Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Book
Call
Send
Get Help
Feed

About

Our entire team is dedicated to providing you with the personalized, gentle care that you deserve. All our staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well....more
Our entire team is dedicated to providing you with the personalized, gentle care that you deserve. All our staff is dedicated to your comfort and prompt attention as well.

Timings

MON-SUN
09:00 AM - 08:00 PM

Location

122/726, Plot No. 302, Shastri Nagar,Landmark: Chain Factory Chauraha
Shashtri Nagar Kanpur, Uttar Pradesh - 208012
Get Directions

Doctors in ASG Hospital-Kanpur

Dr. Nitesh

MS - Ophthalmology
Ophthalmologist
85%  (10 ratings)
14 Years experience
300 at clinic
₹300 online
Available today
09:00 AM - 08:00 PM

Dr. Abdul Rasheed

MD-Ophthalmology
Ophthalmologist
87%  (10 ratings)
8 Years experience
300 at clinic
Available today
09:00 AM - 08:00 PM

Dr. Praveen Chaturvedi

MD-Ophthalmology
Ophthalmologist
85%  (10 ratings)
4 Years experience
300 at clinic
Available today
09:00 AM - 08:00 PM

Dr. Sabin Dhakal

MD-Ophthalmology
Ophthalmologist
85%  (10 ratings)
4 Years experience
300 at clinic
Available today
09:00 AM - 08:00 PM

Dr. Arifa

Ophthalmologist
85%  (10 ratings)
300 at clinic
Available today
09:00 AM - 08:00 PM
View All
View All

Specialities

Ophthalmology

Ophthalmology

Concerns itself with the treatment of diseases related to the eye
View All Specialities

Network Hospital

ASG Eye Hospital-Jodhpur-Pal Link Road

Plot No. 1, Pal Link Road, Shyam NagarJodhpur Get Directions
10 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Jodhpur-Paota

Plot no. 7&8, Mandore Rd, Manji ka Hatha, PaotaJodhpur Get Directions
2 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Jodhpur-Saraswati Nagar

Plot No: 136 B, Sector A, Saraswati Nagar, BasniJodhpur Get Directions
1 Doctor
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Jaipur

D-247, Bihari Marg, Bani ParkJaipur Get Directions
7 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Udaipur

7C-2, Meera Marg, Near Mira Girls College, MadhubanUdaipur Get Directions
6 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Bhopal

E-3/157, Opp Agarwal Hospital, Arera Colony, E-3, Arera ColonyBhopal Get Directions
4 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Varanasi

Ground Floor, Corporate Plaza, Near A.G.R Automobile, Mahmoorganj, Gopal Vihar ColonyVaranasi Get Directions
4 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Kolkata

403/1 Alcove Gloria, Avove Big Bazaar, Dakshindari Road, VIP Road, Sreebhumi, Near Lake TownKolkata Get Directions
5 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Hospital-Guwahati

G.S. Road, Down TownGuwahati Get Directions
6 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Patna

C/78, P. C. Near Ananya Diagnostic Center (Map), P.C.Colony, KankarbaghPatna Get Directions
6 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Jamshedpur

Dhalbhum Road, Ambagan, SakchiJamshedpur Get Directions
5 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Srinagar

M.A Plaza. S K Colony Sector 1, Near Ansari House, Main Road, QamarwariSrinagar Get Directions
  4.3  (1478 ratings)
7 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Hospital - Dhanbad

Unit No ? G1, Ground Floor, Ozone Centre, Ashok Nagar, Near Bank More, Shastri NagarDhanbad Get Directions
2 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Raipur

Madan Complex, Shakti Nagar Road, Shankar NagarRaipur Get Directions
3 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Bikaner

Near Khadi Emporium Opp.Khaturiya House, Rani BazarBikaner Get Directions
4 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Muzaffarpur

Landmark Building Hathi chowk, Opp Zila SchoolMuzaffarpur Get Directions
3 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital - Mansarovar- Jaipur

Plot No. 94/07, Madhyam Marg, Jhalana Chhod, MansarovarJaipur Get Directions
3 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Vaishali Nagar-Jaipur

A/18, Ridhi Sidhi Tower, Near Vaishali Tower 2, Nursery Circle, Vaishali NagarJaipur Get Directions
2 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Pali

Opp. Bangar College, Bajrang Bagh RoadJaipur Get Directions
2 Doctors
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Nagaur

House No 30, Sainik Colony,Near Sugan Singh Circle, Sainik Basti,Nagaur Get Directions
1 Doctor
1 Speciality
...more

ASG Eye Hospital-Hajipur

Navin Plaza, Near Anzanpeer Chowk, hajipurVaishali Get Directions
3 Doctors
1 Speciality
...more
View All

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

Eye Health

MBBS, MS
Ophthalmologist, Navi Mumbai
Eye Health
  • Hello all. Its smog everywhere. And so is allergic conjunctivitis, symptoms are itching redness eyelid swelling and eye discharge,
  • Do not worry, do not rub, just apply ice compresses. Wash with clean cold water and use lubricating eye drops. If very severe then visit an eye doctor.
1 person found this helpful

Hi my frnd have a head pain when ever he observing the board his eyes get red in colors so what is this y its happen he is a student.

Fellowship in Comprehensive Ophthalmology, DOMS
Ophthalmologist, Sangrur
Hi my frnd have a head pain when ever he observing the board his eyes get red in colors so what is this y its happen ...
Hello This could be due to dryness or refractive error It is very difficult to comment without examining him I would recommend him to consult local ophthalmologist and get proper eye examination done Regards.
Submit FeedbackFeedback

I feel sensitivity to bright light (eg: sun light and florescent light) symptoms like fatigue, dizzy, wheezing. I checked with ophthalmologist, she said everything was good with my eyes. What is the reason for this. Sunglasses might reduces this when I wear.

MBBS, MD, DHMS (Diploma in Homeopathic Medicine and Surgery)
Homeopath, Indore
I feel sensitivity to bright light (eg: sun light and florescent light) symptoms like fatigue, dizzy, wheezing. I che...
Take medicine Argentum nit 30 and physostigma 30,4-4 pills thrice a day. Clean your eyes with normal water, use goggles when in sunlight, eat vitamin A rich foods like carrot, papaya, mango, apple, beetroot, etc. Do contact us, for homeopathic medicines.
Submit FeedbackFeedback

My eyesight is too weak. So. I am worried about it. I am using spectacles also but this is waste. My eyes still weak. Please do something about this problem.

BAMS
Ayurveda, Navi Mumbai
My eyesight is too weak. So. I am worried about it. I am using spectacles also but this is waste.
My eyes still weak....
You can take Ayurveda treatment called as Netra basti. It will increase strength of eyeballs and improve eyesight. Eat 1 tsf butter with sugar daily. Eat carrot, beetroot and awala for eyesight improvement.
Submit FeedbackFeedback

How long will LASIK last if my vision is- 4.75& -11.75 and I'm 17 years old right now should I go for it by 18?

MBBS
General Physician, Mumbai
How long will LASIK last if my vision is- 4.75& -11.75 and I'm 17 years old right now should I go for it by 18?
You can go for lasik surgery after 20 years of age and at 40 years of age you will have to wear spectacles for reading purposes
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My son age is 9 year he got his eyes test and number is 1 in left eye as spherical and 1.25 in right spherical. Can he get rid of this.

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lucknow
My son age is 9 year he got his eyes test and number is 1 in left eye as spherical and 1.25 in right spherical. Can h...
Mr. lybrate-user, there are no. Of ayurvedic medicine which help to improve eyesight as well as reduce power. Like taking triphala ghrit one spoon with milk in the morning is one of the best cure. For proper guidance consult me.
Submit FeedbackFeedback

Glaucoma (Kala Motia)

MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery, DOMS
Ophthalmologist, Faridabad
Play video

Are You at the Risk For Glaucoma?

1 person found this helpful

Treatment of Eye Weakness - आँखों की कमजोरी का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Treatment of Eye Weakness - आँखों की कमजोरी का इलाज

आँखें ही हमारे शरीर का वो अंग है जिससे हम इस दुनिया को पूरी तरह महसूस कर सकते हैं. आँखों के बिना सब कुछ अजीब लगता है. जाहिर है कई लोगों के पास प्राकृतिक रूप से और कुछ लोग दुर्घटनावश आँखें नहीं होतीं. इसलिए उनका जीवन थोड़ा मुश्किल हो जाता है. इसलिए हमें हमारी आँखों के लिए कुछ विशेष सावधानियां बरतनी पड़ती हैं. आँखें हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण और खूबसूरत हिस्सा हैं. इसलिए आँखों की देखभाल अत्यंत आवश्यक है. दृष्टि होने से हम अपने चारों ओर एक रंगीन और विविध दुनिया देख पाते हैं और स्पष्ट रूप से देखने की क्षमता सब कुछ बेहतर बना देती है. आपको बता दें कि आँखों की माशपेशियां शरीर में सबसे अधिक क्रियाशील होती हैं. तो इसलिए आइए हम अपने बेहतर दृष्टि के लिए कुछ महत्वपूर्ण प्राकृतिक तरीके जानें.

  • आंवला: आँवला रेटिना की कोशिकाओं के समुचित कार्य को भी सुनिश्चित करता है. आँवला विटामिन ए, सी और एंटीऑक्सीडेंट के साथ समृद्ध होता है और आँखों की देखभाल के लिए बहुत अच्छा है. आप आँवले का कच्चे रूप में या एक अचार के रूप में भी उपभोग कर सकते हैं. आप स्वस्थ आँखों के लिए एक गिलास आँवले का रस हर दिन पी सकते हैं.
  • सौंफ: सौंफ एक अद्भुत महान जड़ी बूटी है जो प्राचीन रोम के लोगों द्वारा दृष्टि के लिए प्रयोग की गई थी. यह पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट के साथ भरी हुई है जो दृष्टि में सुधार कर सकते हैं. रात का खाना खाने के बाद, आप हर रात कुछ चीनी के साथ सौंफ खा सकते हैं और इसके बाद गर्म दूध का एक गिलास ले सकते हैं.
  • पर्याप्त नींद: आपकी कीमती आँखों को समुचित आराम चाहिए होता है. आपको यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि आप उन्हें सीमा से परे थकने ना दें. उचित विश्राम के लिए दैनिक 7-8 घंटे की एक अच्छी नींद लें. नींद आँखों के तनाव से छुटकारा पाने और आपको ताज़ा रखने में मदद करती है. रात में देर तक जागना आपकी दृष्टि खराब कर सकता है.
  • ब्लू बेरी: यह एक जड़ी बूटी है जो एंटीऑक्सीडेंट के साथ भरी हुई है. यह रेटिना को उत्तेजित करती है और दृष्टि में सुधार भी करती है. यह विभिन्न नेत्र विकारों से भी सुरक्षा प्रदान करती है. जैसे मांसपेशियों का अध यह फल विशेष रूप से अच्छा है और बेहतर नेत्र दृष्टि के लिए आहार में शामिल किया जा सकता है.
  • आँखों का व्यायाम: एक आरामदायक स्थिति में बैठें और अपने अंगूठे के साथ अपने हाथ को बाहर खींछे. अब अपने अंगूठे पर ध्यान केंद्रित करें. हर समय ध्यान केंद्रित करते हुए, जब तक आपका अंगूठा आपके चेहरे के सामने लगभग 3 इंच तक ना आ जाए और फिर दूर करें जब तक आपका हाथ पूरी तरह से फैल ना जाए. कुछ मिनटों के लिए यह करें. यह व्यायाम ध्यान केंद्रित करने और आंख की मांसपेशियों में सुधार लाने में मदद करता है. एक और उपयोगी व्यायाम है, अपनी आँखो को बाएं किनारे से दाहिने किनारे तक ले जाएं, फिर ऊपर की तरफ भौं केंद्रित करें और फिर नीचे की ओर नाक की नोंक पर देखें.
  • सूखे मेवे: सूखे मेवे और नट्स खाना भी आँखों के लिए फायदेमंद होता है. नट्स जैसे बादाम में ओमेगा -3 फैटी एसिड और विटामिन ई होता है जो आंखों के लिए अच्छा है. यह भूख को संतुष्ट कर जंक फूड की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है.
  • हरी सब्जियां: एक बहुत अच्छे नेत्र स्वास्थ्य को बनाए रखने में पालक, चुकंदर, मीठे आलू, शतावरी, ब्रोकोली, वसायुक्त मछली, अंडा आदि अन्य खाद्य पदार्थ भी फायदेमंद होते हैं.
  • गाजर: गाजर आँखों के लिए एक बेहतरीन खाद्य पदार्थ है, जिसमे विटामिन ए होता जो आँखों के लिए फायदेमंद है. अच्छे नेत्र स्वास्थ्य के लिए एक नियमित आधार पर गाजर का सेवन करते रहें. आप हर दिन एक गिलास गाजर के रस को भी पी सकते हैं.
4 people found this helpful

Motiyabind ka Treatment - मोतियाबिंद का इलाज

Bachelor of Ayurveda, Medicine and Surgery (BAMS)
Ayurveda, Lakhimpur Kheri
Motiyabind ka Treatment - मोतियाबिंद का इलाज

हमारे देश में एक ऐसी बीमारी है जो ज्यादातर बुजुर्ग लोगों में देखा जाता है इनमें से भी महिलाओं की संख्या ज्यादा होती है. मोतियाबिंद की बीमारी भरोसा हमारी आंखों के लेंस में धुंधलापन आने के कारण होती है. इससे हमारी आंखों में देखने की क्षमता में कमी आ जाती है. ऐसा तब होता है जब आंखों में प्रोटीन के गुच्छे जमा होने लगते हैं और यह गुच्छे बैलेंस को रेटिना का स्पष्ट चित्र भेजने से भेजने में बाधा पहुंचाते हैं. दरअसल रेटिना लेंस के माध्यम से संकेतो में प्राप्त होने वाली रोशनी को परिवर्तित करने का काम करता है. यह संकेत को ऑप्टिक तंत्रिका तक पहुंचाकर फिर उन्हें मस्तिष्क में ले जाता है मोतियाबिंद की बीमारी अक्षर धीरे-धीरे विकसित होती है और यह दोनों आंखों को प्रभावित कर सकती है इसमें रंगों का फीका देखना धुंधला दिखना प्रकाश की चाल रोशनी जैसी परेशानियां उत्पन्न हो सकती हैं. मोतियाबिंद में न्यूक्लियर मोतियाबिंद महिलाओं में ज्यादा देखने में आता है. आइए अब हम मोतियाबिंद के उपचार के बारे में समझें.
मोतियाबिंद का उपचार

  • मोतियाबिंद उपचार मरीज के दृष्टि के स्तर पर आधारित है. इस जांच के स्तर को देखने के बाद अगर मोतियाबिंद दृष्टि को कम प्रभावित करता है या बिल्कुल नहीं करता तो कोई इलाज की आवश्यकता नहीं होती. ऐसे मरीजों को ये सलाह दी जाती है कि अपने लक्षणों का ध्यान रखें और नियमित चेक-अप कराते रहें.
  • कई बार ऐसा होता है कि चश्मा बदलने मात्र से ही दृष्टि में अस्थायी सुधार हो जाता है. इसके अलावा, चश्मा के लेंस पर एंटी-ग्लेयर की परत लगवाने से रात में ड्राइविंग में मदद मिल सकती है और पढ़ने में उपयोग होने वाले प्रकाश की मात्रा में वृद्धि करना भी फायदेमंद हो सकता है.
  • जब मोतियाबिंद का स्तर काफी बढ़ जाता है तब यह किसी व्यक्ति की रोजमर्रा की सामान्य कार्य करने की क्षमता को प्रभावित करने लगता है. ऐसे में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है. मोतियाबिंद सर्जरी बहुत आसान होती है इसमें आंखों के लेंस को हटाकर इसे एक अर्टिफिशियल लेंस से बदल दिया जाता है.

मोतियाबिंद सर्जरी के दृष्टिकोण

  • स्माल-इंसीज़न - इसमें कॉर्निया (आंख का स्पष्ट बाहरी आवरण) के पास एक चीरा लगाकर आंखों में एक छोटा सा औज़ार डाला जाता है. यह औज़ार अल्ट्रासाउंड तरंगों का उत्सर्जन करता है जो लेंस नरम करता है जिससे वह टूट जाता है और उसे बाहर निकालकर उसे बदल देते हैं.
  • एक्स्ट्राकैप्सुलर सर्जरी – इस सर्जरी में कॉर्निया में एक बड़ा चीरा लगाया जाता है ताकि लेंस को एक टुकड़े में निकला जा सके. इसके बाद प्राकृतिक लेंस को एक स्पष्ट प्लास्टिक लेंस से बदल दिया जाता है जिसे इंट्राओक्युलर लेंस (आईओएल) कहा जाता है.
  • नियमित जांच से - मोतियाबिंद को रोकने का कोई बहुत प्रभावी तरीका नहीं है. लेकिन कुछ जीवन शैली की कुछ आदतों में बदलाव करके इसके विकास को धीमा किया जा सकता है. इसके लिए नियमित तौर पर अपनी आँखों की जाँच कराना चाहिए क्योंकि नियमित रूप से आँखों की जाँच कराने से आपके डॉक्टर अपनी आँखों में होने वाली परेशानियों का जल्दी निदान कर पाएंगे.
  • नशीले पदार्थों का सेवन बंद करके - मोतियाबिंद पर हुए कई शोधों में ये पाया गया है कि सिगरेट व शराब का सेवन ज़्यादा करने वाले लोगों में मोतियाबिंद होने का खतरा अधिक होता है.इसलिए इसके सेवन से बचें.
  • स्वास्थ्यवर्धक भोजन करें - हम सभी के लिए एक स्वस्थ आहार प्राथमिकता होनी चाहिए. हमें अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, एंटीऑक्सीडेंट्स युक्त खाद्य पदार्थ, विटामिन सी और विटामिन ई की भरपूर मात्रा लेनी चाहिए.
  • सूर्य की सीधी रौशनी से बचें - सूर्य की रौशनी से अपनी आँखों को ढकें पराबैंगनी विकिरण से मोतियाबिंद होने का जोखिम बढ़ जाता इसीलिए अपने जोखिम को कम करने के लिए किसी भी मौसम में यूवीए/यूवीबी से बचने वाला धूप का चश्मा और टोपी पहनें.
6 people found this helpful
View All Feed