पानी को निकालने की आवश् यकता होती है. दरअसल अंडकोष में सूजन या पानी का भरना कई अलग-अलग कारणों से हो सकता है. जैसे अंडकोष पर चोट लगने के कारण या नसों में सूजन आने के कारण या कई बार तो स्वास् थ् य समस् याओं के कारण भी अंडकोष में सूजन आ सकती है. हालांकि एक तथ्य ये भी है कि कुछ लोगों में हाइड्रोसील की समस् या वंशानुगत या जन्मजात भी हो सकती है. वैसे तो यह समस् या किसी भी उम्र में हो सकती है लेकिन 40 वर्ष के बाद इसकी शिकायत अक् सर देखी जाती है. कभी-कभी अंडकोष की सूजन में दर्द बिल्कुल भी नहीं होता और कभी होता है और वह बढ़ता रहता है. आइए इस लेख के माध्यम से हम अंडकोष के बढ़ने से संबन्धित विभिन्न पहलुओं को जानें.

हाइड्रोसील के उपचार के तरीके-
हाइड्रोसील की चेकअप - हाइड्रोसील के आसपास तरल पदार्थ होने के कारण अंडकोष को महसूस नहीं किया जा सकता है. हाइड्रोसील में मौजूद तरल पदार्थ का सााइज पेट या हाइड्रोसील की थैली के प्रेशर के कारण कम या ज्यादा होता रहता है. अगर शरीर में तरल पदार्थ का स्टोरेज का साइज बदलता रहता है, तो आमतौर पर यह लक्षण हर्निया से संबधित होने की संभावना भी हो सकती है. हाइड्रोसील को आसानी से पता लगाया जा सकता है. इसके उपचार के लिए अल् ट्रासाउंड का भी प्रयोग कर सकते हैं. अल् ट्रासाउंड से अंडकोष में भरा द्रव साफ नजर आता है.

सर्जरी के जरिये-
आमतौर पर हाइड्रोसील कोई गंभीर बीमारी नहीं होती है. लेकिन फिर भी इसमें सर्जरी की आवश्यकता पड़ सकती है. यदि हाइड्रोसील के कारण समस्या ज्यादा बढ़ जाती है तो सर्जरी की आवश्यकता पड़ सकती है. हाइड्रोसील के कारण ब्लड फ्लो में समस् या हो सकती है. ऐसे में सर्जरी से इसका निदान किया जाता है. यदि तरल पदार्थ साफ हो या कोई संक्रमण या रक्त का रिसाव हो तो इसे बाहर निकालने के लिए सर्जरी का सहारा लिया जाता है.

चूंकि हाइड्रोसेल्स तरल पदार्थ से भरे हुए हैं, इसलिए टेस्टिकल्स के अंदर किसी भी ठोस द्रव्यमान की अनुपस्थिति में, ट्रांसिल्यूमिनेशन तकनीक प्रकाश को सूजन से गुज़रने की अनुमति देती है. कभी-कभी जब हाइड्रोसेल रोगी के टेस्टिकल्स के अंदर ठोस द्रव्यमान का पता लगाया जाता है, तो डॉक्टर ग्रोन क्षेत्र में सूजन के लिए संबंधित कारण की बेहतर समझ के लिए अल्ट्रासाउंड की सलाह देता है.

हाइड्रोसेल खतरनाक नहीं है, इसका इलाज तभी किया जाता है जब प्रभावित क्षेत्र में दर्द होता है. यदि हाइड्रोसेल के आकार बदलाव नहीं होता है और समय बीतने के साथ बड़ा हो जाता है, तो उपचार की आवश्यकता नहीं होती है. ज्यादातर मामलों में हाइड्रोक्सेल्स दवाओं के बिना भी एक निश्चित अवधि के बाद छोटा हो जाता है, क्योंकि शरीर द्रव को पुन: व्यवस्थित करता है.

हालांकि, यह देखा गया है कि 65 वर्ष से अधिक उम्र के पुरुषों में हाइड्रोसेल आमतौर पर अपने आप से दूर नहीं जाता है. ऐसे मामलों में डॉक्टर बीमारी की गंभीरता के अनुसार एक एस्पिरेशन सुई का उपयोग करके हाइड्रोसेल से तरल पदार्थ की एस्पिरट कर सकते हैं या हाइड्रोसेलेक्टॉमी (हाइड्रोसेल का सर्जिकल हटाने) कर सकते हैं. यदि आपको लगता हैं कि आप इस बीमारी से पीड़ित हैं तो मूत्र विज्ञानी या एक एंड्रॉजिस्ट से उपचार करायें.

नोट: - जैसा कि प्रत्येक बीमारी के उपचार में कुछ बातों का अनिवार्य रूप से देना रखना चाहिए ताकि संबन्धित बीमारी का उपचार प्रभावी रूप से हो सके. उसी तरह से हाइड्रोसिल के उपचार में भी कुछ बातें ऐसी हैं जिनको ध्यान में रखकर ही उपचार की प्रक्रिया को आगे बढ़ाना चाहिए. वैसे तो हाइड्रोसील का इलाज एस्पिरेशन और स्क्लिरोजिंग से किया जाता है, पर इस तरह से इलाज करने से भी कुछ खतरे हो सकते है. इसकी वजह से अंडकोष के आसपास हल्का दर्द, इन्फेक्शन और फाइब्रोसिस की समस् या हो सकती है.
5 people found this helpful

हाइड्रोशील का इलाज - Hydroshil Ka Ilaj!

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
हाइड्रोशील का इलाज - Hydroshil Ka Ilaj!
पुरुषों के अंडकोष में अक्सर हाइड्रोसील नाम की बीमारी की समस्या उत्पन्न होती है. यह एक ऐसी बीमारी है जो पुरुषों के एक अथवा दोनों अंडकोष के आसपास बन सकती है. हाइड्रोसील की बीमारी तब होती है जब किसी कारण यह बीमारी शिशुओं में होना सामान्य है और कई बार अपने आप ही ठीक हो जाती है. हाइड्रोसेल पुरुष में दर्द रहित स्थिति है, जो एक या दोनों टेस्टिकल्स के आसपास पानी के तरल पदार्थ के निर्माण के कारण होता है. यह स्थिति ग्रोइन और स्क्रोटम क्षेत्र में सूजन का कारण बनती है. यह सूजन असहज और भद्दा लग सकती है. लेकिन आम तौर पर हाइड्रोसेल खतरनाक बीमारी नहीं है. किसी भी उम्र में हाइड्रोसेल हो सकता है. यह कई पुरुष नवजात बच्चों में भी पाया जाता है, जो उनके जन्म के कुछ दिनों के बाद ठीक हो जाते हैं. ज्यादातर मामलों में इस बीमारी का कारण अज्ञात रहा है. हालांकि, डॉक्टरों के मुताबिक, जीवन के उत्तरार्ध में होने वाली हाइड्रोक्सेल्स सर्जरी या स्क्रोटम या ग्रोन क्षेत्र में चोट के कारण हो सकती है. यह टेस्टिकल्स में संक्रमण या सूजन के कारण भी हो सकता है. कुछ मामलों में हाइड्रोसेल बाएं किडनी के टेस्टिकल्स या कार्सिनोमा के कैंसर के कारण हो सकता है, लेकिन यह 40 वर्ष आयु वर्ग से अधिक आयु के पुरुषों में हाइड्रोसेल विकसित करने का कारण सबसे आम है. आइए इस लेख के माध्यम से हम हाइड्रोसिल के इलाज का तरीका जानें.

हाइड्रोसील के उपचार के तरीके-
हाइड्रोसील की चेकअप - हाइड्रोसील के आसपास तरल पदार्थ होने के कारण अंडकोष को महसूस नहीं किया जा सकता है. हाइड्रोसील में मौजूद तरल पदार्थ का सााइज पेट या हाइड्रोसील की थैली के प्रेशर के कारण कम या ज्यादा होता रहता है. अगर शरीर में तरल पदार्थ का स्टोरेज का साइज बदलता रहता है, तो आमतौर पर यह लक्षण हर्निया से संबधित होने की संभावना भी हो सकती है. हाइड्रोसील को आसानी से पता लगाया जा सकता है. इसके उपचार के लिए अल् ट्रासाउंड का भी प्रयोग कर सकते हैं. अल् ट्रासाउंड से अंडकोष में भरा द्रव साफ नजर आता है.

सर्जरी के जरिये-
आमतौर पर हाइड्रोसील कोई गंभीर बीमारी नहीं होती है. लेकिन फिर भी इसमें सर्जरी की आवश्यकता पड़ सकती है. यदि हाइड्रोसील के कारण समस्या ज्यादा बढ़ जाती है तो सर्जरी की आवश्यकता पड़ सकती है. हाइड्रोसील के कारण ब्लड फ्लो में समस् या हो सकती है. ऐसे में सर्जरी से इसका निदान किया जाता है. यदि तरल पदार्थ साफ हो या कोई संक्रमण या रक्त का रिसाव हो तो इसे बाहर निकालने के लिए सर्जरी का सहारा लिया जाता है.

चूंकि हाइड्रोसेल्स तरल पदार्थ से भरे हुए हैं, इसलिए टेस्टिकल्स के अंदर किसी भी ठोस द्रव्यमान की अनुपस्थिति में, ट्रांसिल्यूमिनेशन तकनीक प्रकाश को सूजन से गुज़रने की अनुमति देती है. कभी-कभी जब हाइड्रोसेल रोगी के टेस्टिकल्स के अंदर ठोस द्रव्यमान का पता लगाया जाता है, तो डॉक्टर ग्रोन क्षेत्र में सूजन के लिए संबंधित कारण की बेहतर समझ के लिए अल्ट्रासाउंड की सलाह देता है.

हाइड्रोसेल खतरनाक नहीं है, इसका इलाज तभी किया जाता है जब प्रभावित क्षेत्र में दर्द होता है. यदि हाइड्रोसेल के आकार बदलाव नहीं होता है और समय बीतने के साथ बड़ा हो जाता है, तो उपचार की आवश्यकता नहीं होती है. ज्यादातर मामलों में हाइड्रोक्सेल्स दवाओं के बिना भी एक निश्चित अवधि के बाद छोटा हो जाता है, क्योंकि शरीर द्रव को पुन: व्यवस्थित करता है.
हालांकि, यह देखा गया है कि 65 वर्ष से अधिक उम्र के पुरुषों में हाइड्रोसेल आमतौर पर अपने आप से दूर नहीं जाता है. ऐसे मामलों में डॉक्टर बीमारी की गंभीरता के अनुसार एक एस्पिरेशन सुई का उपयोग करके हाइड्रोसेल से तरल पदार्थ की एस्पिरट कर सकते हैं या हाइड्रोसेलेक्टॉमी (हाइड्रोसेल का सर्जिकल हटाने) कर सकते हैं. यदि आपको लगता हैं कि आप इस बीमारी से पीड़ित हैं तो मूत्र विज्ञानी या एक एंड्रॉजिस्ट से उपचार करायें.

नोट: - जैसा कि प्रत्येक बीमारी के उपचार में कुछ बातों का अनिवार्य रूप से देना रखना चाहिए ताकि संबन्धित बीमारी का उपचार प्रभावी रूप से हो सके. उसी तरह से हाइड्रोसिल के उपचार में भी कुछ बातें ऐसी हैं जिनको ध्यान में रखकर ही उपचार की प्रक्रिया को आगे बढ़ाना चाहिए. वैसे तो हाइड्रोसील का इलाज एस्पिरेशन और स्क्लिरोजिंग से किया जाता है, पर इस तरह से इलाज करने से भी कुछ खतरे हो सकते है. इसकी वजह से अंडकोष के आसपास हल्का दर्द, इन्फेक्शन और फाइब्रोसिस की समस् या हो सकती है.
2 people found this helpful

I have hydrocele problem in left testis, is operation a permanent solution, or it may occur again after operation.

BASM, MD, MS (Counseling & Psychotherapy), MSc - Psychology, Certificate in Clinical psychology of children and Young People, Certificate in Psychological First Aid, Certificate in Positive Psychology, Positive Psychiatry and Mental Health
Psychologist, Palakkad
I have hydrocele problem in left testis, is operation a permanent solution, or it may occur again after operation.
Hello and welcome to Lybrate. I have reviewed your query and here is my advice. Hydrocele surgery is an effective treatment and the chances or recurrence is minimal. Hope I have answered your query. You can contact me for further advice and treatment options. Let me know if I can assist you further. Take care.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

Hydrocele In Children - Know The Signs That Indicate It!

MAMC, MRCPCH, MD - Paediatrics, MBBS
Pediatrician, Noida
Hydrocele In Children - Know The Signs That Indicate It!
Sometimes, the groin and scrotum swell due to the buildup of water like fluid in one or both the testicles. This is known as hydrocele. This condition is not at all painful, but can be uncomfortable at times. In newborn babies, there is an opening between the abdomen and the scrotum; it naturally closes with the passage of time, therefore it s generally nothing to worry about.

Symptoms of hydrocele:

Scrotum can get enlarged at times

Swelling and redness are common in hydrocele

Also, pressure can be felt at the base of your child s penis

Pain doesn t normally occur but in some cases, might occur as your child gets older

How does in occur in babies?

When you are in the last stage of your pregnancy, the baby s testicles descend from its abdomen to the scrotum. So the fluid in the sac stays within the scrotum and the opening closes naturally after some time.

Can it be treated?

This condition is not usually hazardous to health and is treated usually, if there is immense pain. It can also cut out the blood supply; in this case, it has to be treated as soon as possible. If your child experiences such symptoms, you should take him to a doctor for a physical examination. During this examination, the doctor will shine light near the scrotum.

If it appears as a solid mass, then the assumption is that there is no watery fluid; hence, hydrocele has not occurred. There is a procedure in which the hydrocele is burst open with a small needle, but sometimes, it might relapse. In such a case, surgery is the only reliable option. These symptoms can also persist if your child is diagnosed with hernia. Hence, in such a situation, a surgery would solve both the conditions.
4001 people found this helpful

Not every time but only sometimes my left testicle is hanging too much lower (approximately 2.7 cm) than right testicle in day time. There is no swelling, lumps or bumps in the testicle area. Also there is no paining.

MD - Homeopathy, BHMS
Homeopath, Vadodara
Not every time but only sometimes my left testicle is hanging too much lower (approximately 2.7 cm) than right testic...
It is normal. You can consult me through Lybrate for homoeopathic treatment and further guidance if there is pain or any other issues.
Submit FeedbackFeedback