Common Specialities
{{speciality.keyWord}}
Common Issues
{{issue.keyWord}}
Common Treatments
{{treatment.keyWord}}
Call Doctor
Book Appointment

Dr. Leela

Gynaecologist, Delhi

400 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Dr. Leela Gynaecologist, Delhi
400 at clinic
Book Appointment
Call Doctor
Submit Feedback
Report Issue
Get Help
Services
Feed

Personal Statement

Our team includes experienced and caring professionals who share the belief that our care should be comprehensive and courteous - responding fully to your individual needs and preferences....more
Our team includes experienced and caring professionals who share the belief that our care should be comprehensive and courteous - responding fully to your individual needs and preferences.
More about Dr. Leela
Dr. Leela is a renowned Gynaecologist in Karkardooma, Delhi. You can consult Dr. Leela at Garg Hospital in Karkardooma, Delhi. Save your time and book an appointment online with Dr. Leela on Lybrate.com.

Lybrate.com has an excellent community of Gynaecologists in India. You will find Gynaecologists with more than 40 years of experience on Lybrate.com. You can find Gynaecologists online in Delhi and from across India. View the profile of medical specialists and their reviews from other patients to make an informed decision.

Info

Specialty
Languages spoken
English
Hindi

Location

Book Clinic Appointment with Dr. Leela

Garg Hospital

No. 8, AGCR Enclave, Karkardooma, Landmark: Opposite Karkardooma Court, DelhiDelhi Get Directions
400 at clinic
...more
View All

Services

View All Services

Submit Feedback

Submit a review for Dr. Leela

Your feedback matters!
Write a Review

Feed

Nothing posted by this doctor yet. Here are some posts by similar doctors.

What should be the solution for vaginal infection for my wife from last one month. Can not go to hospital.

MBBS
General Physician, Faridabad
insert in vagina imidil vag pessary at night daily for 7 days and take tab flagyl 400 1 tab tds you and your wife on same day, it will help. thanks
Submit FeedbackFeedback

I am pregnant by 7 months and having cold and dry cough. What medicine to have during pregnancy for cold and cough. Can I have vicks vapour up with steam water or is it harmful.

MBBS
General Physician, Faridabad
I am pregnant by 7 months and having cold and dry cough. What medicine to have during pregnancy for cold and cough. C...
take syr honey tus 1 tsf tds, tab sinarest at bed time, steam inhalation, saline gargles and do tooth brush before going to bed, it will help. Thanks
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

My wife suffering from irregular periods the periods occurring 10days before what should we do any problem.

MD - Alternate Medicine, BHMS
Homeopath, Surat
My wife suffering from irregular periods the periods occurring 10days before what should we do any problem.
Ask her to take pituitarinum 200 1 dose now and 2nd dose tomorrow evening. This will balance her hormonal problems.
Submit FeedbackFeedback

Madam, Me & my fiance in trouble please suggest us earlier. We have do sex on 14th & my menstrual date on 18th, we do sex without protection. Have any chance to conceive? What we will do right now?

BAMS
Ayurveda, Ambala
Madam, Me & my fiance in trouble please suggest us earlier. We have do sex on 14th & my menstrual date on 18th, we do...
Dear, the chances of conception are very less. Because you have done intercourse in the safe period. So you do not need to do anything now but if periods will not come upto 19-20 then you should take contraceptive pills.
Submit FeedbackFeedback

5 Panchakarma Therapies For A Healthy you!

BAMS,, MD
Ayurveda, Jabalpur
5 Panchakarma Therapies For A Healthy you!

According to Ayurveda, Panchakarma therapy aims at detoxifying the human body. “Pancha” means five and ‘karma’ means treatment. This comprises of 5 methods that are used to address the troublesome ‘doshas’ in the body. The excess doshas would be expelled and the ‘ama’ (toxins produced in the body) would be eliminated from the system through the body's own organs elimination channels (urinary tract, colon, sweat organs, digestive tract and the lungs). 

The features of ‘Panchakarma’ include herbal enemas, herbal and oil massages as well as oil showers. Ayurveda prescribes Panchakarma as a regular treatment for the upkeep of mental and physical cleanliness and balance.

Similar to other medicinal procedures, for Panchakarma Therapy you must consult a qualified Ayurvedic physician who can decide the individual's ‘prakriti’ (established nature of the patient), the nature of the problem and the proper dosage of the recommended treatments.

This therapy makes use of a large number of therapies. Sometimes, a combination of two or three processes can be administered. The five different therapies are:

  1. Garshana: Garshana medications involve a dry lymphatic brushing of the skin either using a silk glove or a fleece. This improves blood circulation and cleanses the skin so that the oil and medication can seep naturally into the pores of the skin.
  2. Abhyanga: This home based oil massage helps the mind and body to unwind and separates the polluting influence as well as stimulate both blood and lymph flow. It helps in toning the body, improving circulation, restoring energy and providing relaxation.
  3. Swedana: It comprises of a typical steam treatment and is used to calm the head and heart, while the body warm. It also eliminates mental and physical toxins that are deeply embedded in the tissues. 
  4. Pizichili: A non-stop stream of warm herbal oil is soothingly poured over the body by two Ayurvedic specialists as they back rub the body in impeccable harmony.
  5. Udvartana: This is a deeply infiltrating lymphatic massage which uses a paste to restore the natural radiance while eliminating other toxic elements.

In case you have a concern or query you can always consult an expert & get answers to your questions!

5232 people found this helpful

We have been in a physical relationship And she has not had her normal periods but there are no signs of pregnancy. Can you guys suggest something?

DHMS (Diploma in Homeopathic Medicine and Surgery)
Homeopath, Ludhiana
We have been in a physical relationship
And she has not had her normal periods but there are no signs of pregnancy. C...
I can only suggest you at this stage to go for urine pregnancy test to confirm your belief.dont take chances.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

प्रेग्नेंट होने के टिप्स - How To Pregnant Tips?

INSTITUTE OF ALTERNATIVE MEDICINES
Ayurveda, Delhi
प्रेग्नेंट होने के टिप्स - How To Pregnant Tips?

तुरंत और आसानी से गर्भवती होने के तरीके–प्रेग्नेंट होने के टिप्स

एक महिला के लिए बच्चे को जन्म देना काफी प्रसन्नता की बात होती है, और वह इस दिन की काफी प्रतीक्षा करती है।गर्भावस्था की स्थिति अचानक नहीं आती, इसमें गणना का काफी बड़ा हाथ होता है।
गर्भवती होने के लिए आपका फर्टिलाइजेशन (fertilization) अच्छे से होना चाहिए। आपको अपने मासिक धर्म (periodic cycle) का आंकलन करके उसी हिसाब से चलना चाहिए।
शारीरिक सम्बन्ध के फलस्वरूप गर्भवती होने से पहले इस बारे में अच्छे से सोच लें कि आप असल में एक बच्चे को जन्म देना चाहती हैं या नहीं।
इनफर्टिलिटी (infertility) की समस्या से ग्रस्त लोगों को डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए तथा गर्भवती होने के अन्य तरीके प्रयोग में लाने चाहिए।
आजकल जीवनशैली में परिवर्तन की वजह से पुरुष और महिलाओं की फर्टिलिटी का स्तर काफी कम हो गया है।

*नीचे गर्भवती होने के कुछ तरीकों के बारे में बताया गया है।*
ज्यादातर जोड़े जो असुरक्षित यौन संबंध प्रस्थापित करते हो उसमे महिला को प्रेगनेंट करने का तरीका, प्रेग्नेंट/गर्भवती होने की (to become pregnant) ज्यादा संभावना होती है|
जिस जोड़े को प्रजनन की समस्या न हो वे प्रेग्नेंट होने के टिप्स,कुछ आसान तरीकों का पालन करके उसमे महिला गर्भवती हो सकती है|

*प्रेगनेंट होने के लिए कुछ सुझाव (instructions for getting pregnant)*
प्रेगनेंट होने के लिए, जोड़े को अपने आप को तनाव से मुक्त रखने की जरुरत है|
तनावग्रस्त रहने से गर्भ रहने में मुश्किलें आ सकती हैं|
*गर्भावस्था के दौरान खून निकलना और उनके कारण*
महिलाओं के लिए अण्डोत्सर्ग का समय जाननेवाले किट का उपयोग करके सही समय का पता लगाना चाहिए।
अण्डोत्सर्ग से पूर्व 24-36 घंटे मूत्र में एलएच की वृद्धि होती है और यह समय प्रेग्नेंट/गर्भवती बनने(to get pregnancy) के लिए लाभकारी होता है|
प्रेगनेंट होने के लिए,
पुरुषों को ज्यादा व्यायाम नहीं करना चाहिए,
गर्म पानी से टब बाथ नहीं लेना चाहिए और ज्यादा तंग कच्छे नहीं पेहेनने चाहिए|

प्रेग्नेंट/गर्भवती होने के बेहतरीन उपाय और प्राकृतिक तरीके (natural ways to get pregnant fast)
अगर लंबे समय बाद भी स्त्री को गर्भ न रहता हो तब वैद्यकीय सलाह की जरुरत पड़ती है|
इसमें कुछ दवाइयां लेनी पड़ती हैं जो आपके प्रेग्नेंट/गर्भवती होने के अवसरों को बढ़ावा देती हैं|

*नीचे दिए गए कुछ प्राकृतिक तरीके महेंगे नहीं होते हैं|*
नियमित रूप से इनका पालन करने पर प्रेग्नेंट/गर्भवती रहने की संभावना बढती है|
यौन संबंध के समय जोड़े कि शारीरिक अवस्था ऐसी हो जिससे पुरुष महिला के साथ गहरा संबंध प्रस्थापित कर सके|
संबंध के बाद महिला को अपनी पीठ पर 15मिनट तक लेटा हुआ रहना आवश्यक है जिससे पुरुष के शुक्राणु स्त्री के बीज तक पहुँच सके|
गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन रोक देना चाहिए|
मासिक धर्म का योग्य समय देखकर शरीर संबंध का समय तय किया जा सकता है|
पुरुष और स्त्री को स्वस्थ जीवनशैली का पालन करना जरुरी है|
ड्रग्स और शराब लेना बंद करें|
स्त्री के शरीर में शुक्राणु थोड़े दिनों तक रहते हैं| इसलिए अक्सर संबंध रखना गर्भ रहने में मदद करता है|

*प्रेगनेंट होने के टिप्स.*
गर्भवती होने के तरीके (easiest way to get fast conceive tips in hindi)
कुछ स्त्रियों में आसानी से गर्भ रहता है पर कुछ स्त्रियों के लिए यह बड़ा मुश्किल होता है|
कुछ आसान तरीकों का पालन करके प्रेग्नेंट होने के टिप्स से ऐसी स्त्रियाँ प्रेग्नेंट/गर्भवती हो सकती हैं|

गर्भवती महिलाओं को नींद लाने में सहायता करने के लिए कुछ तरीके
स्त्रियों के शरीर में बीज 12-24घंटे तक फलन के लिए उपलब्ध होते हैं जबकि शुक्राणु ३ से ५ दिनों तक जिंदा रह सकते हैं|
इसलिए 28 दिनों के बाद आनेवाले मासिक धर्म में पहले 11से 21दिन तक संबंध रखने से उपयोग हो सकता है|
अक्सर संबंध रखना गर्भ रहने का आसान तरीका है|
शरीर की ऐसी स्थिति जहाँ शुक्राणु आसानी से बीज तक पहुँच सके ऐसी स्थिति होना मदद करता है|
जोड़े को तनाव मुक्त होना बहुत जरुरी होता है|
अगर ऊपर दिए गए किसी भी सुझाव से प्रेग्नेंट नहीं होती तो डॉक्टर की सलाह लें|

*प्रेग्नेंट होने के लिए क्या करें*
*वज़न घटाना (losing weight)*
कई बार वज़न ज़्यादा होने की वजह से महिलाओं को गर्भधारण करने में दिक्कतें पेश आती हैं।
उन्हें बच्चे को जन्म देने में काफी परेशानी होती है, क्योंकि इस प्रक्रिया में उनके शरीर में जमा वसा एक बाधा बन जाती है।
अतः एक बच्चे को जन्म देने के लिए पुरुष और महिला दोनों का ही स्वस्थ रहना काफी ज़रूरी है।
अत्याधिक वज़न वाली महिलाओं को इनफर्टिलिटी की समस्या होने की संभावना काफी ज़्यादा होती है।
अतः गर्भधारण का प्रयास करने से पहले महिलाओं को 2 से 3 महीने तक व्यायाम करके अपना वज़न कम करने का प्रयास करना चाहिए।

*केमिकल्स से दूर रहें (be away from chemicals)*
कारखानों तथा प्रयोगशालाओं में काम करने वाली महिलाएं रोज़ाना कठोर केमिकल्स के संपर्क में आती हैं।
छपाई के कारखानों तथा फसलों के लिए कीटनाशक बनाने वाले उद्योगों में काम करने वालों को भी इनफर्टिलिटी की समस्या घेर सकती है।
एक बार अगर आपने गर्भधारण का फैसला ले लिया है तो कृपया केमिकल्स से दूर रहें।
अगर संभव हो तो अपना पेशi बदल लें या फिर गर्भावस्था के समय से पहले और बाद के लिए छुट्टी ले लें।
इससे आपके फर्टिलिटी तथा बच्चा दोनों ही सुरक्षित रहेंगे।

*तनाव दूर करें (avoiding stress)*
आजकल ज़्यादातर लोग तनाव के शिकार हैं, और शायद यही वजह गर्भावस्था के स्तर के घटने की भी है।
आजकल सभी लोगों को सारा दिन काम का बोझ तथा तनाव झेलना पड़ता है।
दिमाग में पड़ने वाले प्रभाव के अलावा यह शरीर में उत्पादित होने वाले हॉर्मोन्स (hormones) में भी समस्या उत्पन्न करता है।
अतः तनाव से दूर रहें तथा गर्भधारण का फैसला लेने से पहले हमेशा खुश रहने का प्रयास करें।
आपको अपने बच्चे के बारे में सोचते हुए अपना तनाव कम करना चाहिए।
चिंता की वजह को दूर करने की कोशिश करें।

*सेक्स की प्रक्रिया को दोहराएं (having repeated sex)*
सम्भोग दुनिया में बच्चे को लाने का एक अनोखा और आनंददायक तरीका है।
प्रेगनेंट करने का तरीका में कुछ लोग काम के दबाव तथा अन्य जुड़े कारणों से पर्याप्त मात्रा में सेक्स की क्रिया को अंजाम नहीं दे पाते।
पर अगर आप बच्चा चाहती हैं और एक बार सेक्स से कोई फायदा ना हो तो उर्वर दिनों (fertilizing days) को ध्यान में रखते हुए सेक्स की क्रिया को बार बार दोहराना काफी महत्वपूर्ण साबित होगा। 
महिलाओं का मासिक धर्म (menstrual cycle) 28 से 30 दिनों का होता है, जिसमें से 14 वें दिन वे सबसे ज़्यादा उर्वर अवस्था में रहती हैं। 
आपको इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए कि अंडाणु (ovum) का जीवन 24 से 36 घंटों तक का ही रहता है। 
अतः आपको सम्भोग की क्रिया के लिए इस दिन के आसपास के समय का ही चुनाव करना चाहिए। 
इस समय सेक्स में लिप्त होने से गर्भधारण की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं। 
आपको सम्भोग के बाद दवाई की दुकानों पर उपलब्ध यूरिन टेस्ट किट (urine test kit) से गर्भावस्था की जांच करनी चाहिए।

*गर्भवती होने के उपाय–*
संतुलित खानपान (balanced diet)
जब आपको गर्भधारण की इच्छा हो, उस समय आपको अपने खानपान की तरफ भी काफी ध्यान देना चाहिए।
संतुलित आहार करें जिसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, मिनरल और अन्य पोषक पदार्थ हों (protein, minerals and other nutrients), जिससे कि गर्भधारण की प्रक्रिया में तेज़ी आ जाए। 
हमेशा पोषक भोजन करने की कोशिश करें, जिससे बिना किसी समस्या के आसानी से बच्चे को जन्म दिया जा सके।
आप अपने खानपान में अन्य पूरक आहार (supplements) तथा माइक्रोन्यूट्रिएंट्स (micronutrients) भी शामिल कर सकती है|

6 people found this helpful

I got spotting today and if go to a doctor for a pregnancy test today itself, will the doctor be able to confirmly tell me I'm pregnant or not. How will they take the test by urine or blood.

MBBS, DNB - Obstetrics & Gynecology
Gynaecologist, Mumbai
I got spotting today and if go to a doctor for a pregnancy test today itself, will the doctor be able to confirmly te...
Hi if you have missed your period then you can get home pregnancy test done. Pregnancy test comes positive after min 1 week of conception.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

I am 48 years female having osteopenia and reached menopause for 2 yrs. Have gas problem and uterus fibroid. What home remedy should I have?

MD - General Medicine
General Physician, Mahabubnagar
For osteopenia you need to take calcium supplementation 1000 mg per day For Gas problem You need to have some mild-mod Physical activity Avoid coffee and tea Avoid high fat (saturated fat) foods Limit your Non vegetarian (if you are taking it) Don't lie down immediately once you take your food Adequate sleep of 7 hrs atleast is needed Adequate fruits and vegetables in your diet You can take some antacids if required or Acid reflux reducing agents For fibroid: if symptomatic like bleeding or spotting or enlarging in size, Abdominal pain You need to go and meet a gynecologist for further evaluation if asymptomatic no need to worry much Thank you.
1 person found this helpful
Submit FeedbackFeedback

From last some days my clitoris very itchy and it looks bright red nd very little wound shown on hood just upper part of hood is affected by it no other part of vagina suffered it so give me reason of it and also treatment of it like cream or gel.

MBBS, DNB (Obstetrics and Gynecology), MD - Obstetrtics & Gynaecology
Gynaecologist, Delhi
if there is itching it may be an infection from an injury.. apply soframycin ointment daily for two weeks, maintain hygiene, clean undergarmnts, avoid sex2 weeks
Submit FeedbackFeedback
View All Feed

Near By Doctors

94%
(388 ratings)

Dr. Smriti Uppal

DNB (Obstetrics and Gynecology), DGO, MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery
Gynaecologist
Sanjeevan Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment
89%
(167 ratings)

Dr. Mita Verma

MBBS, MS - Obstetrics & Gynaecology
Gynaecologist
Dr. Mita Verma Women's Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(355 ratings)

Dr. Pooja Choudhary

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS
Gynaecologist
Gynae and ENT Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
88%
(10 ratings)

Dr. Indu Bala Khatri

MD - Obstetrtics & Gynaecology, MBBS Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery
Gynaecologist
Navya Gynae & ENT Clinic, 
300 at clinic
Book Appointment
90%
(2896 ratings)

Dr. Rita Bakshi

MBBS, DGO, MD, Fellowship in Gynae Oncology
Gynaecologist
International Fertility Centre Delhi, 
300 at clinic
Book Appointment
81%
(10 ratings)

Dr. Sadhana Kala

MBBS, MS - Obstetrics & Gynaecology , FACS (USA)
Gynaecologist
Moolchand Hospital, 
300 at clinic
Book Appointment